myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत
संक्षेप में सुनें

 पेशाब में दर्द व जलन होना क्या होता है?

पेशाब के दौरान परेशानी, दर्द और जलन होने की स्थिति को 'डिस्यूरिया' (Dysuria) कहा जाता है। आम तौर पर यह मूत्राशय से मूत्र को बाहर ले जाने वाली ट्यूब (मूत्रमार्ग) में या फिर जननांगों के आस-पास के क्षेत्र में महसूस होता है। पेशाब में जलन होना अपने आप में एक बीमारी नहीं है, बल्कि यह अन्य बीमारियों का लक्षण होता है। पेशाब में जलन महसूस होने पर उसी समय डॉक्टर के पास उसका परीक्षण व मूल्यांकन करवाने के लिए जाना चाहिए। यह पुरुषों की तुलना में महिलाओं में अधिक होता है और युवा पुरुषों की तुलना में यह बूढ़े पुरूषों में अधिक पाया जाता है। अक्सर यह मूत्र पथ के संक्रमण का संकेत देता है एवं कई बार यह यौन संचारित संक्रमण का संकेत भी देता है।

(और पढ़ें - पेशाब में खून आने का इलाज)

  1. पेशाब में दर्द और जलन के लक्षण - Painful Urination (Dysuria) Symptoms in Hindi
  2. पेशाब में दर्द और जलन के कारण - Painful Urination (Dysuria) Causes in Hindi
  3. पेशाब में दर्द और जलन के बचाव के उपाय - Prevention of Painful Urination (Dysuria) in Hindi
  4. पेशाब में दर्द और जलन का परीक्षण - Diagnosis of Painful Urination (Dysuria) in Hindi
  5. पेशाब में दर्द और जलन का उपचार - Painful Urination (Dysuria) Treatment in Hindi
  6. पेशाब में दर्द और जलन के घरेलू उपाय
  7. पेशाब में दर्द और जलन की होम्योपैथिक दवा और इलाज
  8. पेशाब में जलन की दवा - Medicines for Painful Urination in Hindi
  9. पेशाब में जलन की दवा - OTC Medicines for Painful Urination in Hindi
  10. पेशाब में जलन के डॉक्टर

पेशाब में दर्द और जलन के लक्षण - Painful Urination (Dysuria) Symptoms in Hindi

पेशाब में दर्द व जलन के लक्षण व संकेत क्या हो सकते हैं?

संक्रमण से जुड़े निम्न लक्षण शामिल हो सकते हैं-

कभी-कभी पेशाब में जलन योनि के संक्रमण से भी जुड़ी हो सकती है, जिनमें निम्न लक्षण शामिल हो सकते हैं-  

यौन संचारित संक्रमण जैसे एड्स, क्लामिडिया या सिफलिस भी पेशाब में दर्द व जलन का कारण बन सकते हैं। ये निम्न लक्षणों का भी कारण बन सकते हैं जैसे:

डॉक्टर को कब दिखाना चाहिए?

आपको तुरंत डॉक्टर से बात करनी चाहिए अगर पेशाब में दर्द और जलन-

  • अचानक से शुरू हो जाए।
  • अचानक से बार-बार हो रही हो।
  • पेशाब करने की शुरूआत और बाद में महसूस होती हो।

अगर पेशाब में दर्द और जलन निम्न लक्षणों के साथ दिखाई दे-

अगर पेशाब में दर्द और जलन के साथ मूत्र प्रवाह में भी बदलाव दिखाई दे रहा हो, जैसे-

अगर पेशाब में दर्द और जलन के साथ-साथ उसके स्वरूप में भी परिवर्तन दिखाई दे रहा है तो यह परिवर्तन निम्न हो सकते हैं-

  • रंग
  • मात्रा
  • मूत्र में खून आना
  • मूत्र में पस (मवाद, पीब)
  • धुंधला पेशाब

(और पढ़ें - महिलाओं में पेशाब रोक न पाने की समस्या)

पेशाब में दर्द और जलन के कारण - Painful Urination (Dysuria) Causes in Hindi

पेशाब में दर्द व जलन क्यों होता है?

  • मूत्र पथ के संक्रमण (मूत्रमार्ग, मूत्राशय या गुर्दे) 'डिस्यूरिया' का सबसे आम कारण होता है।
  • मूत्राशय में संक्रमण, पौरुष ग्रंथि (Prostate) में संक्रमण और मूत्र पथ में सूजन आदि ये सबसे सामान्य प्रकार के संक्रमण होते हैं।
  • यौन संचारित रोग (STD) भी पेशाब में जलन के लक्षण उत्पन्न कर सकते हैं।

डिस्यूरिया के अन्य कारण जिनमें निम्न शामिल हैं-

  • आघात - सामान्य चोट, यौन संपर्क या कैथेटर आदि लगाने से भी जलन होती है। ( और पढ़ें - सुरक्षित सेक्स के तरीके और sex kaise kare)
  • रुकावट - असामान्य रूप से पौरुष ग्रंथि का आकार बढ़ने या मूत्र मार्ग संकुचित होने के कारण पेशाब करने में रुकावट हो सकती है।
  • बाहरी घावों के कारण जलन – अगर जननांगों की बाहरी त्वचा पर घाव आदि बने हुऐ हैं, तो उन पर पेशाब लगने से दर्द व जलन आदि हो सकती है।
  • बाहरी उत्तेजनाएं और प्रतिक्रियाएं – बार-बार ड्यूशिंग व अन्य जलन व परेशानी करने वाले उपकरणों का इस्तेमाल करने से भी पेशाब करने में जलन एवं परेशानी हो सकती है।
  • हार्मोनल - पोस्टमेनोपोजल (मेनोपॉज के बाद) के प्रभाव जैसे, योनी में सूखापन
  • न्यूरोलॉजिक की स्थिति - किसी भी नस की समस्या जो मूत्राशय खाली करने में कठिनाई का कारण बन सकती है।
  • कैंसर -  जैसे मूत्र पथ, मूत्राशय, शिश्न, योनि या पौरुष ग्रंथि में कैंसर
  • मेडिकल परिस्थितियां - जैसे शुगर और अन्य दीर्घकालिक स्थिति, जो प्रतिरक्षा प्रणाली को दबा देती है। ( और पढ़ें - शुगर का घरेलू नुस्खा)
  • साबुन, क्रीम और अन्य व्यक्तिगत देखभाल के उत्पाद।
  • गुर्दे में पथरी। ( और पढ़ें - पथरी में क्या खाएं)
  • मूत्राशय में पथरी।
  • जननांग दाद।
  • योनि यीस्ट संक्रमण

जोखिम कारक:

कुछ कारक जो 'डिस्यूरिया' होने के जोखिम को बढ़ा देते हैं, उनमें निम्न शामिल हैं-

पेशाब में दर्द और जलन के बचाव के उपाय - Prevention of Painful Urination (Dysuria) in Hindi

डिस्यूरिया की रोकथाम कैसे की जा सकती है?

  • अधिक मात्रा में तरल पदार्थ पीएं। (और पढ़ें - पानी पीने के फायदे)
  • सोते समय और यौन संभोग के बाद पेशाब करें। (और पढ़ें - सेक्स करने के फायदे)
  • अत्यधिक देर तक मूत्र को अंदर ना रखें।
  • यौन स्वच्छता और अच्छी स्वास्थ्य बनाएं रखें।
  • अगर आपको डिस्यूरिया की समस्या है तो जननांगों को उत्तेजित करने वाले किसी भी उत्पाद का सेवन करने से बचें।
  • कई साथियों के साथ असुरक्षित यौन संबंध बनाने से बचें। (और पढ़ें - सेक्स के दौरान की जाने वाली गलतियां)
  • सुरक्षित सेक्स का अभ्यास करें जैसे हमेशा कंडोम का उपयोग करना।
  • मूत्राशय को परेशान करने वाले पदार्थों से बचें, जैसे शराब और कॉफी। (और पढ़ें - शराब के नुकसान)
  • नियमित रूप से पेशाब करें और अपने मूत्राशय को पूरी तरह से खाली रखें।
  • सूती और ढीली अंडरवियर पहनें, नॉन-बाइडिंग कपड़े पहनें जो गर्मी और नमी को नहीं खींचती। 

(और पढ़ें - पेशाब नहीं रोक पाने का इलाज)

पेशाब में दर्द और जलन का परीक्षण - Diagnosis of Painful Urination (Dysuria) in Hindi

पेशाब में दर्द और जलन का परीक्षण कैसे किया जाता है?

(और पढ़ें - लैब टेस्ट)

काफी लोगों को पेशाब करने के दौरान अचानक से तकलीफ महसूस होने लगती है। आमतौर पर यह जलन के कारण होता है और इसका इलाज करने की आवश्यकता नहीं होती है। हालांकि, यदि पेशाब का दर्द लगातार गंभीर हो रहा है या फिर लंबे समय से आपको यह समस्या हो रही है, तो आपको अपने डॉक्टर को दिखा लेना चाहिए। इसका परीक्षण आपके रोग लक्षण, यौन आदतों, शारीरिक और मेडिकल संबंधी पिछली जानकारीयों के आधार पर होते हैं। शारीरिक परीक्षण के दौरान डॉक्टर जननांगों की जांच करते हैं और गुर्दे में दर्द या गुर्दे के रोग आदि जैसी समस्याओं का पता लगाते हैं। महिलाओं के लिए इस परीक्षण के दौरान पेल्विक परीक्षण (योनि की जांच) किया जा सकता है। जिन पुरूषों में पौरुष ग्रंथि का आकार बढ़ने का संदेह है, उनका शारीरिक परीक्षण किया जाता है।

(और पढ़ें - पैप स्मीयर टेस्ट)

 जांच:

  • पेशाब टेस्ट - यदि मूत्राशय में संक्रमण का संदेह हो रहा है तो आमतौर पर एक मूत्र परीक्षण के द्वारा इसकी पुष्टी की जा सकती है। (और पढ़ें - यूरिन टेस्ट क्या होता है)
  • बैक्टीरियल कल्चर के सैम्पल - मूत्र पथ और योनि में बैक्टीरियल संक्रमण की जांच करने के लिए, संक्रमित जगह से एक स्वैब (एक प्रकार का उपकरण) की मदद से कुछ द्रव या पदार्थ को सैम्पल के तौर पर ले लिया जाता है।
  • खून टेस्ट - यदि आपको बुखार या उससे संबंधित अन्य लक्षण हैं, तो खून में बैक्टीरिया की जांच के लिए लेबोरेटरी में खून के सैम्पल की जांच की जा सकती है। (और पढ़ें - ब्लड टेस्ट क्या है)
  • यौन संचारित बीमारियों के लिए परीक्षण - अगर कई पार्टनर्स के साथ आपके असुरक्षित यौन संबंध हैं और आपको पेशाब करते समय दर्द या जलन महसूस होती है, तो विभिन्न प्रकार के यौन संचारित बीमारियों जैसे कि सिफलिस, क्लैमाडिया और एचआईवी आदि के जानकारी के लिए अलग-अलग टेस्ट करने की आवश्यकता पड़ सकती है।

(और पढ़ें - एचआईवी टेस्ट क्या है)

पेशाब में दर्द और जलन का उपचार - Painful Urination (Dysuria) Treatment in Hindi

पेशाब में दर्द और जलन का उपचार कैसे किया जाता है?

पेशाब के दौरान दर्द और जलन का उपचार उसके कारणों के आधार पर किया जाता है:

संक्रमण, सूजन, आहार कारकों या मूत्राशय में से पेशाब के जलन का असली कारण निर्धारित करना इसके उपचार का सबसे पहला कदम होता है। 

(और पढ़ें - सूजन का इलाज)

  • डिस्यूरिया का सबसे सामान्य कारण मूत्र पथ संक्रमण होता है, जिसका इलाज एंटीबायोटिक दवाओं के साथ किया जाता है। सबसे अधिक सामान्य संक्रमणों का इलाज सिर्फ तीन दिन दवाओं का सेवन करने से हो जाता है। लेकिन कुछ प्रकार की दवाएं या कुछ जीवों (Organisms) के कारण इलाज में एक हफ्ते तक का समय भी लग सकता है। कुछ जटिल संक्रमण, जैसे गुर्दे में संक्रमण या वे संक्रमण और अन्य मेडिकल स्थिति जो प्रतिरक्षा प्रणाली को कमजोर कर देती हैं, उनको आमतौर पर उपचार के लिए एक लंबे कोर्स की आवश्यकता पड़ सकती है। उपचार का कोर्स पूरा करना जरूरी होता है। बार-बार मूत्र परीक्षण करने के लिए आपको कई बार आने को कहा जा सकता है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि आपके मूत्र में अब संक्रमण ख़त्म हो चुका है।
  • जिन लोगों को बार-बार मूत्राशय में संक्रमण हो जाता है, उनके लिए अतिरिक्त 6 महीने के लिए एंटीबायोटिक की खुराक का सुझाव दिया जा सकता है। जिन लोंगों के संक्रमण यौन गतिविधियों से संबंधित हैं, उनको एंटीबायोटिक की एक छोटी मात्रा लेने को कहा जा सकता है, (प्रत्येक समय जब वे संभोग करते हैं।) (और पढ़ें - एंटीबायोटिक दवा लेने से पहले रखें ध्यान)
  • अगर परीक्षण उन बैक्टीरिया की मौजूदगी का संकेत दे रहा है, जो शुरूआती एंटीबायोटिक को प्रतिक्रिया नहीं देते, तो इसकी जानकारी के बाद डॉक्टर दवाओं में बदलाव कर सकते हैं। यीस्ट संक्रमण का इलाज एंटीफंगल दवाओं के साथ किया जाता है, ये दवाएं खाने के लिए टेबलेट और जननांगों में लगाने के लिए क्रीम के रूप में आती हैं।
  • अगर शरीर में से संक्रमण को खत्म करने में देरी होती है, तो एक गंभीर समस्या भी पैदा हो सकती है। (और पढ़ें - सेक्स से जुड़े सच और झूठ)
  • अगर पेशाब में दर्द व जलन का कारण संक्रमण नहीं है, तो डॉक्टरों को आगे टेस्ट करने की आवश्यकता पड़ती है।
  • यदि आप यौन सक्रिय हैं और आपका यौन संचारित बीमारी के कारण होने वाली जलन का इलाज किया जा रहा है, तो आपके पार्टनर का भी इसके लिए इलाज किया जाना चाहिए। (और पढ़ें - गुप्त रोगों का उपचार)
  • त्वचा में जलन के कारण होने वाले सूजन का इलाज आमतौर पर उत्तेजित करने वाले पदार्थों से बचने के माध्यम से किया जा सकता है।
  • पेशाब में दर्द और जलन जैसी परेशानी को कम करने के लिए कई कदम उठाए जा सकते हैं, जिसमें अत्यधिक पानी पीना और ऑवर-द-काउंटर दवाएं लेना (बिना डॉक्टर की पर्ची के मेडिकल स्टोर पर मिलने वाली दवाओं को ऑवर द काउंटर दवाएं कहते हैं) शामिल है।
  • मूत्राशय के मामूली संक्रमण घरेलू उपचार पर जल्दी प्रतिक्रिया देकर ठीक हो जाते हैं, जैसे अधिक मात्रा में तरल पदार्थ पीना। (और पढ़ें - यूरिन इन्फेक्शन के उपाय)
  • महिलाओं में पोस्टमेनोपोजल के दौरान यह समस्या दुबारा होने से रोकथाम के लिए कुछ डॉक्टर, हार्मोन एस्ट्रोजन (Oestrogen) दवाओं का सुझाव देते हैं, ये दवाएं लगाने वाली क्रीम और खाने वाली गोलियों के रूप में मिलती हैं।
  • जिन मामलों में पेशाब के दौरान दर्द और जलन रुकावट से हुई है, जैसे कि किडनी में पथरी या पौरुष ग्रंथि का बढ़ना आदि, तो ऐसे में सर्जरी की आवश्यकता हो सकती है।

स्वतः देखभाल-

  • जब तक आप पूरी तरह से ठीक नहीं हो जाते, हर रोज दो गिलास नारियल का पानी पीएं।
  • खुद को रिलेक्स रखने के लिए कुछ सामान्य तकनीकों का इस्तेमाल करने की कोशिश करें। क्योंकि तनाव व चिंता आपकी स्थिति को गंभीर बना सकती है। (और पढ़ें - तनाव दूर करने के उपाय)
  • महिलाओं को अपने जननांग क्षेत्र साफ और सूखा रखना चाहिए, बार-बार अपने सेनिटरी नैपकिन्स को बदलते रहना चाहिए। (और पढ़ें - सेनेटरी पैड क्या है)
  • ज्यादा समय तक ज्यादा गीले कपड़े या स्विम सूट न पहनें।
  • सूती अंडरवियर पहनें और अधिक तंग जीन्स न पहनें।
  • सुरक्षित सेक्स का अभ्यास करें और संभोग से पहले और बाद में जननांगों को धो लें। बैक्टीरिया को बाहर निकालने के लिए संभोग करने के बाद पेशाब करें। (और पढ़ें - शादी से पहले सेक्स)
  • कैफीन, मसालेदार भोजन, कृत्रिम मीठे और कार्बोनेटेड ड्रिंक जैसे खाद्य व पेय पदार्थों से बचें, क्योंकि वे स्थिति को और खराब कर सकते हैं।  (और पढ़ें - संतुलित आहार किसे कहते है)
  • विटामिन C में उच्च खाद्य पदार्थ या विटामिन C के सप्लिमेंट्स लेने के लिए डॉक्टर से पूछें।
  •  धूम्रपान और शराब के अत्याधिक सेवन से बचें। 

(और पढ़ें - शराब की लत छुड़ाने के घरेलू उपाय)

Dr. Virender Kaur Sekhon

Dr. Virender Kaur Sekhon

यूरोलॉजी

Dr. Rajesh Ahlawat

Dr. Rajesh Ahlawat

यूरोलॉजी

Dr. Prasun Ghosh

Dr. Prasun Ghosh

यूरोलॉजी

पेशाब में जलन की जांच का लैब टेस्ट करवाएं

Urine Culture And Sensitivity

20% छूट + 10% कैशबैक

Urine Routine examination

20% छूट + 10% कैशबैक

पेशाब में जलन की दवा - Medicines for Painful Urination in Hindi

पेशाब में जलन के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
Bjain Caltha palustris DilutionBjain Caltha palustris Dilution 1000 CH63
ADEL 29 Akutur DropADEL 29 Akutur Drop200
Schwabe Copaiba officinalis CHSchwabe Copaiba officinalis 1000 CH96
SBL Arnica Montana Hair Oil Arnica Montana Hair Oil56
Bjain Santalum album DilutionBjain Santalum album Dilution 1000 CH63
Bjain Lespedeza capitata DilutionBjain Lespedeza capitata Dilution 1000 CH63
SBL Medorrhinum DilutionSBL Medorrhinum Dilution 1000 CH86
SBL Cantharis Mother Tincture QSBL Cantharis Mother Tincture Q 220
Bjain Cantharis DilutionBjain Cantharis Dilution 1000 CH63
SBL Capsicum annuum Mother Tincture QSBL Capsicum annuum Mother Tincture Q 76
ADEL 38 Apo-Spast DropADEL 38 Apo-Spast Drop200
Bjain Capsicum annuum DilutionBjain Capsicum annuum Dilution 1000 CH63
Schwabe Lespedeza capitata CHSchwabe Lespedeza capitata 1000 CH96
Bjain Levisticum officinale DilutionBjain Levisticum officinale Dilution 1000 CH63
SBL Lithium Carbonicum LMSBL Lithium Carbonicum 0/1 LM64
PyridiumPYRIDIUM 100MG TABLET 10S0
Schwabe Levisticum officinale CHSchwabe Levisticum officinale 1000 CH96
ADEL 48 Itires DropADEL 48 Itires Drop200
Schwabe Ammi visnaga MTSchwabe Ammi visnaga MT 284
Bjain Lithium carbonicum DilutionBjain Lithium carbonicum Dilution 1000 CH63
Bjain Pyrethrum Parthenium Mother Tincture QBjain Pyrethrum Parthenium Mother Tincture Q 319
Schwabe Lithium carbonicum CHSchwabe Lithium carbonicum 1000 CH96
Schwabe Rosa canina CHSchwabe Rosa canina 1000 CH96
Bjain Lithospermum officinale DilutionBjain Lithospermum officinale Dilution 1000 CH63
ADEL 66 Toxex DropADEL 66 Toxex Drop200

पेशाब में जलन की दवा - OTC medicines for Painful Urination in Hindi

पेशाब में जलन के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

OTC Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
Baidyanath Kanchanar GugguluBaidyanath Kanchanar Guggulu Tablet92
Baidyanath Pathrina TabletsBaidyanath Patharina Tablets92
Himalaya Renalka Syrup Himalaya Renalka Syrup 200 Ml72
Baidyanath ProstaidBaidyanath Prostaid Tablet108
Baidyanath Shweta ParpatiBaidyanath Shweta Parpati55
Zandu Chandraprabha VatiZandu Chandraprabha Vati Tablet37
Baidyanath Chandraprabha VatiBaidyanath Chandra Prabha Bati88
Baidyanath Chandanadi VatiBaidyanath Chandanadi Vati Tablets104
Baidyanath Kaishore GugguluBaidyanath Kaishore Guggulu171

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

पेशाब में जलन से जुड़े सवाल और जवाब

सवाल 4 महीना पहले

पेशाब में जलन और खुजली होने पर क्या करें?

Dr. Haleema Yezdani MBBS, सामान्य चिकित्सा

पेशाब के बाद गुप्तांग में खुजली होना यौन संचारित रोग जैसे कि क्लैमाइडिया या गोनोरिया में होता है। इन दोनों समस्याओं का आसानी से इलाज किया जा सकता है। वैसे योनि में खुजली और जलन दोनों ही वैजिनाइटिस की वजह से भी होता है। यह सामान्य समस्या है जो कि ईस्ट संक्रमण से होता है। लेकिन टेस्ट करने के बाद ही इसका पता चलेगा कि आपको किस तरह का संक्रमण है।

सवाल 8 महीना पहले

पेशाब में जलन होने पर क्या करना चाहिए?

Dr. Ayush Pandey MBBS, सामान्य चिकित्सा

पेशाब में जलन या दर्द होने पर सबसे पहले यूरिन टेस्ट किय जाता है ताकि इसके होने की वजह का पता लगाया जा सके। आमतौर पर महिलाओं में संक्रमण के लक्षणों की जांच के लिए योनि और मूत्रमार्ग से सैंपल लेकर उसकी जांच की जाती है। इसके साथ ही अपनी मेडिकल हिस्ट्री डाक्टर को बताना भी बहुत जरूरी है। अगर आपको डायबिटीज या कोई अन्य बीमारी है, तो संभव है पेशाब के दौरान उसकी वजह से जलन या दर्द हो। बहरहाल इसके बाद डाक्टर द्वारा परामर्श की गई दवाओं का सेवन करें और खानपान में सादे भोजन और तरल पदार्थ को ज्यादा शामिल करें।

सवाल 6 महीना पहले

पेशाब में जलन का तुरंत इलाज क्या है?

Dr. BK Agrawal MBBS, MD, सामान्य चिकित्सा

पेशाब में जलन का तुरंत कोई इलजा नहीं किया जाता है। इसे हल्के में लेना सही नहीं है। इसके बजाय तुरंत डाक्टर से संपर्क कर इसकी वजह जाननी चाहिए। इस बीच खूब पानी पिएं, फल खाएं, अपनी डाइट में विटामिन-सी बढ़ाएं। इस तरह पेशाब में जलन और दर्द से कुछ आराम आ सकता है।

सवाल 5 महीना पहले

मेरी उम्र 29 साल है। हर बार यूरिन पास करते हुए मुझे दर्द और जलन होता है। पेशाब भी बार-बार आता है और करने पर महज कुछ बूंदें ही निकलती हैं। कृपया मेरी मदद करें।

Dr. Braj Bhushan Ojha BAMS, गैस्ट्रोएंटरोलॉजी, डर्माटोलॉजी, मनोचिकित्सा, आयुर्वेदा, सेक्सोलोजी, मधुमेह चिकित्सक

सबसे पहले तो आप यूरिन टेस्ट करवाएं और डाक्टर से अपनी पूरी जांच कराएं। परेशान न हों।  आराम आ जायेगा।

References

  1. National Institute of Diabetes and Digestive and Kidney Diseases [internet]: US Department of Health and Human Services; Urinary Tract Imaging
  2. STD-GOV [Internet]. St SW, Rochester, USA. Painful Urination (Dysuria)
  3. Bueschen AJ. Flank Pain. In: Walker HK, Hall WD, Hurst JW. Clinical Methods: The History, Physical, and Laboratory Examinations. 3rd edition.. 3rd edition. Boston: Butterworths; 1990. Chapter 182.
  4. Hochreiter W . [Painful micturition (dysuria, algiuria). Ther Umsch. 1996 Sep;53(9):668-71.PMID: 8966693.
  5. MedlinePlus Medical Encyclopedia: US National Library of Medicine; Urination - difficulty with flow
और पढ़ें ...