myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

ट्रेबक्युलोप्लास्टी एक लेजर सर्जरी है, जिसे ग्लूकोमा के कारण आंख में पैदा हुए दबाव को कम करने के लिए किया जाता है। सर्जरी से पहले ही आंख को हो चुके किसी भी तरह के नुकसान को इस सर्जरी से वापस ठीक नहीं किया जा सकता है।

इस प्रक्रिया में ड्रेनेज एंगल को ठीक करने के लिए बीम लाइट को प्रभावित आंख पर केंद्रित किया जाता है। जब ड्रेनेज एंगल ठीक तरह से कार्य करता है तो आंख के अंदर के द्रव को बाहर निकलने में सुविधा होती है। इससे आंख पर बन रहा दबाव कम हो जाता है और परिणामस्वरूप आंख में आगे होने वाली क्षति से बचाया जा सकता है।

सर्जरी को पूरा होने में 15 से 20 मिनट का समय लगेगा। इसके बाद आप अपनी रोजाना की गतिविधियां शुरू कर सकते हैं। सर्जरी के बाद आंख में दबाव की जांच करने के लिए आपको डॉक्टर से कई बार मिलने जाना पड़ सकता है। जरूरत होने पर दोबारा सर्जरी भी की जा सकती है।

(और पढ़ें - ग्लूकोमा की सर्जरी कैसे की जाती है)

  1. ट्रेबक्युलोप्लास्टी क्या है - Trabeculoplasty kya hai
  2. ट्रेबक्युलोप्लास्टी क्यों की जाती है - Trabeculoplasty kyu ki jati hai
  3. ट्रेबक्युलोप्लास्टी से पहले की तैयारी - Trabeculoplasty se pehle ki taiyari
  4. ट्रेबक्युलोप्लास्टी कैसे होती है - Trabeculoplasty kaise hoti hai
  5. ट्रेबक्युलोप्लास्टी के बाद देखभाल - Trabeculoplasty ke baad dekhbhaal
  6. ट्रेबक्युलोप्लास्टी के खतरे और जटिलताएं - Trabeculoplasty ke khatre aur jatiltaein

ट्रेबक्युलोप्लास्टी एक लेजर सर्जरी है, जिसमें लाइट की बीम के द्वारा प्रभावित आंख के ड्रेनेज एंगल को ठीक किया जाता है।

ड्रेनेज एंगल वह पॉइंट है जहां आइरिस (आंख का रंगीन भाग) स्क्लेरा (आंख का सफ़ेद भाग) से मिलता है। इस द्रव से आंख की सतह को गीला रखने में मदद मिलती है। ड्रेनेज एंगल के अवरुद्ध हो जाने पर द्रव बाहर नहीं आ पाता है, जिससे आंख के अंदर दबाव बन जाता है। इस बढ़े हुए दबाव के कारण ऑप्टिक नर्व जो कि आंख को मस्तिष्क से जोड़ती है उसे क्षति पहुचंती है। जिससे ग्लूकोमा की स्थिति पैदा हो जाती है।

ट्रेबक्युलोप्लास्टी आर्गन लेजर ट्रेबक्युलोप्लास्टी या सलेक्टिव लेजर ट्रेबक्युलोप्लास्टी (एसएलटी) हो सकती है। आर्गन लेज़र ट्रेबक्युलोप्लास्टी में आर्गन या डायोड जैसी कॉन्टिन्यूअस वेव लेजर का प्रयोग किया जाता है। वैसे ही एसएलटी में नियोडाइमियम-डोप्ड एल्युमिनियम गार्नेट लेजर का प्रयोग किया जाता है। एसएलटी में प्रयोग की जाने वाली लेजर एएलटी से कम पावर की होती है। एक व्यक्ति जिसने यह सर्जरी करवाई है, यदि उसके नजरिये से देखें तो दोनों लेजर में कोई ख़ास अंतर नहीं है। दोनों ही मामलों में आंख से 75 प्रतिशत तक दबाव कम हो जाता है।

डॉक्टर ट्रेबक्युलोप्लास्टी की सलाह तब दे सकते हैं, जब आपको ग्लूकोमा हो, जो कि मेडिकल ट्रीटमेंट से ठीक नहीं हो रहा है। सर्जरी की सलाह उन लोगों को दी जाती है, जो ग्लूकोमा को ठीक करने के लिए दवाएं नहीं ले सकते हैं -

ट्रेबक्युलोप्लास्टी निम्न स्थितियों में की जा सकती है -

  • स्टेरॉयड इंड्यूस्ड ग्लूकोमा
  • प्राइमरी ओपन एंगल ग्लूकोमा
  • सेकेंडरी ओपन एंगल ग्लूकोमा
  • ऑक्युलर हाइपरटेंशन
  • नैरो एंगल ग्लूकोमा

ग्लूकोमा होने पर आपके शरीर में निम्न लक्षण दिखाई दे सकते हैं -

ट्रेबक्युलोप्लास्टी के लिए निम्न तैयारी की जरूरत होती है -

  • डॉक्टर आपकी आंखों की समस्या और दृष्टि संबंधी परेशानियों के बारे में जांच करेंगे। इसके बाद गोनियोस्कोपी की जाएगी, ताकि आपकी आंख के अंदर मौजूद ड्रेनेज सिस्टम की जांच हो सके।
  • इसके बाद डॉक्टर आंख के अंदर दबाव की जांच करेंगे और कॉर्निया की मोटाई का पता लगाएंगे। साथ ही ऑप्टिक नर्व और विज़ुअल फील्ड की भी जांच की जाएगी।
  • ट्रेबक्युलोप्लास्टी लेजर ट्रीटमेंट में टांके नहीं लगाए जाते हैं, इसीलिए आप कुछ भी खा पी सकते हैं
  • ग्लूकोमा के लिए डॉक्टर द्वारा बताई गयी दवाओं व अन्य दवाओं को भी ले सकते हैं
  • आपको सर्जरी की अनुमति देने के लिए एक फॉर्म भरने को कहा जाएगा
  • सर्जरी के दिन अपने किसी रिश्तेदार या मित्र को अपने साथ अस्पताल ले जाएं

आपके अस्पताल आने पर डॉक्टर आपकी आंख के अंदर दबाव और दृष्टि की जांच करेंगे। आंख में सर्जरी से पहले दबाव को कम करने वाली दवा डाली जाएगी। यह लेजर ट्रीटमेंट अस्पताल में किया जाएगा। यह निम्न तरह से होगा -

  • आपको एक विशेष सूक्ष्मदर्शी के सामने बैठने को कहा जाएगा, जिसमें आपकी ठोड़ी को चिन रेस्ट पर रखेंगे। आप अपने माथे को आराम से हेडपीस पर टिका सकते हैं
  • जिस आंख का ऑपरेशन किया जाना है, सर्जन उसमें आई ड्राप डालेंगे
  • इसके बाद आपकी आंख की गति को कम करने के लिए डॉक्टर आंख में लेंस लगाएंगे, ताकि आपकी पलक न झपके। साथ ही इससे लेजर को आंख में केंद्रित करने में भी मदद मिलेगी
  • इस प्रक्रिया के दौरान आपको रोशनी की तेज फ़्लैश और चुभने जैसी संवेदना हो सकती है
  • इस प्रक्रिया को पूरा होने में दस से पंद्रह मिनट तक समय लग सकता है

इस प्रक्रिया के बाद आई ड्राप डाली जाएगी ताकि आंख में कोई दबाव न पड़े और इसके बाद आपको वेटिंग रूम में भेज दिया जाएगा। सर्जन सर्जरी के आधे घंटे बाद आंख में दबाव की जांच करेंगे। लेजर ट्रीटमेंट के कुछ घंटों बाद तक आपको धुंधला दिखाई दे सकता है। प्रक्रिया के दिन ही आपको घर जाने की अनुमति दे दी जाएगी।

सर्जरी के बाद निम्न बातों का ध्यान रखें -

  • सर्जरी के दिन कोई भी वाहन न चलाएं
  • यदि आपको सर्जरी के बाद तकलीफ होती है, तो डॉक्टर से पूछ कर कोई दर्दनिवारक ले लें
  • आपको सर्जरी के बाद आंख में खुजली या बेचैनी महसूस हो सकती है
  • जब तक लेजर सर्जरी के पूरे प्रभाव रहते हैं तब तक अपनी पुरानी आई ड्राप का इस्तेमाल करते रहें
  • सर्जन आपको सर्जरी के कुछ दिन बाद इस्तेमाल करने के लिए एंटी-इंफ्लेमेटरी ड्राप देंगे उनका निर्देश के अनुसार ही प्रयोग करें।
  • सर्जरी के अगले दिन से ही आप अपनी रोजाना की क्रियाएं कर सकते हैं

डॉक्टर के पास कब जाएं?

यदि आपको निम्न में से कोई भी लक्षण दिखाई देते हैं तो तुरंत डॉक्टर के पास जाएं -

(और पढ़ें - आंखों में खुजली का कारण)

हालांकि, ट्रेबक्युलोप्लास्टी के खतरे और जटिलताएं बहुत ही दुर्लभ हैं, लेकिन इनमें निम्न शामिल हैं -

  • सर्जरी के बाद आंख में दबाव का बढ़ना
  • कम दिखना
  • दर्द
  • आइरिस का धुंधला हो जाना
  • कुछ समय तक आइरिस में सूजन

यदि सर्जरी के बाद आंख में सूजन बढ़ जाती है तो इससे अंधापन हो सकता है।

यदि आंख में दबाव सर्जरी के बाद धीरे-धीरे कम नहीं हो रहा है, तो सर्जन लेजर सर्जरी करने की सलाह देंगे

ट्रेबक्युलोप्लास्टी में सर्जरी से पहले खोई दृष्टि को वापस नहीं लाया जा सकता है। हालांकि, यह दृष्टि खोने की प्रक्रिया को धीमा कर सकती है या पूरी तरह से रोक सकती है। इसके अलावा इस सर्जरी का प्रभाव स्थायी नहीं है।

(और पढ़ें - आंखों की सूजन के घरेलू उपाय)

और पढ़ें ...

संदर्भ

  1. Michigan Medicine: University of Michigan [internet]. US; Laser Trabeculoplasty for Glaucoma
  2. Glaucoma Center of Excellence: Johns Hopkins Medicine [Internet]. The Johns Hopkins University, The Johns Hopkins Hospital, and Johns Hopkins Health System; Laser angle treatment (trabeculoplasty: LTP, ALT, or SLT)
  3. American Academy of Ophthalmology [internet]. California. US; Laser Trabeculoplasty: ALT vs SLT
  4. National Health Service [internet]. UK; Glaucoma
  5. Dean McGee Eye Institute [Internet]. The University of Oklahoma College of Medicine Department of Ophthalmology. US; Laser Trabeculoplasty
  6. Chen Teresa C. Glaucoma Laser Treatment: Argon Laser Trabeculoplasty (ALT). Digital Journal of Ophthalmology. 2003.
  7. Salisbury NHS Foundation Trust [Internet]. National Health Service. US; Selective laser trabeculoplasty (SLT)
  8. The Dudley Group NHS Foundation Trust [Internet]. National Health Service. US; Patient information laser treatment for glaucoma – selective laser trabeculoplasty (SLT)
ऐप पर पढ़ें
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ