एक्सरसाइज व्यक्ति को शारीरिक और मानसिक रूप से फिट रहने में मदद करती है. इसके लिए बर्पीस एक्सरसाइज काफी असरदार साबित हो सकती है. बर्पीस एक्सरसाइज फैट बर्न करने, हृदय को स्वस्थ रखने और मस्तिष्क की कार्य क्षमता में सुधार करने में मदद कर सकती है. इसे करने के लिए स्क्वॉट पोजीशन में बैठना, पुशअप और जंप करना होता है. इससे होने वाले शारीरिक गतिविधि से एक मिनट में वजन के हिसाब से 10 से 15 कैलोरीज बर्न हो सकती है. वहीं, बर्पीस एक्सरसाइज करते समय थोड़ी-सी लापरवाही के चलते चोट लगने की आशंका रहती है.

आज इस लेख में आप बर्पीस एक्सरसाइज करने का तरीका, फायदे, कैलोरी बर्न और नुकसान के बारे में जानेंगे -

(और पढ़ें - कंपाउंड एक्सरसाइज)

  1. बर्पीस एक्सरसाइज कैसे करें?
  2. बर्पीस एक्सरसाइज के फायदे
  3. बर्पीस एक्सरसाइज से कितनी कैलोरी होती है बर्न?
  4. बर्पीस एक्सरसाइज से जुड़ी सावधानियां
  5. सारांश
बर्पीस एक्सरसाइज करने का तरीका व फायदे के डॉक्टर

बर्पीस को करना आसान होता है, इसे करने के लिए स्क्वॉट पोजीशन में बैठना, पुशअप और जंप करना मुख्य होता है. आइए, विस्तार से जानें कि बर्पीस एक्सरसाइज को कैसे करना चाहिए-

  • बर्पीस को करने के लिए घुटनों को मोड़कर, पीठ को सीधा रखें और पैरों को कंधे की चौड़ाई के बराबर फैलाकर स्क्वॉट करने की अवस्था में आ जाए.
  • अब दोनों हाथों को सामने सीधा फैलाकर फर्श पर रख दें. इससे हाथ, पैरों के ठीक अंदर नजर आएंगे.
  • फिर हाथों पर भार डालते हुए पैरों को पीछे की ओर किक करें. इससे हाथों और पैरों की उंगलियां पुशअप की मुद्रा में आ जाएंगी.
  • इस समय शरीर सिर से एड़ी तक एक सीध में होगा. अब एक पुशअप करें. 
  • फिर फ्रॉग किक करते हुए जंप करें और शरीर को सीधा कर लें.
  • इसके बाद दोनों हाथों को एक साथ सिर के ऊपर ले जाएं. 
  • अब हवा में तेजी से कूदें और जिस स्क्वॉट अवस्था से शुरू किया था, वापस उसी अवस्था में आ जाएं.
  • इसके बाद ये प्रक्रिया फिर से दोहराएं .
  • इस प्रक्रिया को बिना रुके एक क्रम में ही करना है. एक-दो बर्पीस एक्सरसाइज करने के बाद कुछ सेकंड का ब्रेक ले सकते हैं.

(और पढ़ें - वॉल सिट एक्सरसाइज)

बर्पीस एक्सरसाइज के नियमित अभ्यास से शारीरिक और मानसिक दोनों तरह से फायदे हो सकते हैं. इसके फायदे में फेफड़े की क्षमता को बेहतर करना, रक्त प्रवाह में सुधार, मधुमेह का जोखिम कम करना और रक्तचाप के स्तर को संतुलित करना शामिल है. आइए, विस्तार से जानें बर्पीस एक्सरसाइज करने के फायदे के बारे में -

फैट बर्न करे

बर्पीस एक्सरसाइज करने पर फैट बर्न यानी चर्बी को जलाने में मदद मिल सकती है. एक रिसर्च कि मानें, तो बर्पीस एक्सरसाइज से शरीर की पाचन क्षमता बढ़ती है. इससे चर्बी को शरीर में जमने से रोका जा सकता है. साथ ही शरीर को फिट रखने में भी मदद मिल सकती है.

(और पढ़ें - लेग कर्ल एक्सरसाइज)

हृदय को स्वस्थ रखे

रक्तचाप के बढ़ने पर हृदय संबंधी समस्याएं हो सकती है. इस संबंध में प्रकाशित रिसर्च के मुताबिक, बर्पीस व्यायाम को करने पर रक्तचाप नियंत्रित रह सकता है. इससे हृदय संबंधी समस्याओं को पनपने से रोका जा सकता है.

(और पढ़ें - आइसोमेट्रिक एक्‍सरसाइज)

फेफड़ों की क्षमता में सुधार

बर्पीस एक्सरसाइज करने के फायदे फेफड़ों के लिए हो सकते हैं. इस एक्सरसाइज का असर सीधा फेफड़ों पर पड़ता है, जिससे शुरुआत में जल्दी सांस फूल सकती है, लेकिन इसके नियमित अभ्यास से फेफड़े मजबूत होते जाते हैं और इसकी क्षमता बढ़ती जाती है.

(और पढ़ें - लेटरल रेज एक्सरसाइज)

रक्त संचार बेहतर करे

बर्पीस एक्सरसाइज को करने पर रक्त संचार को बेहतर करने में मदद मिल सकती है. इस व्यायाम के दौरान पूरे शरीर में गतिविधि होती है. पूरे शरीर में गतिविधि होने पर शरीर के सभी अंगों में बेहतर तरीके से रक्त संचार होता है.

(और पढ़ें - माउंटेन क्लाइंबर एक्सरसाइज)

डायबिटीज का जोखिम कम करे

डायबिटीज के जोखिम को दूर रखने में बर्पीस एक्सरसाइज मददगार हो सकती है. दरअसल, बर्पीस व्यायाम करने पर शरीर में रक्त शुगर को ठीक तरह संचारित करने में मदद मिल सकती है. इससे ग्लूकोज के स्तर को संतुलित रखने में मदद मिल सकती है. इस तरह डायबिटीज के जोखिम को दूर रखा जा सकता है.

(और पढ़ें - बैक एक्सटेंशन एक्सरसाइज)

मस्तिष्क की कार्य क्षमता में सुधार

बर्पीस एक्सरसाइज करने पर मस्तिष्क की कार्य क्षमता में सुधार हो सकता है. एक अध्ययन के अनुसार, बर्पीस व्यायाम करने पर मस्तिष्क वाले भाग में रक्त संचार बेहतर हो सकता है. इससे मस्तिष्क की कार्य क्षमता में सुधार हो सकता है.

(और पढ़ें - पिलाटेस एक्सरसाइज)

कैलोरीज बर्न करने के लिए बर्पीस अच्छी एक्सरसाइज है. इसे करते समय पूरे शरीर पर लगातार असर पड़ता है और इस एक्सरसाइज से पूरे शरीर का फैट भी कम हो सकता है. ऐसा माना जाता है कि अधिकांश लोग एक मिनट में लगभग 20 बर्पीस व्यायाम कर सकते हैं. इससे उनके शरीर के वजन के अनुसार उनकी कैलोरीज बर्न हो सकती है, जैसे- किसी व्यक्ति का वजन 56 किलो है, तो वे एक मिनट में 10 कैलोरीज, 70 किलो वाले 12.5 कैलोरीज और 83 किलो वाले 15 कैलोरीज बर्न कर सकते हैं.

(और पढ़ें - फामर्स वॉक एक्सरसाइज)

किसी भी व्यायाम की तरह बर्पीस को करने से भी कुछ नुकसान होने के जोखिम बने रहते हैं. इसे हमेशा सुरक्षित तरीके से करना चाहिए, ताकि इससे होने वाले नुकसान से बचा जा सके. आइए, विस्तार से जानें बर्पीस एक्सरसाइज से जुड़ी कुछ काम की बातों के बारे में-

  • इसे ज्यादा जोश में आकर न करें, क्योंकि इससे शरीर का संतुलन बिगड़ सकता है और गिरकर चोट लगने का जोखिम बना रहता है.
  • किसी ने हाल ही में सर्जरी करवाई है, तो बर्पीस न करें. इससे टांके खुलने का डर बना रहता है, जो शरीर के लिए हानिकारक साबित होगा.
  • हाथ-पैर या शरीर के किसी भी अन्य भाग में दर्द है, तो बर्पीस व्यायाम को नहीं करना चाहिए. इससे दर्द गंभीर रूप ले सकता है.

(और पढ़ें - क्रॉस ट्रेनर एक्सरसाइज)

नियमित एक्सरसाइज करने व्यक्ति को स्वस्थ रहने में काफी मदद मिल सकती है. लोगों को अपनी व्यस्त दिनचर्या से कुछ समय निकालकर व्यायाम करना चाहिए. बर्पीस करने पर रक्त प्रवाह में सुधार, डायबिटीज से बचाव और हृदय को स्वस्थ रखा जा सकता है. इसे करने के लिए स्क्वॉट पोजीशन, पुशअप और जंप करना होता है. इससे अच्छी शारीरिक गतिविधि होती है और कैलोरीज बर्न हो सकती है. बस इसे करते समय सावधानी बरतने की जरूरत होती है. ऐसा नहीं करने पर चोट लगने और सर्जरी के टांके खुलने का जोखिम बना रहता है. साथ ही इस एक्सरसाइज को हमेशा विशेषज्ञ की निगरानी में करें.

(और पढ़ें - स्टेबिलिटी बॉल एक्सरसाइज)

Dr. lav kumar

Dr. lav kumar

फिजियोथेरेपिस्ट
8 वर्षों का अनुभव

Dr. Rupali Chauhan (PT)

Dr. Rupali Chauhan (PT)

फिजियोथेरेपिस्ट
1 वर्षों का अनुभव

Dr. Anil Pratap Tanwar

Dr. Anil Pratap Tanwar

फिजियोथेरेपिस्ट
8 वर्षों का अनुभव

Dr. Ritu Sharma

Dr. Ritu Sharma

फिजियोथेरेपिस्ट
1 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ