आपने अक्सर दादी नानी, माता-पिता और घर के अन्य बड़े लोगों को यह कहते सुना ही होगा कि खाने से तुरंत पहले, बाद और उसके साथ पानी नहीं पीना चाहिए। जबकि, कुछ लोग खाना खाने के पहले, बाद और साथ में पानी पीने की आदत को बुरा नहीं मानते हैं। इस दौरान पानी न पीने वाले व पानी पीने वाले लोग अपने अपने मत या तर्क देते हैं। इस विषय को लेकर समाज में कई अवधारणाएं प्रचलित है। कुछ डॉक्टर खाने से तुरंत पहले, बाद और उसके साथ पानी ना पीने का समर्थन करते हैं, तो वहीं दूसरी ओर हाल ही में हुए अध्ययन इसके विपरीत तर्क का समर्थन करते हुए नजर आते हैं।

(और पढ़ें - दिन में कितना पानी पीना चाहिए)

इस लेख में आपको खाना खाते समय पानी पीना चाहिए या नहीं विषय पर विस्तार से बताया गया है। साथ ही इसमें आपको खाना खाने से पहले पानी पीना चाहिए या नहीं और खाना खाने के बाद पानी कब पीना चाहिए आदि कुछ महत्वपूर्ण विषयों के बारे में भी विस्तार से बताने का प्रयास किया गया है।

(और पढ़ें - जौ के पानी के फायदे)

  1. खाना खाने से पहले पानी पीना चाहिए या नहीं? - Khana khane se pahle pani pina chahiye ya nahi
  2. खाना खाते समय पानी पीना चाहिए या नहीं? - Khana kahte samay pani pina chahiye ya nahi
  3. खाना खाने के बाद पानी पीना चाहिए या नहीं? - Khana khane ke baad pani pina chahiye ya nahi

खाना खाने से पहले पानी पीने का एक विशेष नियम होता है। आयुर्वेद के अनुसार खाना खाने से ठीक पहले पानी पीने से पेट की अग्नि कमजोर हो जाती है, यहां पेट की अग्नि को पाचन क्षमता कहा गया है।

अगर आप खाना खाने से ठीक पहले ज्यादा पानी पीते हैं तो पानी से ही आपका पेट भर जाता है, जिससे आप अपनी सामान्य भूख से कम खाना खाएंगे। लेकिन केवल इस कारण की वजह से विशेषज्ञ आपको पानी पीने के लिए माना नहीं करते हैं। दरअसल, खाना खाने से पहले पानी पीना पाचन क्रिया में मदद करता है, लेकिन इसके लिए आपको खाना खाने से करीब एक घंटे पहले ही पानी पीना चाहिए।

यदि आप भोजन करने से करीब 30 मिनट पहले पानी पीते हैं तो इससे पाचन रस अपना कार्य सही तरह से नहीं कर पाते हैं, जबकि एक घंटे पहले पानी से आपको उचित पोषक तत्व मिलते हैं। इसके साथ ही खाने से पहले पानी पीना व्यक्ति की कमजोरी का भी कारण होता है।

(और पढ़ें - पाचन तंत्र मजबूत करने के उपाय)

खाना खाते समय पानी क्यों नहीं पीना चाहिए - Khane kahte samay pani kyu nahi pina chahiye

खाना खाते समय पानी पीने की आदत अच्छी है या खराब इस बारे में डॉक्टर की अपनी अपनी अलग राय है। कुछ विशेषज्ञ कहते हैं कि खाते समय पानी पीने से भोजन में अधिक तरल मिल जाते है। लोगों को इस गलत आदत के बारे में सही तरह से मालूम नहीं होता है कि इससे उनकी पाचन क्रिया पर क्या प्रभाव पड़ते हैं। जिन लोगों को पहले से ही पाचन संबंधी कोई समस्या होती है, खाते समय पानी पीने की आदत से उनकी पाचन संबंधी समस्याओं में और इजाफा हो जाता है।

(और पढ़ें - वजन के हिसाब से कितना पानी पीना चाहिए)

हमारा शरीर खाने के समय को पहचानता है और वह खाना खाते समय ही पाचन रस को स्त्रावित करना शुरू कर देता है। अगर आप इसी समय पानी पीने लगेंगे, तो इससे खाने को पचाने वाला पचान रस पतले तरल में बदल जाएगा, जिससे वह खाने के पोषक तत्वों को सही तरह से अवशोषित नहीं कर पाता है।   

(और पढ़ें - पाचन क्रिया बढ़ाने के उपाय)

क्या खाना खाते समय पानी पीना चाहिए - Kya khane kahte samay pani pina chahiye

कुछ विशेषज्ञ इसको सही बताते हैं तो कुछ गलत। खाते समय पानी क्यों नहीं पीना चाहिए इस बारे में हम आपको ऊपर बता चुके हैं। अब आगे आपको खाते समय पानी पीने के फायदे के बारे में बताया जा रहा है। 

आयुर्वेद के अनुसार खाना खाते समय पानी पीने की आदत को फायदेमंद बताया गया है। खाने के बीच में पानी पीने से खाने में नमी आती है और आपके भोजन को छोटे छोटे भागों में टूटने में आसानी होती है। साथ ही तैलीय या मसालेदार भोजन को खाते समय यह आदत आपकी प्यास को बुझाती है। इस तरह से खाने के बीच में पानी पीना एक स्वस्थ और आदर्श आदत मानी जाती है। 

(और पढ़ें - गुनगुना पानी पीने के फायदे)

लेकिन इसका यह मतलब बिलकुल नहीं है कि आप खाने के दौरान अपनी प्यास बुझाने के एक गिलास भर पानी पी लें। खाने के बीच में यदि आपको प्यास लगे तो बेहद कम मात्रा में एक या दो घूंट ही पानी पिएं। खाने के बीच में प्यास को बुझाने के लिए ज्यादा पानी पीने से आपका पेट पानी से भर जाएगा और आप जरूरत से कम खाना खा पाएंगे।

(और पढ़ें - नवजात शिशु को कब पानी पिलाएं)

खाना खाते समय पानी कब पीना चाहिए - Khane kahte samay pani kab pina chahiye

हम आपको पहले ही बता चुकें हैं कि खाना खाते समय आपको मिर्च लगने या तेज प्यास लगने पर ही पानी पीना चाहिए। यदि आपको खाते समय प्यास लगे तो ऐसे में आपको सामान्य तापमान वाला पानी ही पीना चाहिए। इस समय ठंडा पानी पीने से आपकी पाचन अग्नि शांत हो जाती है, जिससे पाचन एंजाइम निष्क्रिय हो जाते है। ऐसा होने से आपके शरीर में विषाक्त पदार्थ जमा होने लगते हैं। साथ ही इसकी वजह से एसिड रिफक्स और हियाटस हर्निया जैसे अन्य समस्याएं हो जाती है। इसलिए आपको खाने के साथ गैस वाली ड्रिंक्स व कॉफी पीने से भी बचना चाहिए।

(और पढ़ें - हर्निया का घरेलू उपाय)

विशेषज्ञ बताते हैं कि खाना खाने के बाद व्यक्ति को पानी नहीं पीना चाहिए। खाना खाने के तुरंत बाद पानी पीने से आपके आहार की गुणवता और शरीर की पाचन क्रिया पर गहरा दुष्प्रभाव पड़ता है। खाना खाने के तुरंत बाद पानी पीने से पाचन रस और एंजाइम्स पतले तरल में बदल जाते हैं। इसके साथ ही खाने के बाद पानी पीने से एंजाइम्स बनने की मात्रा में भी कमी आ जाती है, इसके परिणामस्वरूप व्यक्ति के शरीर में एसिड का स्तर बढ़ने से सीने में जलनएसिडिटी की समस्या शुरू हो जाती है।

(और पढ़ें - एसिडिटी के घरेलू उपाय)

पाचन क्रिया में भोजन से पोषक तत्वों को अवशोषित किया जाता है, लेकिन यदि आप खाना खाने के कुछ मिनटों बाद ही अधिक मात्रा में पानी पी लेते हैं तो इससे पाचन क्रिया में बाधा आती है और पोषक तत्व सही तरह से अवशोषित नहीं हो पाते हैं। पाचन क्रिया प्रभावित होने से व्यक्ति के शरीर में मोटापा भी बढ़ने लगता है।

(और पढ़ें - मोटापा कम करने के लिए डाइट चार्ट)

दरअसल खाने के बाद पानी पीने से बाधित पाचन क्रिया भोजन के अधिक भाग को पचा नहीं पाती है। बिना पचे भोजन का ग्लूकोज शरीर में जमा होकर फैट मे बदल जाता है। फैट बढ़ने से शरीर के इंसुलिन का स्तर भी बढ़ जाता है और इसके कारण ही रक्त में शुगर के स्तर में भी बढ़ोतरी होने लगती है। रक्त में शुगर के स्तर में बढ़ोतरी होने से डायबिटीज और मोटापा होने की संभावना बढ़ जाती है। आयुर्वेद भी खाना खाने के बाद पानी पीने का समर्थन नहीं करता है।

(और पढ़ें - शुगर में क्या खाना चाहिए)

खाने खाने के कितनी देर बाद पानी पीना चाहिए - Khana khane ke kitne der baad pani pina chahiye

खाना खाने के करीब आधा घंटे बाद आपको अपनी प्यास को बुझाने के लिए पानी पीना चाहिए। आधे घंटे बाद पाचन क्रिया अगले चरण में पहुंच जाती है, जिससे पानी पीने से आपकी पाचन क्रिया पर प्रभाव नहीं पड़ता है। करीब एक से दो घंटे के बाद आप इच्छा अनुसार पानी पी सकते हैं, क्योंकि तब तक आपकी पाचन क्रिया की महत्वपूर्ण प्रक्रिया पूर्ण हो जाती है।  

(और पढ़ें - जीरे के पानी के फायदे)

खाने खाने के बाद कितना पानी पीना चाहिए - Khana khane ke baad kitna pani pina chahiye

खाना खाने के बाद कितनी मात्रा में पानी पीना चाहिए इस विषय पर विशेषज्ञों ने कोई निश्चित मात्रा नहीं बताई हैं, लेकिन कुछ विशेषज्ञ सुझाव देते हैं कि खाने से पहले, खाने के बीच व खाने के बाद अधिकतम केवल एक गिलास पानी पिया जा सकता है। इस मात्रा से खाने के दौरान पेट में बनने वाले पाचन रसों पर अधिक प्रभाव नहीं पड़ता है और इससे पोषक तत्वों के अवशोषण की प्रक्रिया को बेहतर बनने में मदद मिलती है।  

(और पढ़ें - पोषण की कमी का इलाज)

और पढ़ें ...
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ