myUpchar Call

यह सच है कि शादी दो लोगों के बीच मन और आत्मा का मिलन होता है. वहीं, ये बात भी उतनी ही सच है कि स्वस्थ शादी में सेक्स की भी अहम भूमिका होती है. कई बार शादी के टूटने का कारण भी शारीरिक संबंध में कमी होना हो सकता है. इसके अलावा, कम सेक्स के कारण रिश्ते में कई अन्य परेशानियां भी आ सकती है. ऐसे में यह जरूरी है कि रिश्ते को बचाने के लिए इस पर वक्त रहते ध्यान दें.

आज हम इस लेख में कम सेक्स के चलते रिश्ते में आने वाली परेशानियों के बारे में बता रहे हैं -

(और पढ़ें - कामेच्छा की कमी का इलाज)

  1. बिना सेक्स के कैसे प्रभावित होती है शादी
  2. सारांश
यौन रोग के डॉक्टर

बात अजीब-सी है, लेकिन सही है. पति-पत्नी का रिश्ता काफी हद तक दोनों बीच शारीरिक संबंध पर भी टिका होता है. अगर इस रिश्ते में सेक्स की कमी हो जाए, तो कई प्रकार की समस्याएं हो सकती हैं. इसके चलते कई रिश्ते टूटते हुए भी देखे गए हैं. आइए, इन समस्याओं के बारे में जानते हैं -

रिश्ते में खटास

सेक्स प्यार जताने का भी एक तरीका है. इसका मतलब है कि आपका पार्टनर आपके साथ रिश्ते में रुचि ले रहा है. आप दोनों के बीच प्यार अभी भी वैसा ही है, जैसा शुरुआत में था. ऐसे में कई-कई दिन तक शारीरिक संबंध न बनाने का मतलब है कि रिश्ते में नयापन खत्म हो रहा है. इसलिए, कई बार पति-पत्नी के बीच लड़ाई-झगड़े शुरू हो सकते हैं.

(और पढ़ें - सेक्स लाइफ में बाधा बनने वाली बीमारियां)

मूड में बदलाव

रिश्ते में शारीरिक संबंध की कमी मूड पर भी असर डाल सकती है. दरअसल, कभी-कभी पार्टनर अपनी इच्छा को जाहिर नहीं कर पाते हैं, जिस कारण उन्हें अंदर ही अंदर चिड़चिड़ाहट हो सकती है. ऐसे में उनमें गुस्से की भावना भी आ सकती है.

(और पढ़ें - दिमाग को कैसे प्रभावित करता है सेक्स)

शक होना

शारीरिक संबंध में कमी आना पार्टनर के प्रति शक की भावना को पैदा कर सकता है. उन्हें लग सकता है कि उसके पार्टनर के किसी और के साथ संबंध स्थापित हो रहे हैं, जिस कारण वो अपने इस रिश्ते को वक्त न दे रहा हो. सेक्स की कमी इस तरह की गलतफहमियां पैदा कर सकती है.

(और पढ़ें - ज्यादा देर तक सेक्स करने की दवा)

चिंता व तनाव

शारीरिक संबंध में कमी रिश्ते को तो खराब कर ही सकती है. साथ ही साथ पार्टनर में चिंता व तनाव की समस्या भी पैदा कर सकती है. उनके मन में यह भाव आ सकता है कि शायद उनके और उनके पार्टनर के बीच अब वो रिश्ता नहीं रहा. उन्हें लग सकता है कि उनके रिश्ते में अब कोई नयापन नहीं है और उनका रिश्ता बोरिंग हो चुका है.

(और पढ़ें - कामेच्छा बढ़ाने के लिए डाइट)

अकेलापन

रिश्ते में सेक्स न होना अकेलेपन की वजह भी बन सकता है. जब पार्टनर को भावनात्मक रूप से अपने पार्टनर की जरूरत हो और उस वक्त वे उनके साथ न हो या उनमें रुचि न दिखाए, तो इससे उन्हें अकेलापन महसूस हो सकता है. जरूरी नहीं कि हर वक्त पार्टनर अपनी जरूरत को बोलकर ही बयां करे. कभी-कभी उन्हें बिना जाहिर किए सिर्फ इशारों-इशारों में ही बातें समझने की आवश्यकता होती है.

(और पढ़ें - रोज सेक्स करने से होता है)

 

यह सच है कि प्यार में मन का जुड़ना जरूरी है, लेकिन शारीरिक संबंध भी इसी प्यार का हिस्सा है. इसलिए, कभी-कभी रिश्ते में सेक्स को अनदेखा नहीं करना चाहिए. बस ध्यान रहे कि इसमें दोनों पार्टनर की सहमति होना जरूरी है. साथ ही साथ दोनों को ही एक दूसरे के फैसले व इच्छा की इज्जत करनी चाहिए. बेहतर तो यही है कि दोनों इस विषय में खुलकर बात करें और अपने रिश्ते को बेहतर बनाने की कोशिश करें.

(और पढ़ें - महिलाओं में कामेच्छा की कमी का इलाज)

Dr. Hemant Sharma

Dr. Hemant Sharma

सेक्सोलोजी
11 वर्षों का अनुभव

Dr. Zeeshan Khan

Dr. Zeeshan Khan

सेक्सोलोजी
9 वर्षों का अनुभव

Dr. Nizamuddin

Dr. Nizamuddin

सेक्सोलोजी
5 वर्षों का अनुभव

Dr. Tahir

Dr. Tahir

सेक्सोलोजी
20 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें