हाई ब्लड प्रेशर आज की लाइफस्टाइल में एक आम समस्या बन गई है. यह समस्या सही खान-पान न होने के साथ-साथ अधिक तनाव लेने के कारण भी होती है. ब्लड प्रेशर का सामना करने वाले लोगों को अधिक खान-पान का विशेष ध्यान रखना चाहिए और साथ ही इन्हें अपनी डाइट में पोटेशियम से भरपूर खाना शामिल करना चाहिए, ताकि उनका बीपी कंट्रोल में रहे. साथ ही उन्हें अपने खाने में नमक की मात्रा पूरी तरह से कम कर देनी चाहिए. वहीं, हाई ब्लड प्रेशर का सामना कर रहे लोगों के मन में ये सवाल भी रहता है कि क्या हाई ब्लड प्रेशर में चाय पीनी चाहिए या नहीं? कुछ शोध कहते हैं कि हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों को ग्रीन टी, ब्लैक टी और हिबिस्कस टी पीने से फायदा होता है.

आज इस लेख के माध्यम से आप जानेंगे कि हाई ब्लड प्रेशर में चाय पीनी चाहिए या नहीं -

(और पढ़ें - हाई बीपी का आयुर्वेदिक इलाज)

  1. क्या हाई बीपी के मरीज को चाय पीनी चाहिए?
  2. हाई बीपी में बेस्ट चाय
  3. सारांश
हाई ब्लड प्रेशर में चाय पिएं या नहीं? के डॉक्टर

अधिकतर, वैज्ञानिक शोध यही कहते हैं कि उच्च रक्तचाप से पीड़ित व्यक्ति सीमित मात्रा में चाय का सेवन कर सकता है. फिर भी कुछ स्थितियां ऐसी होती हैं, जिनमें इस रोग से ग्रस्त मरीज को चाय से परहेज करना चाहिए.

आइए, कुछ पॉइंट्स के माध्यम से समझने की कोशिश करते हैं कि हाई ब्लड प्रेशर के लोगों को चाय का सेवन कब करना चाहिए और कब नहीं -

  • अगर हाई ब्लड प्रेशर वाले लोगों को एसिडिटी की समस्या है, तो उन्हें चाय बिल्कुल नहीं पीनी चाहिए.
  • हाई ब्लड प्रेशर वाले लोगों को चिंता या तनाव होने पर चाय नहीं पीनी चाहिए. अगर वे चाय पीते हैं, तो ब्लड प्रेशर बढ़ने का खतरा रहता है.
  • अगर हाई ब्लड प्रेशर वाले लोगों को यूरिन पास करने में जलन होती है, तो इस अवस्था में भी उन्हें चाय से परहेज करना चाहिए. ज्यादा चाय पीने से सीने और पेट में जलन होती है.
  • वैसे तो किसी भी व्यक्ति को खाली पेट चाय नहीं पीनी चाहिए, लेकिन ब्लड प्रेशर की स्थिति में खाली पेट चाय पीने से इसका स्तर बढ़ सकता है. इस स्थिति में सीने में जलन हो सकती है.
  • वहीं, कई रिसर्च ने ये पाया है कि ग्रीन और ब्लैक टी में मौजूद कैटेचिन नामक कंपाउंड ब्लड वेसल्स को रिलैक्स करता है, जिससे ब्लड प्रेशर कम हो सकता है.
  • चाय में एल-थेनाइन भी होता है. यह एक प्रकार का एमिनो एसिड है, जो तनाव की अवस्था में लोगों के ब्लड प्रेशर को नियंत्रित कर सकता है और तनाव को भी कम कर सकता है.

(और पढ़ें - हाई ब्लड प्रेशर में परहेज)

चीनी लोगों पर हुई एक स्टडी के अनुसार, प्रतिदिन कम से कम आधा कप ग्रीन टी पीने से हाई ब्लड प्रेशर का रिस्क लगभग 50% तक कम हो सकता है. इतना ही नहीं, हाल में हुई रिसर्च के मुताबिक चाय में पाए जाने वाले फ्लेवोनोइड्स नामक एंटीऑक्सीडेंट हार्ट डिजीज से बचा सकते हैं. ग्रीन टी से लेकर ब्लैक टी और हिबिस्कस टी के सेवन से हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मदद मिल सकती है. आइए, जानते हैं कि हाई ब्लड प्रेशर के लिए बेस्ट टी कौन-कौन सी हैं -

ग्रीन टी

2013 में पब्लिश रिसर्च के अनुसार, ग्रीन टी का सेवन सिस्टोलिक और डायस्टोलिक ब्लड प्रेशर को कम कर सकता है. ग्रीन टी में भरपूर मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट और पॉलीफेनोल्स पाए जाते हैं. ये तत्व ब्लड प्रेशर के लेवल को कंट्रोल करने में मदद करते हैं.

इसके साथ ही ग्रीन टी में एंटी-हाइपरटेंसिव गुण भी होते हैं, जो ब्लड वेसल्स को रिलैक्स करते हैं. इसमें कैटेचिन नामक तत्व होता है, जो खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने में सहायता कर सकता है. दरअसल, माना जाता है कि कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ने से भी ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है.

(और पढ़ें - हाई ब्लड प्रेशर में क्या खाएं)

ब्लैक टी

ब्लैक टी भी ब्लड प्रेशर को उसी तरह कम कर सकती है, जैसे ग्रीन टी कर सकती है. इसमें हार्ट को प्रोटेक्ट करने के भी गुण होते हैं. कई रिसर्च के अनुसार ब्लैक टी के सेवन से ब्लड प्रेशर को कम या कंट्रोल किया जा सकता है. ब्लैक टी को ब्लड प्रेशर का सामना करने वाले लोगों के लिए भी प्रभावी माना जाता है. ब्लैक टी में मौजूद फ्लेवोनोइड्स हृदय से जुड़ी समस्याओं के रिस्क को रोकने में मदद कर सकते हैं और आर्टरीज में ब्लड फ्लो को बेहतर कर सकते हैं.

(और पढ़ें - हाई बीपी के लिए योग)

हिबिस्कस टी

हावर्ड हेल्थ की रिपोर्ट के अनुसार हिबिस्कस टी ब्लड प्रेशर को कंट्रोल और कम करने में फायदेमंद साबित हो सकती है. इस हर्बल टी में एलडीएल कोलेस्ट्रॉल यानी खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को भी कम करने की क्षमता है. हिबिस्कस टी का सेवन करने से एलडीएल कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड लेवल कम हो जाता है. एंटीऑक्सीडेंड से भपूर होने के साथ ही इस हर्बल टी में पोटेशियम, मैग्नीशियम व कैल्शियम भी मौजूद होता है. 

(और पढ़ें - हाई बीपी का होम्योपैथिक इलाज)

हाई ब्लड प्रेशर से निपटना भले ही बहुत परेशान कर सकता है, लेकिन लाइफस्टाइल में बदलाव, एक्सरसाइज और दवा के साथ इस बीमारी को मैनेज किया जा सकता है. कुछ स्टडी के अनुसार, ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करने के लिए चाय पीना एक अच्छी और हेल्दी आदत हो सकती है, जिसे अपनी दिनचर्या में शामिल करना चाहिए. इसके लिए कुछ चुनिंदा और फायदेमंद चाय का ही सेवन करना लाभकरी साबित हो सकता है. ब्लैक टी, ग्रीन टी और हिबिस्कस टी को हाई ब्लड प्रेशर का सामना कर रहे लोगों के लिए अच्छा माना जाता है. फिर भी इन चाय का सेवन करने के पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें.

(और पढ़ें - हाई ब्लड प्रेशर डाइट चार्ट)

Dt. Sonal jain

Dt. Sonal jain

आहार विशेषज्ञ
5 वर्षों का अनुभव

Dt. Rajni Sharma

Dt. Rajni Sharma

आहार विशेषज्ञ
7 वर्षों का अनुभव

Dt. Neha Suryawanshi

Dt. Neha Suryawanshi

आहार विशेषज्ञ
10 वर्षों का अनुभव

Dt. Ayushi Shah

Dt. Ayushi Shah

आहार विशेषज्ञ
2 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ