myUpchar सुरक्षा+ के साथ पुरे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत
  1. वॉल्व रिप्लेसमेंट क्या है?
  2. वॉल्व रिप्लेसमेंट की ज़रुरत कब होती है?
  3. वॉल्व रिप्लेसमेंट के लिए तैयारी
  4. वॉल्व रिप्लेसमेंट कैसे की जाती है?
  5. वॉल्व रिप्लेसमेंट के बाद देखभाल
  6. वॉल्व रिप्लेसमेंट के बाद संभव जटिलताएं और जोखिम
  7. वॉल्व रिप्लेसमेंट के बाद ठीक होने में कितना समय लगता है?

वॉल्व रिप्लेसमेंट क्या है? - What is Valve Replacement in Hindi?

वॉल्वुयूलर हृदय रोग (Valvular heart disease) तब होता है जब हृदय की चार वॉल्व्स में से एक या उससे अधिक वॉल्व ठीक से काम नहीं करती। यदि आपके दिल की वॉल्व बहुत नाजुक हो या क्षतिग्रस्त हो तो वॉल्व प्रतिस्थापन सर्जरी (Valve replacement surgery) एक विकल्प हो सकता है।

वॉल्व रिप्लेसमेंट की ज़रुरत कब होती है? - When is Valve Replacement required in Hindi?

वॉल्व की मरम्मत या प्रतिस्थापन सर्जरी का उपयोग एक या अधिक रोगग्रस्त हृदय वॉल्व की समस्याओं को ठीक करने के लिए किया जाता है।
यदि आपकी एक या एक से अधिक वॉल्व खराब हो जाती है या किसी बीमारी से ग्रस्त हो जाती है, तो इसके निम्नलिखित लक्षण हो सकते हैं:

  • चक्कर आना
  • छाती में दर्द
  • साँस लेने में कठिनाई
  • घबराहट 
  • पैरों, टखनों, या पेट की सूजन
  • द्रव प्रतिधारण के कारण वजन में तीव्र वृद्धि

वॉल्व रिप्लेसमेंट के लिए तैयारी - Preparing for Valve Replacement in Hindi

सर्जरी की तैयारी के लिए आपको निम्न कुछ बातों का ध्यान रखना होगा और जैसा आपका डॉक्टर कहे उन सभी सलाहों का पालन करना होगा: 

  1. सर्जरी से पहले किये जाने वाले टेस्ट्स/ जांच (Tests Before Surgery)
  2. सर्जरी से पहले एनेस्थीसिया की जांच (Anesthesia Testing Before Surgery)
  3. सर्जरी की योजना (Surgery Planning)
  4. सर्जरी से पहले निर्धारित की गयी दवाइयाँ (Medication Before Surgery)
  5. सर्जरी से पहले फास्टिंग/ खाली पेट रहना (Fasting Before Surgery)
  6. सर्जरी का दिन (Day Of Surgery)
  7. सामान्य सलाह (General Advice Before Surgery)
  8. ध्यान देने योग्य अन्य बातें:
  • ​अगर आप किसी भी दवा, आयोडीन, लेटेक्स, टेप या एनेस्थेसिया (लोकल और जनरल) से एलर्जिक हो तो अपने चिकित्सक को बताएं।
  • यदि आप पेसमेकर का इस्तेमाल कर रहे हैं तो अपने चिकित्सक को सूचित करें।
  • आपकी चिकित्सा स्थिति के आधार पर, आपका चिकित्सक आपको किसी अन्य विशिष्ट तैयारी की सलाह दे सकता है।

इन सभी के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए इस लिंक पर जाएँ - सर्जरी से पहले की तैयारी

वॉल्व रिप्लेसमेंट कैसे की जाती है? - How is Valve Replacement done?

हार्ट वॉल्व प्रतिस्थापन सर्जरी (Heart valve replacement surgery) को जनरल एनेस्थेसिया के तहत पारंपरिक या कम चीरकर की जाने वाली तकनीक के साथ किया जाता है। पारंपरिक सर्जरी में आपकी गर्दन से आपकी नाभि तक एक बड़ा चीरा लगाया जाता है। यदि आपका चिकित्सक कम चीरकर की जाने वाली तकनीक का इस्तेमाल करता है तो आपके चीरे की लंबाई कम हो सकती है और संक्रमण का जोखिम भी कम हो सकता है ।

एक रोगग्रस्त वॉल्व को सफलतापूर्वक निकालने के लिए और इसकी जगह नयी वॉल्व लगाने के लिए अनिवार्य है की, आपका दिल स्थिर हो। सर्जरी के दौरान आपको बायपास मशीन पर रखा जाएगा जो आपके शरीर में रक्त संचालन और आपके फेफड़ों की कार्यप्रणाली को बनाए रखने में सहायता करेगा। आपका सर्जन आपके महाधमनी (aorta) में चीरे बनायेगा, जिसके माध्यम से वॉल्व निकाले जाएंगे और उन्हें बदला जाएगा। वॉल्व प्रतिस्थापन सर्जरी के के बाद 98 प्रतिशत मरीज़ जीवित रहते हैं।

वॉल्व रिप्लेसमेंट के बाद देखभाल - What to do after Valve Replacement?

अधिकांश हृदय वॉल्व प्रतिस्थापन प्राप्तकर्ता (heart valve replacement recipients) लगभग पांच से सात दिनों के लिए अस्पताल में रहते हैं। यदि आपकी सर्जरी कम चीरे वाली थी, तो शायद आप पहले घर जा सकते हैं। वॉल्व प्रतिस्थापन के बाद पहले कुछ दिनों के दौरान मेडिकल स्टाफ आपको आपकी ज़रूरत के मुताबिक दर्द की दवा देंगे और आपके रक्तचाप, श्वास, और हृदय कार्यप्रणाली की निरंतर निगरानी करेंगे।

आपका पूर्ण स्वस्थ होना आपके स्वास्थ्य दर और सर्जरी के प्रकार पर निर्भर करता है। सर्जरी के तुरंत बाद संक्रमण होने का खतरा रहता है, इसलिए अपने चीरों को विसंक्रमित रखना अत्यंत महत्वपूर्ण है। यदि आपको निम्नलिखित में से कोई लक्षण नज़र आते हैं जो संक्रमण का संकेत देते हैं, तो अपने चिकित्सक से संपर्क करें :

  • बुखार
  • ठंड लगना
  • चीरा साइट पर दर्द या सूजन
  • चीरा साइट से स्त्राव निकलना

फॉलो-अप अपॉइंटमेंट्स महत्वपूर्ण हैं। उनसे आपके डॉक्टर को यह निर्धारित करने में मदद मिलेगी कि आप अपनी रोज़मर्रा की गतिविधियों को फिर से शुरू करने के लिए तैयार हैं या नहीं।

वॉल्व रिप्लेसमेंट के बाद संभव जटिलताएं और जोखिम - Risks and Complications of Valve Replacement in Hindi

हृदय वॉल्व प्रतिस्थापन सर्जरी से जुड़े संभावित जोखिम निम्नलिखित हैं:

  • सर्जरी के दौरान या बाद में रक्त स्राव
  • रक्त के थक्के जो दिल के दौरे, स्ट्रोक, या फेफड़े की समस्याएं पैदा कर सकते हैं
  • संक्रमण
  • निमोनिया (और पढ़ें – निमोनिया का घरेलू उपचार)
  • साँस सम्बन्धी परेशानी
  • अतालता (असामान्य हृदय दर)

आपकी किसी विशिष्ट चिकित्सा स्थिति के आधार पर अन्य प्रकार के जोखिम हो सकते हैं प्रक्रिया से पहले अपने चिकित्सक से सब बातें कर लें।

वॉल्व रिप्लेसमेंट के बाद ठीक होने में कितना समय लगता है? - What is the recovery time for Valve Replacement?

आपको पूर्ण रूप से स्वस्थ होने में कुछ सप्ताह या कुछ महीनों तक का समय लग सकता है।

और पढ़ें ...