myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

सेक्स सभी की जिंदगी का एक खास पल होता है। इसको लेकर सभी के मन में कई तरह के सवाल होते हैं। इससे जुड़े कई ऐसे जटिल विषय हैं जिन पर आज तक कुछ भी सटिक तरह से कह पाना मुश्किल है। समाज में कई महिलाओं को पुरुषों के मन में सेक्स के सही समय और इसको कितनी बार करने के विषय को लेकर तरह-तरह के सवाल उठते हैं। इन सवालों के जवाब ढूंढने के लिए वह लोग किताबों या इंटरनेट का सहारा लेते हैं, लेकिन कई किताबों और लेख को पढ़ने के बाद भी उनको कोई संतुष्ट जवाब नहीं मिल पाता है।

इस जरूरी मुद्दे पर आप सभी लोगों के मन में उठने वाले सवालों को शांत करने लिए ही इस लेख में “सेक्स कब और कितनी बार करना चाहिए” के बारे में बताया जा रहा है। साथ ही आपको यह भी बताया जाएगा कि शादी के बाद कब सेक्स करें और दिन का कौन सा समय सेक्स के लिए बेहतर होता है, आदि।

(और पढ़ें - सेक्स करने का तरीका)

  1. सेक्स करने का सही समय - Sex karne ka sahi samay
  2. सेक्स कितनी बार करना चाहिए - Sex kitni bar karna chahiye
  3. सेक्स कब और कितनी बार करें के डॉक्टर

सेक्स करने का टाइम: शादी के कितने समय बाद - Sex karne ka time: shadi ke kitne samay bad

शादी के बाद सेक्स करने के सही समय को लेकर कुछ भी कहना गलत होगा, क्योंकि इस विषय पर ज्यादा रिसर्च नहीं की गई है। शादी के बाद साथी के साथ सेक्स संबंध बनाने से ज्यादा जरूरी होता है कि आप उनके साथ भावनात्मक जुड़ाव बनाएं। शादी के बाद दोनों ही दंपत्ति को एक दूसरे के साथ प्यार का रिश्ता कायम करना ज्यादा जरूरी होता है। साथी के साथ प्यार या लगाव भरा रिश्ता बनाने के बाद सेक्स करने से आपके रिश्ते में मजबूती आती है। हालांकि जो लोग शादी के बाद एक दूसरे को जाने बिना ही सेक्स कर लेते हैं उनको अपने रिश्ते की गहराई को समझने में काफी समय लगता है और इससे आपके रिश्ते में नकारात्मक प्रभाव भी पड़ता है। 

(और पढ़ें - सेक्स के बारे में जानकारी)

शादी के बाद रिश्ते को खुशनुमा बनाने के लिए उसमें भावनात्मक जुड़ाव होना आवश्यक होता है। कुछ शादीशुदा जोड़ों को एक दूसरे के साथ सहज और जुड़ाव महसूस करने में कम समय लगता है, जबकि कई दंपत्तियों को एक दूसरे के साथ भावनात्मक जुड़ाव अनुभव करने में ज्यादा समय लग सकता है। यह पूरी तरह से दोनों के मन की स्थिति पर ही निर्भर करता है कि आप दोनों एक दूसरे के साथ सहज होने में कितना समय लगाते हैं। 

(और पढें - कामेच्छा बढ़ाने के उपाय)

शादी के बाद यदि आपका साथी आपके साथ सहज होने में ज्यादा समय लगाता है, तो ऐसे में आपको उनकी इच्छाओं के बारे में विचार करते हुए उन्हें थोड़ा समय अवश्य देना चाहिए। शादी के बाद साथी को सहज बनाने के लिए जितना संभव हो सके, आपको धैर्य बनाए रखना चाहिए। कुछ विशेषज्ञ कहते हैं कि शादी के बाद दोनों ही साथियों को कम से कम तीन महीनों तक एक दूसरे के बारे में जानना और समझना चाहिए। इस दौरान आप दोनों के बीच में नजदीकियां और लगाव बढ़ेगा, जिसके बाद सेक्स करने से आप दोनों को ही पूर्ण आनंद प्राप्त होगा। 

वहीं कुछ विशेषज्ञ इस बात को भी कहते हैं कि आपको शादी के बाद कम से कम कुछ हफ्तों तक सेक्स के लिए इंतजार अवश्य करना चाहिए। सेक्स के लिए अधिक देर करना भी आपकी यौन इच्छाओं पर बुरा प्रभाव डालता है।

(और पढें - पहली बार सेक्स कैसे करें)

सेक्स करने का सही टाइम: सुबह या रात - Sex karne ka sahi time: subah ya raat

सेक्स करने का सही टाइम क्या है, इस बारे में कुछ भी नहीं कहा जा सकता है। सेक्स करने का सही टाइम कई कारकों पर निर्भर करता है। विशेषज्ञों का कहना है कि साथी के साथ सेक्स करने का सही समय आपकी उम्र पर निर्भर करता है। आपकी उम्र के अनुसार ही आपके अंदर कामेच्छा उत्पन्न होती है और यह कामेच्छा बीस साल के युवक और चालीस साल के आदमी में अलग-अलग समय पर उत्पन्न होती है। 

(और पढ़ें - sex ke fayde)

उम्र के मुताबिक ही आपके शरीर में बदलाव आते हैं। अलग-अलग उम्र के लोगों की कार्यक्षमताएं अलग-अलग होती है। आगे आपको विशेषज्ञों के अनुसार भिन्न आयु वर्ग के लोगों के लिए सेक्स करने का समय बताया जा रहा है। 

(और पढ़ें - महिलाओं को उत्तेजित करने वाले अंग)

  • 20 साल की उम्र में विशेषज्ञों ने पाया कि इस उम्र के अधिकतर लोगों की कामेच्छा दोपहर के करीब 3 बजे चरम पर होती है। इसके अलावा इस उम्र के लोग दिन में कभी भी सेक्स कर सकते हैं। (और पढ़ें - यौन शक्ति बढ़ाने वाले आहार)
  • 30 साल की उम्र में तीस साल में आपकी कई आदतों में बदलाव आ जाता है। इसके साथ ही तीस साल वालों के लिए सुबह के समय सेक्स करना अच्छा रहता है। विशेषज्ञ इस उम्र के लोगों के लिए सुबह 8.20 का समय बेहतर मानते हैं। सूर्य के निकलते समय महिला व पुरुष दोनों में ही टेस्टोस्टेरोन का स्तर बढ़ जाता है। (और पढ़ें - कामसूत्र के पोजीशन)
  • 40 साल की उम्र में – चालीस साल में व्यक्ति रात को जल्द सोने चला जाता है, इस उम्र के लोगों को घर और ऑफिस के कई कामों की जिम्मेदारियों को पूरा करना पड़ता है। ऐसे में साथी के साथ सेक्स करने के समय में भी बदलाव आ जाता है। विशेषज्ञ इस उम्र के लोगों के लिए रात 10.20 के समय सेक्स करना सही बताते हैं। इस उम्र के लोगों को सोने से कुछ समय पहले सेक्स करना चाहिए। (और पढ़ें - सेक्स पावर कैसे बढ़ाएं)
  • 50 साल की उम्र में इस उम्र के लोगों में परिवार की जिम्मेदारियां ज्यादा होती है। ऑफिस के काम के कारण थकान व तनाव की वजह से इस उम्र में लोग रात को जल्दी सोना पसंद करते हैं। वैसे इस उम्र के लोगों में सेक्स के लिए रात के 10 बजे का समय सही माना जाता है, लेकिन इस समय को सटिक कह पाना उचित नहीं होगा।
  • 60 साल की उम्र में – सेक्स में यौनसंतुष्टि के बाद शरीर में ऑक्सिटोसिन नामक हार्मोन निकलता है। इसलिए इस उम्र के लोगों को सोने से पहले सेक्स करना चाहिए। विशेषज्ञ में इस आयु वर्ग के लोगों के लिए रात 10 बजे सेक्स करने के समय का सुझाव दिया है (और पढ़ें - रिश्तों को मजबूत बनाने के उपाय)
  • 70 साल की उम्र में – 60 साल के लोगों की तरह ही 70 साल के लोगों के लिए भी रात के 10 बजे को ही सेक्स का सही समय माना जाता है। इस उम्र के लोग सुबह जल्दी उठ जाते हैं, इसलिए सोने से पहले यह सेक्स कर सकते हैं। (और पढ़ें - शादी से पहले सेक्स)

संभोग करने का सही टाइम - Sambhog karne ka sahi time

सेक्स व्यक्ति के लिए कई तरह से फायदेमंद साबित होता है। कुछ खास मौकों पर सेक्स करने से आपको इससे संबंधित कई लाभ मिलते हैं। आगे जानते हैं कि किन मौकों पर आपको सेक्स करना चाहिए।

  • सुबह के समय –
    सुबह के समय सेक्स करने से आपके शरीर में टेस्टोस्टेरोन और ऊर्जा का स्तर काफी अधिक बढ़ जाता है। इसके साथ ही ऑक्सीटोसिन के स्तर में बढ़ोतरी से आप दोनों ही पूरा दिन एक दूसरे के साथ जुड़ाव महसूस करते हैं। इसके अलावा एंड्रोफिन हार्मोन आपके मूड को ठीक करने का काम करता है। (और पढ़ें - सेक्स के दौरान की जानें वाली गलतियां)
     
  • बदलते मौसम के प्रभाव से बचने के लिए सेक्स करें –
    अध्ययन से पता चला है कि मौसम में बदलाव होने से जब आप सुस्ती और थकान महसूस करते हैं तो इस समय सेक्स करने से आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता में बढ़ोतरी होती है। इसका मतलब यह बिलकुल नहीं हैं कि आप बुखार या बीमार होने पर भी सेक्स करने लगें। सेक्स आपको मौसम के बदलाव के कारण होने वाले रोगों से सुरक्षा प्रदान करता है। (और पढ़ें - शुक्राणु बढ़ाने के घरेलू उपाय)
     
  • मासिक धर्म के 14वें दिन करें सेक्स –
    हाल ही में हुए अध्ययन से पता चला है कि मासिक धर्म चक्र के करीब दो सप्ताह बाद आपको सेक्स करना चाहिए। इस समय महिलाओं की योनि का ऊपरी भाग करीब 20 प्रतिशत बढ़ जाता है। ओवुलेशन के समय आपके अंदर यौन इच्छा अधिक होती हैं। (और पढ़ें - पीरियड्स में सेक्स करना चाहिए)
     
  • वर्कआउट के बाद करें सेक्स –
    जिम या एक्सरसाइज करने के बाद भी आप सेक्स कर सकते हैं। एक विदेशी विश्वविद्यालय में हुए अध्ययन से इस बात का पता चला है कि वर्कआउट करने के बाद महिलाओं के जननांगों में रक्त का प्रवाह 169 प्रतिशत बढ़ जाता है। एक्सरसाइज करने से आपके शरीर में कई तरह के जरूरी टेस्टोस्टोरोन और यौन संबंधी हार्मोन सक्रिय होते हैं, इसलिए बेहतर सेक्स के लिए वर्कआउट के बाद का समय सही माना जाता है। (और पढ़ें - बेहतर सेक्स लाइफ के लिए योगा)
     
  • काम के तनाव के बाद सेक्स करना सही होता है –
    ऑफिस के तनाव पूर्ण काम के बाद थकान को कम करने के लिए आपको शराब पीने की अपेक्षा सेक्स के विकल्प को चुनना चाहिए। अध्ययन बताते हैं कि मूड को ठीक करने और तनाव को कम करने के लिए सेक्स का सहारा लिया जा सकता है। तनाव और निराशा आपको सेक्स के दौरान अधिक भावुक और उत्साही बनाते हैं। (और पढ़ें - तनाव दूर करने के घरेलू उपाय)
     
  • डर लगने के बाद सेक्स करना चाहिए –
    जब आपने कोई रोमांचकारी काम किया हो या कोई डरावनी फिल्म देखी हो, तो इसके बाद आपको सेक्स करना चाहिए। इस समय एड्रिनेलाइन हार्मोन निकलना शुरू होता है, जिससे आपका शरीर उत्तेजना की स्थिति में आता है और इससे आपकी यौन प्रतिक्रियाएं बढ़ जाती हैं। इस कारण इस समय सेक्स करना अच्छा अहसास प्रदान करता है। (और पढ़ें - सेक्स के जुड़े झूठ)

हर शादीशुदा जोड़े के मन में यह सवाल उठता है कि उनको कितनी बार सेक्स करना चाहिए। इस विषय पर सभी अपनी अलग-अलग राय देते हैं। कई बार कुछ दंपत्ति अपनी तुलना अन्य दंपत्तियों से करने लगते हैं। किसी अन्य के मुकाबले कम सेक्स करने से उनके मन में रिश्ते की मजबूती को लेकर कई तरह के सवाल आने लगते हैं, उनको लगता है कि कम सेक्स होने से उनका रिश्ता अन्य लोगों की तुलना में कमजोर है। (और पढ़ें - सुरक्षित सेक्स के तरीके)

इस विषय पर रिसर्च बताती है कि कई दंपत्ति हफ्ते में 2 से 3 बार सेक्स करते हैं, जबकि सेक्स विशेषज्ञ इस पर अपनी राय देते हुए हफ्ते में 1 से 2 बार सेक्स करने को सही मानते हैं। साथ ही विशेषज्ञों का यह भी कहना है कि सेक्स करने की किसी भी संख्या को सामान्य नहीं कहा जा सकता है। हर व्यक्ति की शारीरिक और मानसिक इच्छाएं और क्षमताएं अलग होती है। बेशक सेक्स करने से आपको कई फायदे मिलते हो, पंरतु सेक्स करना कई कारको पर निर्भर करता है। हफ्ते या महीने में अधिक बार सेक्स करने वाले दंपत्तियों की तुलना में कम बार सेक्स करने वालों का रिश्ता कमजोर होता है, लोगों का ऐसा सोचना बिलकुल गलत है। किसी भी चीज की अधिकता सेहत और मन के लिए नुकसानदायक होती है। (और पढ़ें - लंबे समय तक सेक्स करने के उपाय)

सेक्स आपको आराम पहुंचाता है, इस दौरान आपको ज्यादा देर तक सेक्स करने पर ध्यान न देकर, इसका आनंद लेने पर अधिक जोर देना चाहिए। अधिक उम्र के साथ ही सेक्स की आदतों में बदलाव आता है। फिलहाल, किसी के भी शादीशुदा रिश्ते में सेक्स की कोई निश्चित संख्या तय नहीं की जा सकती है। यह साथी की इच्छाओं और अन्य कई कारकों पर निर्भर करता है। हफ्ते, महीने या साल में आपको कितनी बार सेक्स करना है यह आप और आपके साथी के सामंजस्य पर निर्भर करता है। इस विषय पर आपको अपनी और अपने साथी की खुशी का ध्यान रखना होता है। 

(और पढ़ें - सेक्स को मजेदार कैसे बनाएं)

Dr. Pranay Gandhi

Dr. Pranay Gandhi

सेक्सोलोजी

Dr. Tarun

Dr. Tarun

सेक्सोलोजी

Dr. Ghanshyam Digrawal

Dr. Ghanshyam Digrawal

सेक्सोलोजी

और पढ़ें ...