myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

अपराजिता का पौधा अपने अद्धभुत नाम से ही आपका ध्यान अपनी ओर आकर्षित कर सकता है। इस पौधे का वैज्ञानिक नाम (Clitoria Ternatea) महिलाओं के महत्वपूर्ण अंग, क्लिटोरिस से जुड़ा है। यह उष्णकटिबंधीय पौधा है जिसका फूल से लेकर जड़ तक लाभकारी है। 

  1. अपराजिता के फायदे - Aparajita ke Fayde

इंडोनेशिया, मलेशिया और थाईलैंड जैसे देश जो अपराजिता के पौधे का मूल स्थान हैं, वहां इसकी भरपूर खेती होती है। इसके फूल का उपयोग रोजमर्रा के जीवन में किया जाता है। इन देशों में इस फूल की पंखुड़ियों उपयोग खाने की चीजों में प्राकृतिक रंग के तौर पर किया जाता है जबकि इसके अन्य भागों का इस्तेमाल पारंपरिक या हर्बल दवा के तौर पर किया जाता है। तो आइये जानें इस पौधे से प्राप्त होने वाले लाभों के बारे में -

  1. अपराजिता के औषधीय प्रयोग हैं मूत्रवध॔क के रूप में - Aparajita ka upyog kare mutrwardhak ke roop mein
  2. अपराजिता के फायदे रखे पाचन तंत्र को स्वस्थ - Aparajita ke fayde rakhen paachan ko swasth
  3. अपराजिता के गुण हैं डिमेंशिया में लाभदायक - Aparajita ke labh dementia ke liye
  4. अपराजिता के औषधीय गुण करे सिरदर्द दूर - Aparajita kare sirdard ko dur
  5. अपराजिता के उपयोग से रहे अस्थमा दूर - Aparajita ka sewan bachaye Asthma se
  6. अपराजिता का फायदा डिप्रेशन में - Aparajita for depression
  7. अपराजिता करता है तंत्रिका तंत्र को दुरुस्त - Aparajita karta hai tantrika tantr mein sudhar
  8. अपराजिता दिलाए अनियमित मासिक धर्म से छुटकारा - Aparajita dilye aniymit masik dharm se chutkara
  9. अपराजिता है डायबिटीज में उपयोगी - Aparajita ke aushdhiya gun kare diabetes ko dur
  10. अपराजिता दिलाए दिल की बीमारियों में राहत - Aparajita ke gun bachayen hriday ki bimari se
  11. अपराजिता का उपयोग करे कीड़े मकोड़ों काटने पर - Aparajita ka upyog kare keet ke katne par

अपराजिता के औषधीय प्रयोग हैं मूत्रवध॔क के रूप में - Aparajita ka upyog kare mutrwardhak ke roop mein

एशिया में लोग इसका व्यापक तौर पर उपयोग करते हैं। अपराजिता का इस्तेमाल मूत्रवर्धक के रूप में घरेलू उपचार के तौर पर किया जाता है। इसलिए यदि आपको किसी भी प्रकार की पेशाब से जुड़ी कोई भी समस्या है तो इस फूल का उपयोग जरूर करें।

(और पढ़ें - यूरिन इन्फेक्शन के घरेलू उपाय)

अपराजिता के फायदे रखे पाचन तंत्र को स्वस्थ - Aparajita ke fayde rakhen paachan ko swasth

अपने बैक्टीरिया-रोधी गुणों के कारण, यह फूल कुछ विषाक्त-संदूषित भोजन करने से हुई परेशानियां (Food Poisoning) दूर करने में लाभकारी साबित हो सकता है। इसके अलावा यह पाचन सबंधी अन्य दिक्कतें भी दूर कर सकता है। लेकिन इसके उपयोग से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

(और पढ़ें - पाचन शक्ति बढ़ाने के घरेलू उपाय)

अपराजिता के गुण हैं डिमेंशिया में लाभदायक - Aparajita ke labh dementia ke liye

पशुओं पर किये गए कुछ अध्ययनों में पाया गया कि अपराजिता के सेवन से चूहों की याददाश्त बढ़ी। इसलिए संभव है कि इससे डिमेंशिया का भी उपयुक्त इलाज हो पाए।

पढ़ें - अल्जाइमर रोग का इलाज)

अपराजिता के औषधीय गुण करे सिरदर्द दूर - Aparajita kare sirdard ko dur

यदि आपकोअक्सर सिरदर्द की शिकायत रहती है तो अपराजिता के सेवन के बारे में जरूर सोचें। सिरदर्द आम बीमारी बन गयी है ऐसे में आप हर बार सिरदर्द के लिए दर्दनाशक (Painkiller) का उपयोग नहीं कर सकते। जरूरत से ज्यादा दर्दनाशक दवाओं का उपयोग सेहत के लिए अच्छा नहीं है। ऐसे में आपको चिंता करने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि अपराजिता सिरदर्द का शर्तिया घरेलू उपचार हो सकता है।

(और पढ़ें - सिरदर्द से छुटकारा पाने के उपाय)

अपराजिता के उपयोग से रहे अस्थमा दूर - Aparajita ka sewan bachaye Asthma se

कुछ किस्म की एलर्जी अस्थमा का रूप ले लेती है। वैज्ञानिक अध्ययनों के अनुसार इसके इलाज में अपराजिता असरदार साबित हो सकता है। इसके अलावा आप इसका उपयोग सामान्य सर्दी-खांसी के उपचार के लिए भी कर सकते हैं। इससे श्वसन अंगों में जलन जैसी मामूली दिक्कतें भी दूर हो सकती हैं।

(और पढ़ें - अस्थमा के घरेलू उपाय)

अपराजिता का फायदा डिप्रेशन में - Aparajita for depression

अवसाद (Depression) से निपटना जटिल होता है लेकिन गौरतलब है कि अपराजिता का सेवन इस समस्या को और बढ़ने से रोकने या कम करने में मदद कर सकता है।

अपराजिता में चिंता कम करने और अवसाद-रोधी गुण होने की भी पुष्टि हुई है। तनाव से होने वाले अल्सर के सम्बन्ध में चूहों पर हुए अध्ययन में पाया गया कि 400 मिलीग्राम / किलोग्राम के आधार पर अपराजिता चाय के सेवन से चूहों पर तनाव का असर कम हुआ है।

(और पढ़ें - डिप्रेशन के घरेलू उपाय)

अपराजिता करता है तंत्रिका तंत्र को दुरुस्त - Aparajita karta hai tantrika tantr mein sudhar

शरीर के चयापचय में तंत्रिका तंत्र की भी महत्वपूर्ण भूमिका होती है और अपराजिता में कुछ ऐसे तत्व होते हैं जो तंत्रिका तंत्र को दुरुस्त कर सकते हैं। दूसरे अर्थों में यह फूल मस्तिष्क के लिए बहुत फायदेमंद है।

(और पढ़ें - मेटाबॉलिज्म क्या है)

 

अपराजिता दिलाए अनियमित मासिक धर्म से छुटकारा - Aparajita dilye aniymit masik dharm se chutkara

एशियाई देशों में महिलाओं को अमूमन पता होता है कि अपराजिता, अनियमित मासिक धर्म का बेहतरीन इलाज है। इसके अलावा यह खूबसूरत फूल महिलाओं में प्रजनन संबंधी कुछ समस्याओं से निपटने में भी मदद कर सकता है।

(और पढ़ें - अनियमित मासिक धर्म का उपचार

अपराजिता है डायबिटीज में उपयोगी - Aparajita ke aushdhiya gun kare diabetes ko dur

अपराजिता के अद्भुत स्वास्थ्य लाभों में  डायबिटीज को नियंत्रित करना भी शामिल है। यह फूल डायबिटीज से पीड़ित लोगों में रक्त शर्करा (Blood Sugar) के स्तर को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है।

(और पढ़ें - डायबिटीज में क्या खाना चाहिए)

अपराजिता दिलाए दिल की बीमारियों में राहत - Aparajita ke gun bachayen hriday ki bimari se

दिल का दौरा, ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल जैसी समस्याओं से निपटने में भी अपराजिता भरोसेमंद घरेलू उपचार साबित हो सकता है।  हल्का-फुल्का सर्दी-ज़ुकाम हो तो आपको दवा लेने की बजाए अपराजिता के सेवन के बारे में सोचना चाहिए।

अपराजिता के बीज और जड़ का अर्क ट्राइग्लिसराइड्स को कम करने में सहायक होते हैं। हालांकि इसकी जड़ कोलेस्ट्रॉल को कम करने में सहायक होती है और इस सबसे यही संकेत मिलता है कि यह  कार्डियोवैस्कुलर स्वास्थ्य के लिए उपयोगी है। 

(और पढ़ें - दिल का दौरा पड़ने पर क्या करें)

अपराजिता का उपयोग करे कीड़े मकोड़ों काटने पर - Aparajita ka upyog kare keet ke katne par

एशियाई देशों में इस आकर्षक फूल वाले पौधे का उपयोग सांप और कीड़े-मकोड़े के काटने के प्राकृतिक इलाज के तौर पर किया जाता है। लेकिन इसे घरेलू उपचार के तौर पर ही लें और ऐसी परिस्थितियों में तुरंत डॉक्टर के पास जाएं।

(और पढ़ें - सांप के काटने के बाद क्या करे)

 

और पढ़ें ...