वजन कम करने के लिए लोग रोज नए-नए तरीके अपनाते हैं। लेकिन फिर भी उनका वजन वहीं का वहीं रहता है। तो अब समय आ गया है कि आप अपनी गलतियों पर सख्ती से नज़र डालें और अपनी डाइट और वर्कआउट में बदलाव लाएं। लेकिन ध्यान रहे कि जब आप कोई नया रूटीन अपनाएं तो धैर्य रखना और रूटीन को रोजाना दोहराना बेहद जरूरी है। और इस बात पर ध्यान देने की बजाये कि वजन कम करने का सही तरीका क्या है, आप इस बात पर ध्यान दें कि आप गलतियां क्या कर रहे हैं।

अब आप सोच रहे होंगे कि उन गलतियों के बारे में कैसे पता चले जो हमे नहीं करनी, तो आज हम आपको इस लेख में वही बताने आये हैं। आपको बस इन बताई गयी बातों का ध्यान रखना है और किसी भी तरह की गलतियों को फिर से नहीं दोहराना है।

(और पढ़ें - वजन कम करने के आसान तरीके)

चलिए फिर शुरू करते हैं –

1. गलत डाइट खाना बंद करें -

अगर एक डाइट आपके दोस्त के लिए बेहद बेहतरीन तरीके से काम कर रही है तो इसका मतलब ये नहीं कि वो आपके लिए भी उसी तरह से काम करेगी। तो, ऑंखें बंद करके कुछ भी अपनाने से पहले किसी पेशेवर डायटीशियन से बात करें, जो आपकी स्वास्थ्य संबंधी पिछली जानकारी और शरीर के अनुसार एक डाइट प्लैन तैयार कर सके। (और पढ़ें - मोटापा कम करने के लिए डाइट प्लान)

2. ऐसे लक्ष्य न रखें जिन्हें आप पूरा न कर पाएं -

हर नयी परियोजना की तरह ही, लोग वेट लॉस प्लान भी नये उत्साह के साथ शुरू करते हैं। इस जोश में आप अवास्तविक लक्ष्य रख लेते हैं, लेकिन उस उत्साह को गायब होने में बस कुछ ही हफ्ते लगते हैं। जब आप उन लक्ष्यों को पूरा करने के लिए अधिक मेहनत करते हैं और उनको हासिल नहीं कर पाते हैं, तब आखिर में आप हाथ खड़े कर देते हैं। इसके बजाये, छोटे-छोटे लक्ष्य तय करें जो आपको आत्म-विश्वास और पूरी यात्रा में प्रेरणा दे सकें। (और पढ़ें - मोटापा कम करने के लिए क्या खाएं)

3. 'समय नहीं है' कहना बंद करें -

इसमें कोई दो राय नही हैं कि अगर आपको अपना वजन घटाना है तो इसके लिए आपको समय निकालना पड़ेगा। तो इस तरह की अनुसूची तैयार करें जिसका आप जानते हैं कि आप पालन कर सकते हैं। अपनी जीवनशैली में व्यायाम को जरूर शामिल करें और स्वस्थ खाना खाने को आदत बना लें। (और पढ़ें - वजन घटाने के लिए जीवनशैली)

4. खुद को अकेला समझना बंद करें -

जब आप वजन कम करने की कोशिश कर रहे हों, तब किसी से भी मदद मांगने से न डरें। आपके परिवार वाले और दोस्त आपका सहारा जरूर बनेंगे और आपके मनोबल को बढ़ाने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। ऐसा करना आपको वजन कम करने में बहुत सहायक सिद्ध हो सकता है। जिस चीज़ की आपको जरूरत है उसे पहचानें और अगर आप उसे खुद से नहीं पा सकते, तो अपने करीबी लोगों से मदद मांगें। (और पढ़ें - मोटापा कम करने के लिए डाइट चार्ट)

5. कैलोरी की मात्रा का ध्यान रखें -

आप जितनी कैलोरी का सेवन कर रहे हैं, उसकी मात्रा को जरूर ध्यान में रखें। ऐसा नहीं है कि जो खाद्य पदार्थ दिखने में छोटे होते हैं, उनमें कैलोरी की मात्रा कम ही हो। तो इसलिए जब आप अनावश्यक रूप से स्नैक्स आदि लेते हैं या खाना बनाते समय जब आप उसका स्वाद चखने के लिए या मन करने पर थोड़ा बहुत खा लेते हैं, तो ये सब चीज़ें आपके द्वारा खाई गई कैलोरी की मात्रा को बढ़ा सकती हैं। तो कुछ भी सेवन करने से पहले हमेशा कैलोरी की मात्रा पर नज़र रखें। आप "फूड ट्रेकर" या "फूड स्केल" की मदद से कैलोरी की मात्रा का ध्यान रख सकते हैं। (और पढ़ें - वजन कम करने के लिए कितनी कैलोरी खाएं)

6. ये सोचना बंद करें कि स्वस्थ आहार वजन कम करता है -

ऐसे कई खाद्य पदार्थ हैं जिन्हे सामान्य रूप से "स्वस्थ" माना जाता है। लेकिन इन खाद्य पदार्थों का बहुत अधिक सेवन भी आपका वजन बढ़ा सकता है। अमरीका की ‘युनिवर्सिटी ऑफ़ मिशिगन’ में किये गए अध्ययन में ये खुलासा हुआ कि जब खाद्य पदार्थों पर 'ऑर्गनिक' लिखा होता है तो डाइटिंग कर रहे लोग उनका सेवन और अधिक करने लगते हैं। बस आपको इतना ध्यान में रखना है कि अगर खाद्य पदार्थ स्वस्थ है तो इसका मतलब ये नहीं है कि आप उसका सेवन अधिक करेंगे। (और पढ़ें - मोटापा कम करने के घरेलू उपाय)

ऐसा हो सकता है कि आपके मनपसंद खाद्य पदार्थ इस "स्वस्थ आहार" की श्रेणी में आते हों, लेकिन उनमें भी वसा और कैलोरी की मात्रा बेहद अधिक हो। उदहारण के लिए, एवोकाडो को स्वस्थ माना जाता है क्योंकि उसमें स्वस्थ वसा होती है, लेकिन उसमें कैलोरी की मात्रा भी उतनी ही अधिक होती है। अगर आप इन खाद्य पदार्थों का सेवन करें, तो इन्हें नियंत्रित मात्रा में खाएं - इन्हे स्वस्थ समझ कर खाते ही न चले जाएँ। (और पढ़ें - मोटापा कम करने के लिए योग)

7. हमेशा बैठे न रहें -

एक रिसर्च से पता चला है कि गैर-व्यायाम वाली गतिविधियां आपकी 15 से 30% कैलोरी बर्न करती हैं। इन गतिविधियों को चिकित्सीय भाषा में "गैर-व्यायाम गतिविधि थर्मोजेनिसिस" (Non-exercise activity thermogenesis) कहा जाता है। जब आप अपने डेस्क या सोफे पर बैठे होते हैं तब इन गतिविधियों से कैलोरी बर्न होने की प्रक्रिया रुक जाती है।

अगर आप जानना चाहते हैं कि बिना एक्ससरसाइस किये वजन कैसे कम होता है या कैलोरी कैसे बर्न होती है, तो हर एक घंटे बाद उठें और चलें। खासकर तब जब आप ऑफिस में हो। लिफ्ट में जाने के बजाए सीढ़ियों का इस्तेमाल करें, फोन पर बात करते समय चेयर पर बैठने के बजाए चलें। इस तरह आप फिट भी रहेंगे और वजन को भी कम कर पाएंगे। (और पढ़ें - मोटापा कम करने के लिए एक्सरसाइज)

8. अपनी शारीरिक गतिविधियों पर नजर रखें -

वजन कम करने के प्रयास में लोग सबसे पहले जिम के सदस्य बन जाते हैं। लेकिन सिर्फ सदस्यता लेना पर्याप्त नहीं होता है, वहां आपको रोजाना व्यायाम भी करना पड़ेगा। और इसका हिसाब रखें कि आप वाकई कितनी देर जिम में व्यायाम कर रहे हैं। गाडी से जिम जाना और जिम के लिए कपड़े बदलना वर्कआउट समय में न गिनें। अगर आप वर्कआउट के समय पर नजर रखना चाहते हैं, तो अपने पास हार्ट रेट मॉनिटर (heart rate monitor) रखें। ये उपकरण आपकी वर्कआउट में की गयी मेहनत के बारे में बताएगा। साथ ही ये भी बताएगा कि आपने जिम में एक्ससरसाइज करने में कितना समय बिताया है। (और पढ़ें - वजन कम करने के लिए योग)

9. व्यायाम शुरू करने के बात अधिक खाना शुरू न कर दें -

जब आप वर्कआउट शुरू करते हैं तब आपकी भूख अपने आप ही बढ़ने लगती है। लेकिन अगर आप वजन कम करन चाहते हैं, तो अधिक खाना न शुरू कर दें ये सोच कर कि इस अधिक खाने से आने वाली सारी कैलोरी आप वर्कआउट में बर्न कर देंगे। इसके बजाये, आप वर्कआउट के बाद स्वस्थ और लो कैलोरी स्नैक खा सकते हैं, जिससे आपकी भूख मिट सके। (और पढ़ें - रात में सोते हुए कैसें वजन कम करें)

10. कम बदलाव करके बड़े परिणामों की उम्मीद न रखें -

अगर आप वजन कम करने के लिए डाइट ढूंढने निकलें, तो आपको ऐसे कई मिथक मिल जाएंगे जो तेजी से वजन कम करने का वादा करते हैं। ये जान लीजिये कि ये सब चीज़े बिल्कुल भी काम नहीं करती। वजन कम करने के लिए सबसे स्वस्थ तरीका है कि आप छोटे-छोटे परिवर्तन लेकर आएं और उनका रोजाना पालन करें। वेट लॉस में समय लगता है, एकदम से जादू से वजन कम करने की उम्मीद न रखें।

(और पढ़ें - डाइटिंग के बिना वजन कम करने का तरीका)

ऐप पर पढ़ें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ