myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

हम हमेशा सुनते रहे हैं कि हम बेहतर सेक्स, बेहतर ऑर्गेज्म या बेहतर संबंध विकसित कर सकते हैं। लेकिन हम कितनी बार यह सुनते हैं कि हम वास्तव में अपनी गहरी इच्छाओं और सबसे अधिक शर्म लगने वाले प्रश्नों को कैसे समझ सकते हैं? “फिंगरिंग” एक ऐसा ही प्रश्न है।

(और पढ़े - रिश्तों को मजबूत बनाने के टिप्स)

फिंगरिंग एक प्रकार की यौन गतिविधि है जिसमें एक या अधिक उंगलियों को साथी के यौन अंग में प्रवेश कराया जाता हैं। यौन संबंध में फिंगरिंग का मतलब या तो योनि या गुदा में उंगलियों को डालना हो सकता है। फिंगरिंग कभी-कभी हस्तमैथुन का हिस्सा भी होती है।

बहुत से लोग प्रारंभिक यौन क्रिया के रूप में फिंगरिंग में संलग्न होते हैं। फिंगरिंग महिला साथी को प्रसन्न करने के सर्वोत्तम तरीकों में से एक माना जाता है। यह आपको उसे वास्तव में बेहतर उत्तेजना देने में सहयोग करता है और उसे ऑर्गेज्म प्राप्त करने में मदद के लिए सर्वोत्तम तरीकों में से एक हो सकता है। ओरल सेक्स या लिंग प्रवेश की तुलना में, यह फिंगरिंग करने वाले के लिए अपेक्षाकृत सुरक्षित भी है।

(और पढ़े - महिलाएं सेक्स में पुरुषों से क्या चाहती हैं)

इस लेख में विस्तार से बताया गया है कि फिंगरिंग के स्वस्थ तरीके क्या है, फिंगरिंग से क्या नुकसान हो सकते हैं,क्या सावधानी रखें और क्या फिंगरिंग से गर्भधारण हो सकता है? एक महिला साथी को फिंगरिंग से यौन सुख देने के लिए आपको क्या पता होना चाहिए?

  1. फिंगरिंग क्या है - What is fingering in hindi
  2. फिंगरिंग के स्वस्थ तरीके - Fingering kaise kare in hindi
  3. फिंगरिंग के साइड इफ़ेक्ट - Yoni me ungli ke nuksan in hindi
  4. योनि में उंगली के दौरान सावधानी - Precautions for Fingering in hindi
  5. योनि में उंगली से गर्भधारण हो सकता है? - Yoni me ungli se garbhdharan ho sakta hai in hindi
  6. फिंगरिंग के बारे में जानकारी, सावधानी और नुकसान के डॉक्टर

फिंगरिंग का अर्थ है अपनी महिला साथी की योनि में उंगली का प्रवेश कराना। यह एक यौन तकनीक है जहां पुरुष या महिला अपनी उंगलियों का उपयोग करके किसी महिला साथी के जननांग या गुदा को छूता है। मादा योनि (वुलवा) के बाहर तंत्रिका के सिरे पाए जाते हैं जो स्ट्रोक और रगड़ने से उत्तेजित होते हैं।

(और पढ़े - सेक्स करने के तरीके)

महिला की योनि के अंदर एक या अधिक उंगलियों को प्रवेश कराया जा सकता है। जब एक औरत खुद को संतुष्ट करने के लिए फिंगरिंग करती है, तो इसे हस्तमैथुन कहा जाता है। फिंगरिंग आपको उत्तेजित करती है और इसलिए एक महिला के लिए यह ऑर्गेज्म का भी एक तरीका है। किसी भी लिंग के लोगों द्वारा इसका आनंद लिया जा सकता है।

(और पढ़े - पहली बार सेक्स कैसे करें)

आप केवल फिंगरिंग का आनंद ले सकते हैं या फोरप्ले के हिस्से के रूप में इसे उपयोग किया जा सकता है। हालाँकि हर किसी को फिंगरिंग पसंद नहीं होती है, इसलिए अपनी साथी से इस बारे में खुलकर चर्चा करें। यह गतिविधि दोनों साथियों के लिए यौन रूप से रोमांचक तभी हो सकती है, जब आप दोनों इसे पसंद करते हैं।

फिंगरिंग से जुड़े मिथक और सच

लोगों में फिंगरिंग के बारे में कई मिथक और गलत धारणाएं हैं। ऐसे कुछ अजीब और सबसे दिलचस्प, मिथक नीचे दिए गए हैं -

मिथक - फिंगरिंग एक ऐसी यौन गतिविधि है जो लोग केवल तब तक करते हैं जब तक कि वे बेहतर चीजों पर आगे न बढ़ सकें।
तथ्य - बहुत से लोग इसका गहराई से आनंद लेते हैं। यह लोगों के यौन जीवन का एक महत्वपूर्ण और आनंददायक हिस्सा हो सकता है, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि वे किस लिंग से संबंध रखते हैं।

(और पढ़े - सेक्स लाइफ को मजेदार बनाने के उपाय)

मिथक - फिंगरिंग से एचआईवी फैलता है।
फैक्ट - एचआईवी रक्त, वीर्य ​​और अन्य शारीरिक तरल पदार्थ के माध्यम से ही फैल सकता है। यदि आपकी उंगलियों पर कोई कट है और किसी को उंगली करते हैं, तो यह संभव है कि आप एचआईवी के संपर्क में आ जाएं।

(और पढ़े - एचआईवी टेस्ट कैसे होता है)

हालांकि, आपके हाथ पर सक्रिय रूप से रक्तस्राव हो रहा हो या आपके हाथ पर अन्य शारीरिक तरल पदार्थ हो तो ही एचआईवी फिंगरिंग के माध्यम से एक साथी से दूसरे साथी को होने का जोखिम होता है। फिंगरिंग एचआईवी फैलाने की आशंका वाली स्वाभाविक यौन गतिविधि नहीं है। हालांकि, आप दस्ताने का उपयोग करके इसे निश्चित रूप से अधिक सुरक्षित बना सकते हैं।

मिथक - फिंगरिंग पूरी तरह सुरक्षित सेक्स है
तथ्य - फिंगरिंग उचित रूप से अन्य गतिविधियों से अधिक सुरक्षित सेक्स है। हालांकि, फिंगरिंग के माध्यम से एचपीवी फैलाना संभव है। इससे त्वचा से त्वचा या किसी भी वस्तु के माध्यम से संचारित हो सकने वाले अन्य एसटीडी भी फैल सकते है।

यही कारण है कि फिंगरिंग के लिए दस्ताने या उंगली के कोट का उपयोग करना एक अच्छा विचार है। यदि आप एसटीडी के बारे में चिंतित नहीं हैं, तो याद रखें कि अपने साथी को खरोंच लगने और उन्हें बैक्टीरियल संक्रमण होने की भी आशंका है।

(और पढ़े - सुरक्षित सेक्स कैसे करें)

सबसे पहली और सबसे महत्वपूर्ण बात है यह सुनिश्चित करना कि दोनों साथी इसमें सहज महसूस करते हैं। हर कोई अलग-अलग चीजे पसंद करता है और विभिन्न चीजों का आनंद लेता है। इसलिए स्वस्थ बातचीत होना सबसे अधिक महत्वपूर्ण है।

यह भी सुनिश्चित करें कि आपके नाखून अच्छे से कटे हुए और साफ सुथरे हैं। फिंगरिंग को अधिक सुरक्षित बनाने के लिए, लेटेक्स या नाइट्रियल के दस्ताने या एक उंगली पर पहनने वाला कोट (एक उंगली का दस्ताना) पहनना अच्छा हो सकता है। ये दोनों ही साथियों को सुरक्षित रखता है।

(और पढ़े - नाखूनों की देखभाल के लिए टिप्स)

दस्ताने नाखून के निचे पाए जाने वाले किसी भी बैक्टीरिया या वायरस को योनि या गुदा की नाजुक श्लेष्म त्वचा तक पहुंचने से भी सुरक्षित रख सकते हैं। वे नाखूनों के नीचे या उंगली के कट में पाए जाने वाले रोगजनक को भी उन क्षेत्रों में पहुंचने से रोकते हैं।

यदि दस्ताने से आप अच्छा महसूस नहीं करते हैं तो आप अपने हाथ अच्छे से धो लें। इसके अलावा, दोनों साथियों को सेक्स के पहले और बाद में अपने हाथ सही से पूरी तरह साफ करने चाहिए।

जल्दबाजी न करें, क्योंकि अगर आप अपनी साथी की योनि पर बहुत अधिक दबाव देते हैं तो यह बहुत ही असहज हो सकता है या यहां तक ​​कि दर्दनाक भी हो सकता है। खासकर आप साथी की क्लाइटोरिस के साथ नरमी से पेश आयें। धीरे-धीरे आगे बड़े और इस बात पर भी ध्यान दें कि यह आप की साथी को भी पसंद आ रहा है ताकि आप दोनों अच्छा महसूस कर सकें।

(और पढ़े - महिलाओं को उत्तेजित करने वाले अंग)

योनि के कुछ ऐसे स्थान जहां छूने से आपकी साथी को अच्छा महसूस हो सकता है -

  • बाहरी और आंतरिक लेबिया (लाबिया)।
  • क्लाइटोरिस के आसपास के क्षेत्र के दोनों ओर।
  • स्वयं क्लाइटोरिस।
  • योनि द्वार।

क्लाइटोरिस एक संवेदनशील स्थान है। इसे छूना अच्छा हो सकता है, लेकिन कभी-कभी यह बहुत अधिक संवेदनशील होता है, जिसका मतलब है कि यहाँ छूना आपकी साथी को सुखद नहीं लगता है। अगर क्लाइटोरिस अतिसंवेदनशील है, तो बस इसके आस-पास के क्षेत्र को स्पर्श करें।

जब एक महिला अपने पैर फैला कर उसकी पीठ के बल लेटती है तो आपके लिए उसकी क्लाइटोरिस और योनि के चारों ओर के सभी सवेंदनशील स्थानों को छूना आसान होता है। आप उसके हावभाव भी देख सकते हैं कि उसे किस चीज में अधिक अच्छा लग रहा है। आप अपनी उंगली या उंगलियों को उसकी योनि में विभिन्न कोणों से कैसे डाल सकते हैं यह इस पर निर्भर करता है कि आप कैसी स्थिती में हैं।

महिला यदि अपनी पीठ पर लेटी है तो सीधे उसकी क्लाइटोरिस और योनि पर ध्यान केंद्रित न करें बल्कि इससे पहले कि आप फिंगरिंग शुरू करें, उसकी जांघों और स्तनों पर हाथ से हलका दबाव डालते हुए उसे तैयार करें या फिंगरिंग के साथ में उसके स्तन और योनि को छूएं। उसे अपने हाथों से आपका मार्गदर्शन करने और दिखाने के लिए कहें कि वह क्या पसंद करती है।

(और पढ़े - सेक्स टॉय क्या होते हैं)

दूसरा तरीका है कि महिला उसके घुटनों पर झुक जाती है और आप उनके पीछे घुटने टेकते हैं। इस स्थिति में भी क्लाइटोरिस और आसपास के क्षेत्र को स्पर्श करना आसान होता है। योनि से निकलने वाले तरल पदार्थ या लुब्रीकेंट से अपनी उंगलियों को गीला करें और धीरे-धीरे एक उंगली को योनि में डालें। उंगलियों को योनि में गोलाकार घुमाने के साथ आगे-पीछे करते हुए उसे उत्तेजित करने का प्रयास करें।

(और पढ़े - सेक्स पोजीशन के प्रकार)

उसकी योनि के अंदर जी स्पॉट को उत्तेजित करने के लिए अपनी उंगली का प्रयोग करें। उसी समय अपने दूसरे हाथ से उसकी क्लाइटोरिस को उत्तेजित करें। आप फिंगरिंग के साथ-साथ अन्य आनंददायक स्पर्श का भी प्रयोग कर सकते हैं जैसे आप एक दूसरे को किस कर सकते हैं।

फिंगरिंग को अन्य यौन गतिविधियों की अपेक्षा अधिक सुरक्षित गतिविधि माना जाता है। हालांकि, फिंगरिंग से कुछ प्रकार के एसटीडी संक्रमण होने की आशंका होती है। ये ज्यादातर ऐसे एसटीडी हैं जो त्वचा के माध्यम से या त्वचा के संपर्क से फैलते हैं, जैसे एचपीवी।

चूंकि कोई व्यक्ति किसी अन्य व्यक्ति की योनि या गुदा में अपनी उंगली डालता है, इसलिए शरीर के तरल पदार्थ का कोई आदान-प्रदान नहीं होता है, इससे एचआईवी फैलना बहुत हद तक असंभव है। फिंगरिंग के माध्यम से एचआईवी संचरण का कोई भी उदाहरण अब तक सामने नहीं आया है।

(और पढ़ें - एनल सेक्स कैसे करें)

एक अन्य वास्तविक जोखिम यह है कि अगर पर्याप्त ध्यान या लुब्रीकेंट के बिना फिंगरिंग की जाती है तो इससे योनि या गुदा में छोटे कट लग सकते हैं और बाद में लिंग प्रवेश से सेक्स के दौरान (यदि कंडोम का उपयोग नहीं किया जाता है ) एचआईवी संचरण के जोखिम में वृद्धि हो सकती है।

(और पढ़े - महिला कंडोम कैसे उपयोग करते हैं)

सभी महिलाएं अलग-अलग चीजों को पसंद करती है और यह पसंद हर बार बदल भी सकती हैं। इसलिए आप अपनी साथी से पहले पूछ लें कि उसे क्या पसंद हैं। आप उसे आपका हाथ पकड़ कर मार्गदर्शन करने के लिए भी कह सकते हैं। इससे आप महसूस कर सकते हैं कि वह कहां दबाव डालती है या उसे आपको यह दिखाने के लिए कहें कि वह खुद को कैसे फिंगरिंग करती है।

(और पढ़े - महिलाओं की यौन समस्याओं के समाधान)

उसके शरीर की भाषा को पढ़ने की कोशिश करें। वह आपकी उंगलियों पर कैसे प्रतिक्रिया करती है? क्या उसकी योनि गीली हो रही है? क्या वह खुशी से चिल्ला रही है या आहें भर रही है? क्या उसका शरीर तड़प रहा है? तो आप ठीक कर रहे हैं। उसकी सांस लेने की गति को सुने कि क्या यह तेजी से बढ़ रही है? यह भी एक संकेत है कि वह तैयार हो रही है।

यह ध्यान रखें कि हमारे देश के कानून के अनुसार 18 वर्ष की उम्र से पहले किसी भी लड़की के साथ ऐसा करना अवैध है और किसी भी उम्र में यदि बिना महिला (पत्नी सहित) की अनुमति के योनि में उंगली का प्रवेश कराते हैं तो इसे बलात्कार और यौन उत्पीड़न माना जाता है और आपको 7 वर्ष से लेकर उम्रकैद तक की सज़ा हो सकती है। इसलिए हमेशा महिला की भावना का सम्मान करें और उनकी अनुमति से ही यौन गतिविधि के लिए आगे बड़े।

(और पढ़े - यौन सहमति क्या है)

यह भी ध्यान रखें कि अगर उंगलियां सीधे एक जननांग से दूसरे जननांग पर ले जाते हैं तो एसटीआई फैल सकता है। अगर किसी व्यक्ति के उंगली में कट या त्वचा फटी है और वो साथी के संपर्क में आती है तो संक्रमण का खतरा अधिक होता है।

(और पढ़े - कट लगने पर प्राथमिक उपचार)

महिलाएं हमेशा एक बात का ध्यान रखें कि आप स्वयं अपने शरीर का सम्मान करें। आखिरकार यह एक सुखद अनुभव है, इसलिए यदि आप इसमें असहज महसूस करती हैं, तो बिना किसी चिंता के ना कहने का भी आपको पूरा अधिकार है।

केवल फिंगरिंग कभी भी गर्भावस्था का कारण नहीं बनती है। गर्भावस्था के लिए सबसे जरुरी है कि शुक्राणु आपकी योनि के संपर्क में आना चाहिए। इसलिए आप यदि साफ हाथों से केवल फिंगरिंग करते हैं तो आपकी योनि में शुक्राणु प्रवेश नहीं कर सकते।

(और पढ़े - गर्भधारण कैसे होता है)

लेकिन गर्भवती होने की आशंका तब होती है जब -

  • अगर आपका साथी अपनी उंगली पर स्खलित हो जाता है और फिर उसे आपकी की योनि में रखता है। हालांकि, ऐसा होने की संभावना बहुत कम है। (और पढ़े - शीग्र स्खलन का इलाज)
  • यदि आपका साथी आपकी योनि के पास स्खलित हुआ है और फिर आपकी योनि में उंगलियों को डालता है, तो वो कुछ शुक्राणु को योनि में धक्का दे सकता है। यदि ऐसा होता है, तो गर्भावस्था संभव है। (और पढ़े - प्रेग्नेंट होने का तरीका)
  • यदि आप अपने साथी को हाथ से ब्लो जॉब देने के बाद खुद को उंगली करती हैं, तो आप अपनी योनि में उन शुक्राणु को अपने हाथ से स्थानांतरित कर सकती हैं जो ब्लो जॉब के समय आपके हाथ पर घिरे थे।

उंगली के प्रयोग से गर्भवती होने की संभावना बहुत नगण्य है, लेकिन ऐसा हो सकता है। यदि आप चिंतित हैं कि आप गर्भवती हो सकती हैं, तो आपके पास कुछ विकल्प हैं। गर्भावस्था को रोकने के लिए सेक्स के पांच दिनों के अंदर आप आपातकालीन गर्भनिरोधक (ईसी) ले सकती हैं।

(और पढ़े - गर्भावस्था को रोकने के उपाय)

Dr. Abdul Haseeb Sheikh

Dr. Abdul Haseeb Sheikh

सेक्सोलोजी

Dr. Ghanshyam Digrawal

Dr. Ghanshyam Digrawal

सेक्सोलोजी

Dr. Srikanth Varma

Dr. Srikanth Varma

सेक्सोलोजी

और पढ़ें ...