जोजोबा तेल जोजोबा पौधे के बीज से तैयार किया हुआ तेल है। इसकी खेती सबसे पहले उत्तर अमेरिका के दक्षिण-पश्चिमी क्षेत्र में हुई थी। इसका वैज्ञानिक नाम सिमोन्डशिया कैलीफोर्निका (Simmondsia Chinensis) है। इस पौधे के बीज में लगभग 50% तेल होता है जिसका उपयोग हजारों सालों से औषधीय प्रयोजनों के लिए किया जा रहा है। बहुत से लोग इसका उपयोग आवश्यक तेल (essential oils) के लिए और बहुत से लोग वाहक तेल (carrier oil) में करते हैं, क्योंकि यह आसानी से त्वचा में अवशोषित हो जाता है और कई सक्रिय तत्व प्रदान करता है जो त्वचा और बालों में पोषक तत्वों को संचारित करने में मदद करते हैँ। यह तेल अन्य प्राकृतिक तेलों की तुलना में बहुत अधिक समय तक चलता है। इसमें ट्राइग्लिसराइड्स का स्तर बहुत कम होता है जो उच्च तापमान से होने वाले नुकसान को कम कर इसकी शेल्फ लाइफ को बढ़ता है। इस तेल में कोई भी प्रकार के मध्यम-श्रृंखला वाले फैटी एसिड नहीं होते हैं लेकिन इसमें ओलिक एसिड, इकोसेनोइक एसिड और इरोकिक एसिड पाए जाते हैं। साथ ही इसमें निचले स्तर के स्टीयरिक, पॉलीमेटिक, नर्वोनिक और पामेटोलिक एसिड होते हैं। इन सबके अपने एंटीऑक्सीडेंट, एंटीसेप्टिक और एंटी-इंफ्लेमेटरी प्रभाव भी होते हैं जो इस तेल को फायदेमंद बनाते हैं -

  1. जोजोबा तेल के फायदे - Jojoba oil ke fayde in hindi
  2. जोजोबा तेल के नुकसान - Jojoba oil ke nuksan in hindi
  3. जोजोबा तेल कैसे उपयोग करें - How to use kojoba oil in hindi

जोजोबा ऑयल को सौंदर्य का खजाना कहें तो गलत नहीं होगा। चेहरे की सुंदरता में चार चांद लगाने के लिए जोजोबा ऑयल का इस्तेमाल नियमित तौर पर किया जा सकता है। जोजोबा ऑयल में विटामिन ई, विटामिन बी और कॉपर से लेकर ऐसे कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जो त्वचा के लिए काफी फायदेमंद होता है।

जोजोबा तेल का सबसे अधिक उपयोग मुँहासे, छालरोग, एक्जिमा, रोजेसिया, जलन, घाव, झुर्रियाँ, उम्र के धब्बे, दाग, निशान, सूखे और कडे़ बाल, रूसी, बालों का झड़ना, धूप की कालिमा, फटे होंठ, फटी एड़ियां, सूखी त्वचा और खिंचाव के निशान के साथ साथ अन्य प्रकार की त्वचा और बालों की समस्या के लिए किया जाता है।

ऐसे करें उपयोग
इस तेल का अधिकतर लोग मसाज के रूप में उपयोग करते हैं। साथ ही मेकअप रिमूवर और कंडीशनर के लिए भी इसका इस्तेमाल किया जाता है। यह तेल खाने योग्य नहीं होता है। इसका इस्तेमाल सिर्फ बालों और त्वचा की खूबसूरती बनाए रखने के लिए किया जाता है। हालांकि, कई लोगों को इससे जलन और एलर्जी महसूस होती है, इसलिए जब पहली बार इस्तेमाल करें तो अच्छी तरह जांच कर लें कि आपको जोजोबा ऑयल से एलर्जी तो नहीं है। जांच करने के लिए कुछ बूंदें अपनी त्वचा पर 2 या 3 मिनट तक लगाकर रख सकते है। बच्चों में डॉक्टर की सलाह के बाद ही इसका उपयोग करना चाहिए।

जोजोबा तेल रखे त्वचा में नमी - Jojoba oil for moisturizing skin in hindi

जोजोबा तेल में पाए जाने वाले कुछ यौगिक तुरंत त्वचा में अवशोषित हो जाते हैं और त्वचा की कोशिकाओं के चारों ओर एक सुरक्षात्मक ढाल बनाते हैं जिससे उनमें अतिरिक्त नमी खोने से बच जाती है। इस तेल के हाइड्रेटिंग गुण परतदार त्वचा को रोकते हैं और उन कोशिकाओं की रक्षा करते हैं जो बाहरी तत्वों के प्रति अधिक संवेदनशील होती हैं।

(और पढ़ें – प्रदूषण से त्वचा को सुरक्षित रखने के लिए अपनाएं ये आसान तरीके)

जोजोबा तेल के फायदे त्वचा की सूजन के लिए - jojoba oil for inflamed skin in hindi

त्वचा शरीर का सबसे बड़ा अंग है जो निरंतर कठोर वातावरण, जलन, प्रदूषण और रोगजनकों के संपर्क में आती है, जिसके कारण आंतरिक और बाहरी सूजन की समस्या हो सकती है। यदि रोज जोजोबा ऑयल लगाते हैं तो यह त्वचा के लिए एंटी-बैक्टीरियल गुण का काम करता है। यह त्वचा की सूजन को कम करता है। जोजोबा तेल त्वचा में जलन और खुजली जैसी समस्या में उपयोगी है और त्वचा की कोशिकाओं को आराम देता है। इसमें त्वचा के घावों को कम करने की शक्ति है। इसमें एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण होते हैं, जो त्वचा की लालिमा, एक्जिमा और एडिमा जैसी बीमारियों को दूर करता है।

(और पढ़ें – आयुर्वेदिक स्किन केयर टिप्स फॉर समर)

त्वचा पर जोजोबा तेल लगने के फायदे संक्रमण में - Jojoba oil for fungal infection in hindi

इस तेल में जीवाणु नाशक गुण पाया जाता है जो त्वचा और बाल स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद है। यदि आप छालरोग, एक्जिमा या रॉसेसिया जैसी त्वचा की परेशानियों से ग्रसित हैं, तो जोजोबा तेल का नियमित उपयोग आंतरिक कवक, वायरल या जीवाणु संक्रमण से लड़ता है और इसके कारण होने वाली समस्या से छुटकारा दिलाता है।

दूर होता है त्वचा का रूखापन
जोजोबा ऑयल को लगाने के बाद मॉइश्चराइजर की जरूरत नहीं पड़ती, क्योंकि इसमें नैचुरल तेल सीबम होता है। यह तेल चिपचिपा नहीं होता है और त्वचा के अंदर तुरंत अवशोषित हो जाता है। त्वचा के ऊपर एक परत बनाकर यह धूल और मिट्टी से त्वचा की सुरक्षा भी करता है।

(और पढ़ें – अगर है एक्जिमा से परेशान, तो ज़रूर करें इस घरेलू मास्क का इस्तेमाल)
 

जोजोबा तेल का उपयोग घाव के लिए - Jojoba oil to heal wounds in hindi

घाव, छिलने और खरोंच पर इस तेल को लगाने से करने से ये जल्दी ठीक हो जाते हैं और संक्रमण से भी इनकी रक्षा होती है। विटामिन ई सहित इस तेल में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट इन क्षेत्रों में रक्त प्रवाह को बढ़ाते हैं और स्वस्थ नई कोशिकाओं का तेजी से उत्पादन करते हैं।

त्वचा की मांसपेशियां होती है मजबूत
जोजोबा तेल हमारी त्वचा की मांसपेशियों को भी मजबूत करता है। इस तेल के कारण त्वचा हाइड्रेटिंग परत बना लेती है, जो कोशिकाओं को नष्ट नहीं होने देती है। इसके अलावा जोजोबा तेल बाहरी आक्रमणों से भी त्वचा की सुरक्षा करता है।

 

जोजोबा ऑइल के फायदे सनबर्न पर - Jojoba oil helps sunburn in hindi

जोजोबा तेल सनबर्न की स्थिति में काफी फायदेमंद होता है। सूरज की किरणों से होने वाली टैनिंग और बर्न का इलाज जोजोबा ऑयल से किया जा सकता है। जोजोबा ऑयल में मौजूद विटामिन ई और बी कॉम्प्लेक्स त्वचा का कालापन दूर करता है। इसके अलावा जोजोबा ऑयल त्वचा के रोम छिद्र को खुला रखता है, जिससे त्वचा ऑयली नहीं होती। एंटी-बैक्टीरियल गुणों के कारण जोजोबा तेल मुंहासों और दूसरी समस्याओं को भी खत्म कर देता है। इस तेल मे मौजूद एंटीऑक्सीडेंट यौगिक त्वचा को लचीला बनाकर उसे एक चमक देते हैं।

(और पढ़ें – पाएं सनबर्न से छुटकारा लेकर इन प्राकृतिक तरीकों का सहारा)

जोजोबा ऑइल फॉर रिंकल्स स्किन - Jojoba oil for wrinkled skin in hindi

जिन लोगों को झुर्रियां, उम्र के धब्बे और दाग-धब्बों के साथ समय से पहले उम्र बढ़ने की चिंता सता रही है, यह तेल उनके लिए बहुत फायदेमंद है। जोजोबा तेल में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट यौगिक त्वचा को लचीला बनाते हैं, झुर्रियों को कम करने में मदद करते हैं और आपकी त्वचा को एक चमक प्रदान करते हैं।

जोजोबा ऑयल ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाते हुए त्वचा में नई कोशिकाओं का निर्माण करता है। इसलिए त्वचा पर उम्र का भी असर नहीं दिखता है। 

(और पढ़ें - झुर्रियां हटाने के उपाय)

जोजोबा ऑइल रोके बालों के झड़ने - Jojoba oil stops Hair Loss in hindi

जिन लोगों को झुर्रियां, उम्र के धब्बे और दाग-धब्बों के साथ समय से पहले उम्र बढ़ने की चिंता सता रही है, यह तेल उनके लिए बहुत फायदेमंद है। जोजोबा तेल में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट यौगिक त्वचा को लचीला बनाते हैं, झुर्रियों को कम करने में मदद करते हैं और आपकी त्वचा को एक चमक प्रदान करते हैं।

बालों की खूबसूरती और विकास के लिए विटामिन ई जरूरी होता है। बालों पर जोजोबा ऑयल की मसाज करने से उन्हें पोषक तत्व मिलते हैं और वे मजबूत भी होते हैं।

(और पढ़ें – बालों को झड़ने से रोकने के लिए ये पांच पोषक तत्व अपनी डाइट में ज़रूर करें शामिल)

जोजोबा आयल बेनिफिट्स फॉर डैंड्रफ - Jojoba oil benefits for dandruff in hindi

जोजोबा तेल में मौजूद मॉइस्चराइजिंग, जीवाणुरोधी और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण शुष्क, शल्‍कन और कुपित त्वचा को रोकने में मदद करते हैं जो रूसी की समस्या का कारण बनते हैं। इसके लिए शैंपू में जोजोबा तेल के कुछ चम्मच मिला कर अपने सिर में अच्छी तरह इससे मालिश करें और फिर अच्छी तरह सिर को धो लें। इससे बहुत जल्द रूसी की समस्या से छुटकारा मिल जायेगा।

(और पढ़ें – बालों से रूसी हटाने के उपाय)

जोजोबा तेल लगाने के फायदे फ़्रिज़ि बालों के लिए - Jojoba oil good for frizzy hair in hindi

यदि आपको अपने बालों को नियंत्रण में रखना मुश्किल हो रहा है तो जोजोबा तेल आपकी मदद कर सकता है। इसमें मौजूद प्रोटीन आपके बालों को रोक सकता है, इन्हें मॉइस्चराइज कर सकता है और इन्हें चमक भी दे सकता है। इसके लिए अपने गीले बालों पर जोजोबा तेल की कुछ बूंदों को डालकर मालिश करें। यह आपके फ़्रिज़ि बालों को स्थाई सुरक्षा प्रदान करेगा।

(और पढ़ें – बालों की रूसी (Dandruff) हटाने के घरेलु नुस्खे)

जोजोबा ऑइल के लाभ नाखूनों पर - Use jojoba oil for nails in hindi

इस तेल को अक्सर अन्य आवश्यक तेलों के साथ मिलाकर हाथों और पैरों की अंगुलियों के नाखूनों पर लगाया जाता है। यह फंगल संक्रमण को समाप्त करने में मदद करता है और उन कमजोर क्षेत्रों को बाहर के रोगज़नक़ों और गंदगी से मुक्त रखता है।

(और पढ़ें – नाखून बढ़ाने के पाँच अचूक घरेलू उपाय)

जोजोबा तेल हटाए स्ट्रेच मार्क्स - Jojoba oil to prevent stretch marks in hindi

कई प्राकृतिक तेल का उपयोग गर्भवती महिलाओं के लिए हानिकारक होता है। पर इस तेल के सुखदायक और स्किन बूस्टिंग गुण के कारण यह महिलाओं की एक लोकप्रिय पसंद है। कई अध्ययनों से पता चला है कि यह तेल गर्भावस्था के हार्मोनल और शारीरिक परिवर्तन के दौरान सूखी त्वचा को नमी देने और त्वचा को स्वस्थ रखने में मदद करता है। गर्भवती महिलाओं में बदलते हॉर्मोन और रुखी त्वचा के कारण स्ट्रेच मार्क्स की समस्या होने लगती है। यह तेल स्ट्रेच मार्क्स से भी छुटकारा दिलाता है। 

(और पढ़ें – स्ट्रेच मार्क्स हटाने के उपाय और गर्भावस्था में पेट दर्द)

जोजोबा का तेल अच्छा है होठों के लिए - Jojoba oil good for lips in hindi

जोजोबा तेल की मोमिए संरचना का उपयोग होंठ से खो गई नमी को फिर से भरने में होता है और यह लंबे समय तक होठों को कोमल और बनाए रखता है।

(और पढ़ें – होठों का कालापन कैसे दूर करें)

जोजोबा तेल के अन्य फायदे - Jojoba tel ke anya fayde in hindi

जोजोबा तेल का अरोमाथेरेपी में इस्तेमाल करने पर यह प्रतिरक्षा प्रणाली में सुधार कर सकता है। जबकि इस तेल का उपयोग अरोमाथेरेपी में बहुत आम नहीं है फिर भी यह आपके आंतरिक सिस्टम को बैक्टीरिया, वायरल और फंगल संक्रमणों के खिलाफ एक अतिरिक्त स्तर की सुरक्षा प्रदान कर सकता है।

(और पढ़ें – चमेली बालों में लगाने के साथ-साथ त्वचा के लिए भी है फायदेमंद)

इस तेल के कई अलग-अलग उपयोग हैं। इसका उपयोग मसाज तेल के रूप में, मेकअप रिमूवर के रूप में, होंठ बाम में, कंडीशनर, शैंपू, साबुन में, स्किन क्लीनर और फेस मास्क आदि में किया जाता है। यह तेल आमतौर पर एक वाहक तेल के रूप में उपयोग किया जाता है और उपयोगकर्ताओं को अधिक स्वास्थ्य लाभ प्रदान करने के लिए अन्य तेलों के साथ प्रभावी रूप से मिश्रित करके इसका उपयोग किया जाता है।

जोजोबा तेल का कोई नकारात्मक दुष्प्रभाव नहीं होता है इसलिए इस तेल का उपयोग करने के लिए कोई मात्रा निर्धारित नहीं की गई है। हालांकि तेल की प्रबल प्रकृति के कारण बालों के उपचार के लिए 2 से अधिक चम्मच का उपयोग नहीं करें।

जोजोबा तेल के उपयोग से हलकी सी त्वचा की जलन के साथ-साथ संभावित कार्डियोवास्कुलर और जठरांत्र सम्बंधित समस्याएं हो सकती है।

जैसा की कई प्राकृतिक तेलों के साथ हो सकता है, जोजोबा तेल से भी एलर्जी होना संभव है। इसलिए पहली बार इसका उपयोग करने से पहले एक बून्द अपनी त्वचा पर लगा कर 3-4 घंटे तक प्रतीक्षा करें। यदि आपको इस तेल से एलर्जी होती है तो अपनी चिकित्सकीय आवश्यकताओं के लिए एक अलग तेल चुनने का प्रयास करें। 

किसी भी परिस्थिति में जोजोबा तेल का सेवन नहीं करें। यह एक सामयिक तेल (topical oil) है। हालांकि इसे कभी-कभी अरोमाथेरेपी के लिए उपयोग जाता है। इस तेल में उच्च मात्रा में इरुसिक एसिड (erucic acid) होता है जो हृदय संबंधी समस्या के साथ-साथ पेट खराब होने की समस्या को भी जन्म दे सकता है।

(और पढ़ें – लैवेंडर के तेल के फायदे और नुकसान)


उत्पाद या दवाइयाँ जिनमें जोजोबा है

और पढ़ें ...
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ