myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

तैलीय त्वचा आजकल की धूल धक्कड़ भरी दुनिया में बहुत ही आम समस्या हो गयी है। त्वचा की बाहरी परत पर अतिरिक्त तेल इकट्ठा होने से अक्सर व्हाइटहेड्स और ब्लैकहैड्स, छोटे छोटे दाने और अन्य त्वचा समस्याएं हो जाती हैं। 

(और पढ़ें - चेहरे के ब्लैकहेड्स और व्हाइटहेड्स दूर करने के नुस्खे)

लेकिन ऑइली त्वचा का एक फायदा भी है। इसके कारण बढ़ती उम्र जल्दी पता नहीं लगती और सूखी या सामान्य त्वचा की तुलना में झुर्रियां कम और देर में होती हैं। तो एक तरह से यह पूरी तरह से बुरी नहीं है।

वसायुक्त ग्रंथियों से अतिरिक्त सीबम (त्वचा की वसा) निकलने के कारण त्वचा में अधिक तेल उत्पन्न हो जाता है। जिन लोगों की ये स्थिति होती है, उनकी त्वचा आमतौर पर चमकदार और छिद्र बड़े होते हैं।

तैलीय त्वचा के और भी कारण हो सकते हैं जैसे, आनुवांशिक (Genetical), खाने पीने की आदतें, बहुत अधिक तनाव लेना या किशोरावस्था में हार्मोन परिवर्तन के कारण।

मासिक धर्म चक्र, गर्भावस्था या रजोनिवृत्ति के दौरान और गर्भनिरोधक गोलियां लेने के कारण भी महिलाओं की त्वचा में तेल अधिक उत्पन्न होता है। (और पढ़ें - गर्भनिरोधक गोलियों के फायदे और नुकसान)

ऑइली त्वचा से पूरी तरह से छुटकारा पाना मुश्किल हो सकता है, लेकिन आप इस सामान्य समस्या को हल करने के लिए कई चीजें कर सकते हैं। महंगे और केमिकल युक्त उत्पादों का उपयोग करने की कोई आवश्यकता नहीं है। बहुत से लोगों ने घरेलू उपायों को इस समस्या के लिए मेहतर और प्रभावी पाया है। 

(और पढ़ें - शहनाज हुसैन के ब्यूटी टिप्स)

त्वचा का तेल कम करने के ऐसे ही 10 घरेलू उपचार इस प्रकार हैं:

  1. अंडे की सफेदी से होता है तेलीय त्वचा का तेल कम - Egg white face pack for oily skin in Hindi
  2. ऑयली त्वचा के घरेलू उपाय में उपयोग करें शहद और नींबू का रस - Lemon juice and honey for oily skin in Hindi
  3. स्किन का आयल कम करने में दही है फायदेमंद - Benefits of yogurt for oily skin in Hindi
  4. तेलीय त्वचा की घरेलू दवा है टमाटर का फेस पैक - Tomato face pack for oily face in Hindi
  5. ऑयली त्वचा से छुटकारा पाने के घरेलू नुस्खे में करें सेब का उपयोग - Apples for oily skin in Hindi
  6. त्वचा का तेल दूर करने के तरीका है खीरा - Cucumber juice for oily skin in Hindi
  7. ऑयली त्वचा से छुटकारा पाने का उपाय है सेब का सिरका - Apple cider vinegar toner for oily skin in Hindi
  8. ऑयली स्किन का आयल दूर करने का घरेलू उपाय है दूध - Homemade cleansing milk for oily skin in Hindi
  9. एलोवेरा है स्किन का तेल दूर करने का तरीका - Aloe vera for oily skin in Hindi
  10. शहद है ऑयली त्वचा के लिए घरेलू उपचार - Honey scrub for oily skin in Hindi

अंडे के सफेद भाग में विटामिन ए अधिक मात्रा में पाया जाता है। ये प्रभावी रूप से त्वचा के धब्बे हटाकर त्वचा का तेल कम करता है। (और पढ़ें - 

  1. एक अंडे के सफेद भाग को निकालें और उसे गाढ़ा होने तक फेटें। फिर अपनी त्वचा पर लगा लें। इसे सूखने दें और फिर इसे गर्म पानी से धो लें। सप्ताह में दो बार ऐसा करें।
  2. एक अंडे के सफेद भाग फेटें फिर उसमें आधे नींबू का रस डालें और अच्छी तरह से मिलाएं। इस मिश्रण को अपने चेहरे पर लगाएं। इसे 15 मिनट के लिए सूखने दें और फिर गर्म पानी से धो लें। यह त्वचा में कसाव लाता है और अतिरिक्त तेल को सोखता है।

नींबू का रस, सिट्रिक एसिड (Citric acid) का अच्छा स्रोत है जो त्वचा में कसाव लाने का काम करता है। इसमें एंटीसेप्टिक गुण भी होते हैं जो त्वचा के गहरे रंग को हल्का करते हैं और त्वचा का पीएच स्तर भी संतुलित रखते हैं।

  1. एक छोटा चम्मच ताजे नींबू के रस को डेढ़ बड़े चम्मच पानी के साथ मिलाएं। रुई की सहायता से इस मिश्रण को अपनी त्वचा पर लगाएं। इसे 10 मिनट के लिए सूखने दें और फिर अपना चेहरा गर्म पानी से धो लें। नींबू का रस आपकी त्वचा को सुखा सकता है इसलिए इसे करने के बाद थोड़ा सा तेल रहित मॉइस्चराइज़र लगाएं। यह प्रक्रिया रोज़ाना दिन में एक बार करें।
  2. एक बड़ा चम्मच नींबू का रस, डेढ़ चम्मच शहद और एक बड़ा चम्मच दूध एक कटोरी में मिलाएं। इस मिश्रण को चेहरे पर लगाएं और इसे 10 से 15 मिनट के बाद ठंडे पानी से धो दें। रोज़ाना दिन में एक बार यह उपाय करने से आपको एक सप्ताह के भीतर ही सकारात्मक परिणाम नज़र आने लगेंगे। (और पढ़ें - शहद के फायदे और नुकसान)

दही में लैक्टिक एसिड होता है जो मृत त्वचा निकालता है और चेहरे से अतिरिक्त तेल को सोखता है। (और पढ़ें - दही के फायदे)

  1. एक बड़ा चम्मच दही लें और बिना कुछ मिलाये इसे अपने चेहरे पर अच्छी तरह से लगाएं और इसे 15 मिनट के लिए लगा रहने दें। फिर इसे ठंडे पानी से धो दें। रोज़ दिन में एक बार या उपाय करें बहुत फायदा होगा।
  2. वैकल्पिक रूप से, एक चम्मच दही में बारीक पिसा हुआ ओटमील मिलाएं। फिर इसमें एक चम्मच गर्म शहद मिलाएं। इस मिश्रण को अपने चेहरे पर लगाएं। इसे 10 से 15 मिनट के लिए लगा रहने दें और फिर गर्म पानी से धो लें।

त्वचा को ठंडक पहुंचाने वाले, सफाई करने और कसाव लाने के गुणों के कारण टमाटर तेलीय त्वचा के लिए किसी वरदान से कम नहीं होते हैं। टमाटर में मौजूद विटामिन सी की उच्च मात्रा मुँहासे युक्त त्वचा के लिए बहुत उपयोगी होती है। इसके अलावा, टमाटर में तेल अवशोषित करने वाला एसिड भी पाया जाता है। जो अतिरिक्त तेल से छुटकारा दिलाने में मदद करता है। 

(और पढ़ें - तैलीय त्वचा के लिए फेस वाश)

  1. आधा टमाटर काट लें और इसे आपकी त्वचा पर रगड़ें।
  2. रस को अपनी त्वचा में कम से कम 15 मिनट तक सूखने दें।
  3. फिर इसे ठंडे पानी से धो लें और पोंछने के बाद इस पर तेल रहित (Oil free) मॉइस्चराइजर लगाएं।
  4. एक चम्मच शहद में तीन चम्मच टमाटर का रस मिलकर आप फेस मास्क भी बना सकती हैं।

सेब मृत त्वचा को हटाने का काम करता है। साथ ही उसमें एंटीसेप्टिक, त्वचा में कसाव लाने वाले और मुलायम बनाने के गुण भी होते हैं, जो त्वचा का तेल कम करने के लिए उसे एक बेहतरीन घरेलू उपाय बनाते हैं। सेब में मौजूद मैलिक एसिड (Malic acid), मृत त्वचा कोशिकाओं और त्वचा की सतह से अतिरिक्त तेल को अवशोषित करने में मदद करता है। (और पढ़ें - सेब के फायदे)

  1. आधा सेब घिस लें और उस चूरे को अपनी त्वचा पर लगाएं। इसे 15 मिनट के लिए त्वचा पर लगा रहने दें और फिर इसे गुनगुने पानी से धो लें।
  2. पेस्ट बनाने के लिए एक चम्मच घिसा हुआ सेब, दही और नींबू का रस मिलाएं। इस मिश्रण को अपने चेहरे पर लगाएं और इसे 15 मिनट के लिए लगा रहने दें। फिर ठंडे पानी से अपने चेहरे को धो लें।

खीरा त्वचा को शीतलता, कसावट और कोमलता प्रदान करने वाले गुणों के कारण बहुत फायदेमंद होता है। इसके अलावा, विटामिन ए, विटामिन ई, मैग्नीशियम और पोटेशियम सहित उच्च विटामिन और खनिज मौजूद होने के कारण ये ऑयली त्वचा के लिए बहुत अच्छा होता है।

(और पढ़ें - विटामिन के फायदे)

  1. ताज़े खीरे की मोटी स्लाइस काटें और उन्हें अपने चेहरे पर अच्छी तरह से रगड़ें। इसे रात भर लगा रहने दें और सुबह गर्म पानी से धो लें। रोज़ सोने से पहले ये उपाय करें।
  2. वैकल्पिक रूप से, डेढ़ चम्मच खीरे और नीबू का रस मिलाएं। इस मिश्रण को आपकी त्वचा पर लगाएं और इसे सूखने दें और फिर इसे गर्म पानी से धो लें। प्रतिदिन यह उपाय करें। इसका उपयोग झाइयों और सनबर्न को कम करने के लिए भी किया जा सकता है।(और पढ़ें - झाइयां हटाने के घरेलू उपाय)

सेब के सिरके में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो उस प्रकार के एक्ने के लिए अच्छा होता है जो त्वचा के तेल और बैक्टीरिया के कारण होते हैं। इसके अलावा, यह अल्फा हाइड्रॉक्सी एसिड (एएचए) का पर्याप्त स्रोत है जो ऑयली स्किन को टोन और मॉइस्चराइज करता है।

  1. आप एक चौथाई कप सेब के सिरके में तीन चौथाई कप पानी मिला कर एक घरेलू टोनर बना सकते हैं। इस टोनर को रुई की मदद से त्वचा पर लगाएं। इसे पांच से 10 मिनट तक लगा रहने दें। फिर ठंडे पानी से धो लें। सकारात्मक परिणाम के लिए इस प्रक्रिया को सप्ताह में यह कई करें।
  2. एक गिलास पानी में एक चम्मच सेब का सिरका मिलाएं और रोज़ रात को सोने से पहले इसे पी लें। यह हार्मोन संतुलन में मदद करेगा, जो त्वचा में अतिरिक्त तेल के उत्पादन को नियंत्रित करेगा। (और पढ़ें - हार्मोन्स का महत्व महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए)

नोट: यदि आपके पास सेब का सिरका नहीं है, तो आप सफेद सिरके का उपयोग भी कर सकते हैं।

दूध एक बहुत अच्छा तेल मुक्त क्लीन्ज़र है, जो तेलीय त्वचा को नरम और कोमल बनाता है। दूध में भी अल्फा हाइड्रॉक्सी एसिड होता है जो त्वचा की मृत कोशिकाएं हटाता है और त्वचा का प्राकृतिक पीएच संतुलन बनाए रखता है। (और पढ़ें - चेहरे पर कच्चे दूध लगाने के फायदे)

  1. दो चम्मच दूध में दो या तीन बूंदें चंदन या लैवेंडर तेल की मिलाएं।
  2. रुई की मदद से इस मिश्रण को अपने चेहरे पर लगाएं।
  3. रक्त परिसंचरण सुधारने के लिए कुछ मिनट के लिए त्वचा की मालिश करें और फिर सो जाएं।
  4. सुबह, ठंडे पानी से अपना चेहरा धो लें।
  5. यह उपाय रोज़ करें।

एलोवेरा में रोगाणुरोधी (Antimicrobial) गुण होते हैं, जो मुँहासे का कारण बनने वाली तेलीय त्वचा के उपचार के लिए आदर्श होते हैं। इसके अलावा, एलोवेरा आपकी त्वचा की सतह से अतिरिक्त तेल को अवशोषित करने में भी मदद करता है। 

  1. आधी एलोवेरा की पत्ती काटें और उसमें से ताजा जेल निकालें। इस जेल को अपने चेहरे पर लगाएं। इसे सूखने दें और फिर अपना चेहरा साफ पानी से धो लें। यह प्रक्रिया दिन में दो या तीन बार दोहराएं।
  2. वैकल्पिक रूप से, कुछ मिनटों के लिए पानी में एक एलोवेरा की पत्ती उबाल लें। पेस्ट बनाने के लिए इस पत्ती को शहद के साथ पीस लें। इस पेस्ट को अपनी त्वचा पर अच्छी तरह से लगाएं। इसे 20 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर इसे ठंडे पानी से धो दें। यह उपाय सप्ताह में एक बार करें।

(और पढ़ें - एलोवेरा से गोरी त्वचा पाने के 4 चमत्कारी उपाय)

शहद, त्वचा की सतह पर जमा अतिरिक्त तेल को कम करने में मदद करता है। साथ ही छिद्र और झुर्रियों को भी होने से रोकता है। शहद में मॉइस्चराइजिंग गुण होते हैं जो त्वचा को पोषण देते हैं और त्वचा को बिना ऑयली बनाये पर्याप्त रूप से मॉइस्चराइज करते हैं। इसके अलावा, शहद के प्राकृतिक एंटीसेप्टिक गुण मुँहासे पैदा करने वाली ऑयली त्वचा के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं।

  1. अपने चेहरे पर शहद की एक पतली परत लगाएं और इसे 15 मिनट के लिए लगा रहने दें। फिर अपना चेहरा धो लें और इस प्रक्रिया को दिन में दो बार करें।
  2. आप शहद के साथ थोड़े पिसे हुए बादाम मिलाकर मिश्रण भी बना सकते हैं। मृत कोशिकाओं को हटाने के लिए हल्के हाथों से इस पेस्ट से अपनी त्वचा की मालिश करें। फिर अपने चेहरे को गर्म पानी में भिगोये हुए कपड़े की सहायता से पोंछे इससे आपके बंद छिद्र खुलेंगे। यह प्रक्रिया सप्ताह में एक बार करें।

इन घरेलू उपचारों का उपयोग अपनी त्वचा की सतह से तेल कम करने और अधिक मुलायम त्वचा पाने के लिए त्वचा के छिद्र खोलने के लिए करें।

और पढ़ें ...