myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

इसमें कोई संदेह नहीं है कि आपने जी-स्पॉट के बारे में काफी सुना होगा। वह रहस्यमय क्षेत्र जिसको छूने पर महिलाओं को अतिरिक्त अच्छा लगता है। लेकिन अफसोस की बात है कि ऐसी कई महिलाएं हैं जिन्हें वास्तव में अपना स्वयं का जी-स्पॉट भी नहीं मिलता है।

(और पढ़े - महिलाओं को उत्तेजित करने वाले अंग)

शुरू-शुरू में किसी भी महिला के लिए, यह पता लगाना मुश्किल हो सकता है। दूसरा, जब वह हस्तमैथुन कर रही होती है और उसका क्लाइटोरिस जब उसके सामने बाहर है, जिससे वो आनंद प्राप्त कर सकती है, तो वह किसी छुपे हुए खजाने की खोज पर जाना थोड़ा अनावश्यक महसूस कर सकती है।

ऑर्गेज्म तनाव को कम करने, आपकी त्वचा में सुधार करने और आपको अच्छा महसूस कराने में मदद कर सकते हैं। हालांकि, कई महिलाओं के लिए ऑर्गेज्म, विशेष रूप से पेनेट्रेशन (लिंग प्रवेश) के माध्यम से हासिल करना रहस्यमय जी स्पॉट की तरह ही मायावी (कभी हाथ न आने वाला) हो सकता है।

महिलाओं के लिए केवल संभोग के माध्यम से ऑर्गेज्म प्राप्त करना अपेक्षाकृत असामान्य है। वास्तव में, 2017 के एक अध्ययन के अनुसार, केवल 18 प्रतिशत महिलाएं अकेले लिंग प्रवेश के माध्यम से ऑर्गेज्म प्राप्त करती हैं - जिसका अर्थ है कि हाथ, मुंह या सेक्स टॉय की मदद नहीं ली जाती है। अधिकतर, सेक्स के दौरान ऑर्गेज्म की जब बात आती है, तब क्लिटोरल उत्तेजना आवश्यक होती है या कम से कम फायदेमंद तो होती ही है।

क्या आप जी स्पॉट की खोज शुरू करने और अपने साथी के होश उड़ाने के लिए तैयार है और संभवतः उसे कई ऑर्गेज्म भी देना चाहते हो? यहां हम आपको जी-स्पॉट को मास्टर करने का तरीका बता रहे हैं - हम आपको बताएँगे कि जी स्पॉट क्या है, यह क्या करता है, इसे कैसे ढूंढें, अपने साथी को अच्छा महसूस कराने के लिए जी-स्पॉट की उत्तेजना के सर्वोत्तम तरीके क्या हैं?

दूसरे शब्दों में, यहां एक महिला के ऑर्गेज्म प्राप्त करने का तरीका बताया गया है। चाहे आप महिला हो या पुरुष अब तक यदि आप इससे अनभिज्ञ थे तो यह लेख आपके सेक्स जीवन में एक नया रोमांचक अहसास भरने वाला है।

(और पढ़े - सेक्स करने के तरीके)

  1. जी स्पॉट क्या है - What is G Spot in hindi
  2. जी स्पॉट कहां स्थित है - How to find G Spot in hindi
  3. जी स्पॉट कैसे उत्तेजित करें - How to hit her G Spot in hindi
  4. जी-स्पॉट को उत्तेजित करने के लिए सेक्स पोजीशन - How to hit G Spot sex positions in hindi
  5. जी-स्पॉट को उत्तेजित करने के लिए सेक्स टॉयज - How to hit G Spot with sex toys in hindi
  6. जी स्पॉट क्या है, किधर होता है, उत्तेजित करने का तरीका के डॉक्टर

“जर्नल ऑफ सेक्सुअल मेडिसिन” में प्रकाशित एक अध्ययन जी-स्पॉट के रचनात्मक अस्तित्व को सत्यापित करता है। अब तक, यह कभी साबित नहीं किया गया था कि जी-स्पॉट वास्तव में मौजूद होता है या नहीं, भले ही महिलाएं सदियों से यौन उत्तेजना के दौरान योनि के ऊपरी, अंदरूनी भाग में सूजन या सेंसेशन की बात करती रही हों।

(और पढ़े - कामेच्छा बढ़ाने के उपाय)

जी-स्पॉट को पहली बार 1950 के दशक में खोजा गया था और डॉ अर्न्स्ट ग्रैफेनबर्ग ने मूत्रमार्ग के साथ योनि के अंदर ऊपर की परत पर "विशिष्ट एरोटोजेनिक जोन" के रूप में वर्णित किया था, जो यौन उत्तेजना से सक्रिय होता है। लेकिन डॉ बेवर्ली व्हाइपल ने डॉ ग्रैफेनबर्ग के नाम पर इस स्पॉट का नाम जी-स्पॉट दिया था।

जी-स्पॉट वास्तव में योनि के अंदर एक छोटा सा क्षेत्र है। यह योनि के अंदर दो इंच या उससे थोड़ा अधिक अंदर ऊपर आपके पेट की तरफ स्थित होता है। जी-स्पॉट सेक्सुअली संवेदनशील होता है और उत्तेजना के दौरान थोड़ा सूजता है और छूने पर हल्का उभरा हुआ महसूस होता है।

आप यह जानकर आश्चर्यचकित हो सकते हैं कि जी-स्पॉट वास्तव में कोई एक बिंदु या स्पॉट नहीं है। बहुत से लोगों को यह नहीं पता कि जी-स्पॉट एक निश्चित स्थान नहीं है और यह हर किसी महिला की योनि में एक ही स्थान पर नहीं होता है। जी-स्पॉट वास्तव में यूरेथ्रल स्पंज और क्लाइटोरिस का एक क्षेत्र है जो उत्तेजित होने पर एक अद्भुत सनसनी पैदा करता है।

हालांकि, सभी महिलाओं में यह ऊतक होता है, कुछ महिलाएं उनके जी-स्पॉट को उत्तेजित करना पसंद करती हैं और अन्य पसंद नहीं करती हैं। कई महिलाओं को इस तरीके से या किसी दूसरे तरीके से संवेदना में कोई अंतर महसूस नहीं होता है। कई महिलाओं को इससे ऑर्गेज्म प्राप्त होता है और उनके जी स्पॉट के उत्तेजित किये जाने पर लगभग 10 प्रतिशत महिलाएं स्खलित हो जाती हैं।

(और पढ़े - शीग्र स्खलन का इलाज)

आपको यह भी समझ लेना चाहिए कि ऑर्गेज्म जो क्लिटोरल उत्तेजना से उत्पन्न होते हैं और वे जो जी स्पॉट के उत्तेजित किये जाने से प्राप्त होते हैं दोनों में संबंध है, लेकिन दोनों को थोड़ा अलग-अलग ढंग से महसूस किया जाता है।

महिलाएं अक्सर बताती हैं कि जी-स्पॉट ऑर्गेज्म, क्लिटोरल ऑर्गेज्म से अलग महसूस होता है, क्योंकि जी स्पॉट ऑर्गेज्म में वे अपनी पेल्विक फ्लोर की मांसपेशियों में झटका, असर या उत्तेजना का अनुभव करती हैं वही इसके विपरीत क्लिटोरल उत्तेजना से योनि द्वार फैलता है जिससे संभोग में आसानी होती है। वास्तव में, शोध से पता चला है कि महिला का दिमाग वास्तव में इन भावनाओं में से प्रत्येक को संसाधित करने के लिए अलग-अलग भागों का उपयोग करता है।

तो, अब आप अच्छे से यह जान चुके हैं कि यह सब कैसे काम करता है और जी स्पॉट कैसे एक महिला को ऑर्गेज्म की ओर जाता है। लेकिन यदि जी स्पॉट अलग-अलग महिला में भिन्न-भिन्न स्थान पर हो सकता है, तो आप चाहे महिला हैं या पुरुष इसे कैसे खोज सकते हैं? आईये अगले सेक्शन में हम आपकी इस परेशानी को भी दूर कर देते है।

(और पढ़े - सेक्स लाइफ को मजेदार बनाने के टिप्स)

जी स्पॉट योनि के लगभग दो से तीन इंच अंदर ऊपर की ओर होता है। आप स्वयं इसका पता लगाना चाहे तो यह जो कोण बनाता है उसके कारण इस स्थान पर अपनी उंगलियों की मदद से जी स्पॉट खोजना काफी मुश्किल बन जाता है।

आप चाहे तो अपनी उंगलियों से अपना जी स्पॉट ढूंढने के लिए, बस अपने पेट पर हाथ रखें और फिर नीचे अपनी योनि की ओर हथेली को स्लाइड करें, अब अपनी हथेली से योनि तक नीचे जाएं। फिर 1 या 2 उंगलियों को हल्की मसाज करते हुए अपनी योनि में ले जाएं और जब उंगलिया आपके अंदर 2-3 इंच गहरी चली जाएं तो उन्हें ऊपर की ओर मोड़ लें तथा उनसे योनि में ऊपर की ओर छुए। संभावना है कि आप अपनी उंगलियों पर अपना जी स्पॉट महसूस करने में सक्षम होंगी।

कई महिलाओं को लगता ​​है कि वे अपना जी स्पॉट नहीं ढूंढ पाती हैं तो इसका कारण यह है कि आपको इसे खोजने के लिए पहले उत्तेजित होने की आवश्यकता होती है। यदि आप पूरी तरह से उत्तेजित नहीं हैं, तो आपको अपने जी स्पॉट को खोजने में या इससे कोई खुशी लेने में कठिनाई होगी।

उदाहरण के लिए, यदि आपकी स्त्री रोग विशेषज्ञ परिक्षण के दौरान आपके जी स्पॉट क्षेत्र पर दबाव डालती या मालिश करती है, तो आप बहुत ज्यादा महसूस नहीं करेंगे क्योंकि आपको उत्तेजित नहीं किया जाता है। इसका मतलब यह है कि यदि आपको अपने जी स्पॉट को खोजने में परेशानी हो रही है, तो सुनिश्चित करें कि अगर आप अकेली हैं तो पहले पूरी तरह से उत्तेजित हो जाएं और यदि आप अपने साथी के साथ हैं, तो सुनिश्चित करें कि पहले बहुत सारा फोरप्ले कर लें। इस तरह आप इसे आसानी से खोजने के लिए पर्याप्त उत्तेजित होंगी।

लेकिन अगर आप उत्तेजित हैं और आपका साथी आपके जी स्पॉट को छूता है, तो आप अविश्वसनीय रूप से सुखद महसूस करेंगी। एक उत्तेजित साथी के माध्यम से जी-स्पॉट ढूंढना सबसे आसान तरीका है। यदि आप अपनी पीठ के बल लेटी है, तो आपका साथी आपकी योनि में एक उंगली डाल कर जी स्पॉट का पता लगा सकता है। उसे कहे की वह योनि के अंदर से आपके बेली बटन को छूने की कोशिश कर रहा हो उस तरह से अपनी उंगली अंदर डालें।

कुछ पुरुष साथी बताते हैं कि वे अपनी उंगलियों से अपनी महिला साथी की योनि के अंदर उन्हें ऊतक में कोई अंतर महसूस नहीं होता है। तो उनके लिए सलाह हैं कि अपनी महिला साथी से पूछे, आपकी महिला साथी आपको सही क्षेत्र में उंगली लगने पर एक सुखद सनसनी भरे अहसास के बारे में बता सकती है।

हालाँकि, वह यह भी कह सकती है कि उसे पेशाब करने की आवश्यकता महसूस हो रही है - इसका मतलब है कि आपने उंगली तो सही जगह पर लगायी लेकिन आपका समय गलत है। उसका शरीर फिर से उसी आनंददायक यौन स्पर्श को महसूस करें इसके लिए उसे फिर से काफी उत्तेजना की आवश्यकता होगी, इसलिए फोरप्ले से दुबारा शुरू करें।

(और पढ़े - सेक्स पावर कैसे बढ़ाएं)

माना कि आपने अब तक ऊपर बताई सभी युक्तियों का पालन किया है और यहां तक ​​कि पागल कर देने वाली उत्तेजना पाने के लिए कुछ हस्तमैथुन तकनीकों का भी उपयोग किया है, फिर भी आपका जी स्पॉट नहीं मिल रहा है। तो चिंता की कोई बात नहीं है, इसका कारण भी हम आपको बता देते हैं।

महिलाओं की योनि के अंदर मूत्रमार्ग के अंतिम छोर पर पेरायूरेथ्रल ग्लैंड या स्केनेस ग्लैंड या ग्रंथि होती है जिसका आकार हर महिला में काफी भिन्न होता है। यदि आपकी योनि में यह ग्रंथि छोटी है, तो आपका जी स्पॉट कभी भी संवेदनशील नहीं होगा या बहुत उत्तेजित नहीं होगा, भले ही आप स्वयं अत्यधिक उत्तेजित हों, जिस कारण जी स्पॉट ऑर्गेस्म करना असंभव हो जाता है।

लेकिन चिंता न करें, बहुत सी महिलाएं जो अपने जी स्पॉट को नहीं ढूंढ पाती हैं, वे इसके बिना भी सेक्स जीवन का भरपूर आनंद ले रही है, क्योंकि कई सारे दूसरे तरीकों से भी आप ऑर्गेज्म प्राप्त कर सकती हैं। क्लिटोरल उत्तेजना, हस्तमैथुन और स्वयं योनि में उंगली से यौन संतुष्टी प्राप्त कर सकती है, इसके अलावा कई सारे सेक्स टॉयज भी आते हैं जो आपको पूरा आनंद दे सकते हैं।

(और पढ़े - ओरल सेक्स कैसे करें)

इस रहस्यमय जगह को खोजने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि आप इसे उत्तेजित करने के लिए अपने साथी के साथ काम करें। यदि आपने ऊपर लिखी सभी सलाहों का पालन किया है और आपको पता चल गया है कि जी स्पॉट को कैसे ढूंढें, तो अब आने वाली खुशी का आनंद लेने का समय है।

(और पढ़े - लिंग मोटा, लंबा और बड़ा करने का तरीका)

हम यहाँ संक्षेप में आपको सबसे अच्छी तकनीकों के बारे में बता रहे हैं जिनका उपयोग आप अपने जी स्पॉट को स्वयं उत्तेजित करने के लिए भी कर सकती हैं और आपके जी स्पॉट को उत्तेजित करने के लिए कुछ सबसे अच्छी सेक्स पोजीशन के बारे में भी बात करेंगे।

जब आप जी-स्पॉट के बारे में सोच रही हैं, तो निश्चित रूप से कुछ ऐसी बातें हैं जिनका आपको पालन करना चाहिए और आपके साथी को भी। यदि आप पुरुष हैं तो सबसे पहले यह सुनिश्चित करें कि आप और आपकी महिला साथी उनके जी-स्पॉट के बारे आपके समान विचार रखती हैं।

केवल इस मुगालते में न रहे कि वह तो इसे पसंद करेगी ही, बल्की उससे इस बारे में खुलकर बात करें। कुछ महिलाओं में जी स्पॉट पेशाब करने की इच्छा की संवेदना बढ़ा सकता है और सेक्स के दौरान ऐसा होना उन्हें काफी असहज कर सकता है, इसलिए कुछ महिलाएं यह पसंद नहीं करती है।

(और पढ़े - यौन संबंध में सहमति)

अगर आप इसे उंगलियों से करने का प्रयास कर रहे हैं या रही हैं, तो यह सुनिश्चित करें कि आपके नाखून साफ और छोटे हैं। क्योंकि योनि के ऊतक बहुत संवेदनशील होते है।

यह भी जरूरी है कि पुरुष अपनी महिला साथी से फीडबैक मांगें, खासकर अगर जब आप पहली बार उसके जी-स्पॉट की खोज कर रहे हों। आपके साथी को इसका आनंद लेने में कुछ समय लग सकता है इसलिए उन पर किसी प्रकार का दबाव न डालें।

(और पढ़े - पहली बार सेक्स)

यह भी ध्यान रखें कि कुछ महिलाओं को जी-स्पॉट उत्तेजना नहीं भी पसंद हो सकती है। जी-स्पॉट को उत्तेजित करने का सबसे अच्छा तरीका वह है जो आपकी महिला साथी को अच्छा लगता है। लेकिन यह जानने के लिए कि वह क्या तरीका है जो उसे चरम सुख दे सकें, आपको कुछ होम वर्क करने की ज़रूरत है, इसे समझें।

देखिये कोई भी लड़की आपको यही बताएगी कि धीरे-धीरे और नजाकत के साथ जी-स्पॉट को उत्तेजित करना सबसे अच्छा तरीका है। विशेष रूप से यदि वह पहली बार इसका अनुभव कर रही है और उसे नहीं पता है कि आपका कैसे मार्गदर्शन करना है ताकि वह अच्छा महसूस कर सकें।

अपने आप को धीमा कर दें - अगर आप उसके जी स्पॉट को सीधे अपने लिंग से हिट करते हैं तो ईमानदारी से कहूं तो यह बहुत अधिक हो सकता है, हो सकता है आपको इसे वापस बाहर निकालना पड़े, इसलिए आपको पहले अपनी उंगलियों के साथ उस क्षेत्र में जाने की आवश्यकता हो सकती है।

(और पढ़े - सेक्स से जुड़े मर्दों के डर)

एक तरफ उसके जी स्पॉट को उंगलियों से रगड़ने और मालिश करने के दौरान, आप अपने दूसरे हाथ का उपयोग उसकी क्लाइटोरिस को उत्तेजित करने के लिए कर सकते हैं। लेकिन एक बार जब आपकी साथी सहज हो जाती है, तो आप वापस आराम से अपना एक्शन शुरू कर सकते हैं।

यदि आप अकेली स्वयं इसका आनंद लेना चाहती हैं तो केवल आपके हाथों के उपयोग से की जाने वाली हुक सबसे अच्छी तकनीक है। इसे करने के लिए, अपनी पीठ के बल लेट जाएं और अपने पेट पर हाथ रख कर उसे निचे अपनी योनि की ओर ले जाएं, जैसा की आपने इस रहस्यमयी जगह को ढूंढने के लिए किया था।

(और पढ़े - गे और लेस्बियन क्या है)

जब आप का हाथ योनि तक पहुंच जाता है, तो अपनी मध्य और अनामिका उंगली को योनि में डालें, इस समय आपकी इंडेक्स (तर्जनी) और पिंकी (कनिष्ठ) उंगली बाहर बिस्तर की ओर इशारा करती हुई होनी चाहिए। अब, आपको अपनी उंगलियों की नोक से अपना जी स्पॉट ढूंढना होगा और हुक की स्थिति में ही हाथ से धीरे-धीरे मालिश करना शुरू कर दें।

इस हुक तकनीक का उपयोग करके अपने जी स्पॉट को मालिश और उत्तेजित करने के कई तरीके हैं जैसे -

  • पहला, आप अपने जी स्पॉट को बार-बार अपनी उंगली से दबा सकती हैं जैसे कि आप एक बटन को दबा रही हो। यह सुनिश्चित करें कि आप कितना दबाव लगा रही हैं। कुछ महिलाओं के लिए हल्का दबाव पर्याप्त हो सकता है, जबकि अन्य को अधिक दबाव की आवश्यकता होती है। इस तरह से दबाना काफी सुखद हो सकता है।
  • दूसरा, अपनी मध्य और अनामिका उंगली से “इधर आने का इशारा” करने की तरह गति बनाना, इससे आपकी उंगलियों की पोर आपके जी स्पॉट पर आगे-पीछे होगी, जो आपको बहुत अधिक उत्तेजना प्रदान करेगा।
  • तीसरा, आप “पुश द बटन” और “इधर आने का इशारा” वाली ऊपर की दोनों तकनीकों के संयोजन “आर्म शेकर” तकनीक का उपयोग कर सकती है। इसमें उत्तेजना प्रदान करने के लिए अपनी उंगलियों और हाथों का उपयोग करने के बजाय, आप अपनी पूरी बाँह का उपयोग करती हैं।
    सबसे पहले, आपको अपने जी स्पॉट पर अपनी अंगुलियों को मजबूती से रखने की आवश्यकता है, इस समय आपकी उंगलियों के पोर इस पर दबाव डाल रहे होने चाहिए। फिर आपको अधिक दबाव प्रदान करने के लिए अपनी पूरी बाँह का उपयोग करना शुरू करना होगा, पहले की तुलना में बहुत अधिक दबाव।
    अपनी बाँह को ऊपर-निचे करने की कोशिश करते समय इसे काफी सख्त रखकर ऐसा करें, ढीला न छोड़े। चूंकि आपकी उंगलियों से आपके जी स्पॉट पर दबाव लगता है, इसलिए आप भारी मात्रा में दबाव प्रदान करने में सक्षम होंगे। इसमें आपके स्खलित होने और ऑर्गेस्म की लगभग गारंटी है। (और पढ़े - स्खलन में देरी का इलाज)

यदि आप अपने साथी के साथ यौन संभोग के दौरान जी स्पॉट उत्तेजना का अनुभव करने की उम्मीद कर रही हैं, तो इसकी कुंजी, सही कोण और प्रवेश की गहराई है। आप को स्खलित करने के लिए आपके साथी को केवल 2-3 इंच ही प्रवेश कराना चाहिए। कुछ सेक्स पोज़ हैं जो सबसे उपयुक्त हैं, वे साथी के लिंग को जी-स्पॉट के संपर्क में दूसरे पोज़ के मुकाबले ज्यादा लाती हैं।

(और पढ़े - लिव इन रिलेशनशिप क्या है)

उन पोज़ को आज़माएं जो आपको अपनी गति पर थोड़ा अधिक नियंत्रण रखने की अनुमति देते हैं ताकि आप यह पता लगा सकें कि आप किस प्रकार की उत्तेजना का आनंद लेती हैं। ऐसे ही कुछ पोज़ निम्नलिखित हैं -

  • काऊ गर्ल पोज़
    अपने साथी को उसकी पीठ के बल लेटने के लिए कहें, अब आप उसके ऊपर आ जाएं। यह स्थिति आपको लय, गहराई और प्रवेश के कोण पर पूर्ण नियंत्रण देती है ताकि आप अपना जी स्पॉट ढूंढने पर ध्यान केंद्रित कर सकें। ऊपर और नीचे होने के बजाय, अपने जी स्पॉट क्षेत्र को उत्तेजित करने के लिए आगे और पीछे होने की कोशिश करें। इन दोनों तरीकों को मिलाकर भी मदद मिल सकती है, इसलिए अलग-अलग गति और कोणों के साथ प्रयोग करने से न डरे।
  • डॉगी स्टाइल पोज़
    डॉगी स्टाइल सेक्स के दौरान गहरा प्रवेश प्राप्त करने का एक और शानदार तरीका है। इसमें अपने जी स्पॉट को हिट करने के लिए कोण को बदलना बहुत आसान है। आपका साथी आपके पीछे रहेगा और अपने हाथों और घुटनों पर रहेगी। प्रवेश के दौरान, अपने हाथों पर झुकने की कोशिश करें या कोण को बदलने के लिए अपने कूल्हों को पिछे की ओर दबाएं, जब तक कि आपको वह स्थिति न मिल जाए जो आपके लिए सबसे अच्छा काम करती है। यदि आप चाहें, तो आप बिस्तर पर पैरों को किनारे से लटका कर अपने पेट के बल लेट कर तोड़ा परिवर्तन लाने का प्रयास कर सकती हैं, जिससे आपका साथी आपके पीछे खड़ा होकर वहां से प्रवेश करा सकता है।
  • क्लोज्ड मिशनरी स्थिति
    क्लासिक मिशनरी स्थिति का एक परिवर्तित रूप है, क्लोज्ड मिशनरी स्थिति। यह स्थिति प्रवेश की गहराई के बिना अधिक उत्तेजना देती है। अपने पैरों को एक साथ ले जाने से पहले आप मिशनरी स्थिति में अपनी पीठ के बल लेट कर शुरू करती हैं। फिर, आपके साथी अपने पैरों को आपके पैरों के बीच रखता है, जिससे अच्छा दबाव बन सकें। जबकि यह उथला प्रवेश, यह एक मजबूत अहसास देता है और आपके जी स्पॉट पर घर्षण में वृद्धि करता है, जो आपको ऑर्गेस्म तक पहुंचने में मदद करने का एक बेहतर तरीका हो सकता है।
  • जी स्पॉट स्थिति
    जैसा कि नाम से पता चलता है, जी स्पॉट स्थिति आपके साथी के बारे में है जो प्रत्येक झटके के साथ आपके जी स्पॉट को उत्तेजित करती है। आप अपनी पीठ के बल लेट जाएं और आपके साथी को आपके पैरों के बीच से प्रवेश करने के लिए कहें। उसे थोड़ा पीछे की तरफ झुकने के लिए और केवल उथले स्ट्रोक का उपयोग करने के लिए कहें।
  • लांच पैड स्थिति
    यह स्थिति बहुत बढ़िया है क्योंकि यह आपको बहुत अधिक नियंत्रण प्रदान करती है। आप अपने पैरों को अपने साथी की छाती पर टिका सकती हैं, ताकि आप यह नियंत्रित कर सके कि वह अपना लिंग कितना गहराई में प्रवेश कराता है। यदि आपको पर्याप्त जी स्पॉट उत्तेजना प्राप्त करने में परेशानी हो रही है, तो आमतौर पर ऐसा इसलिए होता है क्योंकि आपका साथी बहुत आगे झुक रहा होता है।

अंत में यह अनुभव पर आधारित एक सलाह है कि यदि आप ऐसी किसी स्थिति में हैं जहां आप अपनी पीठ पर लेटी हैं, तो नीचे एक तकिया या दो जैसा आवश्यक लगे लगा सकती है, ताकि उसका लिंग वास्तव में आपकी योनि की सामने की दीवार को हिट कर सके।

(और पढ़े - लंबे समय तक सेक्स करने के उपाय)

यदि आपने अभी तक अपने जी स्पॉट को नहीं हिट किया है, तो किसी ऐसी चीज की खोज करें, जो इसी काम के लिए बनाई गयी है। यदि आप उसको ढूंढ लेते हैं तो यह मजा दोगुना हो जाता है और जब आप उस स्थान पर हिट करते हैं तो आपकी महिला साथी इसे प्यार करती है।

(और पढ़े - सेक्स के दौरान पुरुषों से क्या चाहती हैं महिलाएं)

बाजार में कई ऐसे सेक्स टॉय हैं जो जी-स्पॉट उत्तेजना के लिए डिज़ाइन किए गए हैं। सेक्स टॉय? जी हाँ, आजकल जी-स्पॉट को उत्तेजित करने और अपनी महिला साथी को चरमोत्कर्ष तक पहुंचाने में मदद करने का एक शानदार तरीका हैं, लेकिन आपको लगभग निश्चित रूप से लुब्रीकेंट की आवश्यकता होगी।

पूरे जी-स्पॉट क्षेत्र को मालिश करने के लिए यह सुनिश्चित करें कि टॉय घुमावदार, अंत पर बल्ब वाले और दृढ़ हो। ये ज्यादातर कठोर सामग्री से बना होना चाहिए। चूंकि जी-स्पॉट दबाव के प्रति अच्छा जवाब देता है, इसलिए एक कठोर सामग्री और डिज़ाइन उस विशेष स्थान से आनंद देने में मदद करती है।

यह भी महत्वपूर्ण है कि आपके टॉय में गहरा जी-स्पॉट वक्र या घुमाव हो। हालाँकि, बहुत छोटे वक्र कुछ लोगों के लिए ठीक काम कर सकते हैं, लेकिन अधिकांश लोगों को लगता है कि बड़ा वक्र उन्हें उनके जी-स्पॉट को बेहतर ढंग से ढूंढने में मदद करता है। विशेष रूप से जब वे इसे पहले नहीं ढूंढ सके हैं।

Dr. Abdul Haseeb Sheikh

Dr. Abdul Haseeb Sheikh

सेक्सोलोजी

Dr. Ghanshyam Digrawal

Dr. Ghanshyam Digrawal

सेक्सोलोजी

Dr. Srikanth Varma

Dr. Srikanth Varma

सेक्सोलोजी

और पढ़ें ...