वे सभी स्तनपान कराने वाली माताएं जो अपने जन्मजात बच्चों का अच्छा विकास देखना चाहती हैं उन्हें स्वस्थ और पौष्टिक आहार का सेवन करना चाहिए। आपके द्वारा किए गए स्वस्थ और पौष्टिक आहार का सेवन आपके बच्चे को उचित मात्रा में सभी पोषक तत्व प्रदान करता है और किसी भी प्रकार के पोषक तत्व की कमी से पीड़ित नहीं होने देता है। स्वस्थ और पौष्टिक आहार केवल गर्भावस्था के दौरान ही आवश्यक नहीं होता है, बल्कि वो आपके स्तनपान की गुणवत्ता के लिए भी जरूरी होता है।

(और पढ़ें - गर्भावस्था में पेट दर्द)

स्तनपान कराने वाली महिलाओं को अपने सामान्य आहार में उच्च प्रोटीन, कैल्शियम, पोषक तत्व और विटामिन युक्त आहार का सेवन करना चाहिए, साथ ही उन्हें तरल पदार्थ का भी सेवन करना चाहिए। तो चलिए कुछ ऐसे ही खाद्य पदार्थों के बारे में जानकारी लेते हैं जिनके सेवन से स्तनपान के माध्यम से आपके बच्चे के विकास के लिए सम्पूर्ण पोषक तत्व प्रदान हो सकते हैं।

(और पढ़ें - ladka paida karne ka tarika और bacha gora hone ke liye kya kare)

  1. दूध पिलाने वाली महिला को पीना चाहिए दूध - Milk good for breastfeeding mothes in hindi
  2. स्तनपान कराने वाली मां को पीना चाहिए अधिक पानी - Drink lots of water when breastfeeding in hindi
  3. दूध पिलाने वाली मां का भोजन है फलियां - Eat legumes while breastfeeding in hindi
  4. बच्चे के जन्म के बाद माँ आहार में खाएं हरी पत्तेदार सब्जियां - Vegetables are good to eat when breastfeeding in hindi
  5. बच्चे को दूध पिलाने वाली मां को खाना चाहिए संतरा - Eat oranges when breastfeeding in hindi
  6. बच्चे को दूध पिलाने वाली महिला को खाना चाहिए साबुत अनाज - Whole grains for breastfeeding mothers in hindi
  7. स्तनपान कराने वाली महिलाएं खाएं मछली - Fish for breastfeeding moms in hindi
नवजात शिशु के सम्पूर्ण विकास के लिए दूध पिलाने वाली मां को खाना चाहिए ये आहार के डॉक्टर

आपके आहार में कैल्शियम को बनाए रखने और उसे बढ़ाने के लिए दूध आवश्यक है। यह आपके बच्चे की हड्डियों के उचित गठन के लिए महत्वपूर्ण है और उनकी हड्डियों में उचित कैल्शियम बनाए रखता है। यह आपके बच्चे के शरीर ने एनर्जी बनाए रखने में भी मदद करता है।

(और पढ़ें - माँ का दूध बढ़ाने के लिए उपाय)

myUpchar के डॉक्टरों ने अपने कई वर्षों की शोध के बाद आयुर्वेद की 100% असली और शुद्ध जड़ी-बूटियों का उपयोग करके myUpchar Ayurveda Urjas Capsule बनाया है। इस आयुर्वेदिक दवा को हमारे डॉक्टरों ने कई लाख लोगों को सेक्स समस्याओं के लिए सुझाया है, जिससे उनको अच्छे प्रभाव देखने को मिले हैं।
Long Time Capsule
₹719  ₹799  10% छूट
खरीदें

स्तनपान कराने वाली माताओं को कैफीन युक्त और अल्कोहल पेय पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि ये रसायन स्तनपान के माध्यम से आपके शिशु के अंदर भी जा सकते हैं। कैफीन युक्त पेय के तीन कप से अधिक का सेवन करने से माताओं को नींद ना आने की समस्या हो सकती है और आपके शिशुओं में चिड़चिड़ापन बढ़ सकता है।

(और पढ़ें – आयुर्वेद कहता है नई माताएं इन बातों पर देकर विशेष ध्यान करें अपनी देखभाल)

स्तनपान कराने वाली माताओं को फलियों का सेवन करना चाहिए। फलियां आयरन और फोलिक एसिड से समृद्ध होती हैं। ये माँ और बच्चे दोनों के लिए उनकी पौष्टिक आवश्यकताओं को पूरा करने का अच्छा स्रोत हैं। बीन्स और फलियां स्वस्थ सूक्ष्म फ्लोरा (flora) से समृद्ध होती हैं जो पाचन और सूजन कम करने में मदद करते हैं।

(और पढ़ें – बच्चे के जन्म के बाद माँ को क्या खाना चाहिए?)

myUpchar के डॉक्टरों ने अपने कई वर्षों की शोध के बाद आयुर्वेद की 100% असली और शुद्ध जड़ी-बूटियों का उपयोग करके myUpchar Ayurveda Kesh Art Hair Oil बनाया है। इस आयुर्वेदिक दवा को हमारे डॉक्टरों ने 1 लाख से अधिक लोगों को बालों से जुड़ी कई समस्याओं (बालों का झड़ना, सफेद बाल और डैंड्रफ) के लिए सुझाया है, जिससे उनको अच्छे प्रभाव देखने को मिले हैं।
Bhringraj Hair Oil
₹599  ₹850  29% छूट
खरीदें

स्तनपान कराने वाली माताओं को हरे पत्ते वाली सब्जियों का उचित मात्रा में सेवन करना चाहिए। हरे पत्ते वाली सब्जियां विटामिन और पोषक तत्व जैसे विटामिन ए और कैल्शियम, विटामिन सी, आयरन आदि से समृद्ध होती हैं जो माँ और बच्चे दोनों के अधिकांश पोषण संबंधी आवश्यकताओं को पूरा करती है।

स्तनपान कराने वाली माताओं को खुद को सक्रिय, ताज़ा और पुनर्जीवित (revitalised) रखने की आवश्यकता होती है। संतरे में विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसके सेवन से माताएं संक्रमण से दूर रहती हैं और उनके बच्चों की प्रतिरक्षा प्रणाली बढ़ाने में भी मदद मिलती है।

(और पढ़ें – संतरे के फायदे और नुकसान)

साबुत अनाज फोलिक एसिड से समृद्ध होता है। साबुत अनाज सही तरह से कोशिका में वृद्धि के साथ-साथ आपके बच्चे के मस्तिष्क के विकास में भी सहायता करता है। फोलिक एसिड पूरक के रूप में चिकित्सक द्वारा एक बार देने की सलाह दी जाती है। साबुत अनाज में मौजूद फोलिक एसिड इन पौष्टिक जरूरतों को पूरा करने में मददगार है।

myUpchar के डॉक्टरों ने अपने कई वर्षों की शोध के बाद आयुर्वेद की 100% असली और शुद्ध जड़ी-बूटियों का उपयोग करके myUpchar Ayurveda Urjas Energy & Power Capsule बनाया है। इस आयुर्वेदिक दवा को हमारे डॉक्टरों ने कई लाख लोगों को शारीरिक व यौन कमजोरी और थकान जैसी समस्या के लिए सुझाया है, जिससे उनको अच्छे प्रभाव देखने को मिले हैं।
Power Capsule For Men
₹719  ₹799  10% छूट
खरीदें

सैलमन मछली डीएचए (docosahexaenoic acid) से समृद्ध होती है और इसमें ओमेगा 3 फैटी एसिड भी उच्च मात्रा में पाई जाती है। यह आपके बच्चे के मस्तिष्क के विकास के लिए बहुत ही आवश्यक है। हालांकि इसका सेवन सीमित मात्रा में करना चाहिए।

(और पढ़ें – स्तनपान के फायदे बच्चों और माताओं के लिए)

Dr. Arun Mathur

Dr. Arun Mathur

सामान्य चिकित्सा
10 वर्षों का अनुभव

Siddhartha Vatsa

Siddhartha Vatsa

सामान्य चिकित्सा
3 वर्षों का अनुभव

Dr. Harshvardhan Deshpande

Dr. Harshvardhan Deshpande

सामान्य चिकित्सा
13 वर्षों का अनुभव

Dr. Supriya Shirish

Dr. Supriya Shirish

सामान्य चिकित्सा
20 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें