एक्जिमा एक ऐसी स्थिति है, जिसके कारण स्किन पर खुरदुरापन, सूजन, दरारें और फफोले नजर आने लगते हैं. साधारण भाषा में लोग इसे खुजली की समस्या कहते हैं. लेकिन यह सिर्फ खुजली नहीं, बल्कि स्किन की एक गंभीर समस्या है. स्किन की इस परेशानी को दूर करने के लिए लोग तरह-तरह के उपायों का सहारा लेते हैं, जिससे एक्जिमा के लक्षणों से राहत पाया जा सके.

एक्जिमा की परेशानियों को दूर करने के लिए आप कई तरह की क्रीम, नैचुरल प्रोडक्ट्स, डाइट और जीवनशैली को अपना सकते हैं. आज हम इस लेख में आपको एक्जिमा होने पर क्या लगाएं, इस बारे में बताएंगे.

(और पढ़ें - नवजात शिशु में एक्जिमा का कारण)

  1. एक्जिमा पर लगाएं घर पर बने लेप - Homemade creams and lotions for eczema in Hindi
  2. एक्जिमा दूर करने के लिए आयुर्वेदिक और हर्बल रेमेडी - Ayurvedic and herbal remedies for eczema in Hindi
  3. एक्जिमा के लिए लगाएं यह क्रीम और दवाएं - Creams and medications for eczema in Hindi
  4. सारांश - Takeaway
एक्जिमा में क्या लगाना चाहिए के डॉक्टर

एक्जिमा दूर करने के लिए अंग्रेजी क्रीम, ऑइंटमेंट और लोशन के अलावा आप कुछ घर पर बने नेचुरल लेप भी इस्तेमाल कर सकते हैं। आइये जानते हैं इनके बारे में।

एलोवेरा

एक्जिमा की परेशानी को दूर करने के लिए आप एलोवेरा का इस्तेमाल कर सकते हैं. रिसर्च के मुताबिक, एलोवेरा में एंटी-बैक्टीरियल (antibacterial), एंटी-माइक्रोबियल (antimicrobial), इम्यून सिस्टम बूस्टिंग (immune system-boosting), वाउंड हीलिंग (wound-healing) गुण मौजूद होते हैं. एलोवेरा में मौजूद इन्हीं गुणों के कारण आप इसके इस्तेमाल से स्किन इन्फेक्शन को दूर कर सकते हैं.

स्किन पर एलोवेरा जेल को लगाने से स्किन का सूखापन, खुरदुरापन और स्किन से जुड़ी अन्य परेशानियों को दूर कर सकते हैं. एक्जिमा की परेशानी को दूर करने के लिए ताजे एलोवेरा के जैल को निकालकर लगाएं, इससे आपको अधिक फायदा हो सकता है.

(और पढ़ें - एक्जिमा के घरेलू उपाय)

Antifungal Cream
₹629  ₹699  10% छूट
खरीदें

सेब का सिरका

नेशनल एक्जिमा एसोसिएशन (The National Eczema Association) पर छपी रिपोर्ट के मुताबिक, एक्जिमा की परेशानी को दूर करने के लिए सेब के सिरके का इस्तेमाल किया जा सकता है. हालांकि, इसका इस्तेमाल सावधानीपूर्वक करना चाहिए, क्योंकि यह विनेगर आपके सॉफ्ट टिश्यूज को नुकसान पहुंचा सकता है. ध्यान रखें कि स्किन पर कभी भी एप्पल साइडर विनेगर को सीधे तौर पर न लगाएं. स्किन पर लगाने से पहले इसे पतला जरूर करें. अगर आप सीधे तौर पर इसे लगाते हैं, तो आपके स्किन पर जलन हो सकती है. इसका इस्तेमाल आप नहाने के पानी में या फिर फेसपैक में मिलाकर कर सकते हैं.

एक्जिमा की परेशानी होने पर 1 कप गर्म पानी  में 1 बड़ा चम्मच सेब का सिरका मिलाएं. इसके बाद रुई की मदद से प्रभावित हिस्से पर इस मिश्रण को लगाएं और फिर इसे सूती कपड़े से ढक दें. करीब 3 घंटे बाद इसे नॉर्मल पानी से साफ कर लें. इससे आपको एक्जिमा की परेशानी से काफी हद तक आराम मिल सकता है.

(और पढ़ें - एक्जिमा में क्या खाएं)

नारियल तेल

एक्जिमा को दूर करने के लिए आप नारियल तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं. नारियल तेल में हेल्दी फैटी एसिड मौजूद होता है, जो स्किन पर नमी को बरकरार रखने में आपकी मदद कर सकता है. इसके इस्तेमाल से आपको ड्राई स्किन और एक्जिमा से राहत मिल सकती है. वर्जिन कोकोनट ऑयल के इस्तेमाल से स्किन के सूजन को कम किया जा सकता है. साथ ही यह स्किन के हेल्थ को सुधारने में मददगार हो सकता है.

स्टडी में देखा गया है कि वर्जिन कोकोनट ऑयल का इस्तेमाल करने से बच्चों की स्किन पर बेहतर प्रभाव पड़ता है. साथ ही इससे एक्जिमा के लक्षणों को कम किया जा सकता है. एक्जिमा की परेशानी होने पर नहाने के बाद आप कोल्ड प्रेस्ड वर्जिन कोकोनट ऑयल को सीधे तौर पर लगा सकते हैं. इससे आपकी परेशानी काफी हद तक दूर हो सकती है.

(और पढ़ें - एक्जिमा का आयुर्वेदिक इलाज)

शहद

शहद में नैचुरल एंटीबैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण मौजूद होता है. घावों को भरने के लिए इसका इस्तेमाल काफी समय से किया जा रहा है. स्टडी में इस बात की पुष्टि हुई है कि शहद का इस्तेमाल घाव को भरने और इम्यूनिटी को बूस्ट करने के लिए किया जा सकता है. इसके इस्तेमाल से शरीर में संक्रमण से लड़ने की क्षमता बढ़ती है.

एक्जिमा की परेशानी होने पर शहद का इस्तेमाल सीधे तौर पर किया जा सकता है. यह आपकी स्किन के लिए मॉइस्चराइजर की तरह कार्य करता है. साथ ही संक्रमण को फैलने से रोकता है.

(और पढ़ें - एक्जिमा का होम्योपैथिक इलाज)

टी-ट्री ऑयल

एक्जिमा को दूर करने के लिए कई लोग टी-ट्री ऑयल का इस्तेमाल करते हैं. 2013 में हुए अध्ययन के मुताबिक, टी-ट्री ऑयल में एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटीबक्टीरियल और घाव को भरने का गुण मौजूद होता है, जो आपके स्किन की ड्राईनेस और खुजली को दूर करने में सहायक हो सकता है. साथ ही इससे संक्रमण से बचाव किया जा सकता है.

टी-ट्री ऑयल का इस्तेमाल करने के लिए इसे पतला करना जरूरी होता है. एक्जिमा की परेशानी होने पर इस तेल में बादाम या फिर जैतून के तेल को बराबर मात्रा में मिलाकर लगाएं. इससे आपको एक्जिमा से काफी आराम मिल सकता है.

इन घरेलू उपायों के अलावा आप एक्जिमा की परेशानी को दूर करने के लिए अन्य तरीकों को अपना सकते हैं, जैसे -

  • डाइट में बदलाव
  • ब्लीच बाथ
  • रोजाना नहाएं
  • सौम्य साबुन और डिटर्जेंट का करें इस्तेमाल
  • ठंड से बचकर रहें.
  • ज्यादा गर्म स्थानों पर जाने से बचें

(और पढ़ें - हाथों में एक्जिमा के लक्षण)

घरेलू उपायों के अलावा आप आयुर्वेदिक तरीकों से भी एक्जिमा की परेशानी को दूर कर सकते हैं. आयुर्वेदिक इलाज को अपनाने से एक्जिमा में होने वाली परेशानियों जैसे- खुजली, स्किन रैशेज, खुरदुरी स्किन से राहत पाया जा सकता है.

(और पढ़ें - एक्जिमा के लिए योग)

पंचकर्मा थेरेपी

आयुर्वेद में एक्जिमा की परेशानी को दूर करने के लिए सबसे प्रमुख पंचकर्म थेरेपी को माना जाता है. इस थेरेपी के जरिए न सिर्फ एक्जिमा की परेशानी, बल्कि सोरायसिस और एक्ने की समस्याओं को भी दूर किया जा सकता है.

इस थेरेपी में 5 से 7 दिनों तक घी का औषधीय रूप में इस्तेमाल किया जाता है. साथ ही इसमें पूरे शरीर की मालिश की जाती है. इसके अलावा अन्य विधि को अपनाकर पंचकर्मा थेरेपी दी जाती है. पंचकर्मा थेरेपी लेने के लिए आपको किसी आयुर्वदाचार्य से संपर्क करना होगा.

(और पढ़ें - चर्म रोग का इलाज)

हर्बल रेमेडी

एक्जिमा की परेशानी को दूर करने के लिए आयुर्वेदिक हर्बल का इस्तेमाल किया जा सकता है. इन आयुर्वेदिक हर्बल में कावा-कावा (kava kava), विंटर चेरी (winter cherry), त्रिफला, ब्राह्मी, नीम इत्यादि शामिल हैं.

(और पढ़ें - डर्मेटाइटिस का इलाज)

घरेलू और आयुर्वेदिक उपचार के अलावा स्किन स्पेशलिस्ट आपको कुछ दवाइयां और क्रीम लगाने की भी सलाह दे सकते है, जो मार्केट में आपको आसानी से मिल सकता हैं. ये दवाइयां और क्रीम्स इस प्रकार हैं-

  • कॉर्टिकोस्टेरॉइड से युक्त क्रीम (Corticosteroid creams)
  • पीडीई4-इन्हीबिटर दवाई (PDE4 inhibitor)
  • बैरियर रिपेयर मॉइश्चराइजर (Barrier repair moisturisers)
  • कैल्सीनुरिन अवरोधक (Calcineurin inhibitors)
  • कॉर्टिकोस्टेरॉइड गोलियां, लिक्विड्स या शॉट (Corticosteroid pills, liquids, or shots)

(और पढ़ें - खुजली का आयुर्वेदिक इलाज)

एक्जिमा की परेशानी होने पर आपकी स्किन पर सबसे पहले खुजली की शिकायत होती है. इसके अलावा स्किन पर पपड़ी और दानें उभरने लगते हैं. स्किन पर इस तरह के लक्षणों को नजरअंदाज ना करें. अगर घरेलू उपायों से स्किन की परेशानी 2 से 3 दिनों में ठीक नहीं हो रही है, तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लें. साथ ही डॉक्टर के दिए गए दिशा-निर्देशों का अच्छे से पालन करें. ताकि आगे आपको गंभीर परेशानी का सामना न करना पड़े.

(और पढ़ें - डिसहिड्रॉटिक एक्जिमा का इलाज)

Dr Shishpal Singh

Dr Shishpal Singh

डर्माटोलॉजी
5 वर्षों का अनुभव

Dr. Sarish Kaur Walia

Dr. Sarish Kaur Walia

डर्माटोलॉजी
3 वर्षों का अनुभव

Dr. Rashmi Aderao

Dr. Rashmi Aderao

डर्माटोलॉजी
13 वर्षों का अनुभव

Dr. Moin Ahmad Siddiqui

Dr. Moin Ahmad Siddiqui

डर्माटोलॉजी
4 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें