चुकंदर शरीर के लिए लाभदायक होता है. इसे सुपर फूड भी कहा जाता है. यह शरीर में आयरन लेवल बढ़ाने के साथ-साथ दिल के लिए भी फायदेमंद होता हैं. चुकंदर को फाइबर, पोटेशियम, आयरन व फोलेट जैसे पोषक तत्वों का खजाना माना जाता है. जहां, डायबिटीज के रोगियों को कई खाद्य पदार्थों के सेवन से दूरी बनाने के लिए कहा जाता है, वहीं चुकंदर खाना डायबिटिक लोगों के लिए सुरक्षित होता है.

आज लेख में आप डायबिटीज में चुकंदर खाने से होने वाले फायदे के बारे में जानेंगे -

(और पढ़ें - डायबिटीज के लिए व्यायाम)

  1. चुकंदर में पोषक तत्व
  2. क्या डायबिटीज में चुकंदर खा सकते हैं?
  3. सारांश
डायबिटीज के लिए चुकंदर के डॉक्टर

चुकंदर पोषक तत्वों का खजाना है. इसमें कैलोरी की मात्रा कम होती है और यह एंटीऑक्सीडेंट का प्रमुख सोर्स है. इस कारण से यह शरीर को फ्री रेडिकल्स से बचाने में सहायक है. चुकंदर में फाइटोन्यूट्रिएंट्स होते हैं, जो शरीर में किसी भी प्रकार की सूजन को कम कर सकते हैं. इसके अलावा, चुकंदर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा नहीं होती है.

एक कप चुकंदर में होता है -

चुकंदर में मौजूद अन्य विटामिन व मिनरल

(और पढ़ें - डायबिटीज के लिए अच्छी दवा)

हां, कई वैज्ञानिक शोध इस बात की पुष्टि करते हैं कि डायबिटीज के मरीज चुकंदर खा सकते हैं. चुकंदर का सेवन डायबिटिक लोगों में इंसुलिन सेंसटिविटी में सुधार कर सकता है. इसका मतलब यह है कि चुकंदर का सेवन करने से डायबिटीज को मैनेज करने में मदद मिल सकती है. आइए, डायबिटीज में चुकंदर खाने के फायदे के बारे में विस्तार से जानते हैं -

हाई ब्लड प्रेशर कंट्रोल

डायबिटीज केवल अकेली बीमारी नहीं है, बल्कि ये अपने साथ हाई ब्लड प्रेशर जैसी बीमारियों को भी साथ लेकर आती है. इससे ब्लड वेसल डेमेज होने का खतरा बढ़ जाता है. ब्लड वेसल्स के डेमेज होने से दिल से जुड़ी बीमारियों का खतरा, किडनी और आंखों से जुड़ी बीमारियों का खतरा भी बढ़ सकता है. शुगर के रोगियों में आमतौर पर ब्लड प्रेशर की समस्या देखने को मिलती है. लेकिन चुकंदर का किसी भी रूप में सेवन इस समस्या से निजात दिला सकता है.

(और पढ़ें - डायबिटीज में खाई जाने वाली सब्जियां)

संतुलित ब्लड शुगर

चुकंदर में एंटीऑक्सीडेंट और नेचुरल शुगर भी भरपूर मात्रा में होती है. इसका सेवन करने से इम्यूनिटी भी मजबूत होती है. चुकंदर में फाइटोकेमिकल पाया जाता है, जो शरीर में ग्लूकोज व इंसुलिन के स्तर को सकारात्मक रूप से प्रभावित करता है. इसलिए, ब्लड शुगर के मरीजों को इसे अपनी डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए. चुकंदर का सेवन करने से जीवन की गुणवत्ता पर सकारात्मक असर पड़ता है.

(और पढ़ें - क्या डायबिटीज में शकरकंद खाना चाहिए)

क्रोनिक रोगों से बचाव

नेशनल सेंटर फॉर कॉम्प्लिमेंट्री एंड इंटिग्रेटिव हेल्थ के अनुसार, एंटीऑक्सीडेंट वाले खाद्य पदार्थ विभिन्न तरह की बीमारियों से बचा सकते हैं. वहीं, चुकंदर में पर्याप्त रूप से एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा होती है. एंटीऑक्सीडेंट रोगों का कारण बनने वाले फ्री रेडिकल्स के प्रभाव काे कम करता है.

(और पढ़ें - डायबिटीज में फायदेमंद 6 फल)

डायबिटीज की जटिलताओं से बचाव

डायबिटीज के चलते रक्त वाहिकाओं को नुकसान पहुंच सकता है. परिणामस्वरूप आंखें, हृदय व किडनी रोगों का शिकार हो सकते हैं. ऐसे में चुकंदर में पाया जाने वाला एंटीऑक्सीडेंट ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करता है. इससे शरीर में मधुमेह का प्रभाव भी कम होता है.

(और पढ़ें - शुगर में क्या खाना चाहिए)

इंसुलिन रेजिस्टेंस करे कम

चुकंदर में मेटाबॉलाइट पाया जाता है, जिस नाइट्रेट कहा जाता है. यह नाइट्रेट शरीर में जाकर इंसुलिन रेजिस्टेंस के प्रभाव को कम कर सकता है. इंसुलिन रेजिस्टेंस का प्रभाव बढ़ने से शरीर पर्याप्त रूप से रक्त में से ग्लूकोज को इस्तेमाल नहीं कर पता है, जिससे इंसुलिन का स्तर प्रभावित होता है और व्यक्ति मधुमेह का शिकार हो जाता है.

(और पढ़ें - डायबिटीज की होम्योपैथिक दवा)

चुकंदर में कई पौष्टिक तत्व मौजूद होते हैं, जो केवल डायबिटीज के मरीजों के लिए ही नहीं, बल्कि सभी के लिए काफी फायदेमंद हैं. चुकंदर का सेवन किसी भी रूप में खाने से पहले करने में शरीर को एनर्जेटिक भी रख सकता है और ब्लड शुगर लेवल भी बैलेंस रहता है. अपनी डाइट में किसी भी प्रकार के बदलाव से पहले डायबिटीज के रोगी एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर लें.

(और पढ़ें - शुगर की गोली कब लेनी चाहिए)

Dt. Sonal jain

Dt. Sonal jain

आहार विशेषज्ञ
5 वर्षों का अनुभव

Dt. Rajni Sharma

Dt. Rajni Sharma

आहार विशेषज्ञ
7 वर्षों का अनुभव

Dt. Neha Suryawanshi

Dt. Neha Suryawanshi

आहार विशेषज्ञ
10 वर्षों का अनुभव

Dt. Ayushi Shah

Dt. Ayushi Shah

आहार विशेषज्ञ
2 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ