ट्रैवेलर्स डायरिया - Travelers Diarrhea in Hindi

Dr. Rajalakshmi VK (AIIMS)MBBS

October 19, 2020

August 14, 2023

ट्रैवेलर्स डायरिया
ट्रैवेलर्स डायरिया

ट्रैवेलर्स डायरिया पाचन तंत्र विकार है, जिसमें आमतौर पर ढीला मल और पेट में ऐंठन की समस्या होती है। यह दूषित भोजन या पानी के सेवन से होता है। यह गंभीर स्थिति नहीं है, लेकिन अक्सर लोग इसमें असहज हो जाते हैं।

यह समस्या अक्सर तब होती है, जब आप ऐसे स्थान पर जाते हैं, जहां का वातावरण आपके घर से अलग होता है।

ट्रैवेलर्स डायरिया के जोखिम को कम करने के लिए यात्रा के दौरान अपने खानपान पर सावधानी बरतने की जरूरत होती है। यदि किसी व्यक्ति में ट्रैवेलर्स डायरिया का हल्का मामला है, तो यह बिना किसी इलाज के ठीक हो सकता है। हालांकि, अच्छा होगा कि सफर पर जाने से पहले डॉक्टर से मिलकर जरूरी दवाइयां ले लें।

(और पढ़ें - दस्त रोकने के घरेलू उपाय)

ट्रैवेलर्स डायरिया के संकेत और लक्षण क्या हैं? - Traveler's Diarrhea Symptoms in Hindi

ट्रैवेलर्स डायरिया की समस्या आमतौर पर यात्रा के दौरान या घर वापस लौटने के तुरंत बाद अचानक शुरू हो सकती है। ज्यादातर मामलों में बिना इलाज के एक से दो दिनों में सुधार दिखने लगता है, जबकि सप्ताह भर में यह स्थिति पूरी तरह से ठीक हो जाती है। ट्रैवेलर्स डायरिया के लक्षणों में शामिल हैं :

कभी-कभी, लोगों में मध्यम से लेकर गंभीर रूप से निर्जलीकरण, लगातार उल्टी, तेज बुखार, मल में खून या पेट दर्द या मलाशय में दर्द हो सकता है। यदि आप इनमें से किसी भी लक्षण का अनुभव करते हैं तो ऐसे में डॉक्टर से मिलें।

(और पढ़ें - दस्त होने पर क्या करें)

ट्रैवेलर्स डायरिया का कारण और जोखिम कारक क्या है? - Traveler's Diarrhea Causes in Hindi

ट्रैवेलर्स डायरिया की समस्या यात्रा के दौरान तनाव लेने या आहार में बदलाव के कारण होती है, लेकिन आमतौर पर यह संक्रमण फैलाने वाले कारकों (बैक्टीरियावायरस और परजीवी) की वजह से होता है। अक्सर यह दूषित खानपान के सेवन के बाद विकसित होती है।

ट्रैवेलर्स डायरिया की वजह से सबसे ज्यादा निर्जलीकरण का जोखिम रहता है। इसमें दस्त की वजह से शरीर में तेजी से तरल पदार्थ की कमी हो जाती है। यदि दस्त के साथ उल्टी और मतली भी होती है तो यह स्थिति को बदतर बना सकती है। छोटे बच्चों के लिए निर्जलीकरण और भी खतरनाक हो सकता है।

निर्जलीकरण के लक्षणों में शामिल हैं :

ट्रैवेलर्स डायरिया का निदान कैसे किया जा सकता है? - Traveler's Diarrhea Diagnosis in Hindi

यदि किसी व्यक्ति में ट्रैवेलर्स डायरिया की समस्या तीन दिन से अधिक समय तक बनी हुई है या लक्षण पहले से और बिगड़ गए हैं, तो ऐसे में डॉक्टर से मिलें और उन्हें अपनी स्थिति के बारे में बताएं। वे ऐसे में फिजिकल टेस्ट कर सकते हैं, जिसमें तापमान लेना व पेट पर दबाव डालना शामिल है। यदि उन्हें संदेह है कि यह किसी परजीवी की वजह से हुआ है तो वे स्टूल टेस्ट करवाने का सुझाव दे सकते हैं। संक्रमण का पता करने के लिए वे ब्लड टेस्ट कर सकते हैं। इससे यह भी पता चल सकता है कि वर्तमान में शरीर में पानी की कमी है या नहीं।

(और पढ़ें - पानी की कमी को दूर करने के लिए जरूर खाएं ये फल)

ट्रैवेलर्स डायरिया का इलाज कैसे किया जाता है? - Traveler's Diarrhea Treatment in Hindi

ट्रैवेलर्स डायरिया का उपचार दस्त के कारण पर निर्भर करेगा। इस बीमारी के हल्के मामलों को अक्सर घरेलू उपचार और ओवर-द-काउंटर (ओटीसी) दवाओं के जरिए ठीक किया जा सकता है।

जब किसी व्यक्ति को ट्रैवेलर्स डायरिया की समस्या हो जाती है, तो उसे कैफीन और शराब का सेवन रोक देना चाहिए, क्योंकि यह निर्जलीकरण को बढ़ा सकता है। हालांकि, निर्जलीकरण को रोकने के लिए जितना ज्यादा हो सके तरल पदा​र्थ पीना चाहिए।

यदि आप घूमने जाने की योजना बना रहे हैं तो ऐसे में ओटीसी दवाओं को साथ रखना एक अच्छा विचार होगा।

डॉक्टर द्वारा निर्धारित उपचार

यदि घरेलू उपचार काम नहीं करते हैं, तो डॉक्टर बीमारी के कारण के आधार पर उपचार निर्धारित कर सकते हैं। यदि इसका कारण कोई जीवाणु संक्रमण है, तो डॉक्टर डॉक्सीसाइक्लिन (एक्टिकलेट) या सिप्रोफ्लैक्सिन (सिप्रो) जैसी एंटीबायोटिक्स लिख सकते हैं।

यदि इसका कारण परजीवी है, तो डॉक्टर मौखिक रूप से ली जाने वाली एंटीपैरासाइटिक दवाएं लिख सकते हैं। परजीवी संक्रमण के प्रकार के आधार पर सटीक प्रिस्क्रिप्शन तैयार किया जाता है। संक्रमण को पूरी तरह से खत्म करने के लिए कई बार दवा लेने की जरूरत पड़ सकती है।

ट्रैवेलर्स डायरिया की वजह से निर्जलीकरण हो गया है, तो आईवी (नसों के माध्यम से दी जाने वाली दवाइयां) के जरिये तरल पदार्थ दिए जा सकते हैं, जिनमें ग्लूकोज या इलेक्ट्रोलाइट्स शामिल हैं।

(और पढ़ें - दस्त की आयुर्वेदिक दवा और इलाज)



ट्रैवेलर्स डायरिया के डॉक्टर

Dr. Paramjeet Singh Dr. Paramjeet Singh गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
10 वर्षों का अनुभव
Dr. Nikhil Bhangale Dr. Nikhil Bhangale गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
10 वर्षों का अनुभव
Dr Jagdish Singh Dr Jagdish Singh गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
12 वर्षों का अनुभव
Dr. Deepak Sharma Dr. Deepak Sharma गैस्ट्रोएंटरोलॉजी
12 वर्षों का अनुभव
डॉक्टर से सलाह लें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ