myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

महिलाओं की तुलना में पुरूष बहुत कम डॉक्टर के पास जाते हैं  जबकि उन्हें भी अपने स्वास्थ्य का पूरा ध्यान रखना चाहिए और किसी तरह के लक्षण या संकेत नजर आने पर इलाज करवाना चाहिए। सवाल है कि पुरूषों को इन संकेतों के बारे में पता कैसे चले?

आपको बता दें कि काम बहुत आसान है। सबसे पहले अपने स्वास्थ्य के प्रति सजग हों और यहां बताए गए सभी संकेतों को ध्यान से पढ़ें और समझें। जरूरी हो तो डाॅक्टर के पास भी जाएं। इस लेख में हम कुछ ऐसे लक्षणों के बारे में बता रहे हैं, जो दिखने में सामान्य होते हैं लेकिन समय पर इलाज न किए जाने पर गंभीर बीमारी का रूप इख्तियार कर लेते हैं।

खाना निगलने में समस्या

सेहत विशेषज्ञ, पुरूषों को चेतावनी देते हैं कि यदि उन्हें निगलने में दिक्कत आ रही है तो इसकी अनदेखी बिल्कुल सही नहीं होती। यह एसिड रिफ्लक्स का संकेत हो सकता है। इसके अलावा यह एलर्जी या भोजन नली के कैंसर की ओर भी इशारा कर सकता है। सही समय पर इस समस्या का निदान करने पर किसी बड़ी बीमारी से बचा जा सकता है। यहां तक कि यदि खाने की नली में कैंसर हो तो समय पूर्व इसका सही इलाज शुरू किया जा सकता है। यह भी ध्यान रखें कि गले का कैंसर होने पर भी निगलने में दिक्कत आती है।

पेशाब करने में तकलीफ

जब प्रोस्टेट या पौरुष ग्रंथि आकार में बड़ी हो जाती है तो यह पेशाब की नली पर दबाव बनाने लगती है। यह नली पेशाब को मूत्राशय से बाहर की ओर ले जाती है। पेशाब नली पर दबाव बनने से पेशाब करने में तकलीफ हो सकती है, जो कि प्रोस्टेट रोग का कारण हो सकता है। इसमें प्रोस्टेट कैंसर जैसी घातक बीमारियां भी शामिल हैं। पेशाब करने में तकलीफ होने के साथ-साथ अन्य लक्षणों पर भी गौर करें जैसे रात को पेशाब निकल जाना।  ध्यान रखें कि प्रोस्टेट ग्रंथि सेक्स लाइफ में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। इसलिए प्रोस्टेट में किसी तरह के बदलाव होने पर सतर्क रहें। कुछ गलत होने के अंदेशे पर तुरंत डॉक्टर के पास पहुंचें।

(और पढ़ें - पेशाब में दर्द और जलन के घरेलू उपाय)

शरीर पर अचानक मस्से होना

शरीर में एकाएक आपको कोई मस्सा दिखे तो इसे हल्के में न लें। हालांकि, ज्यादातर पुरूष मस्से को लेकर लापरवाह होते हैं। यह किसी तरह की बीमारी का संकेत हो सकता है लेकिन इस ओर किसी का भी ध्यान नहीं जाता। जबकि शरीर के किसी भी हिस्से में मस्सा दिखने पर सौंदर्य विशेषज्ञ से संपर्क करना चाहिए। साथ ही आप यह भी गौर करें कि कहीं मस्से का रंग और आकार बदला है तथा उसके निकलने पर आपको ब्लीडिंग तो नहीं हुई। ये सब स्किन कैंसर के संकेत हो सकते हैं।

(और पढ़ें - मस्से हटाने के घरेलू उपाय)

छाती में दर्द

छाती में हो रहे दर्द को हल्के में लेना कतई सही नहीं है। यह छाती में दबाव, जीईआरडी जैसी बीमारियों के लक्षण हो सकते हैं। इसके साथ ही यदि सीने का दर्द जबड़े और हाथों की ओर बढ़ जाए तो यह हार्ट अटैक का साइन भी हो सकता है। इसके अलावा छाती में दर्द खून के थक्के जमना, निमोनिया, एनजाइना, अस्थमा और चिंता के लक्षण भी हैं।

(और पढ़ें - छाती में दर्द के घरेलू उपाय)

मुंह से बदबू

मुंह से आ रही बदबू हमेशा मुंह के बुरे स्वास्थ्य की ओर ही इशारा नहीं करती। इसलिए हमेशा जरूरी नहीं है कि मुंह से बदबू आने पर मुंह में लौंग रख ली जाए। मुंह से बदबू आने के अन्य कारण भी हो सकते हैं जैसे मुंह से फलों के जैसी महक आना डायबिटीज, किडनी या लिवर की कार्यप्रणाली प्रभावित होना और गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल डिजीज की भी जानकारी देता है। इसके इतर पायरिया या मसूड़ों की समस्या भी अन्य बीमारियों का कारण बन सकती हैं।

और पढ़ें ...