myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

आमतौर पर लंच या डिनर करने के बाद हर घर में थोड़ा बहुत खाना बच जाता है। इस बचे खाने को अगली बार माइक्रोवेव में गर्म करने के बाद खाया जाता है। हालांकि यह सामान्य बात है। इस विषय पर अमूमन ज्यादा सोचा भी नहीं जाता। लेकिन शायद आप इस बात से वाकिफ नहीं हैं कि कुछ आहार विशेष ऐसे होते हैं, जिन्हें माइक्रोवेव में गर्म करना सही नहीं होता है। इन आहार को माइक्रोवेव में गर्म करके खाने से स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है। जानिए ऐसे ही आहार विशेष के बारे में।

(और पढ़ें - संतुलित आहार चार्ट)

आलू
विशेषज्ञों के मुताबिक आलू को पकाने के बाद अगर ठंडे या सामान्य तापमान में रखा जाए तो इस खाने को दोबारा गर्म किया जाना सही नहीं है। इससे फूड पाइजनिंग होने की आशंका रहती है। दरअसल सामान्य तापमान में रखने की वजह से इसमें बोटुलिज्म नामक बैक्टीरिया पनपने लगता है। यह पेट के लिए सही नहीं है। अतः अगर पकाए जाने के बाद आलू नहीं खा रहे हैं, तो बेहतर है तुरंत उसे फ्रिज में रख दें। इस तरह आलू को दोबारा गर्म करने से समस्या नहीं होगी।

(और पढ़ें - दम आलू रेसिपी बनाने की विधि)

चावल
नेशनल हेल्थ सर्वे के अनुसार चावल पकाने के बाद सामान्य तापमान में रखने के बाद खाये जाने पर स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकते हैं। दरअसल सामान्य तापमान में रखे पके चावल में बैक्टीरिया पनप सकते हैं जो कुछ सेकेंड में दुगने हो जाते हैं। माइक्रोवेव में पके चावल को गर्म करने से भी ये बैक्टीरिया नहीं मरते। सो, बेहतर है पकाए जाने के बाद चावल को तुरंत खा लें। अगर पकाने के कुछ समय बाद चावल खाना चाहते हैं तो तुरंत फ्रिज में रख दें। इससे आप चावल बाद में खाते हैं तो भी नुकसान नहीं होगा।

(और पढ़ें - चावल बनाने की रेसिपी)

हरी पत्तेदार सब्जियां
अगर हरी पत्तेदार सब्जियों में मौजूद सभी पौषक तत्व का भरपूर लाभ उठाना चाहते हैं तो इन्हें पकाने के बाद माइक्रोवेव की बजाय एक परंपरागत (कन्वेंशनल) अवन में गर्म करें। अध्ययनों के अनुसार माइक्रोवेव में गर्म करने की वजह से हरी सब्जियों में मौजूद नाइट्रेट्स (जो आपके लिए लाभदायक होते हैं) नामक तत्व नाइट्रोसेमिन (एक प्रकार का रसायन जो तम्बाकू और तम्बाकू युक्त उत्पाद में पाया जाता है) में बदल जाते हैं। नाइट्रोसेमिन कैंसरजनक हो सकते हैं। अतः हरी सब्जियों को पकाने के बाद तुरंत इसका सेवन करें और स्वस्थ जिदंगी जिएं।

(और पढ़ें - गुटखा खाने के नुकसान)

लाल साबुत मिर्च
जब लाल मिर्च को माइक्रोवेव में गर्म किया जात है तो इसमें कैप्सेसिन (तीखा फ्लेवर देने के लिए जिम्मेदार रसायन) नाम का रसायन हवा में घुल जाता है। नतीजतन आपकी आंखों और गले में में जलन हो सकती है। यहां तक कि साबुत मिर्च को गर्म करने की वजह से आपको खांसी और सांस लेने में समस्या भी शुरू हो सकती है। अतः साबुत मिर्च को कभी भी माइक्रोवेव में गर्म न करें।

(और पढ़ें - गले में जलन होने पर क्या करें)

मशरूम
यूरोपियन फूड इन्फोर्मेशन काउंसिल के मुताबिक हमेशा ताजे मशरूम को ही पकाकर खाना चाहिए। दरअसल मशरूम में मौजूद प्रोटीन बहुत तेजी से खत्म होता है। अगर आप मशरूम को पकाने के बाद 24 घंटे से ज्यादा समय के लिए फ्रिज में रखते हैं तो इसे 158 डिग्री पर गर्म करके खाना सुरक्षित है। हालांकि प्रोसेस्ड मशरूम पर यह बात लागू नहीं होती।

हर किसी को खाना गर्म करके खाना अच्छा लगता है। लेकिन उन्हीं भोज्य पदार्थ को गर्म करें जो आपके स्वास्थ्य को नकारात्मक रूप से प्रभावित न करते हों।

और पढ़ें ...