सेक्स के दौरान पुरुषों के पेनिस का टाइट व कठोर होना जरूरी है, तभी ऑर्गेज्म तक पहुंचा जा सकता है. वहीं, सेक्स के दौरान कुछ पुरुषों के पेनिस में इरेक्शन नहीं होता. इस स्थिति को इरेक्टाइल डिसफंक्शन कहा जाता है. वैसे तो पेनिस का ढीलापन कोई गंभीर समस्या नहीं है, लेकिन इस स्थिति में महिला और पुरुष दोनों को ही यौन सुख प्राप्त नहीं हो पाता है. ऐसे में अवनाफिल व सिल्डेनाफिल जैसी कुछ खास दवाइयों की मदद से पेनिस के ढीलेपन को दूर किया जा सकता है.

आज के इस लेख में हम पेनिस के ढीलेपन को दूर करने वाली दवाओं के बारे में ही बात करेंगे -

(और पढ़ें - नपुंसकता के घरेलू उपाय)

  1. इन दवाइयों से दूर करें पेनिस का ढीलापन
  2. सारांश
पेनिस का ढीलापन दूर करने की दवाएं के डॉक्टर

अगर किसी पुरुष के पेनिस में यौन क्रिया के दौरान कठोरता नहीं आती है, तो उसे चिंता करने की जरूरत नहीं है. डॉक्टर की राय पर इरेक्शन प्राप्त करने वाली दवाइयों का सेवन किया जा सकता है. यौन क्रिया से पहले दवाइयों का सेवन करने से पुरुष उत्तेजित हो सकते हैं और यौन सुख प्राप्त कर सकते हैं. नीचे ऐसी ही दवाओं के बारे में बताया गया है -

अवनाफिल - Avanafil

अवनाफिल का उपयोग पुरुषों की यौन क्रिया से जुड़ी समस्याओं के इलाज के लिए किया जाता है. ये दवा इरेक्टाइल डिसफंक्शन से छुटकारा दिलाने में मदद कर सकती है. इस दवाई के सेवन से यौन उत्तेजना बढ़ती है. ये दवा पेनिस में ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाती है, जिससे पुरुष को इरेक्शन प्राप्त करने में मदद मिल सकती है.

अवनाफिल को हमेशा डॉक्टर की राय पर ही लेनी चाहिए. इस दवा का सेवन खाने के साथ किया जा सकता है. अवनापिल दवा को यौन क्रिया से 15-20 मिनट पहले लिया जा सकता है. डॉक्टर अलग-अलग व्यक्ति को इसकी अलग-अलग खुराक दे सकते हैं. खुराक व्यक्ति की चिकित्सा स्थिति पर निर्भर करता है.

(और पढ़ें - इरेक्टाइल डिसफंक्शन की होम्योपैथिक दवा)

सिल्डेनाफिल - Sildenafil

अगर पुरुष पेनिस के ढीलेपन की समस्या से परेशान हैं, तो उनके लिए सिल्डेनाफिल दवा फायदेमंद हो सकती है. सिल्डेनाफिल को पुरुषों में इरेक्टाइल डिसफंक्शन के इलाज के लिए इस्तेमाल किया जाता है. सिल्डेनाफिल यौन उत्तेजना के दौरान पेनिस में रक्त के प्रवाह को बढ़ाती है. इस दवा को टेबलेट व लिक्विड दोनों तरीकों से लिया जा सकता है.

अगर पेनिस के ढीलेपन को दूर करने के लिए सिल्डेनाफिल का उपयोग कर रहे हैं, तो इसकी खुराक डॉक्टर की सलाह पर लें. इसे यौन क्रिया से पहले लिया जाना चाहिए. सिल्डेनाफिल लेने का सबसे अच्छा समय यौन क्रिया से लगभग 1 घंटा पहले होता है, लेकिन इसे यौन संबंध से 30 मिनट से लेकर 4 घंटे पहले तक लिया जा सकता है. सिल्डेनाफिल दवा का सेवन 24 घंटे में सिर्फ एक बार ही किया जा सकता है.

कुछ लोगों को सिल्डेनाफिल दवा लेने से सिरदर्दपेट में जलनडायरियानकसीर, जलन, पैर में झुनझुनी व मांसपेशियों में दर्द जैसे साइड इफेक्ट्स नजर आ सकते हैं. वहीं, गंभीर दुष्प्रभाव के रूप में बेहोशी या चक्कर आनाछाती में दर्दसांस की तकलीफ और पेशाब में जलन शामिल हैं. इस स्थिति में तुरंत डॉक्टर से सपंर्क करें.

(यहां से खरीदें - सिल्डेनाफिल)

टाडालाफिल - Tadalafil

टाडालाफिल दवा पेनिस में रक्त के प्रवाह को बढ़ाकर इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या दूर करने में मदद कर सकती है. इससे पुरुष को इरेक्शन प्राप्त करने में मदद मिलती है. इस दवा का उपयोग डॉक्टर की सलाह पर पुरुष यौन क्रिया समस्याओं के इलाज के लिए कर सकते हैं. इस दवा को भोजन के साथ भी लिया जा सकता है. टाडालाफिल दवा को दिन में एक से अधिक बार लेने से बचें.

टाडालाफिल दवा को आमतौर पर यौन क्रिया से कम से कम 30 मिनट पहले लेना चाहिए. इस दवा को यौन क्रिया के दौरान भी लिया जा सकता है, लेकिन इसे लेने का एक निश्चित समय होना चाहिए, इससे अधिक लाभ मिल सकता है. इसे खाने के कुछ साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं, जिसमें सिरदर्द, अपचजी मिचलाना, दस्त, मांसपेशियों में दर्द, चक्कर आना, रैशेज, सीने में दर्द और शरीर के किसी भी हिस्से में सूजन शामिल है.

(यहां से खरीदें - टाडालाफिल)

वरडेनाफिल Vardenafil

अगर पुरुषों के पेनिस में ढीलापन है, योनि में प्रवेश के दौरान दिक्कत आती है, तो इस स्थिति में वरडेनाफिल दवा फायदेमंद हो सकती है. वरडेनाफिल दवा पुरुषों की यौन क्रिया समस्याओं के इलाज में कारगर साबित हो सकती है. यह दवा भी पेनिस में ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाती है, जिससे पुरुष को इरेक्शन प्राप्त करने और इसे लंबे समय तक बनाए रखने में मदद मिलती है.

वरडेनाफिल दवा को पुरुष खाने के साथ ले सकते हैं. यौन क्रिया के लगभग 1 घंटे पहले इस दवा का सेवन किया जाना अधिक फायदेमंद हो सकता है. यह दवा मुंह में आसानी से घुल जाती है. एक दिन में एक ही बार इस दवा का सेवन करें. दवा की खुराक डॉक्टर पुरुष की मेडिकल कंडीशन को ध्यान में रखकर तय करते हैं.

वरडेनाफिल दवा का उपयोग करते समय अंगूर या अंगूर के रस का सेवन करने से बचें. दरअसल, अंगूर इस दवा के साइड इफेक्ट्स को बढ़ा सकता है. गंभीर लिवर की बीमारियोंलो ब्लड प्रेशर और स्ट्रोक की स्थिति में इस दवा का सेवन डॉक्टर की सलाह पर ही करें.

(यहां से खरीदें - वरडेनाफिल)

इन दवाइयों से लिंग में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है और इरेक्शन पैदा करने में मदद मिलती है. ये दवाइयां हमेशा यौन क्रिया से पहले ली जाने की सलाह दी जाती है, तभी इरेक्शन होता है और लंबे समय तक बनाए रखने में मदद मिलती है. इससे पुरुष यौन रूप से उत्तेजित होता है. ध्यान रहे कि पुरुषों की यौन क्रिया से संबंधिति समस्याओं को ठीक करने के लिए डॉक्टर की राय पर ही किसी भी दवा का सेवन करना चाहिए.

(और पढ़ें - नपुंसकता के लिए योग)

Dr. Rajesh Manghnani

Dr. Rajesh Manghnani

सेक्सोलोजी
17 वर्षों का अनुभव

Dr. Abdul Haseeb Sheikh

Dr. Abdul Haseeb Sheikh

सेक्सोलोजी
8 वर्षों का अनुभव

Dr. Srikanth Varma

Dr. Srikanth Varma

सेक्सोलोजी
8 वर्षों का अनुभव

Dr. Pranay Gandhi

Dr. Pranay Gandhi

सेक्सोलोजी
10 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ