myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत
संक्षेप में सुनें

ब्रेन ट्यूमर क्या है?

ब्रेन ट्यूमर मस्तिष्क में होने वाली असामान्य कोशिकाओं का एक संग्रह है। आपके मस्तिष्क को आवरण में रखने वाली खोपड़ी (Skull) बेहद ही कठोर होती है। इस तरह से इस सीमित स्थान के भीतर कोई भी असामान्य कोशकीय विकास समस्याएं पैदा कर सकता है। ब्रेन ट्यूमर कैंसरयुक्त (घातक) या गैर-कैंसरयुक्त (सामान्य) हो सकता है। जब सौम्य या घातक ट्यूमर बढ़ते हैं, तो इससे खोपड़ी के अंदर दबाव बढ़ सकता है। यह स्थिति मस्तिष्क को क्षति पहुंचाता है और यह जीवन के लिए खतरनाक हो सकता है।

ब्रेन ट्यूमर को प्राथमिक या माध्यमिक श्रेणी के रूप में वर्गीकृत किया जाता है। प्राथमिक ब्रेन ट्यूमर आपके मस्तिष्क में उत्पन्न होता है। कई प्राथमिक ब्रेन ट्यूमर सौम्य (सामान्य) होते हैं। वहीं माध्यमिक ब्रेन ट्यूमर, जिसे मेटास्टैटिक मस्तिष्क ट्यूमर (Metastatic Brain Tumor) के रूप में भी जाना जाता है, यह तब होता है जब कैंसर की कोशिकाएं आपके मस्तिष्क में फेफड़ों या स्तन जैसे किसी अन्य प्रभावित अंग से फैल जाती है। 

(और पढ़ें - कैंसर का इलाज

  1. ब्रेन ट्यूमर के प्रकार - Types of Brain Tumour in Hindi
  2. ब्रेन ट्यूमर के लक्षण - Brain Tumour Symptoms in Hindi
  3. ब्रेन ट्यूमर के कारण और जोखिम कारक - Brain Tumour Causes & Risk Factors in Hindi
  4. ब्रेन ट्यूमर का परीक्षण - Diagnosis of Brain Tumour in Hindi
  5. ब्रेन ट्यूमर का उपचार - Brain Tumour Treatment in Hindi
  6. Homeopathic medicine, treatment and remedies for Brain Tumour
  7. ब्रेन ट्यूमर की होम्योपैथिक दवा और इलाज
  8. ब्रेन ट्यूमर की दवा - Medicines for Brain Tumour in Hindi
  9. ब्रेन ट्यूमर के डॉक्टर

ब्रेन ट्यूमर के प्रकार - Types of Brain Tumour in Hindi

ब्रेन ट्यूमर के कितने प्रकार होते हैं?

ब्रेन ट्यूमर के दो मुख्य प्रकार हैं:

  • बिना कैंसरयुक्त ब्रेन ट्यूमर (Non-cancerous brain tumours)- यह धीरे-धीरे बढ़ता है और इलाज के बाद इसके दोबारा होने की संभावनाएं कम होती है। (और पढ़ें - ब्रेन कैंसर का इलाज)
  • कैंसरयुक्त ब्रेन ट्यूमर (Cancerous brain tumours)- यह मस्तिष्क में प्राथमिक ट्यूमर के रूप में  शुरू होता हैं और धीरे-धीरे मस्तिष्क के अन्य भागों में (माध्यमिक ट्यूमर) फैल जाता है। उपचार के बाद भी इसके दोबारा होने की संभावनाएं रहती हैं।

(और पढ़ें - गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल स्ट्रोमल ट्यूमर का इलाज)

ब्रेन ट्यूमर के लक्षण - Brain Tumour Symptoms in Hindi

ब्रेन ट्यूमर के क्या लक्षण होते हैं?

ब्रेन ट्यूमर के संकेतों और लक्षणों में भिन्नता होती है। यह ब्रेन ट्यूमर के आकार, स्थान और बढ़ने की दर पर निर्भर करता है। कई बार बिना किसी लक्षण के भी व्यक्ति को ब्रेन ट्यूमर की समस्या हो सकती है।

ब्रेन ट्यूमर के लक्षण सामान्य व विशिष्ट हो सकते हैं। इसके सामान्य लक्षण मस्तिष्क व रीढ़ की हड्डी में ट्यूमर से पड़ने वाले दबाव के कारण उत्पन्न होता है। वहीं विशिष्ट लक्षण तब होते हैं, जब मस्तिष्क का एक निश्चित भाग ट्यूमर की वजह से सही तरह से काम नहीं कर पाता है। कई लोगों को ब्रेन ट्यूमर की समस्या हो सकती है, लेकिन इसकी पहचान डॉक्टर के पास जाकर कुछ परीक्षणों के द्वारा ही की जा सकती है। इस समस्या में सिरदर्द व अन्य तरह की परेशानी होने लगती है।

(और पढ़ें - सिर दर्द से छुटकारा पाने के उपाय)

ब्रेन ट्यूमर में निम्न तरह के सामान्य संकेत व लक्षण शामिल होते हैं-

ब्रेन ट्यूमर में कुछ विशिष्ट लक्षण भी देखें जाते हैं, जिनमें निम्न शामिल है-

  • ट्यूमर के पास दबाव व सिरदर्द,
  • दैनिक गतिविधियों को करने में कठिनाई,
  • देखने में आंशिक या पूर्णरूप से समस्या आना,
  • बोलने, सुनने, याददाश्त व भावनात्मक स्थिति में परिवर्तन आना, जैसे- गुस्सा आना और शब्दों को समझने में समस्या होना, (और पढ़ें - गुस्सा कम करने के उपाय)
  • किसी चीज को पकड़ने में परेशानी होना, शरीर के एक हिस्से की तरफ के हाथ व पैर में कमजोरी आना,
  • ऊपर की ओर देखने में मुश्किल होना,
  • स्तनपान में मुश्किल व महिलाओं के मासिक धर्म की अवधि में बदलाव, (और पढ़ें - मासिक धर्म जल्दी लाने के उपाय)
  • निगलने में कठिनाई, चेहरे की मांसपेशियों में कमजोरी आना इत्यादि। (और पढ़ें - मांसपेशियों में खिंचाव के कारण)

डॉक्टर के पास कब जाएं?

यदि आप उपरोक्त में से कोई लक्षण महसूस कर रहे हैं तो अपने डॉक्टर के पास जाएं। इस तरह के लक्षणों के लिए कई अन्य तरह की समस्याएं भी जिम्मेदार हो सकती है, इसलिए जरूरी है कि आप डॉक्टर के पास जाकर इसके बारे में जानकारी लें।

ब्रेन ट्यूमर के कारण और जोखिम कारक - Brain Tumour Causes & Risk Factors in Hindi

ब्रेन ट्यूमर के कारण व जोखिम के कारक क्या हैं?

ब्रेन ट्यूमर के सही कारणों का पता अभी तक नहीं लगाया जा सका है। शोधकर्ता इस बात का अध्ययन कर रहे हैं कि, क्या इसके जोखिम कारक, दूसरे कारकों की तुलना में ब्रेन ट्यूमर को विकसित करने की संभावना रखते हैं या नहीं। इसके जोखिम भरे कारक इस बीमारी की संभावना को बढ़ा सकते हैं। आइये जानते हैं ब्रेन ट्यूमर के जोखिम कारक, जो इसके होने की संभावनाओं को बढ़ा सकते हैं-

(और पढ़ें - मस्तिष्क संक्रमण का इलाज)

  • बढ़ती आयु: उम्र बढ़ने के साथ ही साथ ब्रेन ट्यूमर होने का खतरा बढ़ जाता है। वृद्ध व्यक्तियों में ब्रेन ट्यूमर होना सबसे आम है। हालांकि,  ब्रेन ट्यूमर किसी भी उम्र में हो सकता है। कुछ प्रकार के ब्रेन ट्यूमर तो केवल बच्चों में ही पाए जाते हैं। (और पढ़ें - बढ़ती उम्र में होने वाली समस्या)
  • हानिकारक किरणों का प्रभाव: जो लोगों 'आयोनिजिंग विकिरण' (सिर पर एक बड़ी मशीन से विकिरण चिकित्सा करवाना) जैसी कोई चिकित्सा का सहारा लेते हैं, उनमें ब्रेन ट्यूमर का खतरा बढ़ जाता है। उदाहरणतः आयोनिजिंग विकिरण को कैंसर का इलाज करने वाली विकिरणीय चिकित्सा में भी शामिल किया जाता है।
  • किसी पारिवारिक सदस्य में पहले कभी ब्रेन ट्यूमर का होना: यदि आपके किसी पारिवारिक सदस्य को पहले कभी ब्रेन ट्यूमर की समस्या रही हो, तो आपके मस्तिष्क में ब्रेन ट्यूमर होने की संभावनाएं काफी हद तक बढ़ जाती हैं।
  • पहले किसी को कैंसर होना - कैंसर से पीड़ित बच्चों को अपने बाद के जीवनकाल में ब्रेन ट्यूमर होने का अधिक खतरा रहता है। जिन वयस्कों को ल्यूकेमिया (रक्त कैंसर) होता है, उनमें भी इसके होने का खतरा रहता है।
  • एचआईवी-एड्स - सामान्य जनसंख्या की तुलना में, यदि आपको एचआईवी या एड्स है, तो आपको ब्रेन ट्यूमर होने की संभावना अधिक होती है। (और पढ़ें - एचआईवी टेस्ट कैसे होता है)

(और पढ़ें - बोन कैंसर का इलाज)

ब्रेन ट्यूमर का परीक्षण - Diagnosis of Brain Tumour in Hindi

ब्रेन ट्यूमर का परीक्षण​/ निदान किस प्रकार करें?

यदि आपके लक्षण ब्रेन ट्यूमर होने की ओर इशारा करते हैं तो आपको अपने डॉक्टर से मिल कर कुछ शारीरिक परीक्षण करवाने चाहिए। इस दौरान आप अपने डॉक्टर को अपने व पारिवारिक सदस्यों का स्वास्थ्य संबंधी पूरा ब्यौरा जरूर बताएं।

(और पढ़ें - लैब टेस्ट क्या होता है)

ब्रेन ट्यूमर की पहचान के लिए निम्न टेस्ट आवश्यक हो सकते हैं:

  • न्यूरोलॉजिक परीक्षण (नसों से संबंधित जांच): इसके तहत आपका डॉक्टर आपकी दृष्टि, सुनने की शक्ति, आपकी सतर्कता, मांसपेशियों की ताकत, समन्वय और इनके लचीलेपन की जांच करता है। आपका डॉक्टर आंखों व मस्तिष्क से जुड़ने वाली तंत्रिकाओं पर ट्यूमर के कारण हुई सूजन को देखने के लिए आपकी आंखों की भी जांच कर सकता है।
  • एमआरआई: यह कंप्यूटर से जुड़ा एक ऐसी मशीनरी परीक्षण है, जिसका उपयोग आपके सिर के अंदर के हिस्सों का विस्तृत चित्र लेने के लिए किया जाता है। मस्तिष्क के ऊतकों में अंतर देखने में मदद के लिए कभी-कभार एक विशेष डाई को आपकी बांह या हाथ की रक्त वाहिकाओं में लगाई जाती है। इसके चित्र मस्तिष्क के असामान्य क्षेत्रों, जैस ट्यूमर को दिखाते हैं। (और पढ़ें - एमआरआई स्कैन क्या है)
  • सीटी स्कैन: यह कंप्यूटर से जुड़ी एक ऐसी एक्स-रे मशीन है, जो आपके अंदरूनी सिर के कई चित्र लेती है। आप अपने हाथ या बाह की रक्त वाहिकाओं में डाई लगाकर इसके चित्र प्राप्त कर सकते हैं। यह चित्र आपके सिर के असामान्य क्षेत्रों को देखना बेहद ही आसान बना देता है। (और पढ़ें - सीटी स्कैन क्या है)
  • एंजियोग्राम: इसमें रक्त वाहिकाओं में इंजेक्शन के माध्यम से डाई के द्वारा मस्तिष्क का एक्स-रे किया जाता है। यदि मस्तिष्क में कोई ट्यूमर मौजूद है, तो एक्स-रे में ट्यूमर को देखा जा सकता है। (और पढ़ें - एक्स-रे के प्रकार)
  • रीढ़ की हड्डी में छेद: इसमें आपके चिकित्सक रीढ़ की हड्डी के निचले हिस्से से तरल पदार्थ (Cerebrospinal Fluid/ मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी के आस-पास के स्थानों को भरने वाले द्रव) का नमूना ले सकते है। आपकी रीढ़ की हड्डी के निचले हिस्से से इस तरल को निकालने के लिए चिकित्सक एक लंबी, पतली सुई का उपयोग करते हैं। प्रयोगशाला में कैंसर की कोशिकाओं व ट्यूमर के अन्य लक्षणों के लिए इस तरल पदार्थ की जांच की जाती है।
  • बायोप्सी: ट्यूमर कोशिकाओं को देखने के लिए ऊतकों की जाँच की प्रक्रिया को 'बायोप्सी' कहा जाता है। जांचकर्ता (पैथलॉजिस्ट) माइक्रोस्कोप के द्वारा इन कोशिकाओं को देखते हैं। बायोप्सी के द्वारा कैंसर, ऊतकों में परिवर्तन (जो कि कैंसर हो सकता है) और अन्य संबंधित स्थितियां देखी जा सकती है। ब्रेन ट्यूमोरैंड (Brain Tumorand) के उपचार की योजना को तैयार करने के लिए बायोप्सी ही इसके परीक्षण का एकमात्र निश्चित तरीका है। (और पढ़ें - बायोप्सी क्या होता है)

जब ट्यूमर मस्तिष्क के अंदर ऐसे स्थान पर हो, जहां से वह संचालित (Operated) नहीं किया जा सकता हो या मस्तिष्क के किसी हिस्से की गहराई में हो तो सुई के द्वारा बायोप्सी का उपयोग किया जाता है। 

(और पढ़ें - ब्लड टेस्ट)

ब्रेन ट्यूमर का उपचार - Brain Tumour Treatment in Hindi

ब्रेन ट्यूमर का इलाज कैसे किया जाता है?

ब्रेन ट्यूमर का उपचार निम्न बातों पर निर्भर करता है-

  • ट्यूमर के प्रकार,
  • मस्तिष्क में ट्यूमर की स्थिति,
  • उसका आकार,
  • वह कितना फैल चुका है,
  • कोशिकाएं कितनी असामान्य हुई हैं,
  • आपके स्वास्थ्य व फिटनेस का स्तर कैसा है?

सर्जरी:

  • यदि ब्रेन ट्यूमर किसी ऐसे स्थान पर स्थित हो जहां ऑपरेशन करना आसान हो, तो आपका सर्जन ज्यादा से ज्यादा ट्यूमर को हटाने कोशिश करेगा। (और पढ़ें - ऑपरेशन कैसे होता है)
  • कुछ मामलों में, ट्यूमर छोटा व आसपास के मस्तिष्क के ऊतकों से अलग होने में आसान होता है, जो पूरी तरह से सर्जरी के लिए सही स्थिति होती है। जबकि कुछ अन्य मामलों में, ट्यूमर को आसपास के ऊतकों से अलग नहीं किया जा सकता है। इसके अलावा वह दिमाग में संवेदनशील क्षेत्रों के नजदीक स्थित होता है, जिसमें सर्जरी का जोखिम नहीं लिया जा सकता है। इस स्थिति में आपके डॉक्टर अन्य सुरक्षित तरीकों से ट्यूमर को हटाते हैं।
  • ब्रेन ट्यूमर के हिस्से को हटाने से आपके रोग संकेतों व लक्षणों को कम करने में मदद मिल सकती है।
  • ब्रेन ट्यूमर को सर्जरी से हटाने में संक्रमण व रक्तस्राव का जोखिम रहता है। इसके अलावा ट्यूमर के स्थान से संबंधित अन्य परेशानियां भी हो सकती है।

(और पढ़ें - स्तन संक्रमण के लक्षण)

विकिरण उपचार (Radiation Therapy):

विकिरण चिकित्सा में उच्च ऊर्जा का इस्तेमाल किया जाता है, जैसे ट्यूमर कोशिकाओं को नष्ट करने के लिए एक्स-रे का प्रयोग करना। विकिरण चिकित्सा आपके शरीर के बाहरी हिस्से पर मशीन (बाह्य बीम विकिरण) के माध्यम से की जाती है। वहीं कुछ दुर्लभ मामलों में, विकिरण आपके शरीर में नजदीक से मस्तिष्क के ट्यूमर (ब्रैचीथेरेपी) तक ले जाई जाती है।

बाहरी बीम विकिरण (External beam radiation):

बाहरी बीम विकिरण (External beam radiation) उपचार से आपके मस्तिष्क के उस क्षेत्र को उपचारित किया जा सकता है, जहां ट्यूमर स्थित हो। इसके अलावा आपके संपूर्ण मस्तिष्क पर भी इसका प्रयोग किया जा सकता है। पूरे मस्तिष्क में विकिरण का उपयोग अक्सर उस कैंसर का इलाज करने के लिए किया जाता है, जो कि शरीर के किसी अन्य हिस्से से मस्तिष्क तक फैल चुका हो।

(और पढ़ें - ब्लड कैंसर का इलाज)

विकिरण चिकित्सा का दुष्प्रभाव, इस प्रक्रिया में दी गई विकिरण (Radiation) की क्षमता और मात्रा पर निर्भर करती है। विकिरण के दौरान या तुरंत बाद होने वाले दुष्प्रभावों में थकान, सिरदर्द और सिर की त्वचा में जलन होना शामिल है।

कीमोथेरपी (Chemotherapy):

ट्यूमर कोशिकाओं को नष्ट करने के लिए कीमोथेरेपी का उपयोग किया जाता है। कीमोथेरेपी की दवाओं को गोली के रूप में या रक्त वाहिका में इंजेक्शन के माध्यम से लिया जा सकता है। कीमोथेरेपी में कई तरह की दवाएं उपलब्ध हैं, जिनको कैंसर के प्रकार के आधार पर इस्तेमाल किया जा सकता है।

(और पढ़ें - लिवर कैंसर ट्रीटमेंट)

कीमोथेरेपी के दुष्प्रभाव आपके द्वारा ली गई दवाओं के प्रकार और खुराक पर निर्भर करते हैं। कीमोथेरेपी मितली, उल्टी और बालों के झड़ने का कारण बन सकती है।

(और पढ़ें - बालों के झड़ने का उपाय)

दर्द कम करने वाला उपचार (Palliative Treatments):

दर्द कम करने वाला उपचार, रोग के लक्षणों को कम करने, जीवन की गुणवत्ता में सुधार लाने व रोगी और उसके परिवार की सहायता करने का काम करता है। दर्द निवारक उपचार व्यापक रूप से भिन्न होते हैं। इनमें दवाएं, पोषण संबंधी परिवर्तन, विश्राम से जुड़ी तकनीकें, भावनात्मक रूप से मजबूती व अन्य उपचार शामिल किए जाते हैं। कोई भी व्यक्ति, दर्द कम करने वाले उपचार का इस्तेमाल कर सकता है। उपचार प्रक्रिया के शुरूआती दौर में दर्द निवारण में की जाने वाली देखभाल बेहतर तरीके से काम करती है। लोग इसी दौरान ट्यूमर के उपचार व इसके साइड इफेक्ट को कम करने वाले इलाजों को भी अपना सकते हैं। वास्तव में, ट्यूमर के इलाज व दर्द कम करने वाले उपचार को प्राप्त करने वाले रोगियों के लक्षण कम गंभीर होते हैं। इसके साथ ही इन रोगियों के जीवन की गुणवत्ता व रोग की जांच से प्राप्त रिपोर्ट काफी संतोषजनक पाई जाती है।

(और पढ़ें - माइग्रेन का इलाज)

अन्य दवाएं:

ब्रेन ट्यूमर के कुछ लक्षण बेहद गंभीर और रोगी के जीवन को प्रभावित करने वाले होते हैं। ब्रेन ट्यूमर वाले लोगों के लिए सहायक देखभाल में निम्नलिखित शामिल है:

  • मस्तिष्क में सूजन कम करने के लिए कॉर्टिकोस्टेरोइड्स (Corticosteroids) नामक दवा का इस्तेमाल किया जाता है। अन्य दवाओं की अपेक्षा आप सूजन से होने वाले दर्द को कम करने के लिए इस दवा का इस्तेमाल कर सकते हैं। ये दवाएं ट्यूमर के दबाव को कम करने व स्वस्थ मस्तिष्क के ऊतकों में सूजन से होने वाले न्यूरोलॉजिकल लक्षणों को कम करने में मदद करती है। (और पढ़ें - सूजन का इलाज)
  • दौरे पड़ने की स्थिति में एंटीसिजर (Antiseizure) दवाएं आपकी मदद कर सकती है।

उपचार के बाद की स्थिति:

ब्रेन ट्यूमर मस्तिष्क के कुछ हिस्सों में विकसित होता हैं और आपके बोलने, देखने और सोचने के साथ ही साथ आपके कार्यकुशलता में भी जटिलता पैदा करता है। इसलिए उपचार के बाद इन परेशानियों को ठीक करने के लिए आपको कुछ विशेष प्रकार की थेरेपी लेनी चाहिए। जिन्हें आपके डॉक्टर आपको बताते हैं, जिनमें मुख्य रूप से निम्न शामिल है-

  • फिजिकल थेरेपी आपकी कार्यकुशलता व मांसपेशियों की ताकत में सुधार के लिए आपकी मदद कर सकती है।
  • बोलने के लिए थेरेपी लेने से आपको बोलने में होने वाली परेशानियां दूर हो जाएंगी। 

(और पढ़ें - डिस्लेक्सिया क्या है)

Dr. Arabinda Roy

Dr. Arabinda Roy

ऑन्कोलॉजी

Dr. Ashutosh Gawande

Dr. Ashutosh Gawande

ऑन्कोलॉजी

Dr. C. Arun Hensley

Dr. C. Arun Hensley

ऑन्कोलॉजी

ब्रेन ट्यूमर की दवा - Medicines for Brain Tumour in Hindi

ब्रेन ट्यूमर के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
DefloxDeflox 0.3%/0.1% Eye Drops12.0
BiodexoneBiodexone 4 Mg Injection6.0
DecamycinDecamycin 4 Mg Injection33.0
DecdanDecdan 0.5 Mg Tablet1.0
DexajectDexaject 4 Mg Injection9.0
DexaDexa Injection20.0
DexonaDexona 0.5 Mg Tablet3.0
Dex ZDex Z Powder67.0
MeridecaMerideca 4 Mg Injection33.0
OzurdexOzurdex 0.7 Mg Injection24303.0
ZydexaZydexa 4 Mg Injection26.0
AuradexAuradex 8 Mg Tablet60.0
DecakemDecakem Injection7.0
DecdakDecdak St 0.5 Mg Tablet2.0
DecicortDecicort 0.5 Mg Tablet3.0
DecmaxDecmax 4 Mg Tablet16.0
DecoliteDecolite 0.01% Drops15.0
DeksaDeksa 4 Mg Injection5.0
DemisoneDemisone 0.5 Mg Tablet2.0
DexacipDexacip 0.1% Drops8.0
DexageeDexagee 0.5 Mg Tablet12.0
DexalabDexalab 4 Mg Injection13.0
Dexamethasone 0.5 Mg TabletDexamethasone 0.5 Mg Tablet3.0
DexapenDexapen 4 Mg Injection6.0
DexarilDexaril 4 Mg Injection12.0
DexasoneDexasone 0.10% Eye/Ear Drops7.43
DicorsoneDicorsone 0.5 Mg Injection6.0
LabizoneLabizone 20 Ml Injection22.0
Lodex(Syntho)Lodex 0.05% Drops9.0
LupidexaLupidexa 0.5 Mg Tablet2.0
MethasoneMethasone Tablet4.0
RavicortRavicort 4 Mg Injection9.0
UdicortUdicort 4 Mg Injection35.0
WymesoneWymesone 0.5 Mg Tablet2.0
AgidexAgidex Injection18.0
DecadronDecadron Injection10.0
DeexaDeexa 4 Mg Injection7.0
DexajetDexajet Injection9.0
DexamarkDexamark 4 Mg Injection9.0
Dexamethasone 4 Mg InjectionDexamethasone 4 Mg Injection12.0
Dexamethasone Sodium PhosphateDexamethasone Sodium Phosphate Injection85.0
DexamoxDexamox Kid Forte Tablet44.0
DexanirDexanir Injection9.0
DexasoleDexasole Injection5.0
DexasporinDexasporin Injection6.0
Dex EDex E Powder17.0
DexometDexomet 0.25% W/W Cream128.0
DexonilDexonil 4 Mg Injection63.0
DexonDexon Injection25.0
DexzyDexzy Injection5.0
OsidexOsidex Injection5.0
StedexStedex 0.5%/0.1% Eye Drops12.48
ZoftadexZoftadex 4 Mg Injection190.0
GliotemGliotem 100 Mg Capsule1802.08
GliozolamideGliozolamide 100 Mg Tablet7323.07
GliozGlioz 100 Mg Capsule8896.37
NublastNublast 100 Mg Capsule7246.66
TemcadTemcad 100 Mg Capsule4375.0
TemcureTemcure 100 Mg Tablet8571.42
TemodalTemodal 100 Mg Capsule37060.7
TemokemTemokem 100 Mg Injection6600.0
TemonatTemonat 100 Mg Capsule9735.0
TemosideTemoside 100 Mg Capsule2400.0
GlistromaGlistroma 100 Mg Capsule18158.2
ImozideImozide 100 Mg Capsule6678.56
TabzeTabze 100 Mg Tablet1206.25
TemoglanTemoglan Infusion99.2
TemolonTemolon 100 Mg Capsule6875.0
TemotecTemotec 100 Mg Capsule9250.0
TemotideTemotide 100 Mg Tablet2500.0
TemotrustTemotrust 100 Mg Capsule9359.67
TemozamTemozam 250 Mg Capsule20229.0
TolmdTolmd 2.5 Mg Tablet9.52
AdvacanAdvacan 0.25 Mg Tablet571.42
AfinitorAfinitor 10 Mg Tablet85923.8
BoletraazBoletraaz 10 Mg Tablet20000.0
CerticanCertican 0.25 Mg Tablet920.0
EvelimusEvelimus 10 Mg Tablet29400.0
EvergrafEvergraf 0.25 Mg Tablet628.57
EvermilEvermil 10 Mg Tablet30136.2
EvertorEvertor 10 Mg Tablet29666.7
VolantisVolantis 10 Mg Tablet19066.66
DexacortDexacort Eye Drop17.73
Dexacort (Klar Sheen)Dexacort (Klar Sheen) 0.1% Eye Drop18.62
SolodexSolodex 0.1% Eye/Ear Drops7.23
Lupidexa CLupidexa C Eye Drop9.75
Ocugate DxOcugate Dx Eye Drop10.62
LomtinLomtin 40 Mg Capsule719.0
ConsiumConsium 100 Mg Injection3497.95
DexapinDexapin 1%/0.10% Eye Drop20.0
Gate DxGate Dx 0.1%/0.3% Drops37.35
4 Quin Dx4 Quin Dx Eye Drop17.84
Apdrops DmApdrops Dm 0.5% W/V/1% W/V Eye Drop108.0
Dexcin MDexcin M Eye Drop67.0
Mfc DMfc D Eye Drop88.0
Mflotas DxMflotas Dx 0.5%W/V/0.1%W/V Eye Drop90.0
Mo 4 DxMo 4 Dx Eye Drop80.0
Moxifax DxMoxifax Dx Eye Drop55.0
Moxitak DmMoxitak Dm Eye Drops20.12
MyticomMyticom Eye Drop75.74
Occumox DmOccumox Dm 0.5%/0.1% Eye Drop17.8
Mflotas DMflotas D Eye Drop18.08
Mflotas TMflotas T Injection18.08
MilflodexMilflodex Eye Drop115.0
Milflox DmMilflox Dm Eye Drop21.3
Mosi DMosi D Eye Drop11.25
MoxigramMoxigram 400 Mg Tablet115.86
Occumox DOccumox D Eye Drop17.8
Aflox DAflox D 0.3%/0.1% Drops15.4
Amoflox DAmoflox D 0.3%/0.1% Eye Drops11.15
Deflox DmDeflox Dm Eye Drops27.62
Festive DFestive D 0.3%/0.1% Drop26.0
Flan DxFlan Dx Eye Drops13.75
O Cebran DO Cebran D 0.3%/0.1% Drops18.0
Ofc DxOfc Dx 0.3%/0.1% Drops10.67
OfdexOfdex 0.3%W/V/0.1%W/V Eye/Ear Drops12.0
Ofelder DOfelder D 0.3%/0.1% Drops10.53
Ofen DxOfen Dx 0.3%/0.1% Drops25.76
Oflo DmOflo Dm 0.3%/0.1% Eye Drops10.95
Oflomac DxOflomac Dx 0.3%/0.1% Eye/Ear Drops7.51
Oflozen DOflozen D 0.3%/0.1% Drops11.04
Olin DOlin D 0.3%/0.1% Eye Drops35.9
Omeflox DxOmeflox Dx 0.3%/0.1% Drops10.82
O Syn DxO Syn Dx Drops10.05
Oxop DOxop D 0.3%/0.1% Eye Drops11.71
Zevid DZevid D 0.3%/0.1% Drops16.8
Zo DZo D 0.3%/0.1% Eye Drop8.69
Zuflo DZuflo D 0.3%/0.1% Eye/Ear Drops8.75
Zynoff DZynoff D 0.3%/0.1% Eye Drop9.06
Oflacin DxOflacin Dx Eye Drop11.68
OfrondOfrond Eye Drops8.75
Protoflox DProtoflox D Eye/Ear Drops9.12
Appatoba DAppatoba D 0.3%/0.1% Eye Drops12.1
Itocin DItocin D 0.3%/0.1% Eye Drops21.25
Ocutob DOcutob D 0.3%/0.1% Eye Drops11.45
TobadexTobadex 0.3%/0.1% Eye Drops16.0
Tobaren DTobaren D 0.3%/0.1% Drops15.29
Tobaren DmTobaren Dm 0.3%/0.1% Eye Drops58.0
Tobazon DmTobazon Dm 0.3%/0.1% Drops9.92
TobradexTobradex 0.30%/.1% Drops18.29
Tobram DTobram D Eye Drops17.25
Toby DToby D 0.3%/0.1% Eye Drops11.08
Tojawa DTojawa D 0.3%/0.1% Drops13.67
TromadexTromadex 0.3%/0.1% Drops10.0
Paritob DParitob D Eye Drop37.71
TeradoxTeradox Eye Drops20.31
Tobacin DTobacin D Eye Drop35.9
Tobracid DmTobracid Dm Eye Drop13.56
Tobramed DTobramed D Eye/Ear Drops10.82
Tobrine DmTobrine Dm Eye Drops19.75
Tsun DTsun D Eye Drops19.15
TybroTybro Eye Drops40.0
Dexapin CDexapin C Eye Drop13.97
Biocip DBiocip D 0.3%/0.1% Drop9.8
Ceprolen DCeprolen D 0.3%/0.1% Eye Drops11.18
Ciplex (Leeford)Ciplex 0.3%/0.1% Eye Drops10.62
Cipromac D (Torque)Cipromac D Drop10.61
Ciprozen DCiprozen D 0.3%/0.1% Drops19.37
Kemocip DKemocip D 0.3%/0.1% Eye/Ear Drops9.71
Larcip DLarcip D 0.3%/0.1% Eye Drops7.25
Lucipro DLucipro D 0.3%/0.1% Eye/Ear Drops12.07
Zoxan DZoxan D 0.3%/0.1% Eye Drop8.59
Ahlox DAhlox D 0.3%/0.1% Eye Drops9.2
Cebran DCebran D Eye Drop9.33
Ceflox DCeflox D Drop26.0
Chlorodex (Sun)Chlorodex Drop10.0
Cifomed DCifomed D Drop16.75
Cipcos DCipcos D Drops14.0
Ciplox DCiplox D Eye/Ear Drops14.0
KemocipKemocip Eye/Ear Drops7.28
Swiflox DSwiflox D Eye Drop7.5
Garasol DGarasol D 0.3%/0.1% Drops11.5
Gencin D MGencin D M Drops18.0
Gentacip DGentacip D 0.3%/0.1% Drop9.62
Gentajin DGentajin D 0.3%/0.1% Eye Drops7.04
Gentamide DmGentamide Dm 0.3%/0.1% Eye Drops8.2
Gentapen DGentapen D 0.3%/0.1% Eye Drops8.36
Genticare DGenticare D 0.01%/0.3% Eye Drops9.66
GermentadGermentad 0.3%/0.1% Drops7.8
GlycortGlycort 0.3%/0.1% Drops10.0
Gentaglow DGentaglow D 0.3%/0.1% Eye Drops20.0
PyricortPyricort Eye Drop9.39
Biodexone NBiodexone N 0.5%/0.1% Eye Drops9.37
Dekortyn NDekortyn N 0.5%/0.1% Drops8.25
Dexacort NDexacort N 0.5%/0.1% Eye Ointment9.11
DexcinDexcin Eye/Ear Drops11.55
Opthodex NOpthodex N 0.5%/0.1% Drops9.41
Biosone PBiosone P Eye/Ear Drops40.0
Ocupol DOcupol D Eye Drop13.44
Renicol PxRenicol Px Eye Drops21.0
Takchlor CTakchlor C 10 Mg/1 Mg/5000 Iu Ointment46.2
Deximon PDeximon P Eye Drops22.5
Imix 10Imix 10 Eye Drops30.0
Imix D 10Imix D 10 Eye Drops80.0
Imix D 5Imix D 5 Eye Drops47.5
Imix DImix D Eye Drops36.25
Ocupol DxOcupol Dx Drop75.61
D ChlorexD Chlorex Eye Drops7.99
Decakem CDecakem C Eye Drops11.76
DecoDeco 0.5%W/V/0.01%W/V Eye/Ear Drops10.62
Dekortyn CDekortyn C 1%/0.1% Drops8.86
DexamonDexamon 1%/0.1% Drops9.8
DeximonDeximon 0.5%/0.1% Eye Drops47.55
Eptico DEptico D 5%/0.1% Drops9.66
KlorumdKlorumd 1%/0.1% Drops7.8
OpthodexOpthodex 1%/0.1% Eye Drops9.4
Opthodex SOpthodex S Drops9.75
PolydexPolydex 1%/0.1% Eye/Ear Drops43.75
RenidexRenidex 1%/0.1% Drops8.89
AvimonAvimon Eye Drops11.0
CareCare Drops51.05
Chlorgull DChlorgull D Eye/Ear Drops7.37
ChloridexChloridex Eye Drops20.87
Chlormet DmChlormet Dm Drops11.75
Chlorodex (Leeford)Chlorodex Eye Drop10.0
ClodilClodil Eye Drops35.87
Pc DexPc Dex Eye/Ear Drops37.98
PyrimonPyrimon Eye Drop11.4
VisomerVisomer Eye Drop23.93
KedexKedex 0.5%/0.1% Eye Drop50.0
KetrodexKetrodex Eye Drop70.0
Low DexLow Dex Eye/Ear Drops9.75
NordexNordex Eye Drops44.88
SofradexSofradex Cream29.42
Sofradex FSofradex F Cream25.58
Tympalin CTympalin C Drops45.0

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

और पढ़ें ...