प्राइवेट पार्ट में खुजली होने पर महिला हो या पुरुष हर कोई परेशान हो जाता है. ऊपर से सार्वजनिक रूप से खुजली करने पर शर्म भी महसूस होती है. महिलाओं के मुकाबले पुरुषों के प्राइवेट पार्ट में खुजली की समस्या ज्यादा देखने को मिलती है. कहने को तो ये आम समस्या है, जो पसीने, गर्मी, स्किन एलर्जी या स्किन इन्फेक्शन की वजह से हो सकती है, लेकिन समय रहते इलाज न करने पर यह समस्या गंभीर रूप ले सकती है. यह खुजली और जलन किसी सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिजीज का भी लक्षण हो सकती है. ऐसे में क्लोट्रिमेजोल व लोरैटैडाइन से बनी क्रीम या दवाइयां खुजली से छुटकारा दिला सकती है.

आज इस लेख में आप पुरुषों के प्राइवेट पार्ट में होने वाली खुजली के लिए क्रीम व दवाओं के बारे में जानेंगे -

(और पढ़ें - लिंग में खुजली)

  1. पुरुषों के प्राइवेट पार्ट में होने वाली खुजली के लिए क्रीम
  2. पुरुषों के प्राइवेट पार्ट में होने वाली खुजली के लिए दवा
  3. सारांश
पुरुषों के प्राइवेट पार्ट में खुजली की क्रीम व दवा के डॉक्टर

पुरुषों के प्राइवेट पार्ट में खुजली बैक्टीरिया या फंगस के कारण हो सकती है. ऐसे में एंटी-फंगल क्रीम जैसे माइक्रोनाजोल या फ्लुकोनाजोल इस समस्या से छुटकारा दिलाने में मदद कर सकती है. आइए, पुरुषों के प्राइवेट पार्ट में होने वाली खुजली को ठीक करने वाली ऐसी ही विभिन्न क्रीम के बारे में जानते हैं -

क्लोट्रिमेजोल

क्लोट्रिमेजोल एक एंटी-फंगल क्रीम है. यह क्रीम फंगस के विकास को रोक सकती है. प्राइवेट पार्ट में होने वाले फंगल इन्फेक्शन को ठीक करने में ये कारगर साबित हो सकती है. इस तरह की कई क्रीम बाजार में उपलब्ध हैं. इस क्रीम का उपयोग एथलीट फुटजॉक खुजलीदाद और कैंडिडिआसिस जैसे स्किन इन्फेक्शन के लिए भी किया जा सकता है. इस दवा से युक्त कुछ क्रीम निम्न प्रकार से हैं -

(और पढ़ें - लिंग में खुजली का घरेलू उपाय)

Amfy Gel 30gm
₹391  ₹412  4% छूट
खरीदें

मिकोनाजोल

मिकोनाजोल एक एंटी-फंगल क्रीम है, जो इमिडाजोल नामक एंटीफंगल दवाओं की कैटेगरी में से है. यह इन्फेक्शन फैलाने वाले फंगस को बढ़ने से रोकती है, जिससे प्राइवेट पार्ट में होने वाली खुजली और जलन कम हो सकती है. इस क्रीम का इस्तेमाल 12 वर्ष से कम उम्र के बच्चों पर नहीं किया जाना चाहिए. इस दवा से युक्त बाजार में मिलने वाली कुछ क्रीम है:

(और पढ़ें - पेनिस इन्फेक्शन)

स्टेरॉयड क्रीम

इन्फेक्शन के बहुत गंभीर हो जाने पर खुजली, सूजन और रेडनेस कम करने के लिए स्टेरॉयड युक्त स्किन क्रीम इस्तेमाल की जाती है. आमतौर पर इनमें हाइड्रोकोर्टिसोन नामक स्टेरॉयड का इस्तेमाल होता है. इससे सूजन और रेडनेस कंट्रोल हो जाती है.

(और पढ़ें - लिंग के रोग)

क्रीम के अलावा कुछ दवाएं भी खुजली का इलाज करने में संभव हैं. इसमें फ्लुकोनाजोल और सिटरिजिन दवाएं प्रमुख हैं. आइए, पुरुषों के प्राइवेट पार्ट में होने वाली खुजली को ठीक करने वाली दवाओं के बारे में विस्तार से जानते हैं -

फ्लुकोनाजोल

यह एक शक्तिशाली एंटी-फंगल दवा है. यह फंगस सेल की बाहरी दीवार को खत्म करके उसको बढ़ने से रोकती है और उसकी मारती है. इस कारण यह प्राइवेट पार्ट में किसी गंभीर इन्फेक्शन होने पर ही दी जाती है. इससे बनी निम्न प्रकार की दवाएं बाजार में उपलब्ध हैं -

(और पढ़ें - लिंग में दर्द का होम्योपैथिक इलाज)

Antifungal Cream
₹629  ₹699  10% छूट
खरीदें

एंटीहिस्टामाइन दवाएं

प्राइवेट पार्ट में किसी तरह की एलर्जी की वजह से भी खुजली और जलन हो सकती है. एलर्जी पैदा करने वाली चीज को स्किन से दूर रखके इसके असर को खत्म किया जा सकता है. इससे खुजली और जलन से आराम मिलता है, लेकिन अगर ऐसा करने से भी आराम नहीं मिलता है या स्थिति बिगड़ती है, तो एंटी-हिस्टामाइन कैटेगरी की दवाइयां समस्या में आराम देती हैं. ऐसे ही कुछ एंटी-हिस्टामाइन दवाएं निम्न प्रकार से हैं -

  • सिटरिजिन - सिटरिजिन दवा हिस्टामाइन को कंट्रोल करके एलर्जी के लक्षणों जैसे खुजली, सूजन और रेडनेस का इलाज करती है. इससे प्राइवेट पार्ट में होने वाली खुजली और जलन कम होती है. इसके तहत इन दवाओं का सेवन किया जा सकता है - सेटजिनएलेरिडएल्डे आदि.
  • लोरैटैडाइन - यह भी सिटरिजिन जैसे ही एक एंटीहिस्टामिन दवा है. यह भी हिस्टामाइन को कंट्रोल करके एलर्जी के लक्षणों का इलाज करती है, जैसे - अलसपानलोरमेगअलॉर्टीलैडलोर्डिल आदि.

इसके अलावा, पुरुषों के प्राइवेट पार्ट में होने वाली खुजली को दूर करने के लिए ठंडी या गर्म सिकाई, डस्टिंग पाउडर या ओवर-द-काउंटर दवाओं का इस्तेमाल किया जा सकता है.

(और पढ़ें - लिंग में संक्रमण के घरेलू उपाय)

पुरुषों के प्राइवेट पार्ट में होने वाली खुजली के लिए सिर्फ घरेलू उपचार का प्रयोग करके उसे काफी समय तक सहना नहीं चाहिए. डॉक्टर से सलाह लेकर अपनी स्थिति देखते हुए क्रीम या गोली का उपयोग करना चाहिए. एंटी-फंगल क्रीम, एंटी इच इमोलिएंट, एंटीहिस्टामाइन दवाओं और क्रीम का प्रयोग करके इस समस्या से आसानी से छुटकारा पाया जा सकता है. साथ ही अगर दवाई इस्तेमाल करने पर स्थिति बिगड़ती है, तो तुरंत डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए.

(और पढ़ें - लिंग में जलन का इलाज)

अस्वीकरण: ये लेख केवल जानकारी के लिए है. myUpchar किसी भी विशिष्ट दवा या इलाज की सलाह नहीं देता है. उचित इलाज के लिए डॉक्टर से सलाह लें.

Dr. Hemant Sharma

Dr. Hemant Sharma

सेक्सोलोजी
11 वर्षों का अनुभव

Dr. Zeeshan Khan

Dr. Zeeshan Khan

सेक्सोलोजी
9 वर्षों का अनुभव

Dr. Nizamuddin

Dr. Nizamuddin

सेक्सोलोजी
5 वर्षों का अनुभव

Dr. Tahir

Dr. Tahir

सेक्सोलोजी
20 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें