myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

स्वस्थ्य रहने के लिए संतुलित आहार की आवश्यकता हर इंसान को होती है। लेकिन जब आप डायबिटीज से ग्रसित होते हैं, तो यह बात आपके लिए और अधिक आवश्यक हो जाती है। शुगर की बीमारी में भोजन को लेकर कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता है, जैसे कि क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए?

(और पढ़ें  - शुगर कम करने के घरेलू उपाय)

इसलिए आज हम आपको बताएंगे कि शुगर की बीमारी में कौन-कौन से खाद्य पदार्थ अपने भोजन में शामिल करने चाहिए और कौन-कौन से आहार नहीं खाने चाहिए।

  1. डायबिटीज में क्या खाएं और क्या नहीं - What to eat and not to eat in diabetes in Hindi
  2. डायबिटीज आहार में भरपूर मात्रा में खा सकते हैं इन खाद्य पदार्थों को - Diabetics can eat plenty of these foods in Hindi
  3. शुगर की समस्या में इन खाद्य पदार्थों को कम मात्रा में खाएं - Eat these foods in small amounts in diabetes in Hindi
  4. मधुमेह में नहीं खाना चाहिए इन खाद्य पदार्थों को - Do not eat these foods in diabetes in Hindi
  5. शुगर की बीमारी के लिए भोजन संबंधी टिप्स - Diet Tips for Diabetes in Hindi
  6. डायबिटीज के मरीज़ों के लिए सबसे फायदेमंद हैं यह 6 फल

शुगर में खाना चाहिए स्वस्थ वसा युक्त आहार - Eat healthy fat diet in diabetes in hindi

मधुमेह रोगियों के लिए सभी प्रकार की वसा खराब नहीं होती हैं। कुछ अच्छी वसा भी होती हैं, जो कोशिकाओं के लिए बहुत लाभदायक होती हैं। इसके अलावा अच्छी वसा हृदय रोग की समस्या से में भी मदद करती हैं। मधुमेह में हृदय रोग की समस्या सामान्य है। इसलिए अच्छा फैट खाना मधुमेह रोगियों के लिए बहुत उपयोगी है।

डायबिटीज में खाने चाहिए निम्न खाद्य पदार्थ

इनसे आपको अच्छी वसा प्राप्त होती है - 

  • मछली, फिश लीवर ऑयल, सूरजमुखी के बीज, कद्दू के बीज,
  • अलसी का बीज, तिल के बीज, टोफू, पालक, अखरोट, सोया और कस्तूरी आदि।
  • संतृप्त वसा के लिए इन खाद्य पदार्थों को सीमित मात्रा में खाएं जैसे घी, बटर, क्रीम, नारियल तेल आदि। इसके साथ ही साथ आप त्वचा रहित चिकन और कम वसा वाले दूध भी सीमित मात्रा में ले सकते हैं। इसके अलावा खाद्य पदार्थों को पकाने के लिए बेक करना, भूनना, ब्रॉइलिंग करना आदि तरीके का इस्तेमाल करें।

डायबिटीज में कम मात्रा में खाने चाहिए निम्न खाद्य पदार्थ 

इनमें बहुत अधिक मात्रा में वसा होती है -

  • मिठाईयां जैसे लड्डू, जलेबी, गुलाब जामुन आदि।
  • नारियल
  • पकौड़ा
  • समोसा
  • केला, आलू, कटहल से बना चिप्स आदि।

(और पढ़ें - डायबिटीज में परहेज)

शुगर के लिए आहार है अच्छे कार्बोहाइड्रेट्स फूड - Eat good carbohydrates in diabetes in Hindi

कार्बोहाइड्रेट एक खाद्य पदार्थ है, जिसमें शुगर और फाइबर मौजूद होते हैं। आप किस प्रकार के कार्बोहाइड्रेट खा रहे हैं और किस समय खा रह हैं, ये बात आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण है। भोजन में अधिक मात्रा में कार्बोहाइड्रेट्स खाने से खून में शुगर की मात्रा बढ़ती है। इसलिए अपने आहार में सीमित मात्रा में कार्बोहाइड्रेट खाएं। अगर आप डायबिटीज के शिकार हैं, तो बहुत कम मात्रा में कार्बोहाइड्रेट खाएं एवं फाइबर युक्त आहार अधिक मात्रा में खाएं। इससे आपके रक्त में शर्करा का स्तर नियंत्रित रहेगा।

निम्न खाद्य पदार्थ फाइबर से भरपूर होते हैं -

इन खाद्य पदार्थों को बहुत कम मात्रा में खाएं या न खाएं -

  • जैम, चीनी, गुड़, शहद, आइसक्रीम, चॉकलेट, हलवा, लड्डू, जैली आदि। इन खाद्य पदार्थों में बहुत अधिक मात्रा में फैट और चीनी होते हैं। इनको अधिक खाने से खून में शर्करा का स्तर बहुत अधिक हो जाता है। इसलिए इस प्रकार का कोई भी खाद्य पदार्थ खाने से पहले अपने डाक्टर से संपर्क करें।

(और पढ़ें - डायबिटीज के लिए योगासन)

मधुमेह में खाएं प्रोटीन - Eat protein in diabetes in Hindi

प्रोटीन आपके शरीर के लिए बहुत आवश्यक है। लेकिन, प्रोटीन को अपने डाइट में शामिल करते समय अधिक कार्बोहाइड्रेट और फैट वाले खाद्य पदार्थों से पहेज करना चाहिए क्योंकि अधिक फैट और कार्बोहाइड्रेट मधुमेह के रोगियों के लिए बहुत हानिकारक होते हैं।

प्रोटीन के लिए इन खाद्य पदार्थों को अपने आहार में शामिल करें -

(और पढ़ें - डायबिटीज डाइट चार्ट)

मधुमेह रोगियों के लिए फल - Fruits for diabetics in Hindi

मधुमेह रोगियों के लिए फल बहुत लाभदायक होते हैं। लेकिन शुगर से ग्रसित लोगों को फल खाते समय कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। जैसे- कम शुगर वाले फल खाएं। इसके साथ ही एक दिन में 1 से 2 फल ही खाएं। अगर आवश्यक न हो, तो फल को न छीलें। इसके अलावा इस बात का भी ध्यान रखें कि भोजन करने से पहले या भोजन करने के बाद और फल खाने के बीच 2 घंटे का समयांतराल हो। फ्रूट जूस,फ्रूट मिल्क या नारियल पानी न पिएं।

(और पढ़ें - शुगर का आयुर्वेदिक इलाज)

शुगर रोगियों के  लिए फ्रूट चार्ट - 

फल कितनी मात्रा में खाएं फल  कितनी मात्रा में खाएं
आंवला

4 से 5       

संतरा पूरे दिन में एक
सेब पूरे दिन में 1 या 100 ग्राम पपीता   2 पीस

चेरी

पूरे दिन में 10 आडू पूरे दिन में एक
खजूर पूरे दिन में 4     नाशपाती  पूरे दिन में 1
अंजीर पूरे दिन में 1 या 2  अनानस 2 स्लाइस
अंगूर

10 से 12    

आलूबुखारा पूरे दिन में 2
अमरूद 1 छोटा   स्ट्रॉबेरी 5 से 6
कटहल

2 से 3 छोटा टुकड़ा  

मीठा चूना आधा या 100 ग्राम
जामुन  10 पूरे दिन में   तरबूज 2 बड़ा टुकड़ा
खरबूज

1 बड़ा टुकड़ा  

अनार आधा या 100 ग्राम
लीची पूरे दिन में 10 नग    

शुगर रोगियों के लिए सब्जियां - Vegetables for diabetes patients in Hindi

सब्जियां बिटामिन, खनिज, एंटीऑक्सीडेंट और फाइबर के बहुत अच्छे स्त्रोत हैं। मधुमेह के रोगियों के लिए फाइबर से भरपूर सब्जियां बहुत लाभदायक हैं। इसके अलावा रोजाना कम से कम से दो बड़े चम्मच सब्जियां खाने से आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है और वजन कम करने में भी मदद मिलती है।

फाइबर की भरपूर मात्रा के लिए निम्न प्रकार की सब्जियों को खाएं -

पालक, फूलगोभी, मटर, शिमला मिर्च, लौकी, प्याज, लहसुन, अजवाइन, सेम, बैगन, सलाद, तोरी, टमाटर, ब्रोकोली आदि।

(और पढ़ें - रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के आयुर्वेदिक उपाय)

डायबिटीज के मरीजों के लिए डेरी प्रोडक्ट्स - Dairy products for diabetes patients in Hindi

डेरी प्रोडक्ट्स में बहुत अधिक मात्रा में कैल्शियम, विटामिन और प्रोटीन मौजूद होते हैं। इसके अलावा कम फैट या वसा रहित डेरी खाद्य पदार्थ मधुमेह रोगियों के लिए नुकसानदायक नहीं हैं क्योंकि वसा रहित खाद्य पदार्थ खाने से रक्त में शर्करा का स्तर नियंत्रित बना रहता है।

डेरी प्रोडक्ट के रूप में इन खाद्य पदार्थों को खाएं -

  • कम वसा वाला दूध
  • अंडे का सफेद भाग
  • वसा रहित दही और बिना फ्लेवर वाला सोया मिल्क आदि।

निम्नलिखित शाकाहारी भोजन को अपनाकर, मधुमेह रोगी खून में शर्करा के स्तर को कम कर सकते हैं और फिट और स्वस्थ हो सकते हैं। इसके अलावा इस डाइट प्लान को भूरपूर मात्रा में खा सकते हैं।

निम्न खाद्य पदार्थों को भरपूर मात्रा में खाएं -  

  • टमाटर, प्याज, खीरा, गोभी, गाजर और शिमला मिर्च का सलाद।
  • क्लियर सूप (कोर्न फ्लेवर, बटर या किसी भी प्रकार का मसाला न मिलाएं)।
  • छाछ (3 भाग पानी + एक भाग दही)।
  • दाल का पानी
  • लाइम जूस चीनी रहित
  • चीनी रहित जिलेटिन
  • प्राकृतिक मसाला जैसे अदरक, लहसुन, पुदीना, धनिया आदि।
  • रोजाना कम से कम 8 से 10 गिलास पानी पीएं।

(और पेढें - मधुमेह रोगियों के लिए नाश्ता)

निम्न खाद्य पदार्थों को कम मात्रा में खाएं - 

  • अनाज जैसे- रोटी, चावल, ज्वार, बाजरा, रागी आदि।
  • दाल और अनाज का मिश्रण- दाल और अनाज का मिश्रण जैसे इडली, ढोकला, खिचड़ी, दाल ढोकली आदि।
  • मखनिया दूध (स्किम्ड मिल्क) और पनीर
  • ऊपर बताए गए फलों में से 1 या 2 फल।
  • सफेद मांस जैसे मछली या चिकन (त्वचा रहित)।
  • सब्जियां कम पकी हुई और इसे पकाने में रिफाइंड तेल का उपयोग करें।

(और पढ़ें - मधुमेह रोगियों के लिए स्वादिष्ट व्यंजन)

डायबिटीज में इन खाद्य पदार्थों को बिल्कुल न खाएं - 

  • चीनी, ग्लूकोज, गुड़, शहद और मिठाई। इसके अलावा क्रीम बिस्किट, आइस क्रीम, केक, चॉकलेट, पेस्ट्री, जैम, जेली आदि खाद्य पदार्थों को भी न खाएं।
  • तेल वाले अचार, तला हुआ पापड़, साबूदाना आदि।
  • तले हुए खाद्य पदार्थ - नमकीन, वड़ा, कचौरी आदि। इसके अलावा बटर, दूध की क्रीम, पनीर, मेयोनेज़, नारियल, मूंगफली, सूखे मेवे, अंडे की जर्दी, फ्राइड चिकन एवं मछली आदि खाद्य पदार्थों को बिल्कुल ना खाएं। इसके साथ ही साथ इस बात का भी ध्यान रखें की मांसहारी भोजन डायबिटीज के रोगियों के लिए बेहद नुकसानदायक होता है।
  • कोल्ड ड्रिंक, हार्ड ड्रिंक, शरबत आदि भी न पिएं।
  • फल जैसे केला, आम, चीकू, शरीफा, फ्रूट जूस, फ्रूट मिल्क शेक और नारियल का पानी आदि।
  • कुछ सब्जी जैसे - आलू, शकरकंद, रतालू और कच्चे केले आदि।

शुगर को नियंत्रित करने के लिए नीचे दिए गए निर्देशों को अपनाएं और शुगर के स्तर को सामान्य बनाएं।

मधुमेह रोगी निम्न बातों का रखें ध्यान - 

  • खाना बनाते समय कम से कम तेल का इस्तेमाल करें। इसके अलावा खाना पकाने के लिए बेकिंग, रोस्टिंग या उबालने की विधि का प्रयोग करें। सब्जी को पहले प्रेशर कूकर में पका लें और पकाने के बाद उसमें मसाला डालें। इसके साथ ही साथ बच्चों को भी सब्जी खाने की आदत डालनी चाहिए, क्योंकि बहुत सारे बच्चों को अनुवांशिक रूप से शुगर की समस्या होती है।
  • दूध को गर्म करें और फ्रिज में रख कर ठंड़ा कर लें। ठंडा करने के बाद दूध में जमें क्रीम को अलग कर दें। इसके अवाला चाय, कॉफी, दही, पनीर और छांछ बनाने के लिए पहली वाली विधि को दोहराएं।
  • 2 चम्मच मेथी दाने को एक कप पानी में रात भर भिगो दें और नाश्ते से पहले खाएं। इसी प्रकार सुबह 2 चम्मच मेथी दाने को पानी में भिगोकर रात को सोने से पहले खाएं।

शुगर की बीमारी में इन आदतों को अपनाएं - 

  • शुगर यक्त खाद्य पदार्थ न खाएं। कृत्रिम स्वीटनर का बहुत मात्रा में इस्तेमाल करें।
  • रोजाना सुबह डीटॉक्स ड्रिंक पिएं।
  • अपने आहार में सब्जियां और फल अवश्य शामिल करें।
  • घर पर बना हुआ केक खाएं, याद रहें इसे बनाते समय बहुत कम चीनी या कृतिम स्वीटनर का इस्तेमाल करें।
  • भूख लगने पर इसे पानी, फलों के जूस या छाछ से मिटाने की कोशिश करें।
  • सूखे मेवे खाएं मगर बहुत कम मात्रा में।
  • व्यायाम रोजाना करें
  • अपना संतुलित वजन कितना होना चाहिए, इस बारे में अपने डॉक्टर से पूछें। अगर आपका वजन अधिक है, तो उसे संतुलित करने के लिए व्यायाम करें।

शुगर की बीमारी में ये सावधानियां बरतें - 

  • ज्यादा नमक युक्त खाद्य पदार्थ न खाएं।
  • किसी भी हाल में नाश्ता करना न भूलें। (और पढ़ें - नाश्ता न करने के नुकसान)
  • खाना बनाते समय अधिक तेल का इस्तेमाल न करें।
  • मिठाई या केक न खाएं। अधिक चीनी वाले पेस्ट्री भी न खाएं।
  • रात को जल्दी सो जाएं और सुबह जल्दी उठें।
  • खराब कोलेस्ट्रॉल और खराब वसा वाले खाद्य पदार्थ न खाएं।
  • अधिक चिंता या तनाव से दूर रहें।

ऊपर दिए गए डाइट प्लान का पूरी तरह से पालन करें और शुगर के स्तर को नियंत्रित रख कर स्वस्थ जीवन जीयें।

चेतावनी: बिना डॉक्टर की सलाह के किसी डाइट प्लान को न अपनाएं।

और पढ़ें ...