myUpchar Call

फिजिकल इंटिमेसी ही वो चीज है, जो शादी को दोस्ती से अलग और खास बना देती है. ऐसे में यदि कोई यह कहे कि उसकी शादी में सेक्स की जगह ही नहीं है या पार्टनर से साथ फिजिकल रिलेशन नहीं हैं, तो यह चिंता का विषय होना चाहिए. ऐसा इसीलिए, क्योंकि इससे वैवाहिक जीवन में तनाव और दूरियां आने लगती हैं. वैवाहिक जीवन में सेक्स न होने के पीछे शिशु का जन्म या फिर स्वास्थ्य संबंधी परेशानी जैसे कई कारण हो सकते हैं. ऐसे में एक-दूसरे से बातचीत व सेक्स थेरेपिस्ट की मदद लेकर इसे समस्या को सुलझाया जा सकता है.

आज इस लेख में आप बिना सेक्स की शादी के कारण व उसके इलाज के बारे में जानेंगे -

(और पढ़ें - कम सेक्स का शादी पर असर)

  1. बिना सेक्स की शादी के कारण
  2. बिना सेक्स की शादी का इलाज
  3. सारांश
यौन रोग के डॉक्टर

बिना सेक्स की शादी के कई संभावित कारण हो सकते हैं, जिसमें स्वास्थ्य समस्याओं से लेकर इरेक्टाइल डिसफंक्शन और कम सेक्स ड्राइव शामिल है. आइए, इन कारणों के बारे में विस्तार से जानते हैं -

स्वास्थ्य समस्याएं

अगर किसी व्यक्ति का शारीरिक या मानिसक स्वास्थ्य ठीक नहीं रहता है, तो उसके लिए सेक्स के बारे में सोचना मुश्किल हो जाता है. स्वास्थ्य समस्याएं पुरुष व महिला दोनों की यौन इच्छाओं को प्रभावित कर सकती हैं.

(और पढ़ें - शादी से पहले सेक्स)

शिशु का जन्म

शिशु के जन्म के बाद डॉक्टर कम से कम डेढ़ महीने के लिए फिजिकल इंटिमेसी के लिए माना कर देते हैं. बच्चे की देखभाल के चलते ये अवधि कई माह के लिए बढ़ भी सकती है. महिला स्वयं शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक तौर पर सेक्स के लिए तैयार नहीं हो पाती है. उसके शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलाव भी उसकी यौन इच्छा को कम कर देते हैं.

(और पढ़ें - सेक्स न करने के नुकसान)

तनाव

जब व्यक्ति को बहुत ज्यादा तनाव रहता है, तो उसकी सेक्स ड्राइव अपने आप कम हो जाती है. तनाव वाला हार्मोन यानी कॉर्टिसोल कामेच्छा को कम करने में अहम भूमिका निभाता है.

(और पढ़ें - बिना कंडोम सेक्स के जोखिम)

बातचीत में कमी

अगर दोनों जीवनसाथियों के बीच झगड़ा या मनमुटाव चल रहा हो, तो फिजिकल इंटिमेसी को बनाए रखना मुश्किल हो जाता है. ऐसे में जरूरी है कि दोनों आपस में बात करके अपने मनमुटाव को कम कर लें, ताकि फिजिकल इंटिमेसी को वापस लाया जा सके.

(और पढ़ें - सेक्स कब और कितनी बार करें)

इरेक्टाइल डिसफंक्शन

कई बार पुरुषों को इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या से जूझना पड़ता है, जिसके बारे में वे खुलकर बात तक नहीं करते हैं. यह उनके आत्मविश्वास को नकारात्मक तरीके से प्रभावित करता है. ऐसे में शादी में सेक्स का सवाल ही नहीं उठता है.

(और पढ़ें - रोज सेक्स करने से क्या होता है)

दवाइयों के दुष्प्रभाव

कुछ दवाइयों का दुष्प्रभाव ऐसा होता है कि यह सेक्स को नकारात्मक तरीके से प्रभावित कर लेता है. एंटीहिस्टामाइन, एंटीडिप्रेसेंट और हाई ब्लड प्रेशर वाली दवाइयां कुछ ऐसा ही काम करती हैं.

(और पढ़ें - सेक्स करना क्यों जरूरी है)

यौन उत्पीड़न

अगर पहले कभी किसी का यौन शोषण हुआ हो, तो संभव है कि इसके चलते भविष्य में पार्टनर के साथ यौन रिश्ता बनाने में मुश्किल हो. ऐसा होने पर पीड़ित व्यक्ति के मन में सेक्स को लेकर डर बैठ जाना संभव है.

(और पढ़ें - सेक्स के तुरंत बाद क्या करें)

अन्य समस्याएं

उम्र, बोरियत, आर्थिक समस्या, दुख व थकान जैसी जीवन से जुड़ी कई समस्याएं हैं, जो शादी में से सेक्स को गायब कर देती हैं. 

(और पढ़ें - चरम सुख)

बिना सेक्स की शादी जल्दी ही एक-दूसरे से दूरी और धीरे-धीरे अलगाव की ओर बढ़ सकती है. इसीलिए, जरूरी है कि इसका इलाज ढूंढा जाए. साथ ही यह भी जान लेना चाहिए कि शादी में कितना सेक्स होना चाहिए और इसका निर्णय उस शादी से जुड़े दो लोग ही ले सकते हैं.

बिना सेक्स की शादी का सबसे जरूरी इलाज एक-दूसरे से खुलकर बातचीत करना, इंटिमेसी के लिए कोशिश करना और सेक्स थेरेपिस्ट की मदद लेना शामिल है. आइए, इन उपायों के बारे में विस्तार से जानते हैं -

एक-दूसरे से बातचीत

यदि किसी की शादी में सेक्स बिल्कुल नहीं या बहुत कम रह गया है, तो सबसे पहले यह जरूरी है कि इसके बारे में जीवनसाथी से बात की जाए. दोनों पार्टनर इस पर एकसाथ काम कर सकते हैं और मिलकर उपाय ढूंढ सकते हैं.

(और पढ़ें - पहली बार सेक्स कैसे करें)

इंटिमेसी की कोशिश

अगर किसी को ऐसा लग रहा है कि उसकी जिंदगी में सेक्स की कमी है, तो इसके लिए उसे आगे बढ़कर कोशिश करनी चाहिए. फिजिकल इंटिमेसी का मतलब हमेशा सेक्स नहीं होता, इसका मतलब रिश्ते में नजदीकी लाना और एक-दूसरे के साथ कम्फर्ट महसूस करना है. इसके लिए हॉलिडे पर जाना, डेट पर जाना या किसी नई एक्टिविटी को एकसाथ करना शामिल है.

(और पढ़ें - महिला कितनी उम्र तक सेक्स कर सकती है)

सेक्स थेरेपिस्ट या काउंसलर की मदद

यदि हर तरह के उपाय अपनाने के बाद भी शादी में सेक्स की जगह नहीं बन पा रही है, तो इसके लिए सेक्स थेरेपिस्ट की मदद ली जा सकती है. वह दोनों की बातों को सुनने और समझने के बाद सही उपाय बता सकता है.

(और पढ़ें - सेक्स के बाद पुरुषों को नींद आने के कारण)

 

बिना सेक्स की शादी कुछ समय में ही तनाव और अलगाव का कारण बन सकती है. इसीलिए, जरूरी है कि समय रहते इसे ठीक करने पर काम किया जाए. बिना सेक्स की शादी के कारण शिशु का जन्म, तनाव, बातचीत में कमी व पुरुषों में इरेक्टाइल डिसफंक्शन हो सकता है. इसके इलाज के तौर पर एक-दूसरे से खुलकर बातचीत, फिजिकल इंटिमेसी और सेक्स थेरेपिस्ट से मदद लेना शामिल है. 

(और पढ़ें - सेक्स करने के तरीके)

Dr. Hemant Sharma

Dr. Hemant Sharma

सेक्सोलोजी
11 वर्षों का अनुभव

Dr. Zeeshan Khan

Dr. Zeeshan Khan

सेक्सोलोजी
9 वर्षों का अनुभव

Dr. Nizamuddin

Dr. Nizamuddin

सेक्सोलोजी
5 वर्षों का अनुभव

Dr. Tahir

Dr. Tahir

सेक्सोलोजी
20 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें