अरारोट या एरोरूट तकनीकी रूप से अपने आप में एक पौधा नहीं है, बल्कि एक प्रकार का स्टार्च है जो आसानी से कई अलग-अलग पौधों और राइज़ोम की जड़ों से प्राप्त किया जा सकता है। अरारोट का वैज्ञानिक नाम मैरेंटा अरुंडिनेशी (Maranta arundinacea) है और यह एक बहुवर्षी पौधा होता है। इसमें मौजूद स्टार्च के कारण, यह 7,000 से अधिक वर्षों से उपयोग किया जा रहा है।

अरारोट कई लोगों के लिए एक महत्वपूर्ण और प्रभावी उपाय है। विभिन्न स्वास्थ्य समस्याओं के इलाज के लिए, आटा या मकई की जगह इसका उपयोग किया जाता है। मूल रूप इसका पाउडर रोटी, पास्ता और केक के लिए एक स्वस्थ विकल्प हो सकता है। एरोरूट भी लस-मुक्त होता है, जो कई देशों में सीलिएक रोग के बढ़ने के कारण और अधिक मूल्यवान हो गया है।

यह पौधा सबसे अधिक दक्षिण अमेरिका के उष्णकटिबंधीय (tropics) क्षेत्रों में उगाया जाता है और कैरिबियाई द्वीप, फिलीपींस और दक्षिण अमेरिका में भी इसकी बड़े पैमाने पर खेती की जाती है।

  1. अरारोट के फायदे - Arrowroot ke Fayde in Hindi
  2. अरारोट के नुकसान - Arrowroot ke Nuksan in Hindi

इसके हल्के और अद्भुत स्वाद के अलावा, अरोरोट पोषक तत्व, विटामिन और खनिजों का अच्छा स्रोत है। 120 ग्राम अरारोट में 406 ग्राम विटामिन बी9, 2.66 मिलीग्राम आयरन, 0.319 मिलीग्राम विटामिन बी, 118 मिलीग्राम फास्फोरस, 0.145 मिलीग्राम कॉपर, 0.172 मिलीग्राम विटामिन बी1, 2.032 मिलीग्राम विटामिन बी3, 16.07 ग्राम कार्बोहाइड्रेट, 545 मिलीग्राम पोटेशियम, 5.09 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है। यह वजन घटाने के लक्ष्य, पेट की समस्याओं को कम करने, जन्म दोषों को रोकने, चयापचय को बढ़ावा देने, रक्त परिसंचरण को कम करने, रक्तचाप को कम करने और स्वस्थ पाचन तंत्र को बढ़ावा देने के लिए बहुत ही उपयोगी है। तो आइये जानते हैं इसके लाभों के बारे में -

(और पढ़ें - वजन घटाने के आसान तरीके)

अरारोट के फायदे ब्लड सर्कुलेशन के लिए - Arrowroot for Blood Circulation in Hindi

अरोरोट में पाए जाने वाले समृद्ध पोषक तत्वों में तांबा और लौह बहुत ही अच्छी मात्रा में पाया जाता है। ये दोनों आवश्यक खनिज लाल रक्त कोशिकाओं के महत्वपूर्ण भाग होते हैं, जो एनीमिया को रोकने के लिए मदद करते हैं। इसके अलावा ये कमजोरी, थकान और संज्ञानात्मक विकारों को ठीक करने में भी मदद करते हैं। साथ ही यह रक्त परिसंचरण में वृद्धि करके, आपके शरीर की अंग प्रणालियों और ऊपरी हिस्से में ऑक्सीजन को प्रोत्साहित करते हैं, जो आपके ऊर्जा के स्तर को बढ़ा सकते हैं। (और पढ़ें - साबुदाना के गुण करें ब्लड सर्कुलेशन में मदद)

अरारोट का उपयोग बनाएं मेटाबॉलिज्म को बेहतर - Arrowroot Improves Metabolism in Hindi

अरारोट में विटामिन बी की उच्च मात्रा पाई जाती है। यह एक महत्वपूर्ण एंजाइमेटिक और चयापचय पदार्थ बनाती है। हार्मोनल रिलीज से लेकर शरीर में प्रक्रियाओं को नियमित रखने में विटामिन बी बहुत महत्वपूर्ण होती है। इसलिए मेटाबॉलिज़्म में सुधार करने के लिए अरारोट का सेवन बहुत ही लाभकारी होता है। (और पढ़ें - मेटाबोलिज्म बढाने के लिए क्या खाएं)

अरारोट के लाभ हैं प्रेगनेंसी में लाभकारी - Arrowroot for Pregnancy in Hindi

अरारोट में मौजूद फोलेट आपके और आपके होने वाले बच्चे के लिए बहुत ही लाभकारी होता है। अध्ययनों से पता चला है कि जो महिलाएं माँ बनने वाली हैं उनके लिए फोलेट बहुत ही महत्वपूर्ण होता है, क्योंकि यह उनके अजन्मे बच्चे में न्यूरल ट्यूब दोष को रोकने में मदद कर सकता है। इसलिए अरारोट का उपयोग आपके शिशु के अच्छे विकास के लिए बहुत ही जरूरी होता है। अन्य स्टार्च की तुलना में यह आसानी से पच जाता है इसलिए यह शिशुओं के लिए उपयुक्त होता है। यह स्तन दूध के विकल्प के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है क्योंकि यह आसानी से पच जाता है। 

(और पढ़ें - प्रेगनेंसी में होने वाली समस्याएं और प्रेगनेंसी टेस्ट किट का उपयोग केसे करें)

अरारोट फॉर वेट लॉस - Arrowroot for Weight Loss in Hindi

अरारोट कैलोरी में बहुत कम होता है अन्य स्टार्च की तुलना में जैसे कि जैम, आलू या कसावा। इसलिए जो वजन कम करने के लिए डाइट पर हैं उनको इसका सेवन जरूर करना चाहिए। क्योंकि वजन कम करने के साथ साथ यह आपको जटिल कार्बोहाइड्रेट और पोषक तत्वों का खजाना भी प्रदान करता है। इसमें मौजूद आहार फाइबर के कारण, आपको जड़ी से भूख नहीं लगती है जिससे आप बार बार खाने से बच जाते हैं। इसलिए वजन कम करने वाले लोगों के लिए यह बहुत ही अच्छा आहार है। 

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए डाइट टिप्स)

पाचन को बेहतर रखने में मददगार है अरारोट - Arrowroot Good for Digestion in Hindi

आहार फाइबर हमारी पाचन प्रक्रिया के सबसे महत्वपूर्ण हिस्सों में से एक है, क्योंकि यह एक कुशल तरीके से आंतों के माध्यम से भोजन को स्थानांतरित करने में मदद करता है। जबकि पोषक तत्वों को उत्तेजित करता है। यह कब्ज और दस्त की समस्याओं को दूर करने में मदद कर सकता है और डायबिटीज (मधुमेह) की शुरुआत को रोकने के लिए रक्त शर्करा के स्तर को मैनेज कर सकता है। और इसमें मौजूद आहार फाइबर अतिरिक्त कोलेस्ट्रॉल को दूर करने में मदद कर सकता है। (और पढ़ें - पाचन क्रिया सुधारने के आयुर्वेदिक उपाय)

अरारोट पाउडर रखें हृदय को स्वस्थ - Arrowroot Powder for Heart in Hindi

अरारोट में बहुत अच्छी मात्रा में पोटेशियम पाया जाता है जिसका मतलब है कि यह दिल से संबंधित समस्याओं के खिलाफ रक्षा करने में मदद कर सकता है। पोटेशियम एक वैदोडिलेटर है, जिसका अर्थ है कि यह रक्त वाहिकाओं और धमनियों में तनाव को कम करके आराम देता है जिससे रक्तचाप कम हो जाता है। साथ ही यह एथेरोस्क्लेरोसिस (atherosclerosis), दिल के दौरे और स्ट्रोक के जोखिम को कम करने में सहायक है।  

(और पढ़ें - हृदय को स्वस्थ रखने के लिए खाएं ये आहार)

अरारोट फॉर स्किन - Arrowroot for Skin in Hindi

इसके स्टार्च को पाउडर और मॉइस्चराइजर्स के रूप में उपयोग किया जाता है। यह कॉस्मेटिक्स प्रोडक्ट्स में प्रयोग किया जाता है और यह कुछ सक्रिय तत्वों को सक्षम बनाता है क्योंकि इसमें नमी को अवशोषित करने के बहुत अच्छे गुण होते हैं। त्वचा को चिकना बनाने के लिए, इसे पाउडर के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है। अरारोट पाउडर हल्का, नरम और शोषक होता है। इससे बना बॉडी पाउडर ड्राई स्किन, चकत्ते या अन्य घावों में मदद करता है। 

(और पढ़ें - चमकदार त्वचा पाने के लिए गाइड)

अरारोट के गुण करें बालों का विकास - Arrowroot for Hair in Hindi

अरारोट व्यापक रूप से कॉस्मेटिक उत्पादों में उपयोग किया जाता है। लेकिन बालों के लिए इसके लाभों के बारे में अधिक जानकारी नहीं है। लेकिन इसमें मौजूद पोषक तत्वों के कारण, यह बालों की देखभाल के लिए लाभकारी होता है। अन्य अवयवों के मिश्रण के साथ, अरारोट अक्सर बालों को डाई करने के लिए भी प्रयोग किया जाता है। 

(और पढ़ें - क्षतिग्रस्त बालों के लिए आसान सा घरेलू उपचार)

पेट की समस्या को दूर करें अरारोट - Arrowroot for Stomach Upset in Hindi

सीलिएक रोग दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। जिसके कारण लोग स्टार्च और गेहूं के लिए एक लस मुक्त विकल्प की तलाश कर रहे हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि अरारोट एक लस मुक्त पदार्थ है। लॉस मुक्त होने के कारण यह हाल के वर्षों में बहुत लोकप्रिय हो गया है, क्योंकि यह जठरांत्र संबंधी असुविधा, दर्द और खतरे को रोक सकता है जिसका लस असहिष्णुता से निपटने वाले लोगों को हर दिन सामना करना पड़ता है। 

(और पढ़ें - खाली पेट इसे खाएं, सेहतमंद हो जाएं)

इम्युनिटी को मजबूत बनाएं अरारोट से - Arrowroot ke Fayde for Immunity in Hindi

अरारोट पाउडर के अर्क में पाए जाने वाले साइटोटोक्सिक गुण, प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में सहायता करते हैं। इसका मतलब है कि अरारोट पाउडर का अर्क प्रतिरक्षा प्रणाली के भीतर कोशिकाओं के उत्पादन को बढ़ाता है। 

(और पढ़ें - रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ और घरेलू उपाय)

मूत्र मार्ग संक्रमण का इलाज है अरारोट - Arrowroot for UTI in Hindi

महिलाओं को मूत्र पथ संक्रमण या "यूटीआई की" होने का खतरा अधिक होता है। और इसलिए भविष्य में संक्रमण और सूजन को रोकने में मदद करने के लिए अक्सर सफाई करने और खाद्य पदार्थों के सेवन के लिए अरारोट का उपयोग करने की सलाह दी जाती है। यह मूत्राशय के संक्रमण या मूत्र पथ के संक्रमण के लिए प्रभावी घरेलू उपचार में से एक हो सकता है। अरारोट के एंटीसेप्टिक गुण मूत्र पथ के संक्रमण के इलाज में मदद करते हैं और भविष्य में इसे बढ़ने से को रोकते हैं। 

(और पढ़ें - यूरिन इन्फेक्शन का उपचार)

  1. किसी भी हर्बल उपाय के साथ, अरारोट लेते समय सावधानी बरती जानी चाहिए। जबकि हर्बल उपचारों का उपयोग करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श किया जाना चाहिए। बच्चों, गर्भवती या नर्सिंग माताओं या किडनी या लिवर की बीमारी वाले किसी भी व्यक्ति को इसके सेवन से पहले विशेष ध्यान देना चाहिए।
  2. यदि एक शिशु फार्मूले के लिए अरारोट का विचार, पहले बच्चे के बाल रोग विशेषज्ञ से परामर्श करें और एलर्जी प्रतिक्रियाओं के लिए बारीकी से निगरानी करें।
  3. दस्त को कम करने के लिए जड़ी-बूटियों का उपयोग करते समय, इसे दस्त के लिए किसी भी अन्य दवा या पूरक के साथ नहीं लिया जाना चाहिए, क्योंकि इससे कब्ज हो सकती है।
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ