myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

आप रोज़ाना सुबह-शाम चेहरे को धोने के लिए फेस वाश का इस्तेमाल करते होंगे, लेकिन क्या आप जानते हैं कि फेस वाश सिर्फ त्वचा को बाहर से ही साफ करता हैं। त्वचा को गहराई से साफ़ करने के लिए आपको फेस वाश नहीं, क्लींजर का इस्तेमाल करना चाहिए। चेहरे की मृत कोशिकाओं, गंदगी, तेल आदि को साफ़ करने में क्लींजर बेहद फायदेमंद होता है। चेहरे की क्लींजिंग के लिए या तो आप क्लींजर का उपयोग रोज़ाना करें या फिर हर दो दिन बाद भी कर सकते हैं।

(और पढ़ें - स्किन केयर टिप्स)

इसके साथ ही आज हम आपको क्लींजर से जुड़ी और भी कई जानकारियां देने वाले हैं, जैसे क्लींजर क्या है, क्लींजिंग कैसे करे, क्लींजिंग करने का तरीका और क्लींजर के फायदे।

(और पढ़ें - तैलीय त्वचा के लिए क्लीन्ज़र)

तो आइये फिर बताते हैं -

  1. क्लींजर क्या है - What is cleanser in Hindi
  2. क्लींजिंग कैसे करे - How to do cleansing in Hindi
  3. क्लींजिंग करने का तरीका - How to cleanse your face at home in Hindi
  4. क्लींजर के फायदे - Benefits of cleanser in Hindi

क्लींजर चेहरे पर मेकअप, पसीने, धुल-मिट्टी और तेल को तो साफ़ करता ही है, साथ ही मृत कोशिकाओं को भी साफ़ करता है। ये रक्त परिसंचरण को सुधारता है और गहराई से त्वचा का इलाज करता है। त्वचा के इलाज के लिए क्लींजिंग सबसे प्रथम चरण माना जाता है। अगर आपकी त्वचा अच्छे से साफ़ नहीं होती है तो वो ड्राई या तैलीय हो जाती है एवं साथ ही साथ कील-मुहांसे भी निकल आते हैं।

(और पढ़ें – मुँहासे हटाने के उपाय)

इन चरणों की मदद से क्लींजिंग करें –

(और पढ़ें - तैलीय त्वचा के लिए क्रीम)

1. चेहरे को क्लींजिंग करने की महत्ता को समझे - चेहरे को क्लींजिंग करने से तेल, धुल-मिटटी, टैनिंग सब निकल जाती है। क्लींजिंग त्वचा छिद्र बंद होने से भी रोकते हैं, जिससे त्वचा के ख़राब होने की संभावना रुक जाती है। आखिर में, चेहरे को क्लींजिंग करने से त्वचा पर लगने वाले उत्पाद अच्छे से अवशोषित हो जाते हैं। पूरे दिन में चेहरे को दो बार क्लींजिंग करें। 

(और पढ़ें - तैलीय त्वचा के लिए फेस पैक)

2. अपने बालों को धोने से पहले बाँध लें - चेहरा धोने से पहले हाथों को अच्छे से धोएं और चेहरे से मेकअप को अच्छे से पोछ लें। चेहरे से मेकअप साफ़ करने के लिए अपना मेकअप रिमूवर का इस्तेमाल करें। 

(और पढ़ें - तैलीय त्वचा के उपाय)

3. कोई अच्छा क्लींजर उत्पाद खरीदें - चेहरे को साफ़ करने के लिए ऐसे बहुत से क्लींजिंग लोशन और क्लीन्ज़र उपलब्ध हैं, जिनका इस्तेमाल आप आसानी से कर सकते हैं। इसमें सबसे ज़्यादा ज़रूरी है कि आप अपनी त्वचा के प्रकार के अनुसार क्लीन्ज़र का चयन करें। 

(और पढ़ें - रूखी त्वचा के लिए फेस पैक)

किस तरह के क्लींजर का इस्तेमाल करें -

  1. कॉम्बिनेशन या तैलीय त्वचा के लिए जेल और फोम (Foam) किस्म का क्लीन्ज़र बहुत ही अच्छा होता है। जबकि क्रीम क्लीन्ज़र रूखी और सामान्य त्वचा के लिए बेहतर माना जाता है, क्योंकि ये आपके चेहरे को नमी देने में मदद करते हैं।
  2. अगर आपके चेहरे पर कील-मुहांसे हैं, लेकिन यह कम हैं तो आप ऐसे क्लीन्ज़र का इस्तेमाल करें, जिसमें सालिसिलिक एसिड (Salicylic acid) होता है। सालिसिलिक एसिड बंद छिद्रों को खोलने में मदद करता है और त्वचा पर दिख रहे घावों को कम करता है।

(और पढ़ें - रूखी त्वचा के लिए क्रीम)

4. घर का बनें क्लींजर का इस्तेमाल करें - आप घर की कुछ बेहतरीन सामग्रियों से बने क्लींजर को भी घर में उपयोग कर सकते हैं। घर के बने क्लींजर में किसी भी तरह का केमिकल नहीं होता और न ही वो आपकी त्वचा को नुकसान पहुंचाते हैं। आप घर के बने क्लींजर को आसानी से कभी भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

(और पढ़ें - रूखी त्वचा के लिए तेल)

5. अपने पसंदीदा क्लींजर से चेहरे को धोएं - अपनी त्वचा को पहले गर्म पानी से धो लें। फिर अपने हाथ पर एक चैथाई मात्रा में क्लींजर लें और फिर उसे अपने चेहरे पर लगा लें। इसे लगाने के बाद चेहरे को कुछ मिनट तक मसाज करें। अब चेहरे को गर्म पानी से धो लें और फिर त्वचा को सूखा लें। त्वचा को तौलिये से रगड़कर न पोछें, इससे आपकी त्वचा लाल हो सकती है।

(और पढ़ें - रूखी त्वचा के लिए घरेलू उपाय)

1. चने के पाउडर और हल्दी से बना क्लीन्ज़र –

सामग्री -

  1. दो चम्मच चने का पाउडर।
  2. एक चम्मच हल्दी
  3. एक चम्मच दूध। (और पढ़ें - दूध के फायदे)

विधि -

  1. सबसे पहले सभी सामग्रियों को मिला लें।
  2. फिर एक साफ़ चम्मच लें और सारी सामग्रियों को अच्छे से मिला लें। 
  3. ध्यान रखें, ये मिश्रण न तो ज़्यादा गाढ़ा होना चाहिए और न ही ज्यादा पतला होना चाहिए। वरना यह चेहरे पर अच्छे से नहीं लग पाएगा।
  4. अब इस मिश्रण को अपने साफ़ हाथों से या ब्रश से अपने चेहरे पर लगाएं।
  5. फिर इसे 10 से 20 सेकेंड के लिए ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  6. अब चेहरे को पानी से धो दें।
  7. ये उपाय तैलीय त्वचा के लिए बेहतरीन है।

(और पढ़ें - झुर्रियां हटाने के उपाय)

2. दूध से बना क्लीन्ज़र –

सामग्री -

  1. पांच चम्मच ठंडा दूध।
  2. चुटकीभर नमक

विधि –

  1. सबसे पहले दोनों मिश्रण को एक साथ मिला लें।
  2. फिर एक साफ़ चम्मच लें और उससे मिश्रण को अच्छे से चलाते रहें।
  3. अब थोड़ा रूई लें और उसे इस मिश्रण में डाल दें।
  4. अब इस रूई को अपने चेहरे और गर्दन पर अच्छे से लगाएं।
  5. लगाने के बाद, एक या दो मिनट तक इसे ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  6. फिर धीरे-धीरे चेहरे को रगड़ें और अब उसे पानी से धो लें।

(और पढ़ें - आंखों के नीचे झुर्रियां हटाने के उपाय)

3. खीरे से बना क्लींजर -

सामग्री -

  1. एक छिला खीरा
  2. दो से तीन चम्मच ताज़ा दही। (और पढ़ें - दही खाने के फायदे)

विधि -

  1. सबसे पहले एक छिला हुआ खीरा लें और फिर उसे मिक्सर में डाल दें।
  2. डालने के बाद उसका जूस निकाल लें।
  3. अब जूस में दो से तीन चम्मच दही डालें।
  4. दोनों मिश्रण को अच्छे से मिलाने के बाद उसे चेहरे और गर्दन पर लगा लें।
  5. फिर त्वचा को ठंडे पानी से धो लें और सूखने दें।

(और पढ़ें - झुर्रियों के लिए फेस पैक)

4. शहद से बना क्लींजर –

सामग्री -

  1. एक चम्मच दूध।
  2. चार चम्मच शहद

विधि -

  1. सबसे पहले दोनों सामग्रियों को एक साथ मिला लें।
  2. फिर उसे चेहरे पर साफ़ हाथों या ब्रश से लगा लें।
  3. लगाने के बाद 10 से 20 सेकेंड के लिए उसे ऐसे ही लगा हुआ छोड़ दें।
  4. फिर त्वचा को ठंडे पानी से धो लें।
  5. यह उपाय सभी प्रकार के त्वचा के लिए अच्छा है।

(और पढ़ें - काले दाग हटाने के उपाय)

5. ओटमील से बना क्लींजर –

सामग्री -

  1. एक चम्मच दूध।
  2. एक चम्मच ओटमील
  3. शहद की कुछ बूँदें।

विधि -

  1. सबसे पहले सभी सामग्रियों को एक साथ मिला लें।
  2. फिर उसमें पानी मिलाएं, जिससे एक पतला पेस्ट तैयार हो सके।
  3. अब उस पेस्ट को गर्दन और चेहरे पर लगाएं।
  4. लगाने के बाद धीरे-धीरे मसाज करें।
  5. फिर त्वचा को पानी से धो लें।

(और पढ़ें - चेहरे के दाग धब्बे हटाने के उपाय)

1. धुल-मिटटी को दूर करता है -

क्लीन्सिंग करने का सबसे सामान्य फायदा है कि ये त्वचा से धुल-मिट्टी, तेल और मैल को निकालने में मदद करता है। पूरे दिन आपकी त्वचा बैक्टीरिया, गंदगी, वाइरस और मृत कोशिकाओं से घिरी रहती है। रोज़ाना क्लींजर के इस्तेमाल से त्वचा ताजी और निखरी हुई लगती है। धुल-मिट्टी से त्वचा पर एक मोटी परत बन जाती है, जिससे अन्य उत्पादों के अवशोषित होने में दिक्कतें आती है। 

(और पढ़ें - झाइयां हटाने के उपाय)

2. त्वचा को हाइड्रेट रखता है -

रोज़ाना क्लीन्सिंग करने से त्वचा में नमी का स्तर बनाये रखने में मदद मिलती है। अगर त्वचा हाइड्रेटेड नहीं होगी तो वो रूखी, झुर्रियां युक्त और बूढ़ी दिखने लगती है। क्लींजिंग त्वचा का PH स्तर बनाये रखने में मदद करता है।

(और पढ़ें - चेहरे को गोरा करने के उपाय)

3. त्वचा को साफ़ रखता है -

त्वचा के अंदर छोटे-छोटे ग्लैंड्स तेल का उत्पादन करते हैं, जिसे सीबम कहा जाता है। यह तेल बाहर की गंदगी से त्वचा को बचाकर रखता है। ये ग्लैंड्स त्वचा के अंदर बालों की रोम की मदद से अपना रास्ता बनाते हैं, जिससे त्वचा की परत पर ये सीबम अच्छे से फ़ैल जाता है। फैलने से एक सुरक्षा कवच बन जाता है, जिससे त्वचा में बैक्टीरिया या अन्य हानिकारक तत्व अवशोषित नहीं होते।

(और पढ़ें - रोम छिद्र भरने के उपाय)

अत्यधिक गंदगी त्वचा की परत पर जमने लगती है, जिससे रोम बंद हो जाते हैं, पसीना आने लगता है और तेल का भी उत्पादन अच्छे से नहीं हो पाता। त्वचा की परत पर सीबम की कमी की वजह से बैक्टीरिया रोम में अवशोषित हो जाते हैं, जिससे सूजन पैदा हो जाती है। आखिर में आपके चेहरे पर कील-मुहांसे की समस्या पनपने लगती है।

अच्छे से क्लींजिंग करने से रोम छिद्रों में जमा मैल साफ़ हो जाता है, जिससे त्वचा पर गंदगी बढ़ती नहीं है और सीबम भी त्वचा की परत पर अच्छे से पहुँचता है।

(और पढ़ें – गोरा होने के उपाय)

और पढ़ें ...