myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

शायद हम में से कई लोगों ने भांग का उपयोग होली में ठंडाई के रूप में, भांग के पेड़े के रूप में, भांग की बर्फी के रूप में, नशे के लिए किया होगा। पर क्या आप को पता है जिस भांग को आप नशे के रूप में उपयोग करते हैं वह औषधीय गुणों से भरपूर होती है। भांग में कन्नाबिनोइड (cannabinoid) नामक तत्व पाया जाता है जो कफ और पित्त जैसी समस्या का नाश करता है।

भांग हरे रंग की होती है। इसका स्वाद थोड़ा कड़वा और फीका होता है। इसके पत्ते कुछ कुछ नीम की पत्तों के तरह लंबे होते हैं। भांग की तासीर गर्म होती है। इसके सेवन से पाचन शक्ति अच्छी होती है, अच्छी नींद आती है, यह गले की आवाज़ को साफ करने में भी मदद करती है। तो आज हम भांग के और क्या क्या फायदे है, इसके बारे में जानते हैं।

  1. भांग के फायदे - Bhang Ke fayde In Hindi
  2. भांग के नुकसान - Bhang Ke Nuksan In Hindi
  3. स्वास्थ्य के लिए लाभदायक हैं भांग के बीज

भांग खाने के फायदे कैंसर में - Bhang For Cancer In Hindi

भांग का उपयोग कैंसर कि दवाओं के निर्माण में क्या जाता है। इसके साथ-साथ इस का उपयोग एचआईवी / एड्स दवाओं के निर्माण में भी किया जा रहा है। अभी भी वैज्ञानिक भांग को लेकर प्रयोग कर रहे हैं, लेकिन प्रयोगशाला में भांग के उपयोग से कैंसर कोशिकाओं को नष्ट होते देखा गया है।

(और पढ़ें – कैंसर से लड़ने वाले दस बेहतरीन आहार)

भांग खाने से फायदा ग्लूकोमा में - Glaucoma Ke Upchar Me Bhang Khane Se Labh In Hindi

ग्लूकोमा काला मोतियाबिंद को कहा जाता है। इस रोग में आंखों से दिखने वाले चित्रों को मस्तिष्क तक पहुंचाने वाली नस को नुकसान पहुंचता है। हमारे संदेश ऑप्टिक नर्व से ही दिमाग में पहुंचते हैं । ग्लूकोमा इसी नर्व को नुकसान पहुँचाता है और हमारे देखने की क्षमता को ख़त्म कर देता है। अमेरिका के नेशनल आई इंस्टीट्यूट के मुताबिक भांग का सेवन ग्लूकोमा के लक्षण को खत्म करता है।

(और पढ़ें – चश्मा छुड़ाना या मोतियाबिंद से मुक्ति पाना, सभी आँखों की समस्याओं का इलाज है रामदेव जी के पास)

दिमाग के लिए भांग के उपयोग - Bhang Effects On Brain In Hindi

नॉटिंघम यूनिवर्सिटी (nottingham university) के एक रिसर्च के मुताबिक भांग स्ट्रोक की समस्या में मस्तिष्क को नुकसान से बचाती है। भांग का सेवन स्ट्रोक के असर को दिमाग के कुछ ही हिस्सों में सीमित कर देता है।

(और पढ़ें – दिमाग तेज़ कैसे करें)

भांग के लाभ कान की समस्या में - Kan Ke Liye Bhang Ke Fayde In Hindi

भांग के रस कि 8 से 10 बूंदे कान में डालने से कान के कीड़े मर जाते हैं और कान दर्द से छुटकारा मिलता है।

पहले भांग को अच्छी तरह पीस लें। फिर उसे सरसों के तेल में अच्छी तरह पका कर तेल को छान लें। अब उस तेल को कान में डालें। इससे किसी भी प्रकार के कान के दर्द से छुटकारा मिलता है।

(और पढ़ें – कान में दर्द के घरेलू उपाय)

भांग के उपयोग पेचिश के लिए - Bhang Ke labh Dysentery Ke Liye In Hindi

भांग के पत्तों को पीस कर चूर्ण बना लें। 124 मिलीग्राम भांग के चूर्ण को सौंफ के ६ बूँद रस के साथ दिन में 2 बार लेने से पेचिस की समस्या दूर हो जाती है।

भांग के 100 मिलीग्राम चूर्ण के साथ 50 मिलीग्राम पोस्तु दाने (खस खस) का चूर्ण मिलाकर सुबह, शाम सेवन करने से दस्त के साथ आंव की समस्या समाप्त हो जाती है। इसके अलावा सिकी हुई भांग के 125 मिलीग्राम चूर्ण को शहद के साथ दिन में 2 बार सेवन करने से दस्त और पेचिस की समस्या समाप्त हो जाती है।

भांग के फायदे दमा में - Bhang Khane Ke Fayde For Asthma In Hindi

दमा से निजात पाने के लिए सिकी हुई 125 मिलीग्राम भांग के साथ 2 मिलीग्राम कालीमिर्च और 2 ग्राम मिश्री लेकर एक साथ मिलाकर खाने से दमा रोग की समस्या में आराम मिलता है।

भांग को जला कर उसके धुंए को सूंघने से दमा की समस्या में लाभ मिलता है। इनके अलावा भांग के पत्तों को घी में भून कर इसमें कालीमिर्च और मिश्री को मिलाकर पीस लें। अब इस चूर्ण का रोजाना सेवन करने से दमा जैसी समस्या से निजात पाया जा सकता है।

(और पढ़ें – दमा का इलाज संभव है सही खानपान, योग और प्राणायाम के साथ)

भांग के अन्य फायदे - Bhang Ke Anye Fayde In Hindi

भांग के अन्य फायदे निम्न हैं -

  • भांग के बीज के तेल की मालिश करने से गठिया की समस्या में आराम दिलाता है।
  • भांग के पत्तों को सुखा कर पीस लें। इस के पाउडर को सूंघने से मस्तक की पीड़ा से राहत मिलती है।
  • यदि किसी को नींद न आने की समस्या है तो भांग के तेल से पैरो के तलवे पर मालिश करने से अच्छी नींद आती है।
  • भांग के पत्ते के चूर्ण या भांग के हरे पत्तों को पीस कर घाव या जख्म पर लगाने से घाव जल्दी ठीक हो जाते हैं।
  • 25 ग्राम पिसी हुई भांग को दूध या पानी के साथ सुबह शाम लेने से नींद की समस्या दूर होती है और सिर दर्द में भी आराम मिलता है। (और पढ़ें – सिर दर्द के घरेलु उपाय)
  • भांग के पत्तों को पीस कर उसमें गुड़ मिलाकर छोटी-छोटी गोलियां बना लें। 1 से 2 गोलियों के सेवन से सर्दी के बुखार से छुटकारा मिल जाता है। (और पढ़ें – बुखार का घरेलू इलाज)

 भांग के नुकसान निम्न हैं -

  • भांग का लगातार उपयोग इस का आदि बना देता है अतः इसके अधिक मात्रा में सेवन और लगातार सेवन से बचें।
  • भांग का अधिक मात्रा में सेवन करने से शरीर में नशा चढ़ता है।
  • भांग के अधिक सेवन से शरीर मे कमजोरी आती है।
  • भांग का अधिक सेवन पुरुष को नपुंसक, चरित्रहीन और विचारहीन बनाता है। इसलिए इसका उपयोग सेक्स उत्तेजना या नशे के लिए नहीं करें। (और पढ़ें - sex kaise kare)
  • गर्भवती महिलाओं को इस का उपयोग कभी नहीं करना चाहिए। इसके सेवन से अनेकों समस्या उत्पन्न हो सकती हैं।
  • बच्चों को भी इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

भांग के चमत्कारी और अनोखे लाभ सम्बंधित चित्र

Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
Baidyanath Mahalaxmi Vilas Ras ShiroBaidyanath Mahalaxmivilas Ras(Shiro)84.55
Baidyanath Garbha Chintamani Ras (Brihat)Baidyanath Garbhachintamani Ras(Sw.Yu.)351.0
Baidyanath Sphatika BhasmaBaidyanath Sphatika Bhasma67.45
Baidyanath Gandhak RasayanBaidyanath Gandhak Rasyan91.2
Baidyanath Patrangasava Baidyanath Patrangasava155.7
Baidyanath Shakravallabh Ras Shakravallabh Ras (S.Yu)949.5
और पढ़ें ...

References

  1. National Drug and Alcohol Facts. What Is Hemp?. U.S. Department of Health and Human Services
  2. Charles W Webb, and Sandra M Webb. Therapeutic Benefits of Cannabis: A Patient Survey. 2014 Apr; 73(4): 109–111. PMID: 24765558
  3. Joseph Maroon and Jeff Bost. Review of the neurological benefits of phytocannabinoids. 2018; 9: 91. PMID: 29770251
  4. National Center for Complementary and Integrative Health [Internet]. Bethesda (MD): U.S. Department of Health and Human Services; Marijuana and Cannabinoids
  5. Paweł Śledziński, Joanna Zeyland, Ryszard Słomski and Agnieszka Nowak. The current state and future perspectives of cannabinoids in cancer biology. 2018 Mar; 7(3): 765–775. PMID: 29473338
  6. Bandana Chakravarti, Janani Ravi and Ramesh K. Ganju. Cannabinoids as therapeutic agents in cancer: current status and future implications. 2014 Aug; 5(15): 5852–5872. PMID: 25115386
  7. Manuel Guzman. Cannabis for the Management of Cancer Symptoms: THC Version 2.0?. 2018; 3(1): 117–119. PMID: 29789813
  8. Volkow ND, Baler RD, Compton WM, Weiss SR.Adverse Health Effects of Marijuana Use. 2014 Jun 5;370(23):2219-27. PMID: 24897085
ऐप पर पढ़ें