• हिं
  • हिं

जब कोई व्यक्ति पूरी नींद नहीं लेता है, तो उसे कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है. इसलिए शारीरिक और मानसिक रूप से हेल्दी रहने के लिए हेल्थ एक्सपर्ट्स भी पूरी नींद लेने की सलाह देते हैं. इसके लिए अधिकतर लोग 7 से 9 घंटे की नींद लेने की पूरी कोशिश करते हैं. आपको बता दें कि नींद का चक्र हल्की नींद से शुरू होता है. इसके बाद गहरी नींद और फिर आरईएम नींद आती है. इनमें से गहरी नींद को हेल्थ के लिए काफी फायदेमंद बताया गया है.

नींद से जुड़ी समस्याओं का इलाज जानने के लिए यहां दिए लिंक पर क्लिक करें.

आज इस लेख में आप गहरी नींद और इसके फायदों के बारे में विस्तार से जानेंगे -

(और पढ़ें - अच्छी गहरी नींद आने के घरेलू उपाय)

  1. गहरी नींद क्या है?
  2. गहरी नींद क्यों जरूरी है?
  3. गहरी नींद लेने के लिए टिप्स
  4. सारांश
गहरी नींद क्या है और ये क्यों जरूरी है? के डॉक्टर

नींद के सभी चरण आवश्यक होते हैं, लेकिन गहरी नींद मस्तिष्क के स्वास्थ्य और फंक्शन के लिए सबसे जरूरी है. नींद का यह चरण ब्रेन को आराम करने और ठीक होने में मदद करता है और शरीर को फिर से ऊर्जावान बनाने में मदद करता है. इससे स्मरण शक्ति भी बेहतर होती है. गहरी नींद के दौरान शरीर रिलैक्स महसूस करता है. इसमें हृदय गति और सांस लेने की दर सबसे कम और नियमित होती है. इस दौरान मस्तिष्क की तरंगें धीमी और बड़ी हो जाती हैं.

(और पढ़ें - नींद की कमी का इलाज)

गहरी नींद हेल्थ के लिए जरूरी होती है. इस स्टेज में आप रिलैक्स होते हैं और शरीर में टिश्यू बढ़ते हैं. साथ ही कोशिकाओं को भी फिर से बनने में मदद मिलती है. अमेरिकन एकेडमी ऑफ स्लीप मेडिसिन (AASM) के अनुसार गहरी नींद लेना निम्न कारणों से जरूरी हो सकता है -

वजन को कंट्रोल में रखना

वजन को कंट्रोल में रखने के लिए गहरी नींद लेना जरूरी हो जाता है. अगर आप गहरी नींद लेते हैं, तो इससे आपको वेट लॉस में मदद मिल सकती है. दरअसल, गहरी नींद लेने से मेटाबॉलिज्म बूस्ट होता है और खाना सही तरीके से डाइजेस्ट होता है. इससे आपको वजन को नियंत्रण में रखने में मदद मिल सकती है.

(और पढ़ें - अनिद्रा की आयुर्वेदिक दवा)

मूड में सुधार

गहरी नींद लेने से तनावचिंता और अवसाद के लक्षणों में भी कमी होती है. ऐसे में जब तनाव की वजह से आपका मूड खराब होता है, तो आपके लिए गहरी नींद लेना फायदेमंद हो सकता है. गहरी नींद लेने से तनाव कम होता है और मूड में अच्छा रहता है. वहीं, नींद की कमी आपका मूड स्विंग कर सकता है.

(और पढ़ें - अनिद्रा की होम्योपैथिक दवा)

हृदय रोगों का जोखिम कम करे

आजकल हृदय रोगों के मामलों में लगातार इजाफा होता जा रहा है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि गहरी नींद लेने से हृदय रोगों के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है. रोजाना गहरी नींद में सोने से आप अपने हार्ट को हेल्दी बनाए रख सकते हैं. साथ ही हृदय रोग व डायबिटीज जैसी स्वास्थ्य समस्याओं का भी जोखिम कम हो सकता है.

गहरी नींद ब्लड प्रेशर और हार्ट बीट को भी सामान्य रखने में मदद कर सकता है. गहरी नींद लेना हाई ब्लड प्रेशर के रोगियों के लिए लाभकारी हो सकता है, क्योंकि रिसर्च में पता चला है कि गहरी नींद लेने से 10 से 20 प्रतिशत ब्लड प्रेशर कम हो सकता है.

(और पढ़ें - नींद में चलने का इलाज)

मानसिक स्वास्थ्य में सुधार

मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखने के लिए गहरी नींद लेना जरूरी होता है. गहरी नींद लेने से आपका मस्तिष्क शांत होता है. इससे मानसिक रोगों से बचाव हो सकता है. गहरी नींद मनोभ्रंश जैसी स्थिति को रोक सकता है. कई रिसर्च में तो यह तक साबित हो चुका है कि जो लोग गहरी नींद नहीं लेते हैं, उन्हें मानसिक रोगों का सामना अधिक करना पड़ता है.

(और पढ़ें - अच्छी नींद के लिए रात को सोने से पहले ये खाएं)

ऊर्जा का स्तर बढ़ाए

गहरी नींद या अच्छी गुणवत्ता वाली नींद लेने से थकान और तनाव कम होता है. गहरी नींद के दौरान एडीनोसिन ट्राइफॉस्फेट (एटीपी) का स्तर बढ़ जाता है. एटीपी कोशिकाओं को ऊर्जा प्रदान करता है. ऐसे में अगर आप गहरी नींद लेते हैं, तो अगली सुबह फ्रेश, तरोताजा और ऊर्जावान महसूस कर सकते हैं.

गहरी नींद लेने से शरीर का तापमान भी सामान्य बना रहता है. गहरी नींद में सोने से शरीर को आराम मिलता है और बॉडी रिलैक्स होती है, जिससे गर्मी और तापमान सामान्य होने लगती है.

(और पढ़ें - स्लीप हाइजीन के फायदे)

हड्डी व मांसपेशियों के लिए फायदेमंद

गहरी नींद लेना हृड्डियों और मांसपेशियों के लिए भी फायदेमंद हो सकता है. दरअसल, गहरी नींद के दौरान शरीर मांसपेशियों और ऊतकों की मरम्मत होती है. अगर बच्चे गहरी नींद लेते हैं, तो इससे उनकी हड्डियों और मांसपेशियों का विकास होने में मदद मिलेगी.

(और पढ़ें - नींद का मानसिक सेहत पर असर)

सोते समय गहरी नींद लेने के लिए निम्न प्रकार के टिप्स फायदेमंद साबित हो सकते हैं -

  • रात को देर में सोने से बचना चाहिए और सुबह जल्दी उठना चाहिए.
  • सुबह जल्दी उठने के बाद जॉगिंगवॉक या कोई अन्य फिजिकल एक्टिविटी करनी चाहिए.
  • कम कार्बोहाइड्रेट और हाई हेल्दी फैट वाला खाना खाएं.
  • सोने से पहले गुनगुने तेल से शरीर की मालिश की जा सकती है.
  • अधिक शोर-शराबे में रहने से बचना चाहिए.
  • सोने से कुछ समय पहले फोन, कंप्यूटर या टीवी का यूज न करें.
  • कमरे में अंधेरा रखें और सोते समय कैफीन से परहेज करें.
  • रात को हैवी भोजन खाने से बचना चाहिए.
  • तनाव और चिंता को कम करें.

(और पढ़ें - पूरी नींद लेने से होने वाले फायदे)

शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए गहरी नींद लेना जरूरी होता है. गहरी नींद लेने से पर्याप्त ऊर्जा मिलती है, हार्मोन संतुलित होते हैं, मानसिक स्वास्थ्य में सुधार होता है और मेटाबॉलिज्म भी बूस्ट होता है. वहीं, कुछ लोग गहरी नींद न आ पाने की शिकायत करते हैं. ऐसे में आप अपने खानपान और जीवनशैली की आदतों में बदलाव कर सकते हैं. इसके लिए आप हेल्दी खाना खाएं, रात को गैजेट्स से बचें और सोने-जागने का समय निश्चित करें. आपको भी गहरी नींद जरूर लेनी चाहिए, क्योंकि इससे आप एक फ्रेश दिन की शुरुआत कर सकते हैं.

(और पढ़ें - नींद की गोली के फायदे)

Dr. Sameer Arora

Dr. Sameer Arora

न्यूरोलॉजी
10 वर्षों का अनुभव

Dr. Khursheed Kazmi

Dr. Khursheed Kazmi

न्यूरोलॉजी
10 वर्षों का अनुभव

Dr. Muthukani S

Dr. Muthukani S

न्यूरोलॉजी
4 वर्षों का अनुभव

Dr. Abhishek Juneja

Dr. Abhishek Juneja

न्यूरोलॉजी
12 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें