बवासीर में गुदा की मांसपेशियों में सूजन आ जाती है और वहां खुजली होने के साथ-साथ खून भी निकलने लगता है. यदि समय रहते बवासीर का इलाज न किया जाए, तो सर्जरी की जरूरत पड़ सकती है. ऐसे में सवाल उठता है कि क्या घर में ही बवासीर का इलाज किया जा सकता है. बवासीर के इलाज के लिए कई घरेलू नुस्खे कारगर साबित हुए हैं, जिनमें से एक नींबू भी है. नींबू के इस्तेमाल से बवासीर का दर्द कम होता है और सूजन से राहत मिलती है.

आज इस लेख में आप जानेंगे कि नींबू से बवासीर का इलाज कैसे करें और इसमें कितनी सच्चाई है -

(और पढ़ें - बवासीर के घरेलू उपाय)

  1. नींबू से बवासीर का इलाज करने के तरीके
  2. सारांश
नींबू से बवासीर का इलाज कैसे करें व सावधानी के डॉक्टर

यहां हम नींबू के उन तरीकों के बारे में बता रहे हैं, जिनकी मदद से बवासीर को ठीक किया जा सकता है -

एनस पर नींबू का इस्तेमाल

नींबू में एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा काफी होती है और इसमें शक्तिशाली एंटी इंफ्लेमेटरी एजेंट भी होते हैं. एंटीऑक्सीडेंट फ्री रेडिकल्स को हटाने में मदद करते हैं, जो शरीर से सेल्स को डैमेज कर सकते हैं. एंटी इंफ्लेमेटरी गुण की वजह से नींबू सूजन को कम करने में कारगर साबित हो सकता है. फिर चाहे सूजन शरीर के ऊपरी हिस्से पर हो या अंदरूनी हिस्से में.

इस स्थिति में बवासीर की वजह से गुदा की मांसपेशियों में आई सूजन को कम करने में नींबू मददगार हो सकता है. बवासीर के सूजन को कम करने के लिए नींबू के रस को निकालकर रूई की मदद से सूजे हुए हिस्से पर धीरे से लगाना चाहिए. ऐसा करने से सूजन से राहत मिलती है. नींबू के रस को फ्रिजर में फ्रीज करके भी सूजन वाले हिस्से पर लगाया जा सकता है. यह कोल्ड कंप्रेस का काम करता है.

(और पढ़ें - नीम से बवासीर का इलाज)

myUpchar के डॉक्टरों ने अपने कई वर्षों की शोध के बाद आयुर्वेद की 100% असली और शुद्ध जड़ी-बूटियों का उपयोग करके myUpchar Ayurveda Urjas Capsule बनाया है। इस आयुर्वेदिक दवा को हमारे डॉक्टरों ने कई लाख लोगों को सेक्स समस्याओं के लिए सुझाया है, जिससे उनको अच्छे प्रभाव देखने को मिले हैं।
Long Time Capsule
₹719  ₹799  10% छूट
खरीदें

सेंधा नमक के साथ नींबू

नींबू में निहित विटामिन-सी और एंटीऑक्सीडेंट शरीर से टॉक्सिन को बाहर निकालने में सहायता करते हैं. टॉक्सिन के बाहर निकल जाने से बवासीर की वजह से होने वाले दर्द, जलन और डिस्कंफर्ट से भी राहत मिलती है. इसके लिए नींबू को दो हिस्से में काट कर इस पर सेंधा नमक लगा लेना है. अब इसे सीधे मुंह में डालकर इसके रस को चूसते रहना है.

सेंधा नमक में इलेक्ट्रोलाइट्स पाए जाते हैं, जो मांसपेशियों में दर्द से छुटकारा दिलाने में मदद करते हैं. इसके साथ ही यह पाचन में मददगार है, जो कब्ज जैसी समस्या से राहत दिलाता है. सेंधा नमक और नींबू के कॉम्बिनेशन से मल त्याग करने में आसानी होगी और बवासीर के मस्से का साइज भी कम होता जाएगा.

(और पढ़ें - धागे से बवासीर का इलाज)

गुनगुने पानी में नींबू का रस

नींबू का एंटीऑक्सीडेंट गुण शरीर से टॉक्सिन को बाहर निकालने में मदद करता है और फाइबर खाना पचाने में. नींबू के गुण को बढ़ाने के लिए इसे गुनगुने पानी में पीने की सलाह दी जाती है. इससे मल त्याग करने में आसानी होती है और बवासीर की वजह से होने वाला दर्द भी कम हो जाता है. दिन में कई बार नींबू पानी को पिया जा सकता है. इससे शरीर हाइड्रेटेड रहता है और क्रॉनिक कब्ज की समस्या भी दूर हो जाती है. क्रॉनिक कब्ज बवासीर की समस्या उत्पन्न होने का एक कारण है.

(और पढ़ें - हल्दी से बवासीर का इलाज)

नींबू के साथ शहद का सेवन

नींबू में निहित विटामिन-सी, एंटीऑक्सीडेंट और एंटी इंफ्लेमेटरी एजेंट किसी भी तरह के इंफेक्शन से शरीर की सुरक्षा करते हैं. यह इम्यून सिस्टम को भी बूस्ट करने में सहायता करते हैं. इस स्थिति में बवासीर के और बढ़ने की आशंका कम हो जाती है. इसके लिए नींबू के साथ शहद को मिलाकर सेवन करना चाहिए.

शहद में भी एंटी बैक्टीरियल और एंटी फंगल गुण होते हैं. साथ ही इसमें हाइड्रोजन पेरोऑक्साइड नामक एंटीसेप्टिक भी होता है. यह पाचन में भी मददगार है. ये सब मिलकर बवासीर से होने वाली असहजता को कम करने में सहायता करते हैं.

(और पढ़ें - गोमूत्र से बवासीर का इलाज)

कई तरह से नींबू का इस्तेमाल करके बवासीर का इलाज किया जा सकता है. नींबू के इस्तेमाल से बवासीर वाली जगह पर सूजन कम होने के साथ ही दर्द से भी राहत मिलती है. इसके लिए सूजन को कम करने के लिए नींबू को सूजन वाली जगह पर लगाया जा सकता है. शहद के साथ नींबू को पीने से पाचन की समस्या कम होती है, जो अंततः बवासीर की वजह से होने वाले डिस्कम्फर्ट को कम करने में मदद करता है. हालांकि, बवासीर के इलाज के लिए नींबू या ऐसी किसी भी चीज के इस्तेमाल से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए.

(और पढ़ें - बवासीर का आयुर्वेदिक इलाज)

Dr Prashant Kumar

Dr Prashant Kumar

आयुर्वेद
2 वर्षों का अनुभव

Dr Rudra Gosai

Dr Rudra Gosai

आयुर्वेद
1 वर्षों का अनुभव

Dr Bhawna

Dr Bhawna

आयुर्वेद
5 वर्षों का अनुभव

Dr. Padam Dixit

Dr. Padam Dixit

आयुर्वेद
10 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें