myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

अमरूद अनेक पोषक तत्वों का भंडार है जो अनगिनत बीमारियों से मानव के शरीर की रक्षा करता है। तो आइये हम भी जानें इसके कुछ स्वास्थ्य सम्बंधित लाभ जिन्हें पढ़ कर आप भी यह बोल उठेंगे कि अमरूद एक चमत्कारी फल से कम नहीं है।

  1. अमरूद खाने के फायदे - Amrood khane ke fayde in Hindi
  2. अमरूद खाने के नुकसान - Amrud khane ke nuksan in Hindi
  1. अमरूद के औषधीय गुण वजन कम करने में लाभदायक - Guava for weight loss in Hindi
  2. अमरूद के फायदे मधुमेह को करें नियंत्रित - Guava fruit benefits for diabetes in hindi
  3. अमरूद के गुण दृष्टि में लायें सुधार - Amrud ke fayde for eyes in Hindi
  4. अमरूद के लाभ कैंसर को रोकें - Guava good for cancer in Hindi
  5. अमरूद खाने के फायदे स्कर्वी से बचाव में - Amrud ke fayde for Scurvy in Hindi
  6. पाचन प्रणाली को मजबूत करने में अमरूद खाने के लाभ - Guava health benefits for stomach in Hindi
  7. अमरूद फल के फायदे थायराइड में करें असर - Guava benefits for thyroid in Hindi
  8. अमरूद खाने के लाभ देते हैं कब्ज से राहत - Amrood for constipation in Hindi
  9. अमरूद फल के फायदे मष्तिष्क के विकास में - Amrood fruit benefits for brain power in Hindi
  10. अमरूद है उपयोगी सर्दी-खाँसी में - Amrood for cough and cold in Hindi
  11. अमरूद के पत्ते के फायदे त्वचा को करें पोषित - Guava leaves for skin in Hindi
  12. अमरूद है उच्च रक्तचाप में फायदेमंद - Amrud ke gun for high blood pressure in Hindi
  13. अमरूद के अन्य फायदे - Other benefits of amrood in Hindi

अमरूद के औषधीय गुण वजन कम करने में लाभदायक - Guava for weight loss in Hindi

अमरूद उन लोगों के लिए बहुत फायदेमंद है जो अपने प्रोटीन, विटामिन और फाइबर के सेवन में समझौता किए बिना वजन को कम करना चाहते हैं। अमरूद स्थूलखाद्य (roughage), विटामिन, प्रोटीन एवं विभिन्न प्रकार के खनिज का एक समृद्ध स्रोत है। साथ ही में इसमें कोलेस्ट्रॉल अनुपस्थित होता है और  सुपाच्य कार्बोहाइड्रेट (digestible carbohydrate) बहुत ही कम मात्रा में पाया जाता है। तो इससे भूख जल्दी मिट जाती है और आप ज्यादा खाने से बच जाते हैं, और साथ ही में यह आपके शरीर में पोषक तत्वों की कमी को भी पूरा करता है।

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए योगासन)

यदि आप लंच में एक अमरूद खायेंगे तो आपको शाम तक भूख नहीं लगेगी। इसमें सेब, संतरे, अंगूर एवं अन्य फलों की तुलना में शुगर भी कम पाया जाता है। अच्छी बात तो यह है कि यदि दुबले-पतले लोग इसका सेवन करें तो इसकी समृद्ध पोषण प्रोफाइल उन्हें वजन बढ़ाने में मदद कर सकती है।

(और पढ़ें - वजन घटाने के उपाय)

अमरूद के फायदे मधुमेह को करें नियंत्रित - Guava fruit benefits for diabetes in hindi

अमरूद में उच्च मात्रा में फाइबर पाया जाता है जो कार्बोहायड्रेट के अवशोषण में सुधार लाता है और इन्सुलिन के स्तर में स्थिरता बनाये रखता है। अध्ययनों के अनुसार अमरूद टाइप -2 शुगर से शरीर को ग्रस्त करने से रोकता है।

अमरूद के गुण दृष्टि में लायें सुधार - Amrud ke fayde for eyes in Hindi

विटामिन ए आँखों के स्वास्थ्य के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण होता है और अमरूद विटामिन ए का एक बहुत अच्छा स्रोत है। यह मोतियाबिंद, धब्बेदार अध: पतन एवं अन्य आँखों से सम्बंधित विकारों से भी बचाव करता है। यह दृष्टि में सुधार लाने में इतना सक्षम होता है कि एक बार दृष्टि की गिरावट शुरू होने के बाद भी यह उसमें सुधार ला सकता है।

अमरूद के लाभ कैंसर को रोकें - Guava good for cancer in Hindi

अमरूद को अपने दैनिक आहार में शामिल करने का एक सबसे बड़ा फ़ायदा यह है कि यह कैंसर की कोशिकाओं के विकास में एक बढ़ा साबित होता है। इस फील्ड में हुए बहुत सारे शोध यह साबित करते हैं कि अमरूद की पत्तियों का तेल कैंसर के विकास पर रोक लगाने में आधुनिक दवाइयों से भी ज्यादा सक्षम है। चूँकि अमरूद एक अच्छा एंटी-ऑक्सीडेंट है और ल्य्कोपेने से भरपूर है, यह प्रोस्टेट और ब्रैस्ट कैंसर को कम एवं उनसे बचाव करने में भी बहुत सहायक है। इसके अलावा अमरूद में संतरे से चार गुना ज्यादा विटामिन सी पाया जाता है जो इम्यून सिस्टम को सशक्त कर उसे कैंसर से लड़ने की क्षमता प्रदान करता है। 

(और पढ़ें – कैंसर के लक्षण)

अमरूद खाने के फायदे स्कर्वी से बचाव में - Amrud ke fayde for Scurvy in Hindi

स्कर्वी एक प्रकार का रक्तरोग होता है जो शरीर में विटामिन सी की कमी की वजह से होता है और शरीर में विटामिन सी की पूर्ति करना ही इसका एकमात्र इलाज है। चूँकि अमरूद विटामिन सी की मात्रा में संतरे का भी बाप है, यह ना केवल स्कर्वी को होने से रोकता है अपितु स्कर्वी होने पर जल्द से जल्द उससे अलविदा कहने में मदद करता है।

पाचन प्रणाली को मजबूत करने में अमरूद खाने के लाभ - Guava health benefits for stomach in Hindi

अमरूद विटामिन सी, carotenoids और पोटेशियम से भरपूर होते हैं जो पाचन प्रणाली को मजबूत बनाते हैं और उनकी क्रियाओं में सुधार लाते हैं। इसके अलावा, अमरूद में अच्छे जीवाणुरोधी (anti-bacterial) गुण पाए जाते हैं और क्षारीय (alkaline) स्वभाव के होते हैं, अतः डायरिया और डिसेंट्री को होने से रोकते हैं।

डायरिया का घरेलु उपचार करने के लिए एक-दो गिलास पानी में एक मुट्ठी चावल का आटा मिलाकर उसमें 30 ग्राम अमरूद की पत्तियां उबालें। इस काढ़े को दिन में दो बार पियें।
डिसेंट्री का उपचार करने के लिए अमरूद की पत्तियां एवं जड़ 20 मिनट तक 90 डिग्री सेलसियस पर उबालें। इस रस को पिए और डिसेंट्री से राहत पाएं।

अमरूद फल के फायदे थायराइड में करें असर - Guava benefits for thyroid in Hindi

अमरूद कॉपर का एक बहुत अच्छा स्रोत है जो थाइरोइड के उत्पादन एवं अवशोषण (absorption) को नियंत्रित करता है और थायराइड में अपने पोषक तत्व से सुधार लाता है।

अमरूद खाने के लाभ देते हैं कब्ज से राहत - Amrood for constipation in Hindi

अमरूद में बहुत ही उच्च मात्रा में फाइबर पाया जाता है जो मल त्यागने की क्रिया को बहुत आसान कर देता है। इसके बीज रेचक के रूप में कार्य करते हैं और ना केवल पाचन क्रिया में सुधार लाते हैं, अपितु आंत की सफाई करने में भी मदद करते हैं। 

(और पढ़ें - कब्ज के लक्षण)

अमरूद फल के फायदे मष्तिष्क के विकास में - Amrood fruit benefits for brain power in Hindi

अमरूद विटामिन बी 3 एवं बी 6 का एक प्रचुर स्रोत है जो दिमाग में रक्त-प्रवाह को बड़ा उसे पोषित करता है और संज्ञानात्मक (cognitive) क्रियाओं में सुधार लाता है। इसका सेवन करने से आपका दिमाग तो स्वस्थ बनता ही है, साथ ही में आपके ध्यान में भी सुधार आता है।

अमरूद है उपयोगी सर्दी-खाँसी में - Amrood for cough and cold in Hindi

कच्चा अमरूद खाने से या फिर उसका जूस पीने से खांसी व सर्दी से बहुत हद तक राहत मिलती है। यह श्वसन प्रणाली से बलगम को बाहर निकाल फेंकता है और उसमें हो रही माइक्रोबियल गतिविधियों पर रोक लगाता है। अमरूद लोहा और विटामिन सी से भरपूर होता है जो सर्दी के इलाज के लिए फायदेमंद माना जाता है। परंतु पके हुए अमरूद का सेवन करने से बचना चाहिए, इससे आपकी समस्या बड़ सकती है। इसके अतिरिक्त अमरूद खाने के तुरंत बाद कभी भी पानी नहीं पीना चाहिए, इससे आपको गल-शोथ हो सकता है। 

(और पढ़ें - खांसी के लिए घरेलू उपाय)

अमरूद के पत्ते के फायदे त्वचा को करें पोषित - Guava leaves for skin in Hindi

अमरूद आपको अच्छे से अच्छे ब्यूटी क्रीम्स की तुलना में बेहतर और ज्यादा सुन्दर त्वचा प्रदान कर सकता है। कच्चा अमरूद खाने से या फिर इसके और इसकी पत्तियों के काढ़े से मुँह धोने से आपकी त्वचा में एक अलग ही निखार आ जाता है। यह झुर्रियों पर रोक लगाता है और पिम्पल्स को आपकी त्वचा के सौंदर्य पर दाग लगाने से भी बचाता है। यह त्वचा से सम्बंधित विकारों का भी एक सफल उपचार है।

(और पढ़ें – अमरूद के पत्ते के फायदे बालों के लिए)

अमरूद है उच्च रक्तचाप में फायदेमंद - Amrud ke gun for high blood pressure in Hindi

अमरूद के पोषक तत्व ना केवल हाई बीपी को कम करते हैं परंतु साथ ही में कोलेस्ट्रॉल पर भी नियंत्रण रखते हैं। यह पोटैशियम का एक अच्छा स्रोत है जो ब्लड प्रेशर को स्थिर करने में अत्यंत सहायक है। साथ ही में इसमें फाइबर उच्च मात्रा में पाया जाता है जो रक्तचाप को कम करने में मदद करता है।

अमरूद के अन्य फायदे - Other benefits of amrood in Hindi

अमरूद के और भी कई अनगिनत सवास्थ्य संबंधी लाभ हैं, जैसे की यह मधुमेह के रोगी के लिए बहुत उपयोगी है। इसकी पत्तियों का जूस पीने से दांतों का दर्द, सूजे हुए मसूड़े और मौखिक अल्सर्स को ठीक किया जा सकता है। घावों पर इसकी पत्तियों का रस लगाने से वे जल्दी भर जाते हैं। यह फ्लू एवं डेंगू के बुखार से लड़ने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह गर्भवती महिलाओं के लिए भी अत्यंत लाभदायक होता है। इसके अलावा यह आपके स्ट्रैस को कम कर खुश रहने में भी मदद करता है और फिट एंड फाइन तो यह आपको रखता ही है। (और पढ़ें - डेंगू के घरेलू उपचार)

इसके और भी बहुत सारे लाभ हैं। शायद इसे पढ़ने के बाद अब हमें यह कहने की जरुरत नहीं पड़ेगी कि जल्दी से बाज़ार जाइये और अमरूद खरीद कर खाइये क्योंकि आप स्वयं ही अमरूद का सेवन करने के लिए तत्पर हो रहे होंगे।

  • हालांकि अमरूद स्वास्थ्य के लिए अत्यंत लाभदायक है, इसके अत्यधिक सेवन से बचना चाहिए।
  • गर्भवती एवं स्तनपान कराने वाली महिलाओं को भी इसका ज्यादा सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इनमें ज़्यादा फाइबर होने की वजह से इन महिलाओं को डायरिया होने की संभावना रहती है।
  •  अमरूद के अधिक सेवन से फाइबर में वृद्धि होती है जिससे कुछ अस्थायी पाचन दुष्प्रभाव जैसे सूजन, गैस या मल त्याग में परिवर्तन आदि हो सकते हैं। किसी भी समय जब आपका फाइबर का सेवन बढ़े तो आप अपने तरल पदार्थ के सेवन में भी वृद्धि करें। (और पढ़ें – पेट में गैस के घरेलू उपचार)
  •  अगर आपको स्वास्थ्य संबंधित कोई ऐसी परेशानी है जिसमें पोटेशियम या फाइबर का कम सेवन होना चाहिए, तो अपने आहार में अमरूद शामिल करने से पहले अपने डॉक्टर से बात करें।
और पढ़ें ...