myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

कहते हैं चेहरे से दिल का हाल पता चलता है लेकिन क्‍या कभी आपने सुना है कि चेहरे से सेहत के बारे में भी कई बातों का पता लगाया जा सकता है। जी हां, ये बिलकुल सच है कि चेहरे से हमारी स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं का भी पता लगाया जा सकता है। कुछ स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याएं ऐसी हैं जिनका पता लगाने के लिए आपको डॉक्‍टर के पास जाने की जरूरत नहीं है बल्‍कि घर बैठे ही आप अपने चेहरे से इसका पता लगा सकते हैं। 

तो चलिए जानते हैं कि सेहत के बारे में क्‍या कहता है आपका चेहरा।

सूखी त्वचा और होंठ

होंठों का सूखना सामान्यतः शरीर में पानी की कमी की ओर इशारा कर सकता है। ये स्‍वैट ग्‍लैंड के कार्य को प्रभावित करने वाले किसी गंभीर रोग जैसे कि हाइपोथायरायडिज्म और डायबिटीज का संकेत भी दे सकता है। हाइपोथायरायडिज्म के अन्य लक्षण ठंड लगना, वजन बढ़ना और थकान हैं। डायबिटीज में भी बहुत ज्यादा प्यास लगती है जिससे होंठ सूख सकते हैं। इसके साथ ही डायबिटीज होने पर बार-बार पेशाब आने या धुंधला दिखने जैसी समस्या भी हो जाती है।

(और पढ़ें - रूखी त्वचा के लिए घरेलू उपाय)

चेहरे पर अनचाहे बाल

चेहरे पर खासकर ठोड़ी और होंठों के ऊपर अनचाहे बाल आना पोलिसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम का लक्षण भी हो सकता है। इस बीमारी में हार्मोन असंतुलित हो जाते हैं और महिलाओं के शरीर में पुरूष हार्मोंंस का स्तर बढ़ने लगता है। यह स्थिति महिलाओं में कम उम्र से दिखने लगती है। इसलिए चेहरे पर अनचाहे बाल आने लगें तो इसे हल्के में न लें बल्कि डाॅक्टर से इस बारे में बात करें। कुछ टेस्‍ट करवाने के बाद चेहरे पर आ रहे अनचाहे बालों की असली वजह का पता चल सकता है।

(और पढ़ें - चेहरे से बाल हटाने के घरेलू उपाय)

चेहरे और आंखों का पीला पड़ना

चेहरे और आंखों का पीला पड़ना जाॅन्डिस का लक्षण हो सकता है। जाॅन्डिस यानी पी‍लिया तब होता है जब आपके शरीर में बहुत ज्‍यादा अपशिष्ट पदार्थ जमा हो जाते हैं, जो लाल रक्त कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाने लगते हैं। लाल रक्त कोशिकाओं के टूटने पर शरीर के ऊतकों और रक्त में बिलीरुबिन नामक पदार्थ का निर्माण होता है।

यह आम बीमारी है और नवजात शिशु से लेकर 30 सप्ताह के बच्चे को भी यह बीमारी हो सकती है क्योंकि बीमारियों से लड़ने की क्षमता उनमें कम होती है। जबकि इसके विपरीत वयस्कों में पी‍लिया रोग, वायरल संक्रमण (हेपेटाइटिस, मोनोन्यक्लोसिस) जैसी गंभीर बीमारियों की तरह होता है। साथ ही लिवर, पित्ताशय, पेंक्रियाज और अधिक शराब पीने की वजह से भी यह बीमारी हो सकती है।

(और पढ़ें - पीलिया के घरेलू उपाय)

मस्सा

मस्सा किसी को भी हो सकता है और शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकता है। अमूमन मस्सा काले या गाढ़े रंग का होता है लेकिन चेहरे पर उगे मस्से के प्रति थोड़ा सावधान रहना जरूरी है। यदि आपके चेहरे पर मस्से फैले रहे हैं या बढ़ रहे हैं तो यह कैंसर का लक्षण हो सकता है। अतः मस्से के मामले में निम्न बातों पर अवश्य गौर करें-

  • क्या आपका मस्सा खुरदुरा है?
  • क्या मस्सा असमतल है?
  • क्या मस्सा मटर के दाने के आकार से ज्यादा बड़ा है?
  • क्या पिछले कुछ हफ्तों में आपके मस्से का आकार-प्रकार बदला है?

अगर इन सभी या इनमें से किसी एक भी सवाल का जवाब हां हैं, तो डाॅक्टर को दिखाने में ज़रा भी देरी न करें। ये सभी लक्षण किसी बड़ी स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍या का संकेत हो सकते हैं।

नाक लाल होना

पांच तत्‍वों के चीनी सिद्धांत के अनुसार चेहरे पर आए बदलावों से साफ तौर पर स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओ का पता चल जाता है। अगर आपकी नाक आगे से लाल हो रही है तो समझें कि आप अत्यधिक तनाव या चिंता में हैं। इसके साथ ही ये हाई बी.पी की समस्या का भी संंकेत हो सकता है। अगर आपको चिंता या तनाव रहता है तो नियमित अपना बी.पी चेक करवाएं। इसके साथ ही तनाव को कम करने की कोशिश करें। खानपान में भी जरूरी बदलाव करें।

और पढ़ें ...