myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

ब्रेस्ट रिडक्शन सर्जरी को आम बोलचाल की भाषा में ब्रेस्ट कम करने की सर्जरी भी कहा जाता है। यह एक ऐसी प्रक्रिया है, जिसके जरिए पुरुष या महिला अपने स्तनों का आकार कम करवा सकते हैं। आमतौर पर जिन महिलाओं के स्तनों का आकार बड़ा होता है उन्हें स्तन में दर्द के साथ-साथ कंधे और पीठ में दर्द जैसी दिक्कतें भी होने लगती हैं। स्तने के बड़े आकार की वजह से खेलने या व्यायाम करने में भी दिक्कत आती है। वहीं, दूसरी तरफ जिन पुरुषों के स्तन बड़े होते हैं, वे शर्म महसूस करते हैं और उनमें आत्मविश्वास की कमी देखी जाती है।

सर्जरी से पहले डॉक्टर पीड़ित व्यक्ति से उसकी मेडिकल हिस्ट्री के बारे में पूछते हैं। सर्जरी की यह प्रक्रिया जनरल एनेस्थीसिया के साथ की जाती है। सर्जरी को पूरा होने में 2 घंटे का समय लगता है और सर्जरी के बाद रात भर अस्पताल में रुकने की जरूरत नहीं होती। सर्जरी की इस प्रक्रिया से गुजरने के चार से छह हफ्तों तक घर पर कठिन शारीरिक परिश्रम वाले व्यायाम न करने और 2 सप्ताह तक ड्राइविंग न करने की सलाह दी जाती है। डॉक्टर आपको सर्जरी के दो हफ्ते बाद आकर फिर से जांच करवाने के लिए कहते हैं। हालांकि, यदि आपको बुखार, रक्तस्त्राव या घाव वाली जगह पर सुन्न महसूस हो रहा हो तो तुरंत डॉक्टर को बताएं।

(और पढ़ें - ब्रेस्ट में दर्द के घरेलू उपाय)

  1. ब्रेस्ट रिडक्शन सर्जरी क्या है - What is Breast Reduction Surgery in Hindi
  2. ब्रेस्ट रिडक्शन सर्जरी क्यों की जाती है - Why is Breast Reduction Surgery done in Hindi
  3. ब्रेस्ट रिडक्शन सर्जरी से पहले की तैयारी - Preparations before Breast Reduction Surgery in Hindi
  4. ब्रेस्ट रिडक्शन सर्जरी कैसे होती है - Breast reduction surgery kaise hoti hai
  5. ब्रेस्ट रिडक्शन सर्जरी के बाद देखभाल - Care and recovery after Breast Reduction Surgery in Hindi
  6. ब्रेस्ट रिडक्शन सर्जरी के खतरे और साइड इफ़ेक्ट - Risk and complication of Breast Reduction Surgery in Hindi
  7. ब्रेस्ट रिडक्शन सर्जरी का खर्च - Breast Reduction Surgery Cost in Hindi

ब्रेस्ट रिडक्शन सर्जरी एक ऐसी सर्जिकल प्रक्रिया है, जिसकी मदद से अतिरिक्त फैट, ग्लैंड्यूलर टिश्यू (ग्रंथियों वाले ऊत्तक) और स्किन को हटाकर स्तनों को शरीर के अनुपात में सामान्य आकार में लाया जाता है। साथ ही बड़े ब्रेस्ट की वजह से जुड़े लक्षणों को भी दूर करने की कोशिश की जाती है। स्तन के बड़े आकार की वजह से कई बार शारीरिक स्वास्थ्य भी प्रभावित हो सकता है और व्यायाम करने व खेल-कूद जैसी गतिविधियों में दिक्कत आ सकती है। इसके साथ ही कुछ महिलाओं को अपने बड़े ब्रेस्ट पसंद नहीं आते इसीलिए सुंदरता से जुड़े कारणों की वजह से भी वे ब्रेस्ट रिडक्शन सर्जरी करवाती हैं।

सिर्फ महिलाओं में ही नहीं बल्कि कुछ पुरुषों को भी बड़े स्तनों की समस्या होती है। इस स्थिति को गायनेकोमास्टिया कहा जाता है, जो आमतौर पर प्यूबर्टी के दौरान शुरू होता है। यह समस्या हार्मोन के स्तर में असंतुलन के कारण होती है। इसके अलावा गायनेकोमास्टिया के कई और कारणों में गांजा या ऐनाबॉलिक स्टेरॉयड्स यूज करना या शरीर का वजन अधिक होना भी शामिल है। कई पुरुषों में कुछ समय के बाद बढ़ा हुआ स्तन कम हो जाता है। हालांकि, अधिकतर पुरुषों में बढ़े हुऐ स्तन अपने आप कम नहीं होते। ऐसी स्थितियों में गायनेकोमास्टिया को ठीक करने के लिए ब्रेस्ट रिडक्शन सर्जरी की जाती है।

जिन महिलाओं का कप साइज "डी" या इससे अधिक होता है, उन्हें डॉक्टर ब्रेस्ट रिडक्शन सर्जरी करवाने की सलाह देते हैं। साथ ही अगर आपको निम्न लक्षण महसूस हो रहे हों, तब भी सर्जरी की सलाह दी जा सकती है-

यदि किसी वजह से एक स्तन का आकार दूसरे से छोटा या बड़ा है, तो स्तनों को बराबर करने के लिए भी ब्रेस्ट रिडक्शन सर्जरी की जा सकती है। या फिर अगर एक ब्रेस्ट पर ब्रेस्ट रीकंस्ट्रक्शन (पुनर्निर्माण) सर्जरी हुई हो।

यदि गायनेकोमास्टिया के कारण किसी पुरुष में आत्मविश्वास की कमी हो गई है या वे इससे संबंधी किसी प्रकार की हिचकिचाहट महसूस करते है, तो उनके लिए भी यह सर्जरी की जा सकती है।

ब्रेस्ट कम करने की सर्जरी से पहले निम्नलिखित टेस्ट किये जाते हैं-

  • महिलाओं में स्तनों के स्वास्थ्य की जांच करने के लिए मैमोग्राम किया जाता है
  • पुरुषों में ब्रेस्ट में कैंसर की जांच करने के लिए एक शारीरिक परीक्षण किया जाता है
  • डॉक्टर स्वास्थ्य संबंधी पिछली जानकारियां लेंगे और साथ ही पूछेंगे कि आप कौन सी दवाएं ले रहे हैं।
  • आपके हेल्थ रिकॉर्ड के लिए स्तन की कुछ तस्वीरें भी ली जा सकती हैं।
  • यदि आप गर्भवती हैं या होना चाहती हैं, तो इसके बारे में डॉक्टर को बताएं। यदि ऐसा है, तो आपको बाद में सर्जरी करवाने की सलाह दी जाती है।
  • खून को पतला करने वाली दवाएं जैसे एस्पिरिन, आइबूप्रोफेन, विटामिन ई, जिनसेंग आदि का सर्जरी से दो हफ्ते पहले सेवन बंद कर दें और सर्जरी के दो दिन बाद तक न लें। आप अपनी सामान्य दवाएं डॉक्टर से पूछ कर ले सकते हैं।
  • सर्जरी से एक महीने पहले और सर्जरी के दो हफ्ते बाद तक धूम्रपान न करें और ना ही धूम्रपान करने वाले लोगों के आसपास रहें। ऐसा इसलिए क्योंकि धूम्रपान से घाव को ठीक होने में अधिक समय लग सकता है और संक्रमण होने का खतरा बढ़ जाता है।
  • सर्जरी की रात से पहले कुछ भी खाएं-पिएं नहीं। सर्जरी से तीन-चार घंटे पहले तक आपको पानी पीने की सलाह दी जा सकती है।
  • सर्जरी की सुबह अपनी छाती और अंडर आर्म को एंटीसेप्टिक साबुन से साफ़ करें और कोई भी पाउडर, लोशन या डियोड्रेंट न लगाएं

ब्रेस्ट रिडक्शन सर्जरी लिपोसक्शन (वह सर्जरी जिसमें सक्शन टेक्नीक द्वारा फैट निकाला जाता है) के जरिये निम्न सर्जिकल तरीकों से की जा सकती है। 

महिलाओं में सर्जरी निम्न तरह से की जाती है-

  • एनेस्थिसियोलॉजिस्ट आपको जनरल एनेस्थीसिया लगाएंगे, जिससे सर्जरी के दौरान आप सोए रहेंगे
  • एनेस्थीसिया का प्रभाव शुरू होने के बाद सर्जन निम्न तरह से चीरा लगाएंगे -
    • एरिओला के चारों ओर गोल आकार का चीरा लगाया जाता है। (निप्पल के ईर्द गिर्द पिग्मेंटेड स्किन के छोटे से रिंग को एरिओला कहा जाता है)
    • चाबी के होल के आकार का गोल चीरा एरिओला के पास लगाया जाता है और स्तनों के नीचे एक वर्टिक्ल चीरा लगाया जाता है
    • ऐंकर या उल्टा टी की आकृति का चीरा
  • एक बार चीरा लग जाने के बाद सर्जन आपके निप्पल को दूसरी जगह लगाएंगे। हालांकि, इसमें नसें व रक्तवाहिकाएं जुड़ी ही रहती हैं।
  • जरूरत होने पर सर्जन एरिओला के किनारों को काट कर उसे छोटा भी कर सकते हैं। वे स्तन के ऊतक को काट कर, उठा कर वापस आकार देंगे
  • यदि आपके स्तन बड़े और लटकते हुए हैं तो सर्जन आपके एरिओला और निप्पल को हटा कर स्तन के किसी ऊपरी हिस्से की तरफ लगा देंगे
  • इसके बाद सर्जन भिन्न परतों में टांकों की मदद से ऊतकों को साथ लाएंगे। टांकें, पट्टियां व सर्जिकल टेप की मदद से घाव को बंद कर दिया जाएगा
  • अंत में डॉक्टर घाव के ऊपर बैंडेज या ड्रेसिंग कर देंगे

यही प्रक्रिया पुरुषों में ब्रेस्ट रिडक्शन के लिए भी की जाती है।

यदि केवल फैटी टिशू (बिना अतिरिक्त त्वचा के) की वजह से स्तनों का आकार बढ़ा हुआ है, तो केवल लिपोसक्शन से ही इच्छित परिणाम हासिल हो सकता है।

जैसा कि पहले भी बताया गया है कि ब्रेस्ट रिडक्शन सर्जरी में दो घंटे का समय लगता है। प्रक्रिया के बाद सर्जन ऑपरेशन वाली जगह पर त्वचा में एक नली लगा देंगे, जिससे वहां जमा हुए अतिरिक्त द्रव या रक्त को निकाला जा सके। अस्पताल से छुट्टी मिलने के समय इस नली को निकाल दिया जाता है।

आप सर्जरी के दिन ही वापस घर जा सकते हैं, हालांकि, यह आपकी स्वास्थ्य स्थिति पर भी निर्भर करता है।

घर जाने के बाद आपको निम्न तरीके से अपना ख्याल रखना होता है-

  • प्रक्रिया के बाद आपको दर्द और बेचैनी से आराम दिलाने के लिए दर्द निवारक दवाएं दी जाएंगी। इन दवाओं को लेने के बाद गाड़ी न चलाएं
  • कब्ज से राहत पाने के लिए आपको स्टूल सॉफ्टनर दवाएं दी जाएंगी
  • महिलाओं को सर्जरी के छह हफ्ते बाद तक सर्जिकल ब्रा पहननी होगी। ये ब्रा स्तनों को उचित सहारा प्रदान करके स्तनों को ठीक होने में मदद करेंगी। सर्जरी के दो हफ्ते के बाद आपको स्पोर्ट्स ब्रा पहनने को कहा जाएगा। इस तरह की ब्रा में सामने की तरफ बंद करने की व्यवस्था और सपोर्ट के लिए कप होने चाहिए
  • तीन महीनों तक कोई तार वाली (अंडरवायर) ब्रा न पहनें। घाव पर पैडिंग के लिए गौज या एक पतले कपड़े का इस्तेमाल किया जा सकता है
  • घाव को भरने व सूजन को कम करने के लिए पुरुषों को कम्प्रेशन बैंडेज लगाना पड़ सकता है
  • ड्रेनेज ट्यूब निकलने के दो दिन बाद आप नहा सकते हैं
  • अपने घाव को साफ़ रखें और पूल व बाथटब में न नहाएं
  • डॉक्टर आपको अपने घाव को सूरज की रोशनी से दूर रखने को कहेंगे
  • इस ट्रीटमेंट से आपके शरीर पर स्थायी रूप से निशान रह जाते हैं, जिन्हे कपड़े या ब्रा पहन कर ढका जा सकता है, हालांकि ये समय के साथ ठीक हो जाते हैं
  • सक्रिय रहने के लिए घर में चलते-फिरते रहें। इससे सूजन कम होगी, कब्ज नहीं होगी और रक्त के थक्के जमने का खतरा भी नहीं रहेगा। हालांकि, सर्जरी के छह महीने बाद तक कोई भी जटिल शारीरिक गतिविधि न करें
  • आपको रोजाना दिन में चार बार कंधे और बांह का व्यायाम करने को कहा जाएगा
  • सर्जरी के दो हफ्ते बाद तक गाड़ी न चलाएं
  • सर्जरी के छह हफ्ते बाद तक कोई भी भारी सामान न उठाएं
  • सर्जरी के चार से छह हफ्ते बाद आप काम पर लौट सकते हैं। हालांकि, काम शुरू करने से पहले सर्जन की सलाह ले लें

ब्रेस्ट रिडक्शन सर्जरी से पीठ, कमर, गर्दन, स्तन और कंधों में हो रहे दर्द से राहत मिलती है जो कि बड़े ब्रेस्ट के कारण हो रहे थे। अब आप अच्छे से व्यायाम और बाकी काम भी कर पाएंगे।

पुरुषों में इस सर्जरी के बाद आत्मविश्वास बढ़ता है।

डॉक्टर के पास कब जाना है?

यदि आपको निम्न लक्षण दिखाई देते हैं तो डॉक्टर को सूचित करें -

  • सूजन, नील पड़ना और लालिमा जो कि ज्यादा दिन तक रहे
  • दर्द का बढ़ना जो कि पेन किलर से ठीक न हो
  • बुखार
  • घाव के स्थान पर रक्तस्त्राव
  • सर्जरी के स्थान से हरे या पीले रंग का स्त्राव होना या गंदी बदबू आना
  • दवा के कुछ साइड इफ़ेक्ट जैसे जी मिचलाना, उल्टी और सिरदर्द

ब्रेस्ट रिडक्शन सर्जरी के संभावित साइड इफ़ेक्ट या जटिलताएं इस तरह से हैं -

  • संक्रमण
  • रक्तस्त्राव
  • निशान पड़ना
  • स्तन और निप्पल में स्थायी या अस्थायी रूप से संवेदना में बदलाव
  • शरीर में रक्त के थक्के जमना
  • घाव को ठीक होने में बहुत अधिक समय लगना
  • एनेस्थीसिया से जुड़े रिस्क
  • फेफड़ों, मांसपेशियों और ऊतकों को क्षति
  • स्तनपान न करा पाना
  • स्तनों की आकृति सामान्य न होना
  • सूजन और नील पड़ने के साथ-साथ त्वचा के रंग में बदलाव
  • स्तनों का अत्यधिक कठोर होना
  • लगातार दर्द बने रहना
  • फैट नेक्रोसिस

भारत में ब्रेस्ट रिडक्शन सर्जरी का खर्च 40 हजार रुपये से लेकर 3 लाख रुपये के बीच हो सकता है।

और पढ़ें ...

संदर्भ

  1. American Society of Plastic Surgeons [Internet]. Illinois. US; Breast Reduction
  2. UCSF Department of Surgery [internet]. University of California San Francisco. California. U.S.A.; Breast Reduction
  3. Sachs D, Szymanski KD. Breast Reduction. [Updated 2020 Jun 9]. In: StatPearls [Internet]. Treasure Island (FL): StatPearls Publishing; 2020 Jan
  4. British Association of Aesthetic Plastic Surgeons [Internet]. London. UK; Breast Reduction
  5. Dartmouth Hitchcock Medical Center [Internet]. US; Breast Reduction
  6. M Health [Internet]. Michigan Medicine. University of Michigan. US; Breast Reduction Post-Operative Instructions
  7. American Board of Cosmetic Surgery [Internet]. Indiana. US; Gynecomastia surgery guide
  8. Nationwide Children's [Internet]. Nationwide Children's Hospital. Ohio. US; Gynecomastia surgery
ऐप पर पढ़ें
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ