मुंह में जलन महसूस होना कोई आम समस्या नहीं है। इसमें आपकी जीभ, मसूड़े, होंठ, गालों के अंदर का हिस्सा, मुंह का ऊपरी हिस्सा और कभी-कभी पूरा मुंह प्रभावित हो जाता है।

यह समस्या ज्यादातर मामलों में कुछ गर्म खा लेने के कारण होती है, लेकिन कभी-कभी इस स्थिति के कारण का पता ही नहीं चल पाता है। ऐसी स्थिति में इसका इलाज करना मुश्किल हो जाता है। लेकिन कुछ घरेलू उपाय हैं, जिनकी मदद से मुंह में होने वाली जलन को काफी हद तक कम किया  जा सकता है। ये घरेलू उपाय ज्यादातर घर पर ही मिल जाने वाली चीजों से किए जाते हैं, इसलिए इनसे बहुत ही कम मामलों में कोई साइड इफेक्ट हो पाता है। आइए जानते हैं मुंह की जलन को दूर करने  के कुछ घरेलू उपाय:

  1. बर्फ है मुंह में जलन का घरेलू उपाय - Ice hai mouth burning ka gharelu upay
  2. टी-बैग से दूर होगी मुंह की जलन - Tea Bag se door hogi Mouth burning
  3. शहद है मुंह में जलन का उपाय - Honey hai mouth burning ka upay
  4. मुंह में जलन का घरेलू नुस्खा है एलोवेरा - Mouth burning ka gharelu nuskha hai aloevera
  5. नमक का पानी है मुंह की जलन का घरेलू उपचार - Salt water hai mouth burning ka gharelu upchar
  6. चीनी से करें मुंह में जलन का इलाज - Sugar se kare mouth burning ka upchar
  7. मुंह की जलन का घरेलू उपचार है पुदीना - Mouth burning ka gharelu upchar hai Mint
  8. बेकिंग सोडा है मुंह में जलन का घरेलू उपाय - Baking soda hai mouth burning ka gharelu upay
  9. मुंह की जलन का घरेलू उपाय है दही और दूध - Mouth burning ka gharelu upay hai Yogurt aur Milk

बर्फ मुंह के छालों, जलन और सूजन ठीक करने में काफी प्रभावी घरेलू उपचार माना जाता है। इसके लिए नीचे दी गई विधि का इस्तेमाल करें:

आवश्यक सामग्री

  • 1 छोटा बर्फ का टुकड़ा
  • 1 नैपकिन

इस्तेमाल का तरीका

  • बर्फ को नैपकिन में लपेट लें
  • अब इसे मुंह के उस हिस्से पर लगाएं जहां आपको जलन महसूस हो रही है
  • बर्फ को कभी-भी अपनी त्वचा पर सीधे ना लगाएं, क्योंकि सीधे बर्फ का उपयोग करना आपकी त्वचा को नुकसान पहुंचा सकता है।

कैसे काम करता है

बर्फ प्रभावित त्वचा को अत्यधिक ठंडक प्रदान करता है, जिससे महसूस हो रही जलन कुछ समय के लिए पूरी तरह से ठीक हो जाती है। हालांकि बर्फ लगाने से कुछ ही समय के लिए आराम मिलता है, जब तक बर्फ की ठंडक रहती है।

कब-कब इस्तेमाल करें

इस उपाय को दिन में तीन से चार बार इस्तेमाल किया जा सकता है।

टी-बैग को भी मुंह में होने वाली जलन के लिए काफी कारगर उपाय माना जाता है, इस उपचार के लिए निम्न स्टेप्स फॉलो करें:

आवश्यक सामग्री 

इस्तेमाल का तरीका 

  • एक कप पानी में एक टी-बैग को भिगो लें 
  • 2 से 3 मिनट बाद इसे बाहर निकाल लें 
  • अब भीगे हुए टी-बैग को जलन या छाले वाले हिस्से पर कुछ देर के लिए लगाकर रखें
  • कुछ देर में जलन कम होने के बाद इसे हटा दें

कैसे काम करता है 

चाय अल्कलाइन होती है, जो मुंह के अंदर हानिकारक एसिड्स के प्रभावों को कम कर देती है। साथ ही इनमें एस्ट्रिजेंट कम्पाउंड भी पाया जाता है जो कि दर्द को कम करने में मदद करता है।

कब-कब इस्तेमाल करें

इस उपाय को भी दिन में 3 से 4 बार करें, जब तक आपको जलन से आराम ना मिल जाए।

को शहद मुंह की जलन को कम करने में मदद करता है। शहद लगाने से प्रभावित हिस्सा नम हो जाता है, जिससे मुंह की जलन को ठीक करने में मदद मिलती है।

आवश्यक सामग्री

  • 2 चम्मच शहद

इस्तेमाल का तरीका  

  • शहद को अपनी उंगली की मदद से जलन वाली जगह पर लगाएं
  • 5 से 10 मिनट के लिए इसे ऐसे ही छोड़ दें
  • समय पूरा होने पर आप चाहें तो शहद को थूकने की बजाए निगल भी सकते हैं
  • इसके बाद फिर से इस प्रक्रिया को 2 बार दोहराएं जब तक जलन से आराम न मिल जाए 

कैसे काम करता है 

कुछ अध्ययनों के अनुसार शहद में एंटी-माइक्रोबियल गुण होते हैं, जो कि शरीर में बनने वाले कीटाणुओं को नष्ट करते हैं और उन्हें बनने से रोकते हैं। इससे इन्फेक्शन और छाले कम होने लगते हैं और इस तरह जलन से भी राहत मिल जाती है।

कब-कब इस्तेमाल करें

इस प्रक्रिया को लगातार 3 बार किया जाना चाहिए।

एलोवेरा को ज्यादातर बाहरी जलन वाले हिस्सों पर इस्तेमाल किया जाता है क्योंकि यह त्वचा को आराम और ठंडक प्रदान करता है। इसमें मुंह व त्वचा के अन्य हिस्सों में हो रही जलन को कम करने के गुण भी पाए जाते हैं।

आवश्यक सामग्री

  • 1 एलोवेरा जैल पैक (मुंह के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला)

इस्तेमाल का तरीका

  • एलोवेरा जैल को उस हिस्से पर लगाएं जहां जलन महसूस हो रही हो
  • इस जैल को 5 से 10 मिनट तक लगा कर रखें
  • ध्यान रखें, जैल को अपने गले के अंदर ना जाने दें

कैसे काम करता है

कई शोध में यह पाया गया है कि एलोवेरा जलन को कम करता है। इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी (सूजन कम करने वाले) गुणों के साथ बैक्टीरिया को बढ़ने से रोकने के भी गुण होते हैं।

कब इस्तेमाल करें

इस प्रक्रिया को 1 हफ्ते दिन में 2 बार अपनाएं जब तक जलन पूरी तरह से खत्म न हो जाए।

मुंह व त्वचा के अन्य हिस्सों में होने वाली जलन को दूर करने के लिए नमक के पानी का इस्तेमाल भी किया जाता है। यदि आपके मुंह में जलन हो रही है, तो आप नमक के पानी से कुल्ला करके भी इस समस्या को दूर कर सकते हैं।

आवश्यक सामग्री

  • 1 गिलास पानी
  • ¼ चम्मच नमक

इस्तेमाल का तरीका

  • 1 गिलास पानी को उबाल लें
  • अब इस पानी में ¼ चम्मच नमक मिलाएं
  • गुनगुना होने पर इससे कुल्ला करें
  • कोशिश करें कि मुंह में यह मिश्रण हर कोने तक पहुंचे खासतौर से जलन से प्रभावित हिस्से पर

कैसे काम करता है

कुछ अध्ययनों के अनुसार नमक में सूजन व जलन को दूर करने के गुण होते हैं, इसमें कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं जिनकी मदद से मुंह की जलन कम हो जाती है। 

कब इस्तेमाल करें

यदि आपके मुंह में छाले या घाव हो गए हैं, तो इनके ठीक होने तक इस उपाय को करते रहना चाहिए।

चीनी किचन में आसानी से मिल जाती है। ऐसा कहा जाता है कि चीनी में औषधीय और प्रभावित हिस्से को राहत देने वाले गुण होते हैं। एक तरफ जहां चीनी दवाई को निगलने में मदद करती है वहीं दूसरी तरफ अगर इसे जीभ पर रखा जाए तो यह जलन से भी आराम दिला सकती है।

आवश्यक सामग्री

  • ½ चम्मच चीनी

इस्तेमाल का तरीका

  • ½ चम्मच चीनी के दानों को उस जगह लगाएं जहां आपको जलन महसूस हो रही हो
  • इसे कुछ देर के लिए घुलने के लिए छोड़ दें
  • प्रभावित हिस्सा अगर अधिक है तो चीनी की मात्रा को उसी अनुसार बढ़ा लें

कैसे काम करता है

माना जाता है कि चीनी जलन और दर्द को कम करती है और प्रभावित हिस्से को जल्दी ठीक होने में मदद करती है। मुंह में जलन की स्थिति के लिए यह एक अद्भुत घरेलू उपाय हो सकता है। 

कब इस्तेमाल करें

इस उपाय को दिन में 2 से 3 बार इस्तेमाल किया जा सकता है।

हमेशा से ही पुदीने को जलन को ठीक करने की औषधि माना गया है, इसमें यह खूबी इसके ठंडे प्रभाव के कारण है। जी हां, पुदीना ठंडक प्रदान करता है और इसीलिये मुंह की जलन दूर करने के घरेलू उपायों में पुदीने का इस्तेमाल किया जाता है।

आवश्यक सामग्री

  • 1 पत्ता पुदीना या फिर
  • पुदीने का टूथपेस्ट

इस्तेमाल का तरीका 

  • पुदीने का एक पत्ता लें और उसे जलन से प्रभावित जगह पर लगाएं 
  • अब इस पत्ते को थोड़ी देर के लिए अपनी ठंडी तासीर से जलन को खत्म करने दें
  • आप चाहें तो पत्ते की जगह पुदीने का टूथपेस्ट भी इस्तेमाल कर सकते हैं

कैसे काम करता है

पुदीना अपनी ठंडी तासीर की वजह से जलन को पूरी तरह से खत्म कर देता है। इससे प्रभावित हिस्से को आराम मिलता है और साथ ही त्वचा भी पहले जैसी हो जाती है।

कब इस्तेमाल करें

पुदीने के पत्ते वाले नुस्खे को दिन में एक बार करें और पुदीने का टूथपेस्ट इस्तेमाल करने वाले उपाय को दिन में 2 से 3 बार इस्तेमाल किया जा सकता है।

बेकिंग सोडा एक सस्ता और अद्भुत घरेलू नुस्खा है। यह पाचन और जलन को खत्म करने के इस्तेमाल में लाया जा रहा है। 

पहला तरीका - बेकिंग सोडा 

आवश्यक सामग्री

इस्तेमाल करने का तरीका

  • ⅓ कप गर्म पानी और 1½ चम्मच बेकिंग सोडा लें
  • इन दोनों को एक मग में अच्छे से मिला लें
  • तैयार हुए मिश्रण से कुल्ला करें
  • इसके अलावा आप चाहें तो टूथपेस्ट का भी इस्तेमाल कर सकते हैं, बस ध्यान रखें कि टूथपेस्ट में सोडियम लॉरयल सलफेट ना हो। 

कब-कब इस्तेमाल करें 

इस उपाय को आप दिन में दो बार कर सकते हैं।

दूसरा तरीका - होममेड बेकिंग सोडा पेस्ट 

आवश्यक सामग्री

इस्तेमाल का तरीका

  • कटोरी में नारियल का तेल डालें
  • अब कटोरी के अंदर 1 चम्मच पुदीना 4 चम्मच बेकिंग सोडा डाल कर अच्छे से मिला लें
  • मिश्रण को बर्तन के अंदर जमने के लिए रख दें 
  • तैयार पेस्ट को अपने प्रभावित हिस्से पर लगाएं और कुछ समय के लिए छोड़ दें 

कब-कब इस्तेमाल करें 

इस पेस्ट को दिन में 2 से 3 बार लगाएं, इसका इस्तेमाल दांत साफ करने के लिए एक टूथपेस्ट के रूप में भी किया जा सकता है।

कैसे काम करता है 

ऐसा माना जाता है कि बेकिंग सोडा मुंह के अंदर जलन को कम करने में मदद करता है, क्योंकि यह मुंह में आसानी से घुल जाता है और सभी बैक्टीरिया को खत्म कर देता है। यह अल्कालाइन है, जिसकी वजह से यह मुंह के अंदर मौजूद सभी एसिड को बेअसर कर देता है।

मुंह की जलन को दूर करने के लिए दूध और दही को भी एक बेहतरीन घरेलू उपाय माना जाता है। इनमें मौजूद प्रोबायोटिक्स मुंह में हानिकारक बैक्टीरिया को बढ़ने से भी रोकते हैं। 

आवश्यक सामग्री

  • 1 कटोरी दही 
  • 1 गिलास दूध 

इस्तेमाल का तरीका

  • एक कटोरी दही लें और उसको कुछ देर के लिए फ्रीज में रख कर ठंडा कर लें
  • अच्छे से ठंडा होने के बाद उसे अपनी जलन से प्रभावित हिस्से पर कुछ देर के लिए लगा कर रखें
  • एक घंटे बाद 1 गिलास ठंडा दूध पिएं

कैसे काम करता है 

दूध और दही में कई एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो मुंह की जलन को कम करने में मदद करते हैं। साथ ही इनमें मौजूद प्रोबायोटिक मुंह में हानिकारक कीटाणुओं को पैदा होने से रोकते हैं और छाले आदि को जल्दी ठीक करने में मदद करते हैं।

कब-कब इस्तेमाल करें

दिन में कम से कम एक कटोरी दही और दो गिलास ठंडा दूध जरूर पिंए।

ऊपर दिए गए सभी उपायों के साथ दिन में 4 से 5 गिलास ठंडे पानी का सेवन जरूर करें। क्योंकि जलन को दूर करने के लिए सबसे पहले शरीर में पर्याप्त मात्रा में पानी होना जरूरी होता है। शरीर में पानी की कमी होने पर मुंह में जलन की स्थिति अत्यधिक गंभीर हो सकती है। हालांकि अगर कुछ समय तक उपरोक्त उपायों से आराम ना मिल पाए या स्थिति और भी गंभीर हो जाए, तो ऐसे में जल्द से जल्द डॉक्टर को दिखा लेना चाहिए।

cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ