बालों का झड़ना बहुत ही आम समस्या है. बाल झड़ने के आमतौर पर कई कारण होते है, जैसे मौसम में बदलाव, बालों का अधिक पतला होना, खराब डाइट, गतिहीन जीवनशैली और अत्यधिक तनाव. ऐसे बाल झड़ने के बहुत से कारण हैं. लेकिन आज इस लेख में हम आपको उन मुख्य कमियों के बारे में बताएंगे जिसकी वजह से बाल झड़ते है.

(और पढ़ें - बाल झड़ने का कारण)

  1. बाल किस विटामिन की कमी से झड़ते हैं? - Deficiency of which vitamin leads to hair loss in Hindi?
  2. बाल किस मिनरल की कमी से झड़ते हैं? - Deficiency of which minerals leads to hair loss in Hindi?
  3. बाल किस हार्मोन की कमी से झड़ते हैं? - Lack of which hormone to hair loss in Hindi?
  4. बाल किस अन्य चीज की कमी से झड़ते हैं - Deficiency of what else leads to hair loss in Hindi
बाल किस कमी से झड़ते हैं? के डॉक्टर

शरीर में विटामिन की कमी के कारण बाल झड़ने की समस्या हो सकती है. आइये जानते हैं ये कौन से विटामिन हैं -

  • विटामिन ई - विटामिन ई में एंटी-ऑक्सिडेंट गुण पाया जाता है, जो ऑक्सीडेटिव तनाव से लड़ता हैं और बालों के रोम कोशिकाओं को होने वाले नुकसान से बचाता है.
  • विटामिन ए - विटामिन ए हेयर फॉलिकल स्टेम कोशिका (Follicle Stem Cells) को एक्टिव करता है. यह सीबम (Sebum) तैलीय पदार्थ को बनाने में मददगार होता है. सीबम स्काल्प को मॉइस्चराइज करने के साथ बालों को भी स्वस्थ रखता है.
  • विटामिन बी9 - फोलिक एसिड बालों में कोशिका की वृद्धि करता है. साथ ही लाल रक्त कोशिकाओं को भी स्वस्थ रखने में मदद करता है.
  • विटामिन बी7 - बायोटिन या विटामिन बी7 बालों में केराटिन स्ट्रक्चर (Keratin Structure) को बढ़ाता है. साथ ही बालों को बढ़ने के लिए भी मदद करता है.
  • विटामिन डी - विटामिन डी की कमी हो जाने से स्काल्प और शरीर के अन्य हिस्से पर गंजे पैच होने लगते है. विटामिन डी कोशिका की वृद्धि करने के लिए जाना जाता है. ऐसा न होने पर बाल पतले और झड़ने लगते है. यह नए और पुराने बालों के रोम को उभारता है. विटामिन डी को एलोपेसिया एरीटा (Alopecia Areata) से जोड़ा गया है. 
  • विटामिन बी3 - नियासिन या विटामिन बी3 ना सिर्फ रक्त परिसंचरण में सुधार करता है, बल्कि बालों के रोम में ऑक्सीजन और पोषक तत्व भी पहुंचाने में मदद करता है. इसीलिए यह स्वस्थ बालों के विकास के लिए महत्वपूर्ण है. दरअसल, खराब रक्त परिसंचरण बालों के झड़ने और पतले होने का प्रमुख कारक है. नियासिन तेजी से स्काल्प में रक्त परिसंचरण में सुधार कर घने बालों के विकास में सहायता करता है.

(और पढ़ें - बाल झड़ने से रोकने के घरेलू उपाय)

शरीर में मिनरल्स की कमी के कारण बाल झड़ने की समस्या हो सकती है. आइये जानते हैं ये कौन से मिनल्स हैं -

  • आयरन - बालों के झड़ने का एक बहुत ही बड़ा और प्रमुख कारण आयरन की कमी होना है. आयरन हीमोग्लोबिन को भी बढ़ाता है. आयरन लाल रक्त कोशिकाओं को पूरे शरीर में ऑक्सीजन पहुंचाने में मदद करता है, जिससे बालों को जरूरी पोषक तत्व और ऑक्सीजन मिल पाती है. आयरन की कमी हो जाने से लाल रक्त कोशिकाएं पूरे शरीर में पूरी मात्रा में ऑक्सीजन नहीं पहुंचा पाती, जिसके परिणामस्वरूप बालों पर इसके नकारात्मक प्रभाव देखने को मिलते है.
  • जिंक - बालों के लिए जिंक बहुत ही जरूरी पोषक तत्व है. जिंक की कमी होने से बालों के रोम को प्रोटीन ठीक से नहीं मिल पाता है, जिससे बाल कमजोर हो जाते है और तेजी से झड़ने भी लगते है. जिंक की कमी के कारण ही टेलोजन एफलुवियम (Telogen Effluvium) और बालों का टूटने की समस्या शुरू हो जाती है. सबसे ज्यादा जिंक की कमी प्रेगनेंट महिलाओं, पाचन संबंधित समस्या वाले लोगों और शाकाहारियों में होने का खतरा रहता है.
  • फैटी एसिड - फैटी एसिड में ओमेगा-3 और ओमेगा-6 सूजन को कम कर बालों को बढ़ाने में मददगार होते है. इनकी कमी हो जाने से स्काल्प और आइब्रो के बाल झड़ सकते है. साथ ही बालों का रंग भी हल्का हो सकता है.
  • सेलेनियम - सेलेनियम के अंदर एंटीऑक्सीडेंट्स गुण पाया जाता है, जो बालों को स्वस्थ रूप से बढ़ाने के लिए हार्मोनल संतुलन को बनाए रखता है.

(और पढ़ें - बाल झड़ने की होम्योपैथिक दवा)

कई वर्षों तक वैज्ञानिकों का मानना था कि एलोपेशिया पुरुष सेक्स हार्मोन टेस्टोस्टेरोन के कारण होता है, जो सामान्य परिस्थितियों में महिलाओं में भी कम मात्रा में होता है। अब डायहाइड्रोटेस्टोस्टेरोन (डीएचटी; DHT) को मुख्य कारण माना जाता है।

पुरुष हार्मोन टेस्टोस्टेरोन से बना डीएचटी आपके सिर पर बालों के रोम (हेयर फॉलिकल) का दुश्मन है। सीधे शब्दों में कहें, कुछ हालात में डीएचटी की वजह से हेयर फॉलिकल मर जाते हैं। यह बालों के झड़ने की जड़ है।

यह प्रक्रिया पुरुषों और महिलाओं दोनों में होती है। सामान्य परिस्थितियों में, महिलाओं में पुरुषों के मुकाबले टेस्टोस्टेरोन के स्तर का एक छोटा सा अंश होता है, लेकिन इतना कम स्तर भी महिलाओं में डीएचटी की वजह से बालों के झड़ने का कारण बन सकता है।

(और पढ़ें - बालों को झड़ने से रोकने के लिए तेल)

कई और भी पोषक तत्व हैं जिनकी कमी के कारण बाल झड़ सकते हैं. पोषक तत्वों की कमी आनुवंशिक विकारों, मेडिकल स्थितियों या अच्छी तरह से डाइट ना लेने के कारण हो सकती है. यदि आपके बाल बहुत झड़ रहे हैं या फिर आपको पोषक तत्वों की कमी है तो आपको डॉक्टर से सलाह लेकर तुरंत पोषक तत्वों की कमी को दूर करना चाहिए और बालों का सही ट्रीटमेंट लेना चाहिए.

(और पढ़ें - गंजेपन का इलाज)

Dr. Rohan Das

Dr. Rohan Das

ट्राइकोलॉजी
3 वर्षों का अनुभव

Dr. Nadim

Dr. Nadim

ट्राइकोलॉजी
5 वर्षों का अनुभव

Dr. Sanjeev Yadav

Dr. Sanjeev Yadav

ट्राइकोलॉजी
7 वर्षों का अनुभव

Dr. Swadesh Soni

Dr. Swadesh Soni

ट्राइकोलॉजी
10 वर्षों का अनुभव

और पढ़ें ...
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ