हर कोई कभी-न-कभी पेट दर्द का अनुभव करता ही है. कुछ लोगों को कभी-कभी पेट के निचले हिस्से में दर्द का अनुभव होत है. अक्सर पेट के निचले हिस्से में दर्द नाभि के पास या उसके नीचे महसूस होता है. साथ ही बेचैनी भी होती है. पेल्विस में मौजूद ऑर्गन, जैसे - मूत्राशय और प्रजनन अंग अक्सर पेल्विक दर्द के स्रोत होते हैं.

आज इस लेख में जानेंगे कि पेट के निचले हिस्से में दर्द के लक्षण, कारण और उपचार क्या हैं -

(और पढ़ें - पेट के दाएं हिस्से में दर्द का इलाज)

  1. पेट के निचले हिस्से में दर्द क्या है?
  2. पेट के निचले हिस्से में दर्द के लक्षण
  3. पेट के निचले हिस्से में दर्द के कारण
  4. पेट निचले हिस्से में दर्द का परीक्षण
  5. पेट के निचले हिस्से में दर्द का इलाज
  6. पेट के निचले हिस्से में दर्द कम करने के घरेलू इलाज
  7. सारांश
पेट के निचले हिस्से में दर्द क्यूँ होता है? के डॉक्टर

पेट के निचले हिस्से में दर्द पुरुष और महिलाओं दोनों को प्रभावित कर सकता है. महिलाओं में यह पेल्विक दर्द का रूप ले सकता है, जिसमें अंडाशय, फैलोपियन ट्यूब, गर्भाशय, गर्भाशय ग्रीवा और योनि में समस्या पैदा उत्पन्न हो सकती है. वहीं, पुरुषों में प्रोस्टेट की समस्या के कारण भी पेट के निचले हिस्से में दर्द हो सकता है. वैसे तो पेट के निचले हिस्से में सामान्य दर्द होता है, लेकिन अगर दर्द गंभीर है और सहन करना मुश्किल है, तो व्यक्ति को जांच के लिए जल्द से जल्द डॉक्टर को दिखाना चाहिए.

(और पढ़ें - पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द)

Digestive Tablets
₹314  ₹349  9% छूट
खरीदें

पेट के निचले हिस्से में दर्द के कई लक्षण हो सकते हैं, जिनका इलाज उसी के अनुसार किया जा सकता है. पेट के निचले हिस्से में बेचैनी अपने आप में एक संकेत है. आइए, जानते हैं पेट के निचले हिस्से में दर्द के लक्षण क्या-क्या होते हैं-

(और पढ़ें - पेट दर्द के लिए एक्यूप्रेशर पॉइंट्स)

पेट के निचले हिस्से में क्रोनिक पेन संभव है. दर्द के कारण पेट खराब होने जैसी हल्की स्थिति हो सकती है या फिर कुछ गंभीर स्थिति जैसे कि एपेंडिसाइटिस के कारण भी यह हो सकता है. तीव्र दर्द अचानक आता है और यह अपने आप दूर हो सकता है. पुराने दर्द को आमतौर पर छह महीने से अधिक समय तक चलने वाले दर्द के रूप में परिभाषित किया जाता है. आइए, विस्तार से जानते हैं पेट के निचले हिस्से में दर्द के कारणों के बारे में -

इर्रिटेबल बॉउल सिंड्रोम

यह एक गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल विकार है, जो पेट में गैस, ऐंठन, कब्ज और दस्त की समस्या का कारण बन सकता है.

(और पढ़ें - पेट के बाईं ओर दर्द)

Probiotics Capsules
₹599  ₹770  22% छूट
खरीदें

कब्ज

यह ऐसी स्थिति है, जो महिला और पुरुष दोनों को प्रभावित करती है. इस कारण भी पेट के निचले हिस्से में दर्द होता है और मल त्यागना मुश्किल हो जाता है.

(और पढ़ें - पेट दर्द के घरेलू उपाय)

मासिक धर्म में ऐंठन

मासिक धर्म के दौरान गर्भाशय के संकुचन के कारण ऐंठन होती है. इस दौरान महिलाएं मामूली से लेकर गंभीर दर्द का अनुभव कर सकती हैं.

(और पढ़ें - पेट दर्द का आयुर्वेदिक इलाज)

सिस्टाइटिस

पुरुषों की तुलना में महिलाओं में सिस्टाइटिस विकसित होने की आशंका अधिक होती है. सिस्टाइटिस मूत्राशय की सूजन है, जो आमतौर पर बैक्टीरिया के कारण होता है. इसमें ब्लैडर में जलन, दर्द और दबाव का अनुभव होता है.

(और पढ़ें - पेट दर्द का होम्योपैथिक इलाज)

कोलाइटिस

कोलाइटिस एक इंफ्लेमेटरी कंडीशन है, जो बड़ी आंत में सूजन का कारण बनती है, जिससे पेट के निचले हिस्से में दर्द हो सकता है.

पेट के निचले हिस्से में दर्द के कारण अन्य भी हो सकते हैं -

(और पढ़ें - पेट में दर्द होने पर क्या करना चाहिए)

अगर पेट दर्द अपच के कारण नहीं है और लगातार बढ़ रहा है, तो डॉक्टर से मिलकर इसके निदान के बारे में सोचना चाहिए. पेट के निचले हिस्से में दर्द का निदान करने के लिए डॉक्टर कुछ टेस्ट करवाने की सलाह देंगे, जैसे-

(और पढ़ें - पेट में भारीपन का इलाज)

उपचार पेट दर्द के कारण पर निर्भर करता है. हल्के पेट दर्द के लिए, जो गैस या अपच के कारण है, तो ऐसी स्थिति में नीचे बताए गए उपचार की मदद ले सकते हैं-

  • कैल्शियम कार्बोनेट सहित ओवर-द-काउंटर दवाएं.
  • प्रोबायोटिक्स लें. 
  • अपच या गैस पैदा करने वाले खाद्य पदार्थों को अपनी डाइट से हटाएं.
  • एक्यूपंक्चर या मसाज की मदद लें.

किडनी इंफेक्शन वाले व्यक्ति को एंटीबायोटिक दवा लेनी चाहिए. अगर बैक्टीरियल इंफेक्शन के कारण पेट में दर्द हो रहा है, तो डॉक्टर द्वारा बताई गई मेडिसिन लें. गंभीर पेट दर्द वाले कुछ लोगों के लिए सर्जरी आवश्यक हो सकती है. एपेंडिसाइटिस के लिए अपेंडिक्स को हटाने की आवश्यकता होती है.

कुछ पाचन विकार, जैसे कोलाइटिस, इर्रिटेबल बोवेल सिंड्रोम का कोई इलाज नहीं है. उपचार में लक्षणों को प्रबंधित करने के लिए जीवनशैली में बदलाव और डॉक्टर के पर्चे की दवाओं का संयोजन शामिल है.

(और पढ़ें - पेट दर्द में क्या खाना चाहिए)

यहां हम कुछ सुझाव दे रहे हैं, जिनकी मदद से दर्द को कुछ कम किया जा सकता है-

  • फाइबर से भरपूर खाना खाएं.
  • नियमित रूप से व्यायाम करें.
  • पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं.
  • दर्द को कम करने के लिए हॉट वॉटर बॉटल की मदद लें.
  • मेडिटेशन की मदद से भी दर्द को कम किया जा सकता है.
  • अल्कोहल के सेवन से बचें, इससे दर्द और अधिक हो सकता है.
  • मसालेदार और देर से पचने वाले आहार का सेवन न करें, इससे मल त्यागने में समस्या हो सकती है.

(और पढ़ें - गैस का दर्द कैसे दूर करें)

पेट के निचले हिस्से में दर्द का मतलब है कि नाभि के नीचे दर्द का होना. अक्सर नाभि के निचले हिस्से में दर्द होना पेट में खराबी का संकेत होता है, लेकिन हमेशा पेट में खराबी की वजह से ही पेट के निचले हिस्से में दर्द हो यह जरूरी नहीं है. इसके कई अन्य गंभीर कारण भी हो सकते हैं, जैसे- कब्ज, कोलाइटिस, सिस्टाइटिस और अपच. हालांकि, इस ओर समय रहते ध्यान देने और इसके कारणों और लक्षणों को समझने से इससे बचा जा सकता है.

Dr. Paramjeet Singh

Dr. Paramjeet Singh

गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
10 वर्षों का अनुभव

Dr. Nikhil Bhangale

Dr. Nikhil Bhangale

गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
10 वर्षों का अनुभव

Dr Jagdish Singh

Dr Jagdish Singh

गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
12 वर्षों का अनुभव

Dr. Deepak Sharma

Dr. Deepak Sharma

गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
12 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें