myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

महिलाओं की सूखी और फटी एड़ियां दिखाती हैं कि आप अपने शरीर की ओर बिल्कुल ध्यान नहीं दे रहें हैं। एड़ियों की त्वचा इसलिए फटती हैं क्योंकि वहां कोई भी तेल ग्रंथि मौजूद नहीं होती। यही कारण है कि एड़ियों की त्वचा में दरार पैदा होने लगती है। मॉइस्चराइजेशन की कमी, प्रदुषण और कुछ चिकित्सीय स्थितियां जैसे एक्जिमा, शुगर (मधुमेह), थायरॉयड और सोरायसिस रूखी और फटी एड़ियों को पैदा करते हैं।

तो आज हम कुछ सरल घरेलू उपाय बताने वाले हैं जो आपकी फटी एड़ियों को आराम पहुचाएंगे साथ ही कोमल त्वचा बनाने में भी मदद करेंगे। एड़ियों के ठीक होते ही अपने स्टाइलिश फुटवियर पहनना न भूलें।

  1. फटी एड़ियों का घरेलू उपाय है नींबू - Lemon for cracked heels in Hindi
  2. फटी एड़ियों के लिए करें वेजिटेबल तेल का इस्तेमाल - Vegetable oil for cracked heels in Hindi
  3. फटी एड़ियों को ठीक करने के लिए नींबू का जूस और वेसिलीन का करें उपयोग - Lemon juice and vaseline for cracked heels in Hindi
  4. फटी एडियों का घरेलू नुस्खा है वैक्स - Paraffin wax for cracked heels in Hindi
  5. फटी एड़ियों के लिए शहद का करें प्रयोग - Honey for cracked heels in Hindi
  6. चावल का आटा है फटी एड़ियों के लिए लाभकारी - Rice flour for cracked heels in Hindi
  7. फटी एड़ियों के लिए जैतून का तेल है फायदेमंद - Olive oil for cracked heels in Hindi
  8. नारियल का तेल फटी एड़ियों के लिए है अच्छा - Coconut oil good for cracked heels in Hindi
  9. बेकिंग सोडा फटी एड़ियों में पहुचाये फायदा - Baking soda remedy for cracked heels in Hindi
  10. सेब का सिरका फटी एड़ियों को रखें दूर - Apple cider vinegar for cracked heels in Hindi
  11. सेंधा नमक फटी एड़ियों की परेशानी का करें इलाज - Epsom salt for cracked heels in Hindi
  12. फटी एड़ियों की समस्या के लिए एलो वेरा जेल है गुणकारी - Aloe vera gel for cracked heels in Hindi
  13. टी ट्री तेल है फटी एड़ियों के लिए लाभदायक - Tea tree oil for cracked heels in Hindi
  14. फटी एड़ियों की समस्या के लिए झांवां पत्थर है सहायक - Pumice stone for cracked heels in Hindi
  15. फटी एड़ियों के लिए विटामिन ई है प्रभावी - Vitamin e capsules for cracked heels in Hindi

सामग्री

  1. 1 चम्मच नमक
  2. 1/2 कप नींबू का रस।
  3. 2 चम्मच ग्लिसरीन।
  4. 2 चम्मच गुलाब जल।
  5. गरम पानी।
  6. प्यूमिक स्टोन या फुट स्क्रबर

नींबू को इस्तेमाल करने के दो तरीके

पहला तरीका -

  1. गर्म पानी का टब या बाल्टी लें और उसमे नमक, 8 से 10 बूंद नींबू जूस, एक चम्मच ग्लिसरीन और एक चम्मच गुलाबजल डालकर अच्छे से मिला दें।
  2. मिलाने के बाद उसमे पैरों को डालें और लगभग 15-20 मिनट के लिए ऐसे ही पैरों को डुबोएं रखें।
  3. एड़ियों को रगड़ने के लिए प्यूमिक स्टोन या फुट स्क्रबर का इस्तेमाल करें।

दूसरा तरीका -

  1. एक चम्मच ग्लिसरीन, एक चम्मच गुलाबजल और एक चम्मच नींबू का जूस एक साथ मिला लें।
  2. अब इस मिश्रण को फटी एड़ियों में लगाएं।
  3. ये मिश्रण लगाने के बाद जैसे ही चिपचिपा लगे वैसे ही आप पैरों में मोजे रातभर के लिए पहने रखें।
  4. सुबह को अपनी एड़ियों को गुनगुने पानी से धोलें।

कब तक करें इस्तेमाल

जब तक एड़ियां मुलायम न हो जाए तब तक इस प्रक्रिया को कुछ दिनों तक करते रहें।

इसे इस्तेमाल करने के फायदे -

नींबू के जूस के अम्लीय गुण रूखी त्वचा को ठीक करने में मदद करते हैं। नींबू के जूस को गुलाबजल और ग्लिसरीन के साथ मिलाने से ये मिश्रण फटी एड़ियों के लिए और भी ज़्यादा प्रभावी हो जाता है। ग्लिसरीन त्वचा को नरम रखती है (इसलिए इसका इस्तेमाल कई कोस्मेटिक उत्पादों में किया जाता है) दूसरी तरफ गुलाबजल में सूजनरोधी और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं जो एड़ियों की दरारों का इलाज करने में मदद करते हैं।

(और पढ़ें - नींबू के फायदे और नुकसान)

चेतावनी -

नींबू आपकी त्वचा पर जलन पैदा कर सकता है साथ ही इससे रूखेपन की स्थिति भी उत्पन्न हो सकती है। अपनी त्वचा के अनुसार या पैच (patch) टेस्ट के बाद इस प्रक्रिया को करें।

सामग्री

  1. दो चम्मच वेजिटेबल तेल।

वेजिटेबल तेल का इस्तेमाल कैसे करें

  1. सबसे पहले अपने पैरों को धो लें और अच्छी तरह से उन्हें फिर साफ़ तौलिये से पोछ लें।
  2. फिर अपनी फटी एड़ियों पर वेजिटेबल तेल लगाएं।
  3. तेल लगाने के बाद रातभर मोटे मोजे पहन लें।
  4. सुबह को फिर अपनी एड़ियों को धो लें।

कब तक करें इस्तेमाल

सोने से पहले रात में इसका रोज़ाना ज़रूर इस्तेमाल करें।

इसे इस्तेमाल करने के फायदे -

वेजिटेबल तेल में मौजूद वसा एड़ियों की त्वचा को नमी देती है साथ ही पोषण भी प्रदान करती है।

सामग्री

  1. 1 चम्मच वेसिलीन।
  2. 4 से 5 बूँदें नींबू का रस।
  3. गरम पानी।

नींबू और वेसिलीन का कैसे करें इस्तेमाल

  1. लगभग 15-20 मिनट के लिए गर्म पानी में अपने पैरों को भिगोएँ।
  2. भिगोने के बाद अपने पैरों को सूखा लें।
  3. अब एक चम्मच वेसिलीन और नींबू के जूस की कुछ बूँदें एक साथ मिला लें।
  4. अब इस मिश्रण को फटी एड़ियों पर लगाएं और मसाज करें जिससे मिश्रण त्वचा के अंदर तक फायदा पहुचाये।
  5. मिश्रण को लगाने के बाद गर्म मोजे रातभर पहनकर रखें।
  6. फिर सुबह पैरों को पानी से धो लें।
  7. गर्म मोजे शरीर की गर्माहट बनाये रखने में मदद करेंगे जिससे एड़ियों के लिए में भी फायदा पहुंचेगा।

कब तक करें इस्तेमाल

रात को सोने से पहले रोज़ाना इस प्रक्रिया को करें।

इसे इस्तेमाल करने के फायदे -

नींबू के अम्लीय गुण और वेसिलीन के मॉइस्चराइजिंग गुणों से आपको शुष्क और खुजली से राहत मिलती है। (और पढ़ें - खुजली की दवा)

सामग्री

  1. 1 बड़ी चम्मच पैराफिन वैक्स।
  2. 2 से 3 बूंदें सरसों / नारियल का तेल।

वैक्स का इस्तेमाल कैसे करें

  1. कुछ मात्रा में वैक्स लें और उसे सरसों के तेल या नारियल के तेल में मिला लें।
  2. अब इस मिश्रण को पैन में डालें और तब तक चलाएं जब तक वैक्स अच्छे से पिघल न जाए।
  3. अब इस मिश्रण को गुनगुना होने के लिए रख दें।
  4. फिर इस मिश्रण को अपनी एड़ियों पर लगाएं।
  5. अच्छा परिणाम पाने के लिए आप इस मिश्रण को रात को सोने से पहले लगाएं और फिर मोजे पहन लें।
  6. अब एड़ियों को सुबह पानी से धो लें।

कब तक करें इस्तेमाल

रात को सोने से पहले हफ्ते में एक या दो बार ज़रूर इस्तेमाल करें।

इसे इस्तेमाल करने के फायदे -

वैक्स एक प्राकृतिक एमोलिएंट की तरह काम करती है जो त्वचा को मुलायम बनाने में मदद करती है। यह एड़ियों की दरारे और दर्द में भी अच्छा इलाज करती है। 

चेतावनी

जब वैक्स गर्म हो तो अपने पेरो को उसमे न डालें। अगर आप एक मधुमेह रोगी हैं तो कृपया इस इलाज का इस्तेमाल न करें।

सामग्री

  1. एक कप शहद।
  2. गर्म पानी।

शहद का इस्तेमाल कैसे करें

  1. आधे टब गर्म पानी में एक कप शहद मिलाएं।
  2. अब उसमे लगभग 15-20 मिनट के लिए अपने पैरों को डुबोकर रखें।
  3. पैरों को मुलायम बनाने के लिए एड़ियों पर स्क्रब करें।

कब तक करें इस्तेमाल

एड़ियों को फटने से रोकने के लिए आप इस घरेलू उपाय का इस्तेमाल रोज़ाना करें।

इसे इस्तेमाल करने के फायदे -

शहद को एक प्राकृतिक एंटीसेप्टिक माना जाता है जो फटी एड़ियों को ठीक करने में मदद करता है और इसके आरामदायक गुण त्वचा को फिर से पहले की तरह बनाने में मदद करते हैं।

(और पढ़ें - शहद के फायदे और नुकसान)

सामग्री

  1. 2 से 3 चम्मच चावल का आटा।
  2. 1 चम्मच शहद।
  3. सेब साइडर सिरका 3 से 4 बूंदें।

चावल के आटा का इस्तेमाल कैसे करें

  1. सबसे पहले दो से तीन चम्मच चावल का आटा, शहद और सिरके की कुछ बूँदें मिलाकर एक मोटा पेस्ट तैयार कर लें।
  2. अगर आपकी एड़ियां बहुत ज़्याद सूखी और फट गयी हैं तो आप इस मिश्रण में जैतून का तेल और मीठा बादाम का तेल मिलाकर लगा सकते हैं।
  3. अब गर्म पानी में 10 मिनट के लिए अपने पैरों को डुबोकर रखें और फिर इस पेस्ट से अपनी एड़ियों पर स्क्रब करें जिससे कि आपकी मृत त्वचा निकल सके।

कब तक करें इस्तेमाल

आप इस फुट स्क्रब का इस्तेमाल हफ्ते में दो बार ज़रूर करें।

इसे इस्तेमाल करने के फायदे -

चावल का आटा एड़ियों की त्वचा को एक्सफोलिएट, साफ़ और फिर से पुनर्जीवित करने में मदद करता है जिससे त्वचा कोमल और मुलायम बन जाती है।

सामग्री

  1. एक चम्मच जैतून का तेल।

जैतून के तेल का कैसे करें इस्तेमाल

  1. अपनी एड़ियों में रूई की मदद से जैतून का तेल लगाएं और 10-15 मिनट के लिए इस तेल से मसाज करें।
  2. लगाने के बाद कुछ घंटे तक मोजे पहने रखें और फिर पैरों को धो लें।

कब तक करें इस्तेमाल

आप इसका इस्तेमाल रोज़ाना करें।

इसे इस्तेमाल करने के फायदे -

जैतून के तेल में पौष्टिक गुण होते हैं जो आपकी एड़ियों की त्वचा नरम और कोमल बनाने में मदद करते हैं। मुलायम, नरम और स्वस्थ एड़ियां बनाने के लिए यह सबसे प्रभावी प्राकृतिक तरीका है।

(और पढ़ें - जैतून के तेल के फायदे और नुकसान)

सामग्री

  1. 2 चम्मच नारियल तेल।
  2. एक जोड़ी मोज़े।

नारियल के तेल का इस्तेमाल कैसे करें

  1. अपने पेरो में नारियल का तेल लगाएं।
  2. फिर लगाने के बाद बिस्तर पर जाने से पहले मोजे पहन लें।
  3. सुबह उठकर एड़ियों को धो लें।

कब तक करें इस्तेमाल

नरम पैर पाने के लिए इसका इस्तेमाल कुछ दिनों तक ज़रूर करें।

इसे इस्तेमाल करने के फायदे -

नारियल का तेल त्वचा को हाइड्रेटेड रखता है। यह रूखी त्वचा को मॉइस्चराइस करता है और मृत त्वचा कोशिकाओं को दूर करता है। यह त्वचा के अंदर तक जाकर नमी प्रदान करता है।

(और पढ़ें - नारियल तेल के फायदे और नुकसान)

सामग्री

  1. 3 चम्मच बेकिंग सोडा।
  2. गर्म पानी।
  3. एक बाल्टी प्यूमिक स्टोन।

बेकिंग सोडा का इस्तेमाकाल कैसे करें

  1. दो या तीन तिहाई अपनी बाल्टी को गर्म पानी से भर लें और फिर उसमे बेकिंग सोडा मिलाएं।
  2. बेकिंग सोडा डालने के बाद पानी को अच्छे से मिला लें अब अपने पेरो को 10 से 15 मिनट के लिए उसमे रखें।
  3. फिर पैरों को पानी से निकाल लें और एड़ियों को प्यूमिक स्टोन से रगड़ें।
  4. एड़ियों को साफ़ पानी से धो लें।

कब तक करें इस्तेमाल

इस प्रक्रिया को हफ्ते में दो बार ज़रूर करें।

इसे इस्तेमाल करने के फायदे -

बेकिंग सोडा का इस्तेमाल एक्सफोलिएंट की तरह किया जाता है। इसके सूजनरोधी गुण मृत कोशिकाओं को निकालते हैं और त्वचा को भी रूखा होने से बचाते हैं।

(और पढ़ें - बेकिंग सोडा के फायदे और नुकसान)

सामग्री

  1. 1 कप सेब साइडर सिरका।
  2. गर्म पानी।
  3. एक टब।

सेब के सिरके का इस्तेमाल कैसे करें

  1. अपने टब में गर्म पानी डालें और फिर उसमे सेब का सिरका मिला लें।
  2. अब उसमे अपने पैरों को 15 मिनट के लिए डुबोकर रखें।
  3. फिर एड़ियों को स्क्रब करें जिससे कि मृत त्वचा आसानी से निकल सके।

कब तक करें इस्तेमाल

इस प्रक्रया को रोज़ाना या एक दिन छोड़कर भी कर सकते हैं।

इसे इस्तेमाल करने के फायदे -

सेब के सिरके में मौजूद एसिड रूखी त्वचा को मुलायम बनाता है और मृत त्वचा को दूर करता है। एक बार एक्सफोलिएट होने के बाद बाहर एक ताज़ी और स्वस्थ त्वचा निकलकर आने लगेगी।

(और पढ़ें - सेब के सिरके के फायदे और नुकसान)

सामग्री

  1. 1/2 कप सेंधा नमक।
  2. गरम पानी।
  3. एक टब।

सेंधा नमक का इस्तेमाल कैसे करें

  1. टब में गर्म पानी डाल दें और उसमे सेंधा नमक की मात्रा भी मिला दें।
  2. अब अपनी फटी एड़ियों को उसमे डुबोएं।
  3. फिर अपने पैरों को स्क्रब करें जिससे कि मृत त्वचा को हटाया जा सके।

कब तक करें इस्तेमाल

जब तक एड़ियां मुलायम न हो जाएँ तब तक हफ्ते में दो या तीन बार इसे दोहराते रहें।

इसे इस्तेमाल करने के फायदे -

सेंधा नमक एड़ियों को मुलायम बनाने में मदद करेगा।

(और पढ़ें - सेंधा नमक के फायदे और नुकसान)

सामग्री

  1. एलोवेरा जेल।
  2. गुनगुना पानी।
  3. एक टब।
  4. एक जोड़ी मोजे।

एलो वेरा जेल का इस्तेमाल कैसे करें

  1. अपनी एड़ियों को गुनगुने पानी में कुछ मिनट के लिए डुबोकर रखें।
  2. पैरों को सूखने के बाद अपनी एड़ियों में एलो वेरा जेल लगाए।
  3. इसके बाद मोजे पहन लें और रातभर अपने पेरो में एलो वेरा जेल को लगे रहने दें।

कब तक करें इस्तेमाल

इस प्रक्रिया को हर रात चार से पांच दिन तक दोहराएं।

इसे इस्तेमाल करने के फायदे -

एलो वेरा रूखी त्वचा को मुलायम बनाता है। ये एड़ियों की दरारों को ठीक करता है और कोलेजन संश्लेषण को बढ़ावा देता है। इसमें मौजूद अमीनो एसिड त्वचा को नरम बनाने में मदद करते हैं।

(और पढ़ें - एलोवेरा के फायदे और नुकसान)

सामग्री

  1. टी ट्री तेल की 5-6 बूंदें।
  2. एक चम्मच नारियल का तेल और जैतून का तेल।
  3. मोजे।

टी ट्री तेल का इस्तेमाल कैसे करें

  1. टी ट्री तेल और नारियल के तेल को एक साथ मिला लें।
  2. अब इस मिश्रण को फटी एड़ियों पर लगाएं और एक या दो मिनट तक मसाज करें।
  3. अब पैरों में मोजे रातभर के लिए पहन लें।

कब तक करें इस्तेमाल

इस प्रक्रिया को रोज़ रात को सोने से पहले करें।

इसे इस्तेमाल करने के फायदे -

टी ट्री तेल त्वचा को साफ़ और कंडीशन करता है और रोज़ाना के इस्तेमाल से त्वचा को मुलायम बनाता है।

(और पढ़ें - टी ट्री ऑयल के फायदे और नुकसान)

चेतावनी -

टी ट्री तेल को सीधा न लागएं इससे आपकी त्वचा पर रैशेस हो सकते हैं।

सामग्री

  1. झांवां पत्थर (प्यूमिस स्टोन; Pumice Stone)।
  2. गरम पानी।
  3. एक टब।

प्यूमिक स्टोन का इस्तेमाल कैसे करें

  1. एक टब में गर्म पानी डालें और उसमे अपने पैरों को डुबोकर रखें।
  2. अब अपनी एड़ियों को प्यूमिस स्टोन से रगड़ें।
  3. इससे आपकी मृत त्वचा निकलने में आसानी होगी।
  4. अब एड़ियों को पानी से धो लें और उसे सूखा लें।
  5. एड़ियों को मॉइस्चराइस करना न भूलें।

कब तक करें इस्तेमाल

इस प्रक्रिया को रोज़ाना एक बार ज़रूर करें।

इसे इस्तेमाल करने के फायदे -

प्यूमिस स्टोन की रफ़ सतह एड़ियों पर रगड़ने से मृत त्वचा निकालने में मदद करेगी और त्वचा को कोमल बनाएगी। इसके इस्तेमाल से त्वचा स्वस्थ और कोमल बनी रहेगी। 

चेतावनी -

प्यूमिस स्टोन से एड़ियों को ज़्यादा तेज़ी से न रगड़ें इससे आपकी त्वचा की स्वस्थ परत भी निकल सकती है।

सामग्री

  1. विटामिन ई कैप्सूल्स।

विटामिन ई कैप्सूल्स का इस्तेमाल कैसे करें

  1. विटामिन ई कैप्सूल्स को खोलें और उसमे से तेल को निकालें।
  2. अब इस तेल को एड़ियों पर लगाकर कुछ मिनट तक मसाज करें।

कब तक करें इस्तेमाल

आप विटामिन ई कैप्सूल्स के तेल को पूरे दिन में दो या तीन बार ज़रूर लगाएं।

इसे इस्तेमाल करने के फायदे -

विटामिन ई त्वचा को पोषण देता है साथ ही हाइड्रेट भी करता है। इससे आपकी एड़ियां कोमल और मुलायम बनती हैं।

(और पढ़ें - विटामिन ई के स्रोत, फायदे और नुकसान)

और पढ़ें ...