• हिं
  • हिं

लौंग सिर्फ एक रसोईघर में इस्तेमाल होने वाला मसाला नहीं है, बल्कि औषधीय गुणों से भरपूर यह कई दवाओं के लिए भी इस्तेमाल होतो है. लौंग का सेवन कई तरह से किया जाता है, उनमें से एक तरीका है लौंग की चाय. आज इस लेख में हम आपको बताएंगे की लौंग की चाय को कैसे बनाया जाता है और इसको पीने के क्या फायदे होते है.

(और पढ़ें - चाय पीने के फायदे)

  1. लौंग की चाय बनाने की सामग्री और तरीका - Clove tea recipe and ingredients in Hindi
  2. लौंग की चाय को पीने के फायदे - Benefits of clove tea in Hindi
लौंग की चाय के फायदे, कैसे बनाएं के डॉक्टर

लौंग की चाय को बनाने के भी कई तरीके हैं. कुछ लोग दूध की चाय में लौंग डालकर पीना पसंद करते है, वहीं कुछ लोग हर्बल टी में लौंग डालना पसंद करते है, जो लौंग के साथ कई अन्य औषधीय गुणों से भरपूर मसाले से बनाई जाती है. हम यहां लौंग की चाय शहद के साथ बनाना बताएंगे.

लौंग की चाय बनाने की सामग्री

  • लौंग 4 या 5
  • एक गिलास पानी
  • शहद

लौंग की चाय​ बनाने की विधि / रेसिपी / तरीका

  • सबसे पहले लौंग को पीसकर पाउडर बना लें. 
  • एक पैन में एक गिलास पानी डालें और साथ ही लौंग का पाउडर भी डाल दे.
  • पानी में उबाल आने तक रूकें. 
  • लगभग 3 से 5 मिनट बाद गैस को बंद कर दें और चाय को छान लें.
  • चाय का स्वाद अच्छा करने के लिए शहद का उपयोग अपनी इच्छानुसार कर सकते है.

(और पढ़ें - ग्रीन टी के फायदे)

लौंग की चाय शरीर के लिए बहुत ही सेहतमंद है और लौंग की चाय के कई फायदे है

इम्यूनिटी बूस्टर

लौंग में एंटी ऑक्सीडेंट्स होते हैं, जो शरीर को फ्री रेडिकल्स से होने वाले नुकसान से लड़ने में मदद करते हैं और इम्यून सिस्टम को बूस्ट करते हैं.

(और पढ़ें - इम्यून बढ़ाने के उपाय)

पाचन क्रिया आसान

दोपहर या फिर रात को खाना खाने से एक घंटे पहले एक कप लौंग की चाय पीने से ब्लड सर्कुलेशन और सलाइवा का बनना बढ़ जाता है, जिससे खाना आसानी से पच जाता है. यह हेल्दी चाय अपच या पेट फूलने के कारण होने वाली एसिडिटी और पेट दर्द में भी राहत देती है.

वजन कम करने में सहायक

इस मसालेदार और हेल्दी चाय में मौजूद यौगिक गुण पाचन प्रक्रिया को बेहतर बनाते है और स्वस्थ पाचन मेटाबॉलिज्म को भी बढ़ाता है, जिससे वजन जल्दी से कम हो सकता है.

(और पढ़ें - वजन बढ़ाने के उपाय)

दांतों के दर्द में आराम

लौंग में एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटी बैक्टीरियल तत्व मौजूद होते हैं, जो मसूड़ों की सूजन, सांसों की बदबू और दांतों के दर्द से छुटकारा दिलाने में सहायक होते है. इसलिए यदि आपको ऐसी कोई भी परेशानी है, तो लौंग की चाय का इस्तेमाल करें. यह चाय सभी मौखिक समस्याओं से छुटकारा दिलाने में सहायक होती है.

(और पढ़ें - दांतों के दर्द का इलाज)

साइनसाइटिस से राहत

सीने में जमाव या साइनस से पीड़ित लोगों के लिए भी लौंग की चाय का सेवन करना लाभकारी हो सकता है क्योंकि लौंग में यूजेनॉल (eugenol) नाम का एक एलिमेंट पाया जाता है, जो कफ को साफ करने में मदद करता है और शरीर को गर्म रखता है. जिससे साइनस से पीड़ित व्यक्तियों को आराम मिलता है.

सर्दी के लक्षणों में असरदार

लौंग की चाय पीने से जकड़न, सर्दी, बुखार, कफ, और सभी संक्रमणों से छुटकारा पाया जा सकता है. साथ ही यह आपके शरीर के तापमान को भी कम करने में मदद करता है.

(और पढ़ें - सर्दी जुकाम की आयुर्वेदिक दवा)

त्वचा संबंधी समस्याओं में राहत

लौंग की चाय में एंटीसेप्टिक गुण पाया जाता है, जो शरीर से हानिकारक विषाक्त पदार्थों को साफ करने में मदद करती है जिससे त्वचा की विभिन्न समस्याएं हो सकती हैं. लौंग की चाय पीने से आपके घाव, त्वचा की समस्याएं और फंगल संक्रमण ठीक हो जाते हैं. यह ऑक्सीडेटिव तनाव को भी कम करता है. माना जाता है कि लौंग की ठंडी चाय पीने से पुराने गठिया में भी राहत मिलती है. 

स्ट्रेस कम होता है

एक शोध के मुताबिक लौंग की चाय पीने से स्ट्रेस को कम करने में मदद मिलती है. जब आप लौंग की चाय पीते हैं, तो आपको खुशी महसूस होने लगती है क्योंकि यह आपके शरीर को फील-गुड हार्मोन रिलीज करता है

(और पढ़ें - स्ट्रेस का इलाज)

Dr. Praveen Chandra Semwal

Dr. Praveen Chandra Semwal

आयुर्वेद
7 वर्षों का अनुभव

Dr Gurmeet Kaur

Dr Gurmeet Kaur

आयुर्वेद
5 वर्षों का अनुभव

Dr. Nayan Jyoti Sarma

Dr. Nayan Jyoti Sarma

आयुर्वेद
1 वर्षों का अनुभव

Dr. Pooja Choudhary

Dr. Pooja Choudhary

आयुर्वेद
3 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें