कैंपिलोबैक्टर संक्रमण - Campylobacteriosis in Hindi

Dr. Ayush PandeyMBBS,PG Diploma

October 31, 2018

April 12, 2021

कैंपिलोबैक्टर संक्रमण
कैंपिलोबैक्टर संक्रमण

कैंपिलोबैक्टर संक्रमण क्या है?

आमतौर पर जब लोग आधा पका हुआ चिकन खा लेते हैं तो उन्हें सैल्मोनेला बैक्टीरिया से बीमार होने की चिंता सताती हैं। लेकिन कैंपिलोबैक्टर नामक एक अन्य सामान्य प्रकार का बैक्टीरिया भी आपको बीमार कर सकता है, यदि आप ऐसा चिकन खाते हैं जो पूरी तरह से पका नहीं है। सैल्मोनेला संक्रमण की तरह, कैंपिलोबैक्टेरियोसिस या कैंपिलोबैक्टर संक्रमण दस्त और कभी-कभी अन्य गंभीर जटिलताओं का कारण बन सकता है।

(और पढ़ें - दस्त रोकने के घरेलू उपाय)

कैंपिलोबैक्टर संक्रमण होने की आशंका वयस्कों की तुलना में शिशुओं और बच्चों में अधिक होती है, लेकिन यह किसी भी उम्र में किसी को भी हो सकता है। महिलाओं की तुलना में पुरुषों के संक्रमित होने की अधिक आशंका होती है। सर्दियों के मौसम की तुलना में गर्मियों में यह अधिक आम है।

(और पढ़ें - सर्दी के मौसम में क्या खाना चाहिए)

कैंपिलोबैक्टर संक्रमण के लक्षण क्या हैं?

जिन लोगों को कैंपिलोबैक्टर संक्रमण होता है, उनमें से कुछ लोगों में एकदम हल्के लक्षण होते हैं, जैसे प्रति दिन ढीला मल आना इत्यादि। आमतौर पर ऐसे लोगों को इलाज की जरुरत नहीं होती हैं क्योंकि ये लक्षण स्वयं ही ठीक हो जाते हैं। कुछ लोगों में अधिक गंभीर लक्षण होते हैं, तो वे आम तौर पर कैंपिलोबैक्टर के संपर्क में आने के दो से सात दिन बाद शुरू हो जाते हैं।

आपको 12 से 48 घंटे तक बुखार, सिरदर्द, मांसपेशियों में दर्द और बेचैनी (बीमारी की सामान्य भावना) आदि लक्षण हो सकते हैं। इन शुरुआती लक्षणों में कभी-कभी मतली और उल्टी के साथ मरोड़ वाला पेट दर्द और दस्त हो सकते हैं। प्रति दिन लगभग 10 बार पानी जैसा पतला ढीला मल हो सकता है। मल में खून भी दिख सकता है।

(और पढ़ें - सिरदर्द दूर करने के उपाय)

कैंपिलोबैक्टर संक्रमण क्यों होता है?

ज्यादातर ये बीमारियां कच्चे या अंडर कुक्ड पोल्ट्री उत्पाद खाने या इनसे छू जाने वाले किसी भोजन को खाने के कारण होती हैं। इसके अलावा दूषित पानी, जानवरों के साथ संपर्क या कच्चा (अनपोस्चराइज़्ड) दूध पीने के कारण होती हैं। प्रदूषित पोल्ट्री, पशुधन या घरेलू पालतू जानवरों, विशेष रूप से कुत्ते के पिल्लों के साथ संपर्क इस रोग का कारण बन सकता है।

(और पढ़ें - गर्म दूध पीने के फायदे)

कैंपिलोबैक्टर संक्रमण का इलाज कैसे होता है?

भोजन से होने वाली इस बीमारी से संबंधित अनुकूल परिणाम सुनिश्चित करने के लिए प्रारंभिक और विशिष्ट जांच और परीक्षण महत्वपूर्ण है। एंटीबायोटिक उपचार थोड़ा विवादास्पद है और इसका प्रभाव केवल लक्षणों की अवधि पर होता है। कुछ सरल व स्वच्छ भोजन पकाने और उपयोग करने की तकनीकों को अपनाकर कैंपिलोबैक्टर संक्रमण को आसानी से रोका जा सकता है।

(और पढ़ें - बैक्टीरियल संक्रमण का इलाज)



cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ