myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

लिंग में दर्द होना एक आम समस्या है, जिससे हर पुरुष जीवन में एक न एक बार तो जूझता ही है। यह दर्द कोई आम समस्या भी हो सकती है तो किसी गंभीर रोग का संकेत भी। दर्द की तीव्रता से यह पता लगाया जा सकता है की स्थिति कितनी गंभीर है।

कई मामलों में लिंग पर सूजन, छाले, लालिमा या किसी प्रकार का डिस्चार्ज भी दिखाई दे सकता है। यदि आपको इनमें से कोई पीड़ा या लक्षण दिखाई दें तो यह लिंग से जुड़ी गंभीर समस्या हो सकती है। जैसे कि स्तंभन दोष, वीर्य में रक्त आना, लिंग का रंग बदलना और मूत्रमार्ग से द्रव निकलना आदि।

लिंग में दर्द से छुटकारा पाने के लिए आप चाहें तो घरेलू उपचार का उपयोग भी कर सकते हैं। इन सभी घरेलू उपायों का कोई भी साइड इफेक्ट नहीं होता है और यह सभी बेहद प्रभावशाली होते हैं। तो चलिए जानते हैं लिंग में दर्द के घरेलू उपायों के बारे में -

  1. टी-ट्री ऑयल है लिंग में दर्द का घरेलू उपाय - Tea Tree Oil hai Penis me Dard ka Gharelu Upay
  2. अजवायन का तेल है लिंग में दर्द का घरेलू उपचार - Ajwain ka Tel hai Ling mein Dard ka Gharelu Upchar
  3. लिंग में दर्द का देसी नुस्खा है सेब का सिरका - Ling me Dard ka Desi Nuskha hai Seb ka Sirka
  4. दही है लिंग में दर्द का देसी इलाज - Dahi hai Penis me Dard ka Desi Ilaj
  5. नारियल तेल है लिंग में दर्द का देसी उपाय - Coconut Oil hai Ling me Dard ka Desi Upay
  6. ठंडी सिकाई से करें लिंग में दर्द का इलाज - Thandi Sikai se Karein Ling me Dard ka Ilaj
  7. लिंग में दर्द के घरेलू उपाय अपनाने पर बरतें यह सावधानियां - Ling me Dard ke Gharelu Upay Apnane par Bartein yeh Savdhaniyan

काफी मामलों में लिंग में दर्द का कारण त्वचा संक्रमण होता है। यदि फंगल संक्रमण के कारण आपके लिंग में दर्द हो रहा है, तो इसके लिए टी-ट्री ऑयल एक बेहतरीन घरेलू उपचार है। इसके एंटीफंगस (फंगस को नष्ट करने वाला) और एंटीमाइक्रोबियल गुण सक्रियाशीलता प्रभाव पैदा करते हैं, जिससे लिंग में दर्द के लक्षण कम होने लगते हैं।

इसके अलावा एंटीसेप्टिक और एंटीइन्फ्लेमेटरी प्रभाव लिंग के आसपास की त्वचा के लालपन और सूजन को कम करने की प्रक्रिया में तेजी लाते हैं।

आवश्यक सामग्री

इस्तेमाल का तरीका

  1. नारियल तेल को पहले हल्का गर्म कर लें
  2. अब टी-ट्री ऑयल को नारियल तेल के साथ मिलाएं
  3. तेल को रूई की मदद से अपने प्रभावित हिस्से पर लगाएं
  4. इसके बाद इसे ऐसे ही छोड़ दें और कुछ समय बाद पानी से साफ कर लें

सावधानी
लिंग के आसपास की त्वचा बेहद संवेदनशील होती है और कई लोगों को इससे एलर्जी भी हो सकती है, इसलिए टी ट्री ऑयल को पहले लिंग के आसपास की त्वचा पर लगा कर चेक कर लें।

कब इस्तेमाल करें
टी-ट्री ऑयल एक बेहतरीन उपचार है जिसे दिन में दो से तीन बार इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है।

टी-ट्री ऑयल की ही तरह अजवायन के तेल से भी लिंग में होने वाले दर्द से छुटकारा पाया जा सकता है। इस तेल के एंटीफंगल गुण मूत्राशय के संक्रमण के लक्षणों को कम करने में मदद करते हैं जो कि कुछ मामलों में लिंग में दर्द का मुख्य कारण होता है। यदि आपको पेशाब करते समय दर्द महसूस होता है तो अजवायन के तेल का नुस्खा जरूर अपनाएं।

आवश्यक सामग्री

  • ½ चम्मच अजवायन का तेल
  • 1 चम्मच नारियल तेल
  • थोड़ी सी रुई

इस्तेमाल का तरीका

  1. नारियल तेल को हल्का गर्म कर लें
  2. अब नारियल के तेल को अजवायन के तेल के साथ मिलाएं
  3. तेल को रुई की मदद से अपने लिंग पर लगाएं
  4. इसके बाद इसे ऐसे ही छोड़ दें और कुछ समय बाद पानी से साफ कर लें

सावधानी
लिंग के आसपास की त्वचा बेहद संवेदनशील होती है और कई लोगों को इस तेल से एलर्जी भी हो सकती है, इसलिए अजवायन के तेल को पहले लिंग के आसपास की त्वचा पर लगाकर टेस्ट कर लें।

कब इस्तेमाल करें
अजवायन के तेल के घरेलू उपचार को दिन में दो बार इस्तेमाल करें, जब तक दर्द से राहत न मिल जाए।

कई बार व्यक्ति को लिंग में दर्द के साथ-साथ खुजली भी महसूस होती है, इसका कारण फंगस हो सकता है। फंगस के कारण जननांग और उसके आसपास के हिस्सों जैसे नितंबों और जांघ पर भी जलन महसूस होती है। फंगस के लक्षण दिखाई देने पर सेब के सिरके का इस्तेमाल सबसे बेहतर विकल्प होता है।

आवश्यक सामग्री

  • 2 चम्मच सेब का सिरका
  • 2 कप पानी

इस्तेमाल का तरीका

  1. दो कप पानी लें और उसके अंदर दो चम्मच सेब का सिरका मिला लें
  2. इसके बाद रूई या किसी कपड़े की मदद से लिंग और उसके आसपास के हिस्से को साफ करें
  3. अब इसे सूखने के लिए छोड़ दें और कुछ समय बाद पानी से साफ कर लें

सावधानी
सेब का सिरका बेहद तीव्र जलन पैदा कर सकता है, इसलिए इसकी मात्रा पानी के अनुसार कम ही रखें और पहले लिंग के आसपास के हिस्से पर आजमा कर देख लें। यदि आपको जलन महसूस होती है तो इस उपाय को न अपनाएं।

कब इस्तेमाल करें
इस उपाय को दिन में दो से तीन बार करने की सलाह दी जाती है।

दही में लैक्टोबेसिलस नाम के गुड बैक्टीरिया लिंग के आसपास मौजूद खराब बैक्टीरिया को नष्ट करने में मदद करते हैं। अगर आपको अपने लिंग या उसके आसपास छाले व फंगस नजर आती हैं तो उससे छुटकारा पाने के लिए दही एक अच्छा विकल्प साबित हो सकता है।

आवश्यक सामग्री

  • 2 बड़े चम्मच दही (जीवित बैक्टीरिया वाली)
  • 1 कटोरी दही

इस्तेमाल का तरीका

  • पहला तरीका
    दही को रोजाना अपने आहार में मिलाने से स्वास्थ्य बेहतर होता है शरीर में मौजूद सभी प्रकार के संक्रमण से लड़ने में मदद मिलती है। नियमित रूप से सुबह-शाम एक कटोरी दही के सेवन से लिंग में दर्द के लक्षणों में कमी आ सकती है। इसलिए लिंग में दर्द ठीक न होने तक इसका सेवन अवश्य करें।

 

  • दूसरा तरीका
  1. आप चाहें तो दही को अपने लिंग पर लगा भी सकते हैं
  2. दही की तासीर ठंडी होती है, जिसके कारण दर्द में राहत मिलती है
  3. इसे सीधा अपने लिंग के ऊपर और आसपास के प्रभावित हिस्से पर लगाएं
  4. कुछ समय के लिए इसे ऐसे हो छोड़ दें और उसके बाद साफ पानी या कपड़े से साफ कर लें

सावधानी
यह उपाय पूरी तरह से सुरक्षित है। हालांकि, कुछ लोगों को दही की ठंडी तासिर के कारण जलन भी महसूस हो सकती है इसलिए इस उपाय को सावधानी से इस्तेमाल करें।

कब इस्तेमाल करें
दिन में 2 से 3 बार इस नुस्खे को आजमाएं और छाले या दर्द के लक्षणों में कमी दिखने तक इस्तेमाल करें।

2007 में नाइजीरिया के इबादन में स्थित यूनिवर्सिटी कॉलेज हॉस्पिटल के डिपार्टमेंट ऑफ मेडिकल माइक्रोबायोलॉजी एंड पैरासीटालॉजी द्वारा किए गए एक अध्ययन में पाया गया कि नारियल तेल लिंग में होने वाले संक्रमण को कम करने में बेहद प्रभावशाली होता है। नारियल तेल प्राकृतिक रूप से इलाज करने में मदद करता है जैसे कब्ज से राहत, बालों की समस्या को ठीक करना व त्वचा को नमी पहुंचाना।

आवश्यक सामग्री

  • 2 बड़े चम्मच नारियल तेल

इस्तेमाल का तरीका

  1. नारियल तेल को अपने लिंग व उसके आसपास के प्रभावित हिस्से पर लगाएं
  2. त्वचा को इसे सोखने के लिए ऐसा ही छोड़ दें
  3. 20 से 25 मिनट बाद किसी कपड़े या पानी से साफ कर लें

सावधानी
नारियल तेल के कोई हानिकारक प्रभाव नहीं होते हैं। आप इसे बिना किसी संकोच के इस्तेमाल कर सकते हैं।

कब इस्तेमाल करें
इस उपाय को दिन में किसी भी समय किया जा सकता है। यदि आपके लिंग या उसके आसपास के भाग में नमी की कमी है तो नारियल तेल को रातभर लगाकर सो जाएं।

ठंडी सिकाई एक आसान व बेहद प्रभावशाली उपचार है। यह कुछ समय के लिए लिंग में होने वाले दर्द, खुजली और जलन से छुटकारा दिलाने में मदद करती है। कई मामलों में दर्द का कारण लिंग में सूजन होती है, यह अक्सर इस भाग में बड़े रक्त प्रवाह की वजह से होता है। ठंडी सिकाई अत्यधिक रक्त प्रवाह को कम करके सूजन से राहत दिलाती है। लिंग पर सूजन के लक्षण दिखाई देने पर इस उपाय का अवश्य इस्तेमाल करें।

आवश्यक सामग्री

  • बर्फ के कुछ टुकड़े
  • 1 साफ तौलिया या कपड़ा

इस्तेमाल का तरीका

  1. बर्फ के कुछ टुकड़ों को एक साफ कपड़े में लपेटें
  2. अब इससे लिंग व उसके आसपास के हिस्से की 5 से 10 मिनट सिकाई करें

सावधानी
ध्यान रहे कि बर्फ को त्वचा पर सीधा न लगाएं, ऐसा करने से त्वचा पर जलन या लालिमा हो सकती है।

कब इस्तेमाल करें 
यह उपाय केवल कुछ समय के लिए दर्द से राहत दिल सकता है। इसीलिए जब भी दर्द महसूस हो इसका इस्तेमाल करें और साथ ही बार-बार दर्द होने पर किसी डॉक्टर से सलाह भी ले लें।

ज्यादातर घरेलू उपचार सुरक्षित होते हैं और उनके कोई हानिकारक प्रभाव नहीं पड़ते हैं। हालांकि, यदि आप निम्न स्थितियों से ग्रस्त हैं तो कोई भी घरेलू उपाय न आजमाने की सलाह दी जाती है -

  • यौन संबंध से संचारित होने वाले संक्रमण पर इन उपायों को न अपनाएं।
  • यदि आपको बार-बार लिंग में दर्द या इन्फेक्शन होता रहता है तो घरेलू नुस्खे अपनाने से पहले डॉक्टर से संपर्क कर लें।
  • अगर आपको अपने लिंग में दर्द के कारण के बारे में कोई जानकारी नहीं है तो भी देसी उपायों को आजमाने से पहले डॉक्टर से सलाह ले लें।
और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें