रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर क्या होता है ?

हमारी रीढ़ की हड्डी में 33 छोटी-छोटी हड्डियां होती हैं जिन्हें कशेरुका (Vertebrae) कहा जाता है और यह शरीर को सहारा देती हैं। इन हड्डियों की मदद से आप सीधे खड़े हो पाते हैं, झुक पाते हैं और मुड़ पाते हैं। हर कशेरुका के बीच में एक खली जगह होती है जिसे रीढ़ नलिका (Spinal canal) कहा जाता है। रीढ़ की हड्डी के फ्रैक्चर हाथों और पैरों के फ्रैक्चर से अलग होते हैं। किसी भी कशेरुका में फ्रैक्चर होने से या उसका अपनी जगह से हिल जाने से यह चुभने लगते हैं और नसों को नुक्सान पहुंचा सकते हैं।

ज़्यादातर रीढ़ की हड्डी के फ्रैक्चर एक्सीडेंट, गिरने, गोली लगने या खेलने से होते हैं। चोट लगने से मांसपेशियों व लिगामेंट (Ligament: दो हड्डियों को आपस में जोड़ने वाला रेशेदार व लचीला ऊतक) में मोच आ सकती है या कशेरुका में फ्रैक्चर भी हो सकता है या वह अपनी जगह से हिल सकता है या आपकी रीढ़ की हड्डी को एक गंभीर नुक्सान भी हो सकता है।

चोट की गंभीरता के आधार पर आपको दर्द हो सकता है, चलने में तकलीफ हो सकती है और ऐसा भी हो सकता है कि आप आपने हाथ पैर न हिला पाएं (लकवा)।

कई फ्रैक्चर उपचार से ठीक हो जाते हैं, लेकिन कुछ गंभीर फ्रैक्चर के उपचार के लिए सर्जरी और हड्डियों को फिर से संगठित करने की आवश्यकता हो सकती है।

(और पढ़ें - हड्डी टूटना)

  1. रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर के प्रकार - Types of Spine Fracture in Hindi
  2. रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर के लक्षण - Spine Fracture Symptoms in Hindi
  3. रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर के कारण और जोखिम कारक - Spine Fracture Causes & Risk Factors in Hindi
  4. रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर से बचाव - Prevention of Spine Fracture in Hindi
  5. रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर का परीक्षण - Diagnosis of Spine Fracture in Hindi
  6. रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर का इलाज - Spine Fracture Treatment in Hindi
  7. रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर की जटिलताएं - Spine Fracture Complications in Hindi
  8. रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर की दवा - Medicines for Spine Fracture in Hindi
  9. रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर के डॉक्टर

रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर के कितने प्रकार होते हैं ?

चोट लगने के तरीके और नुक्सान के आधार पर रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर के अलग-अलग प्रकार होते हैं। कुछ सामान्य प्रकार के फ्रैक्चर निम्नलिखित हैं -

  • दबाव से होने वाला फ्रैक्चर (Compression Fracture)
    यह फ्रैक्चर आमतौर पर ऑस्टियोपोरोसिस या किसी ट्यूमर के कारण होता है। इसमें रीढ़ की हड्डी के आगे का हिस्सा फ्रैक्चर हो जाता है और उसकी लम्बाई कम हो जाती है, लेकिन पीछे का हिस्सा सामान्य रहता है। यह फ्रैक्चर दर्दनाक हो सकता है या ऐसा भी हो सकता है कि इसके कोई लक्षण न हों। दबाव से होने वाले फ्रैक्चर में आमतौर पर टूटी हुई हड्डी अपनी जगह से नहीं हिलती है। (और पढ़ें - ब्रेन ट्यूमर)
     
  • धुरी-संबंधी फ्रैक्चर (Axial Burst Fracture)
    यह फ्रैक्चर ऊंचाई से गिरकर पैरों के बल ज़मीन पर खड़े हो जाने से होता है। इससे रीढ़ की हड्डी के आगे व पीछे के हिस्सों की लम्बाई कम हो जाती है। इस फ्रैक्चर में सर्जरी की आवश्यकता हो सकती है। (और पढ़ें - रीढ़ की हड्डी की चोट)
     
  • गर्दन के झुकने के कारण होने वाला फ्रैक्चर (Chance Fracture)
    यह फ्रैक्चर गर्दन का झटके से आगे झुकने के कारण होता है। यह आमतौर पर गाड़ी से एक्सीडेंट होने के कारण होता है और इसमें रीढ़ की हड्डी खिंच जाती है। इस फ्रैक्चर में शरीर के ऊपर का भाग आगे की तरफ खिंचता है जबकि कूल्हे अपनी जगह पर ही रहते हैं। (और पढ़ें - गर्दन में दर्द)

रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर के लक्षण क्या होते हैं ?

रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर से बहुत तेज़ पीठ में दर्द हो सकता है।

  • दर्द आमतौर पर रीढ़ की हड्डी के बीच के भाग या निचले भाग में होता है, यह दर्द रीढ़ की हड्डी के दोनों तरफ और आगे के हिस्से में भी मेहसूस हो सकता है।
  • दर्द बहुत तेज़ होता है जिससे शारीरिक असक्षमता हो सकती है और इसे ठीक होने में कई हफ्ते या महीने लग जाते हैं।

दबाव से होने वाले फ्रैक्चर से शुरुआत में कोई लक्षण नहीं होते है, इनका पता तब चलता है जब किसी अन्य कारण से रीढ़ की हड्डी का एक्स रे किया जाता है। समय के साथ इसके निम्नलिखित लक्षण हो सकते हैं -

कुछ दुर्लभ मामलों में शरीर के झुकने से रीढ़ की हड्डी पर दबाव बनने के कारण निम्नलिखित समस्याएं हो सकती हैं -

अगर आपको निम्नलिखित लक्षण होते हैं, तो अपने डॉक्टर के पास जाएं -

  • आपको पीठ में दर्द है और आपको लगता है कि आपको दबाव के कारण होने वाला फ्रैक्चर है।
  • आराम करने और कोई गतिविधि करने पर भी दर्द एक जैसा ही है।
  • सोते समय दर्द बढ़ जाता है।
  • आपके लक्षण बिगडते जा रहे हैं और आपको मल व मूत्र को नियंत्रित करने में समस्या हो रही है।

रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर क्यों होते हैं ?

रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर का मुख्य कारण चोट लगना होता है। जैसे -

  • खेलते समय चोट लगना
  • गाड़ी का एक्सीडेंट होना
  • लड़ाई में चोट लगना
  • गिरना

ऑस्टियोपोरोसिस और रीढ़ की हड्डी में ट्यूमर से भी फ्रैक्चर हो सकते हैं। चोट लगने से रीढ़ की हड्डी पर बहुत अधिक दबाव बन जाता है जिससे इसमें फ्रैक्चर हो सकता है।

जिन लोगों को ऑस्टियोपोरोसिस, ट्यूमर या कुछ प्रकार के कैंसर होते हैं, उन्हें दबाव के कारण होने वाले फ्रैक्चर का खतरा अधिक होता है।

(और पढ़ें - कैंसर के लक्षण)

रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर होने के जोखिम कारक क्या होते हैं ?

निम्नलिखित लोगों को रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर होने का खतरा अधिक होता है -

  • कैंसर से ग्रस्त लोगों को (और पढ़ें - हड्डी का कैंसर)
  • जिन लोगों का बिना किसी वजह वजन कम हो रहा हो
  • 10 साल से कम उम्र के बच्चों को
  • 60 की उम्र से बड़े लोगों को

रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर से कैसे बचा जा सकता है ?

रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर से बचने के लिए निम्नलिखित उपाय किए जा सकते हैं -

  • गुरुत्वाकर्षण (Gravity) विरोधी व्यायाम (जैसे - चलना) करने से हड्डियों के नुकसान से बचा जा सकता है।
  • कैल्शियम और विटामिन डी से भरपूर आहार खाएं। (और पढ़ें - कैल्शियम की कमी)
  • रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर से बचने का सबसे अच्छा तरीका है ऑस्टियोपोरोसिस से बचना। अगर आपको पहले से ही ऑस्टियोपोरोसिस है, तो इसे और बढ़ने से रोकें। हड्डियों को मजबूत बनाने वाली दवाओं से हड्डियों के नुक्सान को रोका जा सकता है। भविष्य में फ्रैक्चर होने से रोकने के लिए यह एक महत्वपूर्ण तरीका है।
  • हड्डियों के घनत्व (Density) को जांचने के लिए परीक्षण करवाएं।
  • दुर्घटनाओं से बचें।
  • गाड़ी चलाते समय हमेशा सीट बेल्ट पहनें।
  • खेलते समय, कोई दुपहिया वाहन चलाते समय और घुड़सवारी करते समय सुरक्षा करने वाले उपकरण पहनें।
  • कम गहरे पानी में तैराकी करते समय कभी भी सिर के बल न कूदें। (और पढ़ें - स्विमिंग के फायदे)
  • धूम्रपान न करें, तम्बाकू से हड्डियां कमजोर होती हैं। (और पढ़ें - धूम्रपान छोड़ने के घरेलू उपाय)

रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर का पता कैसे लगाया जाता है ?

रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर होने पर ज़्यादातर आपको आपातकालीन स्थिति में अस्पताल ले जाया जाता है। इसके परीक्षण के लिए डॉक्टर आपकी साँस और रीढ़ की हड्डी की जाँच करते हैं। रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर के निदान के लिए निम्नलिखित परीक्षण किए जाते हैं -

  • सीटी स्कैन
    अगर आपको फ्रैक्चर हुआ है, तो उसकी गंभीरता व उससे हुए नुकसान की जाँच करने के लिए डॉक्टर आपका सीटी स्कैन कर सकते हैं।
     
  • एक्स रे
    60 वर्ष की आयु से ज़्यादा उम्र के लोग जिन्हें कैंसर है या चोट लगी है, उनका एक्स रे किया जाता है। अगर आपकी उम्र 60 वर्ष से कम है और आपको कोई स्वास्थ सम्बन्धी समस्या और गंभीर दर्द नहीं है, तो एक्स रे जरूरी नहीं होता।
     
  • एमआरआई स्कैन
    अगर आप मल या मूत्र नहीं रोक पाते हैं, आपको एक या दोनों हाथों व पैरों में कमजोरी महसूस हो रही है या आप अपने हाथ या पैर महसूस नहीं कर पा रहे हैं, तो आपका एमआरआई किया जा सकता है।

रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर का उपचार कैसे होता है ?

रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर को निम्नलिखित तरीकों से ठीक किया जाता है -

  • नॉन-सर्जिकल उपचार (गैर-शल्य चिकित्सा)
    रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर से हो रहे दर्द को अपने आप ठीक होने में तीन महीने तक का समय लग सकता है लेकिन यह दर्द कुछ दिनों या हफ़्तों में बेहतर होने लगता है। ​दर्द के लिए निम्नलिखित उपाय किए जा सकते हैं - 
  1. आराम करना - गतिविधियों को कम करने और आराम करने से कुछ समय तक दर्द में आराम मिल सकता है, लेकिन इससे हड्डियों को नुक्सान हो सकता है और ऑस्टियोपोरोसिस के लक्षण और अधिक बिगड़ सकते हैं जिससे रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर का जोखिम बढ़ जाता है। डॉक्टर कुछ दिनों के लिए आराम करने की सलाह दे सकते हैं, हालांकि, बहुत देर तक आराम भी नहीं करना चाहिए।
  2. बेल्ट का उपयोग करना - रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर की स्थिति में पीठ को सीधा रखने के लिए एक बेल्ट का उपयोग किया जाता है। इससे रीढ़ की हड्डी का हिलना डुलना कम होता है, जिससे दर्द में आराम मिलता है। हालांकि, बेल्ट का उपयोग सावधानी से डॉक्टर की सलाह के मुताबिक करना चाहिए क्योंकि इससे कमर से सम्बन्धी समस्याओं में मांसपेशियों की कमजोरी हो सकती है।
  • दर्द निवारक दवाएं
    केमिस्ट के पास मिलने वाली दवाएं दर्द को ठीक करने के लिए पर्याप्त होती हैं। इन दवाओं का उपयोग कुछ समय के लिए किया जाता है ताकि रोगी को इनकी आदत न पड़े। एंटीडिप्रेसेंट (Antidepressant) दवाओं से नसों में दर्द में आराम मिल सकता है। (और पढ़ें - नसों में दर्द के घरेलू उपाय)
     
  • सर्जरी
    अगर आराम करने, गतिविधि कम करने, बेल्ट का उपयोग करने और दर्द निवारक दवाएं लेने से भी दर्द ठीक नहीं होता है, तो इसके लिए सर्जरी की आवश्यकता होती है। रीढ़ की हड्डी पर दबाव को ठीक करने के लिए प्रयोग की जाने वाली सर्जरी हैं वर्टिब्रोप्लास्टी (Vertebroplasty), कायफोप्लास्टी (Kyphoplasty), स्पाइनल फ्यूशन सर्जरी (Spinal fusion surgery)।

सर्जरी के समय आपके डॉक्टर निम्नलिखित बातों का ध्यान रखेंगे -

  • सर्जरी के दौरान डॉक्टर जटिलताओं से बचने के लिए रीढ़ की हड्डी या इसमें मौजूद नसों पर दबाव बनाने वाले हड्डी के टुकड़ों को हटा देते हैं। जैसे - अगर कोई हड्डी का टुकड़ा नसों पर दबाव बना रहा है, तो डॉक्टर इस टुकड़े को हटा देंगे।
  • हड्डी के जुड़ने के दौरान हिलने डुलने की क्षमता को बढ़ाने के लिए डॉक्टर तारों, रॉड, पेच, प्लेट और एक प्रकार के पिंजरे का उपयोग कर सकते हैं। यह उपकरण रीढ़ की हड्डी के पूरी तरह से ठीक होने तक इसे सहारा देंगे। हड्डी के पूरी तरह से जुड़ने के बाद आपको यह उपकरण निकलवाने की आवश्यकता नहीं होती।

रीढ़ की हड्डी की सर्जरी के कई जोखिम होते हैं, लेकिन आपके डॉक्टर आपके लिए सबसे उचित सर्जरी चुनेंगे।

रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर की जटिलताएं क्या होती हैं ?

रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर से निम्नलिखित जटिलताएं हो सकती हैं -

  • थकान
  • रीढ़ की हड्डी और नसों पर दबाव
  • चलने-फिरने की क्षमता में कमी
  • संतुलन न बना पाना
  • गिरने का जोखिम बढ़ना
  • भूख न लगना
  • नींद से सम्बंधित समस्याएं (और पढ़ें - ज्यादा नींद आने के कारण)
  • लम्बे समय तक पीठ दर्द होना
  • खुद की देखभाल न कर पाना
  • जीवन की गुणवत्ता में कमी
  • पीठ पर कूबड़ निकल जाना (और पढ़ें - पीठ को सीधा रखने के उपाय)
  • अकेलापन महसूस करना और दुखी रहना
  • भविष्य में फ्रैक्चर होने का खतरा बढ़ जाना
  • सर्जरी के बाद हड्डियां न जुड़ पाना

(और पढ़ें - कूल्हे की हड्डी टूटना)

Dr. Sanjai kumar Srivastava

Dr. Sanjai kumar Srivastava

ओर्थोपेडिक्स

Dr. Mohit Garg

Dr. Mohit Garg

ओर्थोपेडिक्स

Dr. Aashish Shahare

Dr. Aashish Shahare

ओर्थोपेडिक्स

रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
ArtagenArtagen 250 Mg Tablet34.0
ArthopanArthopan 250 Mg Tablet52.0
NapexarNapexar 750 Mg Tablet27.0
NaprosynNaprosyn 125 Mg Suspension22.0
NaprozNaproz Tablet34.0
NaxenNaxen Cr 750 Mg Tablet29.0
XenarXenar Cr 750 Mg Tablet40.0
XenobidXenobid 275 Mg Tablet14.0
BrufenBrufen 200 Mg Tablet6.0
EndacheEndache Gel59.0
FenlongFenlong 400 Mg Capsule27.0
Ibuf PIbuf P Tablet14.0
IbugesicIbugesic 100 Mg Suspension22.0
IbuvonIbuvon 100 Mg Suspension10.0
Ibuvon (Wockhardt)Ibuvon Syrup12.0
IcparilIcparil 400 Mg Tablet29.0
MaxofenMaxofen Tablet7.0
TricoffTricoff Syrup60.0
AcefenAcefen 100 Mg/125 Mg Tablet29.0
Adol TabletAdol 200 Mg Tablet42.0
BruriffBruriff 400 Mg Tablet5.0
EmflamEmflam 400 Mg Injection7.0
Fenlong (Skn)Fenlong 200 Mg Tablet20.0
FlamarFlamar 400 Mg Tablet32.0
IbrumacIbrumac 200 Mg Tablet4.0
IbuminIbumin Syrup10.0
IbupalIbupal 400 Mg Tablet38.0
Ibuprofen 400 Mg TabletIbuprofen 400 Mg Tablet12.0
IbutasIbutas 200 Mg Tablet403.0
IfenIfen 200 Mg Tablet26.0
NoviganNovigan 400 Mg Tablet10.0
SugafenSugafen 200 Mg Tablet3.0
BruginBrugin Tablet7.0
DolofinDolofin Injection4.0
Fenlong MrFenlong Mr Tablet49.0
Fenlong SFenlong S Tablet50.0
GesicGesic Capsule14.0
Ibubid TrIbubid Tr 300 Mg Capsule8.0
ArthrinArthrin Gel80.0
Acefenac SpAcefenac Sp Tablet62.5
Adiflam PlusAdiflam Plus 400 Mg/500 Mg Tablet16.18
Anaflam PAnaflam P 100 Mg/125 Mg Suspension29.5
AntidolAntidol 100 Mg/125 Mg Tablet9.96
Antidol KidAntidol Kid Tablet4.14
AntiflamAntiflam 400 Mg/650 Mg Tablet10.63
ArcureArcure 400 Mg/500 Mg Tablet8.83
Arden PlusArden Plus 400 Mg/500 Mg Tablet7.83
BestofenBestofen 400 Mg/325 Mg Tablet12.8
BestophenBestophen 400 Mg/325 Mg Tablet7.8
Bestophen IBestophen I Tablet7.7
Bren PlusBren Plus 100 Mg/162.5 Mg Suspension12.47
BruaceBruace 100 Mg/162.5 Mg Suspension15.3
BrufamolBrufamol 400 Mg/325 Mg Tablet9.8
BrugesicpBrugesicp 100 Mg/125 Mg Syrup11.25
BrumolBrumol 400 Mg/325 Mg Tablet10.78
Brupal KidBrupal Kid 100 Mg/125 Mg Tablet Dt3.9
Bucon PlusBucon Plus 400 Mg/325 Mg Tablet7.7
Bufex KidBufex Kid 100 Mg/125 Mg Tablet3.88
BuflamBuflam 400 Mg/325 Mg Tablet6.73
Buflam PlusBuflam Plus 100 Mg/62.5 Mg Suspension17.0
Buflam (Ornate)Buflam Tablet9.71
CincofenCincofen 400 Mg/325 Mg Tablet28.0
CombiflamCombiflam Cream38.0
DeflamDeflam 400 Mg/400 Mg Tablet22.0
DolomecDolomec Relief Oil66.0
DolomedDolomed 100 Mg/125 Mg Suspension10.96
Dt IbuflamDt Ibuflam 400 Mg/333 Mg Tablet7.56
EbugesicEbugesic Tablet12.92
FenmolFenmol 400 Mg/325 Mg Tablet12.96
FlexonFlexon 400 Mg/500 Mg Tablet16.85
Iben PlusIben Plus 200 Mg/325 Mg Tablet7.44
IbuconIbucon 100 Mg/125 Mg Suspension11.33
Ibucon PlusIbucon Plus 100 Mg/125 Mg Syrup20.5
Ibufen PlusIbufen Plus 400 Mg/325 Mg Tablet24.93
IbuflamIbuflam 400 Mg/500 Mg Tablet7.33
Ibugesic PlusIbugesic Plus 100 Mg/162.5 Mg Suspension22.5
Ibulet KidIbulet Kid 100 Mg/125 Mg Tablet5.0
Ibulet PlusIbulet Plus 100 Mg/125 Mg Syrup19.5
IbunijIbunij 400 Mg/325 Mg Tablet2.82
Ibunij AIbunij A 400 Mg/325 Mg Tablet8.5
Ibu PIbu P 100 Mg/162.5 Mg Suspension11.37
IbutopIbutop 100 Mg/162.5 Mg Suspension17.3
InfanilInfanil 100 Mg/125 Mg Syrup60.5
MobilMobil 400 Mg/500 Mg Tablet178.75
NovaflamNovaflam Syrup20.9
Oxyvon ForteOxyvon Forte 400 Mg/325 Mg Tablet13.21
PabuflamPabuflam Tablet32.5
Paraflam PParaflam P 400 Mg/500 Mg Tablet15.0
P FenP Fen Tablet8.25
Pgi JuniorPgi Junior 100 Mg/125 Mg Tablet7.27
Pinkin PlusPinkin Plus 50 Mg/500 Mg Suspension12.18
Procieder EfProcieder Ef 400 Mg/325 Mg Tablet8.1
Profen (Overseas)Profen 100 Mg/162.5 Mg Syrup11.7
PyreflamPyreflam 400 Mg/325 Mg Tablet8.05
Rubigesic PRubigesic P 400 Mg/325 Mg Tablet39.81
RuparRupar 400 Mg/325 Mg Tablet10.0
Rupar JuniorRupar Junior 400 Mg/325 Mg Syrup32.0
Rupar KidRupar Kid Drops25.0
Takflam PlusTakflam Plus Tablet20.0
TempolTempol Syrup16.91
Tudofen ForteTudofen Forte 400 Mg/325 Mg Tablet56.78
AcugesicAcugesic 400 Mg/325 Mg Injection24.68
AllflamAllflam 400 Mg/500 Mg Tablet8.06
AnswellAnswell 400 Mg/325 Mg Tablet8.54
Arfen CompoundArfen Compound 400 Mg/325 Mg Tablet7.17
Artifen PlusArtifen Plus 100 Mg/125 Mg Suspension11.33
Bruceta ForteBruceta Forte 400 Mg/333 Mg Tablet7.0
BrucetaBruceta 100 Mg/125 Mg Suspension27.13
BrucetBrucet 400 Mg/333 Mg Tablet8.75
BrustanBrustan 400 Mg/325 Mg Tablet8.1
BrustinBrustin 400 Mg/325 Mg Tablet10.54
Calpol PlusCalpol Plus 400 Mg/325 Mg Suspension32.75
CipflamCipflam Tablet11.53
CobimaxCobimax Tablet554.62
CombinamCombinam 400 Mg/325 Mg Tablet25.98
Corflam PlusCorflam Plus Syrup12.83
Corflam S (Abaris)Corflam S Suspension26.0
Cr FlamCr Flam 400 Mg/325 Mg Tablet17.27
Decomb SpDecomb Sp Tablet69.93
DuoflamDuoflam 400 Mg Spray43.02
Emflam PlusEmflam Plus 400 Mg/500 Mg Tablet20.5
Fenceta PlusFenceta Plus 100 Mg/125 Mg Suspension19.0
FencetaFenceta 400 Mg/325 Mg Tablet12.26
GexofenGexofen 400 Mg/325 Mg Tablet11.56
IbuactIbuact 400 Mg/325 Mg Tablet7.37
IbucetIbucet 400 Mg/500 Mg Tablet16.0
Ibuclin JuniorIbuclin Junior 100 Mg/125 Mg Tablet4.71
IbudexIbudex 400 Mg/325 Mg Tablet8.75
IbufenIbufen Syrup13.17
Ibukind PlusIbukind Plus 100 Mg/162.5 Mg Suspension17.35
Ibukind Plus NfIbukind Plus Nf Tablet15.1
IbumolIbumol 400 Mg/500 Mg Tablet7.18
IbunIbun 400 Mg/500 Mg Tablet10.37
IbunolIbunol 400 Mg/500 Mg Tablet9.8
IbuparaIbupara 400 Mg/325 Mg Tablet7.15
IbuparIbupar 400 Mg/325 Mg Tablet5.5
Ibupil ForteIbupil Forte 400 Mg/500 Mg Tablet12.5
Ibupil PlusIbupil Plus 400 Mg/500 Mg Tablet9.5
IbupyrinIbupyrin 400 Mg/333 Mg Tablet14.5
IbusarIbusar Tablet7.13
IbutalIbutal 400 Mg/333 Mg Tablet25.0
IbuwinIbuwin 400 Mg/500 Mg Tablet6.3
ImolImol 100 Mg/162.5 Mg Suspension21.1
Inflagesic PlusInflagesic Plus 400 Mg/325 Mg Tablet27.4
IntaflamIntaflam Syrup11.12
ItinilItinil 100 Mg/125 Mg Suspension14.37
LupiflamLupiflam 400 Mg/325 Mg Tablet5.35
Lupiflam MLupiflam M Tablet6.25
Lupiflam PLupiflam P Tablet10.0
Magadol SuspensionMagadol Suspension31.2
Maxofen PlusMaxofen Plus Tablet7.58
MegadolMegadol Syrup31.16
Megadol KidMegadol Kid Tablet28.57
Megadol NewMegadol New Syrup30.02
Metagesic PlusMetagesic Plus Syrup17.5
MultigonMultigon 100 Mg/125 Mg Suspension9.43
New Artifen PlusNew Artifen Plus 400 Mg/400 Mg Tablet67.0
Norswell PlusNorswell Plus Tablet7.61
Paa KidPaa Kid 100 Mg/125 Mg Tablet4.17
Pd FlamPd Flam 400 Mg/325 Mg Tablet7.42
Primafen PlusPrimafen Plus Tablet6.05
Pyremol IbPyremol Ib 100 Mg/162.5 Mg Suspension15.1
Pyremol Plus IbPyremol Plus Ib 400 Mg/325 Mg Tablet5.91
RegaflamRegaflam 400 Mg/333 Mg Tablet6.25
ReliefRelief Tablet6.25
RenofenRenofen 400 Mg/325 Mg Tablet13.49
RumagesicRumagesic 400 Mg/325 Mg Tablet15.31
Rutek PRutek P 300 Mg/500 Mg Tablet70.0
Simultin PSimultin P 100 Mg/162.5 Mg Suspension14.06
StifnilStifnil Tablet18.38
TolfenTolfen Tablet7.21
ZuparZupar 400 Mg/300 Mg Tablet138.75
AchridAchrid 400 Mg/325 Mg/30 Mg Tablet8.25
Ibutran PlusIbutran Plus 400 Mg/500 Mg/25 Mg Tablet17.13
Imol PlusImol Plus Tablet11.2
IpeceeIpecee 400 Mg/500 Mg/65 Mg Tablet7.71
AcogesicAcogesic Capsule10.86
IbuflexIbuflex 400 Mg/325 Mg/100 Mg Tablet31.0
Novaflam Plus KidNovaflam Plus Kid Tablet3.13
Relifen PlusRelifen Plus 400 Mg/325 Mg/150 Mg Tablet25.0
IpmIpm 400 Mg/325 Mg/100 Mg Tablet8.25
MaximolMaximol 400 Mg/325 Mg/100 Mg Tablet40.0
PaaPaa 400 Mg/325 Mg/100 Mg Tablet27.5
AdineAdine 400 Mg/325 Mg/10 Mg Tablet59.0
BuseraBusera 400 Mg/325 Mg/10 Mg Tablet53.46
TriflamTriflam 400 Mg/325 Mg/10 Mg Tablet131.25
CodylexCodylex 4 Mg/10 Mg Linctus0.0
Betaflam ForteBetaflam Forte 400 Mg/65 Mg Capsule22.62
LobainLobain 400 Mg/85 Mg Capsule23.17
Ibruvon ForteIbruvon Forte 400 Mg/65 Mg Capsule21.04
Ibu ProxyvonIbu Proxyvon 400 Mg/65 Mg Capsule80.18
Parvon ForteParvon Forte 400 Mg/65 Mg Capsule13.89
Espra XnEspra Xn 375 Mg/20 Mg Tablet109.9
Flexon MrFlexon Mr Tablet14.05
Artiflex PlusArtiflex Plus 400 Mg/300 Mg/250 Mg Tablet27.0
Coflam MrCoflam Mr 400 Mg/325 Mg/250 Mg Tablet35.0
Dolomed MrDolomed Mr Tablet11.4
Megaflam M RMegaflam M R 400 Mg/325 Mg/250 Mg Tablet36.8
SpontrelSpontrel Tablet8.1
Sysdol MrSysdol Mr 400 Mg/325 Mg/250 Mg Tablet53.25
HeadsetHeadset 35 Mg/500 Mg Tablet72.0
HeadfreeHeadfree 85 Mg/500 Mg Tablet62.5
Suminat ForteSuminat Forte Tablet59.0
ThrobexitThrobexit Tablet120.95
MinadoMinado 500 Mg/10 Mg Tablet52.0
NaprodomNaprodom 250 Mg Tablet41.0
NaxdomNaxdom 250 Mg Tablet47.0
PandexPandex 500 Mg/10 Mg Tablet71.22
XenadomXenadom 10 Mg/500 Mg Tablet74.0
OxydinOxydin 400 Mg/325 Mg/32.5 Mg Injection24.0
Volflam DVolflam D 400 Mg/325 Mg/32.5 Mg Tablet19.5
ParaflaxParaflax 400 Mg/250 Mg Tablet27.12
TizapamTizapam 400 Mg/2 Mg Tablet53.0
LumbrilLumbril Tablet20.58
TizafenTizafen 400 Mg/2 Mg Capsule67.92

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

सम्बंधित लेख

और पढ़ें ...