टेनिस एल्बो क्या है?

टेनिस एल्बो एक दर्दनाक स्थिति है, जिसमें कलाई और बाजु पर अधिक दबाव बनने या हिलने के कारण कोहनी में मौजूद टेंडन (मांसपेशियों को हड्डियों से जोड़ने वाले ऊतक) में दर्द होने लगता है। ये स्थिति पेंटर, प्लंबर, कारपेंटर और ऐसे ही काम करने वाले अन्य लोगों को प्रभावित करती है जिनकी कोहनी और कलाई का काम अधिक होता है। टेनिस एल्बो अपने आप ठीक हो जाती है, हालांकि इसे ठीक होने में कुछ हफ्तों, महीनों से 1-2 साल तक का समय भी लग सकता है क्योंकि टेंडन को ठीक होने में ज्यादा समय लगता है।

टेनिस एल्बो के लक्षण क्या हैं?

टेनिस एल्बो होने पर कोहनी की तरफ मौजूद हड्डी में लगातार दर्द या छूने पर दर्द होने लगता है क्योंकि इसी जगह पर टेंडन हड्डियों से जुड़ते हैं। टेनिस एल्बो के कारण होने वाला दर्द कोहनी की बहरी तरफ से अंदर की तरफ, कोहनी और बाजु के ऊपरी या निचली तरफ भी फैल सकता है। इसके अलावा आपको किसी से हाथ मिलाने में, कप पकड़ने में और ऐसे ही काम करने में दर्द महसूस होता है।

(और पढ़ें - मांसपेशियों में दर्द का इलाज)

टेनिस एल्बो क्यों होती है?

कोई भी ऐसा काम करने से जिसमें आपकी कलाई का प्रयोग बार-बार होता है, आपको टेनिस एल्बो की समस्या हो सकती है। जैसे हथौड़े या पेचकस का अधिक इस्तेमाल करना, पेंटिंग करना आदि। ऐसा माना जाता है कि ये समस्या खेलने वाले लोगों को ही प्रभावित करती है, लेकिन ये सच नहीं है। हालांकि, टेनिस खेलने पर आपको अपनी कलाई को इस तरीके से बार-बार घुमाना पड़ता है, जिससे टेनिस एल्बो की समस्या हो सकती है। इसके अलावा किसी चीज को कसकर पकड़ने या ज्यादा दबाने के कारण भी ये समस्या हो सकती है।

(और पढ़ें - हाथ में दर्द का इलाज)

टेनिस एल्बो का इलाज कैसे होता है?

टेनिस एल्बो के लिए आपको कोहनी पर एक पट्टा लगाने की आवश्यकता हो सकती है। इसमें आप बर्फ लगाकर और आराम करके अपनी हालत में सुधार ला सकते हैं। टेनिस एल्बो के लिए फिजिकल थेरेपी की जाती है, जिसमें कोहनी का लचीलापन और ताकत बढ़ाने के लिए अलग-अलग प्रकार की एक्सरसाइज करने को कहा जाता है। इसके अलावा मेडिकल स्टोर पर इसके लिए दर्द-निवारक दवाएं भी उपलब्ध होती हैं।

(और पढ़ें - एक्सरसाइज करने का सही टाइम)

  1. टेनिस एल्बो क्या है - What is Tennis Elbow in Hindi
  2. टेनिस एल्बो के लक्षण - Tennis Elbow Symptoms in Hindi
  3. टेनिस एल्बो के कारण व जोखिम कारक - Tennis Elbow Causes & Risk Factors in Hindi
  4. टेनिस एल्बो से बचाव - Prevention of Tennis Elbow in Hindi
  5. टेनिस एल्बो का परीक्षण - Diagnosis of Tennis Elbow in Hindi
  6. टेनिस एल्बो का इलाज - Tennis Elbow Treatment in Hindi
  7. टेनिस एल्बो की जटिलताएं - Tennis Elbow Complications in Hindi
  8. टेनिस एल्बो की दवा - Medicines for Tennis Elbow in Hindi
  9. टेनिस एल्बो के डॉक्टर

टेनिस एल्बो क्या है?

कोहनी के बाहरी तरफ के हिस्से में दर्द होने की समस्या को “टेनिस एल्बो” कहा जाता है। यह मांसपेशियों का अधिक उपयोग करने से होने वाली चोट होती है। यह अक्सर कोहनी के जोड़ के आस-पास की मांसपेशियों का अधिक व तनावपूर्ण उपयोग करने से होती है।

(और पढ़ें -  कलाई में दर्द का इलाज)

टेनिस एल्बो के लक्षण क्या हैं?

कोहनी के बाहरी तरफ बांह के अगले हिस्से की मांसपेशियों में लगातार दर्द होना और छूने पर दर्द और अधिक बढ़ जाना टेनिस एल्बो का सबसे मुख्य लक्षण होता है। इसके लक्षण समय के साथ धीरे-धीरे विकसित हो सकते हैं और आप उसे किसी चोट या अन्य घटना से नहीं जोड़ पाते। 

कोहनी में होने वाला दर्द हल्का या गंभीर भी हो सकता है, कुछ मामलों में दर्द इतना गंभीर हो सकता है कि जो रात को ठीक से सोने भी नहीं देता है। टेनिस एल्बो के कारण आपको रोजाना की जाने वाली कुछ गतिविधियां करने में भी परेशानी होने लग जाती है, जैसे प्रभावित हाथ से चाय का कप पकड़ना आदि।

(और पढ़ें - चोट की सूजन का इलाज)

दर्द आपको निम्न के रूप में महसूस हो सकता है:

  • बांह के अगले हिस्से में कोहनी के ठीक नीचे दर्द होना
  • कुछ उठाने या कोहनी को मोड़ने के दौरान दर्द होना
  • कलाई मोड़ने की किसी भी प्रक्रिया के दौरान कोहनी में दर्द होना
  • किसी के सााथ हाथ मिलाने के दौरान दर्द होना
  • वजन उठाने के दौरान दर्द होना (और पढ़ें - वेट लिफ्टिंग के फायदे)
  • छोटी चीजों को उठाने पर दर्द होना जैसे पेन उठाना
  • बांह को मोड़ने जैसा कोई कार्य करने के दौरान जैसे किसी जार का ढक्कन खोलना या दरवाजे को खोलना

यदि आपकी कोहनी में दर्द या टेनिस एल्बो है, तो आपको पूरी बांह खोलने में भी दिक्कत हो सकती है। 

डॉक्टर को कब दिखाएं?

यदि आपको लगता है कि आपको टेनिस एल्बो हो गया है, तो आमतौर पर आपको डॉक्टर के पास जाने की आवश्यकता नहीं पड़ती। इसका इलाज आप घर पर भी कर सकते हैं। कुछ मामलों में टेनिस एल्बो कुछ लोगों में दिन प्रतिदिन उनकी रोजाना की गतिविधियों को प्रभावित करने लग जाती है। यदि आपके लक्षण लगातार गंभीर होते जा रहे हैं, घरेलू उपचार व सामान्य दवाएं काम नहीं कर रही हैं, तो ऐसी स्थिति में डॉक्टर के पास जाकर दिखा लेना चाहिए।

(और पढ़ें - बांह की मांसपेशियां फटने का इलाज)

कोहनी में दर्द के कारण क्या हैं?

कोहनी के चारों तरफ एक मांसपेशी होती है, जो कोहनी को उसका काम करने व हिलने-ढुलने में मदद करती है। कोहनी में मौजूद टेंडन हड्डियों व मांसपेशियों को एक साथ जोड़ने में मदद करते हैं और बांह के अगले हिस्से की मांसपेशियों को कंट्रोल करते हैं। टेनिस एल्बो कभी-कभी टेनिस खेल खेलने के दौरान हो जाती है, जिस पर इसका नाम रखा गया है। हालांकि आमतौर पर यह ऐसी गतिविधियों के कारण होती है, जिनके कारण कोहनी की मांसपेशियों में बार-बार खिंचाव या तनाव आता है। 

कोहनी के टेंडन का सामान्य से अधिक उपयोग होना टेनिस एल्बो का सबसे मुख्य कारण होता है। टेनिस एल्बो आमतौर पर समय के साथ धीरे-धीरे विकसित होता है। एक ही गति में बार-बार की जाने वाली गतिविधियां जैसे स्विमिंग करने के दौरान या रैकेट को पकड़ने आदि के कारण मांसपेशियों में तनाव बढ़ जाता है, जिससे टेंडन पर अत्यधिक तनाव बढ़ जाता है। लगातार ऐसा खिंचाव होने से ऊतकों में सूक्ष्म दरारें आ जाती हैं।

(और पढ़ें - मांसपेशियों में खिंचाव का इलाज​)

टेनिस एल्बो निम्न प्रकार के खेलों में भी हो सकता है:

  • टेनिस
  • स्क्वैश
  • रैकेटबॉल
  • फेंसिग
  • वेट लिफ्टिंग

यह ऐसे लोगों को भी हो जाता है जिनके काम में बांह का एक ही गतिविधि का इस्तेमाल होता हो जैसे लकड़ी का काम करना, टाइपिंग करना, पेंटिंग करना, रेकिंग करना (बटोरना) और बुनना आदि। 

(और पढ़ें - 

टेनिस एल्बो होने का खतरा कब बढ़ता है?

निम्न समूह के लोगों में टेनिस एल्बो होने का खतरा बढ़ जाता है:

  • टेनिस के वर्तमान खिलाड़ियों में जिसपर इसका नाम पड़ा है
  • ऐसा काम करना जिसमें कोहनी को एक ही गति में काम करना पड़ रहा है। 
  • यह किसी भी उम्र में हो सकता है, हालांकि यह 35 से 50 साल की उम्र के लोगों में अधिक होता है। 
  • आमतौर पर यह प्रमुख हाथ (जिसका उपयोग अधिक किया जाता है) में ही होता है, लेकिन यह दूसरे हाथ में भी हो जाता है।
  • यह पुरुषों या महिलाओं में समान रूप से हो सकता है।

(और पढ़ें - कोहनी में फ्रैक्चर के लक्षण)

कोहनी में दर्द से बचाव कैसे करें?

कुछ तरीकों की मदद से टेनिस एल्बो से बचाव किया जा सकता है:

  • बार-बार टेनिस एल्बो होने से बचाव करने के लिए प्रभावित मांसपेशियों की उचित रूप से स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज और मांसपेशियों को मजबूत करने वाली एक्सरसाइज करें। 
  • यदि आप वजन उठा रहे हैं, तो वजन को शरीर के करीब रखें और हथेलियों को ऊपर की तरफ रखें
  • गतिविधियों को ठीक से करना व अपने शरीर के अनुसार उनमें बदलाव करना बहुत जरूरी होता है, जैसे टेनिस घुमाने का सही तरीका अपनाना। इसके अलावा जिस उपकरण से आप गतिविधि कर रहे हैं, उसकी भी जांच कर लें की वह उचित है या नहीं। 
  • यदि आप किसी खेल में भाग रहे हैं तो उसे खेलने की सही तकनीक का इस्तेमाल करें। खेल को सही तरीके से खेलने के लिए आपको एक कोच की जरूरत भी पड़ सकती है। 
  • यदि आप लगातार कोई ऐसी गतिविधि कर रहे हैं, जिसमें बाजुओं का इस्तेमाल हो रहा है, तो समय-समय पर ब्रेक लेते रहें। 
  • यह सुनिश्चित कर लें कि आप जिस उपकरण का इस्तेमाल कर रहे हैं, वह आपको ठीक से सूट कर रहा है, उदाहरण के लिए यह रैकेट के हैंडल के साइज को सुनिश्चित करना। 
  • यदि आप कोई ऐसी गतिविधि कर रहें हैं, जिसमें कोहनी को एक ही दिशा में बार-बार काम करना पड़ रहा है, तो ऐसी स्थिति में यदि संभव हो तो इन गतिविधियों को छोड़ या बदल देना चाहिए।
  • ऐसे व्यायाम करना जो टेनिस एल्बो जैसी समस्याओं में मदद करते हैं, जैसे बांहों के अगले हिस्से की मांसपेशियों को मजबूत करने वाली व उनके कार्यों में सुधार करने वाली एक्सरसाइज। यदि कोई व्यक्ति ऐसी जगह काम करता है, जहां पर उसकी कोहनी को बार-बार एक ही दिशा में घूमना या काम करना पड़ता है तो उनको ये एक्सरसाइज करनी चाहिए। ताकि टेनिस एल्बो विकसित होने से बचाव किया जा सके। 

इसमें उचित कार्य व अभ्यास भी शामिल हो सकता है, जैसे:

  • बिना कोहनी को मोड़े बिना काम करने की कोशिश करना
  • गतिविधियों को आराम से करें और झटका आदि लगने बचें
  • काम करते समय बीच-बीच में उठकर ब्रेक लेते रहें। शरीर की पॉजिशन को समय-समय पर बदलते रहें और शरीर के अंगों को आराम देते रहें।

(और पढ़ें - मोटापा कम करने के लिए एक्सरसाइज)

टेनिस एल्बो की जांच कैसे की जाती है?

परीक्षण के दौरान डॉक्टर आपके लक्षणों के बारे में पूछेंगे और आपका शारीरिक परीक्षण करेंगे। वे कोहनी व कलाई में किसी प्रकार की सूजन, लालिमा व टेंडरनेस (छूने पर दर्द होना) आदि का पता लगाएंगे।

परीक्षण के दौरान डॉक्टर आपको कुछ शारीरिक गतिविधि करके दिखाने को भी कह सकते हैं, जैसे किसी वस्तु को पकड़ कर दिखाना। परीक्षण के दौरान आपकी रुचियों व आपके काम आदि के बारे में भी पूछा जाता है और साथ ही साथ यह भी पूछा जाता है कि आप कौन-कौन सी दवाएं खाते हैं। टेनिस एल्बो की जांच करने के लिए आमतौर पर डॉक्टर आपकी बांह की जांच करते हैं और आपसे पूछते हैं कि लक्षण कैसे विकसित हुऐ हैं व क्या करने से दर्द गंभीर हो जाता है। 

वे कोहनी के आस-पास की जगह में दर्द आदि का जांच करते हैं। परीक्षण कि पुष्टि करने के लिए डॉक्टर आपके कुछ सवाल भी पूछ सकते हैं। उदाहरण के लिए डॉक्टर आपके खेल कूद, आपकी जॉब के दौरान किए जाने वाले व जॉब के बाद के काम आदि के बारे में पूछ सकते हैं, जो आप आमतौर पर करते हैं। 

जिन लोगों को आमतौर पर टेनिस एल्बो हो जाता है, उनका एक्स रे किया जाता है। इसके अलावा कोहनी में दर्द के अन्य कारण जैसे हड्डी टूटना या ओस्टियोआर्थराइटिस आदि जैसी समस्याओं का पता लगाने के लिए भी एक्स रे टेस्ट किया जा सकता है। 

इस दौरान एमआरआई स्कैन भी किया जा सकता है। खासकर जिन लोगों की कोहनी में मौजूद टेंडन क्षतिग्रस्त हो गया है जिससे कोहनी के आकार में थोड़ा बहुत बदलाव आ गया है, तो उस स्थिति का पता लगाने के लिए एमआरआई स्कैन किया जा सकता है। 

यदि परीक्षण से जुड़ा किसी प्रकार का संदेह रह गया है, तो ऐसे कुछ मामलों में नर्व कंडक्शन स्टडी जैसे टेस्ट भी किए जा सकती है।

(और पढ़ें - सीटी स्कैन क्या है)

कोहनी में दर्द का इलाज कैसे करें?

यदि आपको टेनिस एल्बो हो गया है, तो आमतौर पर यह अपने आप ही ठीक हो जाता है और इसका  इलाज करवाने की जरूरत ही नहीं पड़ती है।

कोहनी के दर्द का इलाज करने के लिए सबसे पहला कदम प्रभावित कोहनी को 2 से 3 हफ्तों तक आराम देना और जो गतिविधियां दर्द का कारण बनती हैं उन्हें बंद करना या उनमें कुछ बदलाव करना होता है। इसके अलावा निम्न कार्य भी किए जा सकते हैं:

  • दिन में 2 से 3 बार कोहनी के बाहरी तरफ से बर्फ से सिकाई करें 
  • कुछ एनएसएआईडीएस दवााएं लें, जैसे इबुप्रोफेन, नेपरोक्सेन या एस्पिरिन
  • कोहनी की अकड़न को दूर करने के लिए और लचीलता को बढ़ाने के लिए रेंज ऑफ मोशन एक्सरसाइज करें। डॉक्टर आपको ये एक्सरसाइज दिन में 3 से 5 बार करने को कह सकते हैं। 

डॉक्टर आपको शारीरिक रूप से एक्टिव रहने और ऐसा कोई भी काम ना करने की सलाह देते हैं, जो दर्द का कारण बन सकता है। 

यदि आपको लगातार दर्द हो रहा है और 6 से 12 हफ्तों तक भी ठीक नहीं होता, तो डॉक्टर आपको फीजियोथेरेपिस्ट के पास जाने की सलाह देते हैं। फीजियोथेरेपिस्ट आपको कुछ ऐसी एक्सरसाइज बता सकते हैं, जो बांहों की मांसपेशियों को मजबूत बनाने में मदद करती हैं। आप अपनी कोहनी को सुरक्षा व सहारा देने वाले उपकरणों (जैसे नाइट स्प्लिंट आदि) का उपयोग भी कर सकते हैं, जो आमतौर पर सभी मेडिकल स्टोर पर मिल जाते हैं। इस उपकरण को कोहनी व उसके आस-पास के बाजू के हिस्से पर लपेट दिया जाता है, जिसकी मदद से मांसपेशियों पर हल्का सा दबाव दिया जाता है। 

टेंडन जहां पर हड्डी से जुड़े होते हैं, उस जगह पर डॉक्टर कोर्टिसोन या सुन्न करने वाली दवाओं का इंजेक्शन लगा सकते हैं। इसकी मदद से सूजन व दर्द को कम करने में मदद मिलती है। 

यदि इलाज होने व उचित रूप से आराम करने पर भी दर्द 6 महीने या उससे भी ज्यादा समय तक रहता है, तो ऐसी स्थिति में कोहनी का ऑपरेशन करना पड़ सकता है।

(और पढ़ें - कोहनी के उतरने का कारण)

टेनिस एल्बो से क्या समस्याएं हो सकती हैं?

टेनिस एल्बो से होने वाली जटिलताओं में निम्न शामिल हो सकती हैं:

  • अधिक इस्तेमाल होने का कारण मांसपेशियां क्षतिग्रस्त हो जाना
  • बार-बार स्टेरॉयड का इंजेक्शन लगाने के कारण टेंडन फट जाना
  • ऑपरेटिव या नॉन-ऑपरेटिव उपचार का काम ना कर पाना, यह बांह के ऊपरी हिस्से में नस फंस जाने के कारण हो सकता है। 

(और पढ़ें - मांसपेशियों में दर्द के घरेलू उपाय)

Dr. Sanjai kumar Srivastava

Dr. Sanjai kumar Srivastava

ओर्थोपेडिक्स

Dr. Mohit Garg

Dr. Mohit Garg

ओर्थोपेडिक्स

Dr. Aashish Shahare

Dr. Aashish Shahare

ओर्थोपेडिक्स

टेनिस एल्बो के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
Depo MedrolDepo Medrol 40 Mg/Ml Injection93.0
DepotexDepotex 125 Mg Injection320.0
IvepredIvepred 1000 Mg Injection975.0
MacpredMacpred 4 Mg Tablet36.0
Medrol TabletMedrol 100 Mg Tablet87.0
Mepresso IMepresso I 1000 Mg Injection1034.0
Nucort MNucort M 16 Mg Tablet86.0
Solu MedrolSolu Medrol 1000 Mg Injection1271.0
SterioSterio 16 Mg Tablet126.0
ZempredZempred 16 Mg Tablet86.0
AcepredAcepred 40 Mg Injection60.0
Acto PredActo Pred 16 Mg Tablet120.0
AldicordAldicord 16 Mg Tablet95.0
ApdermApderm 0.10% Cream55.0
CoeloneCoelone 16 Mg Tablet87.0
Delsone MDelsone M 16 Mg Tablet79.0
DepopredDepopred 40 Mg Injection44.0
DeposetDeposet 40 Mg Injection49.0
DuraloneDuralone 16 Mg Tablet150.0
GrafmetGrafmet 500 Mg Injection666.0
LomicortLomicort 4 Mg Tablet37.0
LyopredLyopred 1000 Mg Injection995.0
Mega PredMega Pred 16 Mg Tablet110.0
MelpredMelpred 16 Mg Tablet100.0
MelsoneMelsone 16 Mg Tablet80.0
MepressoMepresso 1000 Mg Injection1034.0
Mepresso DMepresso D 40 Mg Injection31.0
Mepresso TMepresso T 16 Mg Tablet86.0
MepsonateMepsonate 125 Mg Injection238.0
MethoneMethone 16 Mg Tablet135.0
Monocortil MMonocortil M 16 Mg Tablet120.0
MpMp 1 Gm Injection952.0
MpredniMpredni 16 Mg Tablet117.0
MypredMypred 125 Mg Injection228.0
NupredNupred 16 Mg Tablet100.0
Orapred MOrapred M 4 Mg Tablet44.0
Ph MpaPh Mpa 0.1% Ointment80.0
Prascha MpPrascha Mp 16 Mg Tablet90.0
PredacePredace 1% Drop10.0
PredmetPredmet 10 Mg Drop18.0
PredsolePredsole 16 Mg Tablet98.0
PrelidPrelid 16 Mg Tablet99.0
PremisolPremisol 125 Mg Injection245.0
RednisolRednisol 16 Mg Tablet64.0
SanipredSanipred 1000 Mg Injection1200.0
SoftcorSoftcor 0.10% Cream85.0
Softcor MpSoftcor Mp 0.1% Cream95.0
SteronexSteronex 1000 Mg Injection1046.0
SuccimedSuccimed 125 Mg Injection238.0
CortipilCortipil 4 Mg Tablet39.0
GemdrolGemdrol 4 Mg Tablet13.0
MdcortMdcort Tablet133.0
MecortMecort Tablet25.0
MepredMepred 1000 Iu Injection1050.0
MeprestarMeprestar 4 Mg Tablet49.0
Mpa(Phc)Mpa Cream80.0
NicortNicort 16 Mg Tablet44.0
PilsonePilsone 16 Mg Tablet51.0
PrashchampPrashchamp 4 Mg Tablet28.0
Precort MPrecort M 8 Mg Tablet59.0
StirioStirio 4 Mg Tablet37.0
WinloneWinlone 16 Mg Tablet145.0
AcortAcort 10 Mg Injection28.57
ComcortComcort 10 Mg Injection14.7
CortisprayCortispray 50 Mcg/Puff Nasal Spray219.0
D CortD Cort 10 Mg Injection33.0
OrawaysOraways 0.1% W/W Paste47.19
PericortPericort 4 Mg Tablet31.21
TriamadermTriamaderm 0.1% W/W Ointment112.0
TricortTricort 10 Mg Injection46.0
TrioraTriora 0.1%W/W Ointment52.0
VetalogVetalog Injection46.65
BonacortBonacort 40 Mg Injection25.87
CortimCortim 4 Mg Tablet35.0
CortrimaCortrima 0.01% Cream105.0
KenacortKenacort 0.1% Oral Paste52.7
KencortKencort 1000 Mg Injection1090.0
LedercortLedercort 0.1% Ointment95.56
LupicortLupicort 40 Mg Injection38.2
RetiloneRetilone 40 Mg Injection97.47
StancortStancort 40 Mg Injection27.5
TrijectTriject 40 Mg Injection109.52
TrilonTrilon 40 Mg Injection60.0
TriroidTriroid 10 Mg Injection38.65
LcortLcort Cream38.27
NasicoritnNasicoritn Nasal Spray216.0
OaceOace Cream33.27
ExsoraExsora Ointment153.0
TessTess 0.1% Ointment57.0
TostiTosti Gel65.0
CinortCinort Gel54.0
TrioplastTrioplast Paste63.0
IotrimIotrim Eye Ointment57.0

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

और पढ़ें ...