• हिं
  • हिं

जब से हम पैदा हुए हैं हमारा मस्तिष्क लगातार काम कर रहा है। आपका शरीर सोते समय आराम कर भी लेता है लेकिन मस्तिष्क कभी आराम नहीं करता वो उस समय भी सोचता है, जिस कारण आप सपने देख पाते हैं। मस्तिष्क बहुत सारे काम जैसे सोचना, संख्याओं को याद रखना, लिखने के लिए शब्द देना आदि करता है। बहुत से काम करने के लिए मस्तिष्क का स्थिर होना बहुत ज़रूरी है। आजकल की भागदौड़ भरी ज़िंदगी में कम समय में अधिक काम करने के लिए दिमाग का सही समय पर सही प्रतिक्रिया देना आवश्यक है। तो आइये जानते हैं कुछ तरीके जो आपके मस्तिष्क की शक्ति बढ़ाने में आपकी मदद करेंगे।

  1. दिमाग तेज करने के घरेलू उपाय - Home Remedies to boost Brain Power in Hindi
  2. दिमाग तेज करने के लिए क्या खाना चाहिए - What to Eat to boost Brain Power in Hindi

झपकी लेने से होता है बुद्धि का विकास - Napping boosts brain power in Hindi

एक जर्मन रिसर्च के अनुसार, जो लोग थोड़ी देर के लिए झपकी लेते रहते हैं उनकी स्मरण शक्ति अन्य लोगों की तुलना में 25 प्रतिशत अधिक होती है। अल्पावधि वाली स्मरण शक्ति मस्तिष्क के 'हिप्पोकैम्पस' वाले क्षेत्र में मौजूद होती है। झपकी लेने की आदत इस स्मरण शक्ति को किसी तरह नियोकॉर्टेक्स (मस्तिष्क का वो भाग जिसमें देखने और सुनने की शक्ति मौजूद रहती है) में स्थानांतरित कर देता है जहां ये अधिक समय के लिए सुरक्षित रहते हैं।

दिमाग़ तेज़ करने के लिए तनाव से दूर रहें - Keep away from stress to enhance brain power in Hindi

कभी कभी आप छोटी छोटी चीज़ें भूल जाते हैं जैसे चाभी कहाँ रखी थी या सुबह नाश्ता किया या नहीं आदि। ये अल्पावधि के लिए चीज़ें भूलने का कारण तनाव हो सकता है। आपके आस पास दिन में लाखों चीज़ें होती हैं और सबको याद रखना मुमकिन नहीं है लेकिन जब ज़रूरी चीज़ों को याद रखना मुश्किल हो जाता है तो मस्तिष्क को उस समय एक चीज़ से दूसरी चीज़ में अदला बदली करने में परेशानी होती है। ऐसा तनाव के कारण होता है। इसलिए जितना हो सके ध्यान करके, मधुर संगीत सुनकर और अपने आपको व्यस्त रखकर तनाव से दूर रहें।

पानी पीने से बढ़ता है दिमाग का प्रतिक्रिया समय - Drinking water boosts your brain's reaction time in Hindi

पानी पीने से मस्तिष्क अधिक तेज़ी से प्रतिक्रिया करता है। प्यासे लोगों की तुलना में, पानी से तृप्त लोगों में 14 प्रतिशत अधिक तेज़ी से प्रतिक्रिया होती है। ऐसा कहा जाता है कि अगर आप किसी ज़रूरी काम से जा रहे हैं या किसी परीक्षा में बैठे हैं तो पहले पानी पी लीजिये क्योंकि इससे आप चीज़ें भूलते नहीं। जर्नल ऑफ पोषण रिसर्च के अनुसार, थोड़ा निर्जलीकरण (dehydration) होने पर शरीर आपके मस्तिष्क से पानी की कमी पूरी करता है। आपके मस्तिष्क के जीवित रहने के लिए भी पानी बहुत ज़रूरी है। शरीर में पानी की मात्रा आपके मूत्र से पता की जा सकती है। अगर आप काफी घंटों से मूत्र त्यागने नहीं गए हैं या आपके मूत्र का रंग अत्यधिक पीला है तो आपको पानी पीने की ज़रूरत है। 

(और पढ़ें - खाली पेट पानी पीने के 9 बड़े फायदे)

स्मरण शक्ति बढ़ाने के लिए खाएं विटामिन - Vitamins increase memory power in Hindi

चाहे आप अल्जाइमर रोग से पीड़ित हों या आपके पास स्मृति से जुड़ी समस्याएं हो, कुछ विटामिन और फैटी एसिड आपकी इस समस्या के समाधान के लिए बने हैं। विटामिन बी-12, और ओमेगा-3 फैटी एसिड इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

हरी सब्ज़ियां, अंडे, मीट और मछली में विटामिन-बी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। ऑक्सफ़ोर्ड अध्ययन के अनुसार, मछली खाने से होमोसिस्टीन एमिनो एसिड से क्रिया होती है जिसके फलस्वरूप उम्र के साथ मस्तिष्क के विकास में आने वाली रुकावट कम हो जाती है।

बादाम (कई नट्स और बीज) विटामिन ई से भरपूर होते हैं जो याददाश्त कमज़ोर होने से बचाता है। ब्लू बैरीज़ (Blueberries) में फ्लेवोनोइड पाया जाता है जो आपकी स्थान सम्बन्धी स्मृति को सुरक्षित रखती हैं। चॉकलेट में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट भी याददाश्त बढ़ाने में मदद करते हैं। मनोभ्रम (dementia) की सम्भावना कम होती है। इसलिए आज से ही अपने आहार में विटामिन युक्त चीज़ें शामिल कीजिये।

याददाश्त तेज करने के लिए करें जॉगिंग - Jogging boosts brain power in Hindi

एक अध्ययन के मुताबिक, जॉगिंग से रक्त प्रवाह बढ़ता है जिससे आपके मस्तिष्क की ऑक्सीजन और पोषक तत्व अच्छी तरह से मिलते हैं जो किसी भी कार्य को तेज़ी से करने के लिए आवश्यक होते हैं। इस अध्ययन में पाया गया कि अधिकतर लोग जॉगिंग शुरु करने के कुछ दिन बाद अधिक फुर्ती से काम करने लगे थे। नियमित रूप से कोई भी शारीरिक गतिविधि आपकी याददाश्त बढ़ाने में मदद करती है। 

(और पढ़ें - दौड़ना या जॉगिंग करना कैसे शुरू करें)

 

टेट्रिस (ब्लॉक जोड़ना) है याददाश्त बढ़ाने का अचूक मंत्र - Tetris increase brain efficiency in Hindi

कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय के एक शोध के अनुसार, कुछ देर ब्लॉक जोड़ने वाला खेल (Tetris) खेलने से मस्तिष्क में पाए जाने वाले ग्रे द्रव्य (gray matter) में बढ़ोतरी होती है। जिससे चीज़ों को अधिक समय तक याद रखने में आसानी होती है। मस्तिष्क के अधिकतर न्यूरॉन्स इसी ग्रे द्रव्य में पाए जाते हैं। न्यूरॉन्स, मांसपेशियों की तरह होते हैं जिन्हें वजन के साथ मज़बूत किया जा सकता है। टेट्रिस खेल की मदद से आप अपने मस्तिष्क की इन मांसपेशियों को मज़बूत बना सकते हैं जो स्मरण शक्ति के विकास में सहायक है।

स्मरण शक्ति बढ़ाने के लिए पियें ग्रीन टी - Green tea for brain power in Hindi

थियेनाइन (Theanine) एक ऐमिनो अम्ल है जो ग्रीन टी की पत्तियों में पाया जाता है। यह अम्ल तनाव बढ़ाने वाले कारकों को निष्क्रिय करता है। एक जापानी रिसर्च के अनुसार, यह चिंता को कम करने और ध्यान केंद्रित करने में सहायक है। ग्रीन टी के फायदे अनेक हैं, उनमें से एक है थकान को दूर करना क्योंकि इसमें कैफीन होता है जो आपको दिनभर चुस्त और फुर्तीला बनाये रखने में मदद करता है।

(और पढ़ें - थकान दूर करने और ताकत के लिए क्या खाएं)

दिमाग़ तेज़ करने के लिए करें ताकत वाले व्यायाम - Strengthening exercises improve memory in Hindi

व्यायाम सेहत के लिए हर प्रकार से लाभदायक है। 20 मिनट बिना किसी रूकावट के ताकत बढ़ाने वाले व्यायाम करने से आपके मस्तिष्क की मांसपेशियां भी मज़बूत होती हैं जिससे दिमाग तेज़ चलता है। व्यायाम से आपके मस्तिष्क की ऑक्सीजन की आवश्यकता पूरी होती है जिससे उन रोगों के होने की सम्भावना भी कम होती है जिनसे स्मरण शक्ति कम होती है जैसे शुगर (मधुमेह) और हृदय रोग आदि। ताकत वाले व्यायाम मस्तिष्क रसायनों के प्रभाव को बढ़ाते हैं और तनाव दूर करते हैं। कसरत का सबसे महत्वपूर्ण फायदा यह है कि यह नए न्यूरॉनल कनेक्शनों को उत्तेजित करके नए न्यूरॉन्स की बनावट को बढ़ावा देते हैं। निष्क्रिय लोगों की तुलना में जो लोग व्यायाम करते हैं उनमें मस्तिष्क की गति बढ़ाने वाले प्रोटीन (BDNF protein) 32 प्रतिशत अधिक पाया जाता है जो निर्णय लेने, उच्च सोच और सीखने में मदद करते हैं।

बाएं हाथ से काम करने से होता है बुद्धि का विकास - Using non dominant hand increases intelligence in Hindi

बायें हाथ का प्रयोग आपके मस्तिष्क के तंत्रिका तंत्र को मज़बूत करता है और नए न्यूरॉन्स भी बनाता है। जिस प्रकार व्यायाम करने से शरीर में मज़बूती और स्फूर्ति आती है ठीक उसी प्रकार हमारा मस्तिष्क भी बायें हाथ के प्रयोग से अधिक ऊर्जावान बनता है। कुछ अधययनों में यह सामने आया है कि जब आप अधिक उपयोग होने वाले हाथ से काम करते हैं तो मस्तिष्क का एक ही गोलार्ध (hemisphere) काम करता है। लेकिन जब आप कम उपयोग होने वाले हाथ से काम करते हैं तो मस्तिष्क के दोनों गोलार्ध कार्यशील होते हैं क्योंकि आपके मस्तिष्क का बायां गोलार्ध दाएं हाथ से और दायां गोलार्ध बायें हाथ से जुड़ा होता है।

दिमाग़ बढ़ाने के लिए करें ध्यान - Meditation increases brain power in Hindi

मस्तिष्क एक जटिल संरचना है। लोगों को लगता है कि मस्तिष्क को हम प्रभावित नहीं कर सकते। लेकिन एक शोध में मस्तिष्क की पैतृक बनावट (inherent plasticity) के बारे में दिखाया गया है जिसमें हमारा मस्तिष्क न्यूरॉन्स (एक कोशिका जो मस्तिष्क को सन्देश भेजती है) बना सकते हैं।

ध्यान हर प्रकार से आपकी दिमागी शक्ति बढ़ाता है। यह तनाव कम करने में मदद करता है, आपकी स्मरण शक्ति और ध्यान केंद्रित करने की क्षमता को भी बढ़ता है। मानव इंसुलिन साइंस में फ्रंटियर जर्नल के एक अध्ययन के अनुसार, कसरत या व्यायाम करते समय भी मस्तिष्क कार्य करता है जिससे आप दर्द और भावनाओं को सहने के लिए सक्षम बनते हैं।
 

आपके दिमाग का लगातार काम करना और अच्छी हालत में रहना आपके आहार, रक्त शर्करा और ऑक्सीजन से आवश्यक पोषक तत्वों की आपूर्ति पर निर्भर करता है।
ऐसे कई आहार हैं जो आप अपने दैनिक आहार में शामिल कर सकते हैं और अपनी मानसिक शक्ति को बढ़ा सकते हैं।

दिमाग की शक्ति बढ़ाने का उपाय है तिल और गुड़ - Sesame and jaggery for brain health in hindi

बीस ग्राम तिल में थोड़ा गुड़ मिलाकर खाने से दिमागी शक्ति बढ़ती है। (और पढ़ें – तिल के तेल का उपयोग)

दिमाग की कमजोरी का इलाज है अलसी के बीज - Flax seeds for brain health in hindi

अलसी के बीज में प्रोटीन और फाइबर होता है इसलिए यह भी दिमाग के लिए फायदेमंद है। इन्हें नियमित रूप से खाएं और तेज़ दिमाग पाएं।

दिमाग तेज करने का घरेलु उपाय है अखरोट और किशमिश - Walnuts and raisins for brain power in hindi

बीस गर्म अखरोट के साथ दस ग्राम किशमिश खाने से दिमागी शक्ति तेज़ होती है और स्मरण शक्ति बढ़ती है।

(और पढ़ें – अखरोट के गुण)

दिमाग तेज करें ब्राह्मी से - Brahmi benefits for brain in hindi

ब्राह्मी दिमागी शक्ति के बहुत ही प्रसिद्ध जड़ीबूटी है। एक चम्मच ब्राह्मी का रस रोज़ लेने से या द्दह से सात ब्राह्मी के पत्ते रोज़ चबाने से दिमाग और तेज़ होता है।

दिमाग तेज करने का सबसे आसान उपाय है दालचीनी और शहद - Cinnamon and honey for brain in hindi

पाँच से आठ ग्राम दालचीनी पाउडर शहद में मिलाकर रोज़ लेने से दिमाग की कमज़ोरी दूर होती है और दिमाग तेज़ होता है।

(और पढ़ें – शहद के फायदे)


इन घरेलू उपायों को अपनाएं, दिमाग़ को तेज़ बनाएं सम्बंधित चित्र

संदर्भ

  1. Wei Zuo et al. Advances in the Studies of Ginkgo Biloba Leaves Extract on Aging-Related Diseases . Aging Dis. 2017 Dec; 8(6): 812–826. PMID: 29344418
  2. M. Nash, Zahoor A. Shah et al. Current Perspectives on the Beneficial Role of Ginkgo biloba in Neurological and Cerebrovascular Disorders Kevin Integr Med Insights. 2015; 10: 1–9. PMID: 26604665
  3. Zong-mao Chen, Zhi Lin. Tea and human health: biomedical functions of tea active components and current issues* . J Zhejiang Univ Sci B. 2015 Feb; 16(2): 87–102. PMID: 25644464
  4. Ji Hee Jeong et al. An investigation into the ameliorating effect of black soybean extract on learning and memory impairment with assessment of neuroprotective effects . BMC Complement Altern Med. 2014; 14: 482. PMID: 25496367
  5. Cristina Angeloni et al. Bioactivity of Olive Oil Phenols in Neuroprotection . Int J Mol Sci. 2017 Nov; 18(11): 2230. PMID: 29068387
  6. Ching-I Lin et al. A High-Fructose-High-Coconut Oil Diet Induces Dysregulating Expressions of Hippocampal Leptin and Stearoyl-CoA Desaturase, and Spatial Memory Deficits in Rats . Nutrients. 2017 Jun; 9(6): 619. PMID: 28621759
  7. Subash Selvaraju, et al. Neuroprotective effects of berry fruits on neurodegenerative diseases. Neural regen res. 2014 Aug 15; 9(16): 1557–1566. PMID: 25317174.
  8. Theodore LE, et al. Nut Consumption for Cognitive Performance: A Systematic Review. Adv Nutr. 2021 Jun 1;12(3): 777-792. PMID: 33330927.
  9. Kent Shia T, et al. Effect of sunlight exposure on cognitive function among depressed and non-depressed participants: a REGARDS cross-sectional study. Environ health. 2009; 8: 34. PMID: 19638195.
ऐप पर पढ़ें