myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

चुने का वज्ञानिक नाम कैल्शियम कार्बोनेट (calcium carbonate) है। अंग्रेज़ी में इसे लाइम पाउडर (lime powder) कहते हैं। चुना साउथ ईस्ट एशिया में मिलता है। यह आम तौर पर इंडोनेशिया के द्वीपसमूह, पापुआ और उनके आसपास की भूमि पर पाया जाता है। आप इसे ग्रामीण इलाकों की सड़कों के हर कोने में भी पा सकते हैं। सफ़ेद रंग के चूने के पाउडर (limestone) का उपयोग पान में किया जाता है। यह शारीरिक और मानसिक विकारों को दूर करने सहित विभिन्न स्वास्थ्य लाभ प्रदान करता है।

चूना पाउडर हड्डियों, स्मृति, गर्भधारण, नपुंसकता से संबंधित सभी विकारों में फायदेमंद है। यह मुख्य रूप से कैल्शियम कार्बोनेट है इसलिए यह कैल्शियम का एक बड़ा और सबसे अच्छा स्रोत माना जाता है। इसका उपयोग गुलकंद, इलाइची या सुपारी के साथ पान के रूप में करने से यह सभी प्रकार के रोगों से मुक्त रखता है। 

तो चलिए जानते हैं चूना पाउडर के कुछ महत्वपूर्ण लाभों के बारे में -

  1. चुना खाने का सही समय - Chuna khane ka sahi samay in Hindi
  2. चूना खाने का तरीका - Chuna khane ka tarika in hindi
  3. चूना के फायदे - Chune ke fayde in hindi
  4. चूने के फायदे मासिक धर्म के लिए - Limestone benefits for periods and menopause in hindi
  5. चूने के नुकसान - chuna ke nuksan in hindi

चुना खाने का कोई समय नहीं होता है। इसे किसी भी वक़्त खाया जा सकता है। 

चूने का उपयोग कभी भी गेहूं के दाने के आकार से ज़्यादा नहीं करना चाहिए। इसके स्वास्थ्य लाभों को उठाने के लिए और रोगों के इलाज के लिए आप किसी भी भोजन या पेय में मिलाकर सुबह खाली पेट ले सकते हैं। इसे दही, पानी, पान (सौंफ, इलाइची और गुलकंद के साथ), दाल, संतरे, अनार या गन्ने के रस आदि के साथ मिलाकर इसका सेवन कर सकते हैं। नर नपुंसकता से छुटकारा पाने के लिए चुने को हर दिन गन्ने के रस में मिलाकर उपयोग करें। हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए इसका उपयोग रोज़ सब्जियों में मिलाकर करें।

(और पढ़ें - नपुंसकता का घरेलु उपाय)

  1. चुने का फायदा शरीर की बदबू को कम करने के लिए - chune ka fayda sharir ki badbu ko km karne ke liye in Hindi
  2. चूना के फायदे मानसिक के लिए - Chuna ke fayde for memory in hindi
  3. चूना खाने से फायदा नपुंसकता में - Chuna for infertility in hindi
  4. चूना खाने के फायदा गर्भवती महिला के लिए - Chuna benefits in pregnancy in hindi
  5. चूना खाने के लाभ दूर रखे हड्डियों की समस्या - Chuna for calcium deficiency in hindi
  6. चुना से आयुर्वेदिक इलाज करें घुटने के दर्द में - Chuna for knee pain in hindi
  7. चूने के गुण बढ़ाए बच्चों की लम्बाई - Chuna benefits for height increase in hindi
  8. चूना का गुण दूर रखे दांतों के रोग - Chuna for teeth in hindi
  9. चूना का उपयोग बचाए एनीमिया से - Chuna khane ke labh in anemia in hindi
  10. चूना का प्रयोग त्वचा के लिए - Chuna benefits for skin in hindi
  11. चुना के फायदे दिलाए पीलिया से छुटकारा - Chune ke gun in jaundice in hindi
  12. चूना बेनिफिट्स फॉर बाइलस - Chuna for boils in hindi

चुने का फायदा शरीर की बदबू को कम करने के लिए - chune ka fayda sharir ki badbu ko km karne ke liye in Hindi

शरीर की गंध अक्सर हमारे जीवन शैली से संबंधित होती है। हम कैसे रहते हैं ? क्या खाते हैं ? शाकाहारी लोगों में शरीर की गंध हलकी होती है, जबकि जो लोग लगभग हर चीज खाते हैं, उनके शरीर की गंध अधिकतर बदबूदार होती है, खासतौर पर कांखकी गंध। चुना लगाने से शरीर की बदबू दूर होती है।

(और पढ़ें- शरीर की बदबू कैसे दूर करे)

 

चूना के फायदे मानसिक के लिए - Chuna ke fayde for memory in hindi

चूना पढ़ने वाले बच्चों के लिए उपयोगी होता है। पढ़ने वाले बच्चे दही, दाल या पानी के साथ चूने के पाउडर का उपभोग कर सकते हैं। अनार के रस के साथ चूने के पाउडर का उपभोग छात्रों के लिए बहुत फायदेमंद है। यह न केवल बुद्धि में सुधार करता है बल्कि अध्ययन में कड़ी मेहनत करने की ताकत भी देता है। यह रक्त की कमी को भी पूरा करता है। जो लोग मानसिक रूप से कमजोर हैं वे मानसिक कमजोरी को दूर करने के लिए किसी भी खाने के साथ चूने के पाउडर का उपभोग कर सकते हैं।

(और पढ़ें- याददाश्त कमजोर होने का इलाज)

चूना खाने से फायदा नपुंसकता में - Chuna for infertility in hindi

चूना पाउडर का उपयोग पुरुष नपुंसकता से छुटकारा पाने के लिए किया जा सकता है। शुक्राणु की कमी से पीड़ित पुरुष गन्ना के रस के साथ चूने के पाउडर का सेवन कर सकते हैं। शुक्राणु की कमी को दूर करने के लिए उन्हें दैनिक रूप से इसका सेवन करना चाहिए। दैनिक रूप से इसका सेवन करने से एक से दो साल के भीतर शुक्राणु में वृद्धि होने लगेगी। जो महिलाएं अंडे की कमी से पीड़ित हैं वे भी अंडे की कमी को दूर करने के लिए गन्ना के रस के साथ चूने के पाउडर का उपयोग कर सकती हैं।

(और पढ़ें- shukranu ki kami kaise dur kare)

चूना खाने के फायदा गर्भवती महिला के लिए - Chuna benefits in pregnancy in hindi

गर्भवती महिला को अनार के रस के साथ चूने के पाउडर का सेवन करना चाहिए। यह गर्भवती महिला और उनके बच्चे दोनों के लिए लाभदायक होता है। चुने में कैल्शियम होता है जो बच्चे के स्वास्थ के लिए बहुत अच्छा होता है। इसके सेवन से गर्भ में पल रहे बच्चे का दिमाग तेज होता है और वो स्वस्थ रहता है। इसके सेवन से डिलिवरी बहुत आरामदायक होती है और गर्भावस्था के दौरान और गर्भावस्था के बाद मां और बच्चा दोनों रोग मुक्त रहते हैं। अनार के रस में चुटकी भर चुने को मिलाएं और पिएँ और 9 महीनों तक इसका सेवन करें। 

(और पढ़ें - गर्भावस्था में पेट दर्द)

चूना खाने के लाभ दूर रखे हड्डियों की समस्या - Chuna for calcium deficiency in hindi

कटिस्नायुशूल और ग्रीवा दोनों हड्डी तथा मेरुदण्ड से संबंधित विकार हैं। पुरुष और महिला दोनों को इस रोग की समस्या होती है। इस रोग के इलाज के लिए रोगी को गन्ना के रस, दाल, दही और अन्य खाने योग्य व्यंजनों के साथ चूना पाउडर का उपयोग करना चाहिए।

रीढ़ की हड्डी से संबंधित सभी समस्याओं को चूने के पाउडर से ठीक किया जा सकता है। साथ-साथ पीठ दर्द, जमे हुए कंधे, पैर दर्द आदि को भी चूने के पाउडर से ठीक किया जा सकता है। इसके लिए दाल या फलों के रस के साथ चूने के पाउडर का सेवन करें।

हड्डियों की कमजोरी और दर्द से ग्रस्त व्यक्ति गन्ना, संतरा या अनार के रस के साथ चूना पाउडर ले सकते हैं। चुने में कैल्शियम पाया जाता है जो हड्डियों को मजबूत बनाने और दर्द से राहत देने में मदद करता है।

हड्डियों के टूटने के दौरान शरीर को अधिक कैल्शियम की आवश्यकता होती है। चुना पाउडर कैल्शियम का बड़ा और सबसे अच्छा स्रोत माना जाता है। हड्डियों के टूटने के दौरान व्यक्ति को चुना पाउडर का सेवन करना चाहिए। इसके सेवन से टूटी हुई हड्डि की जल्दी से ठीक होने में मदद मिलती है।

(और पढ़ें- calcium ki kami ke lakshan)

चुना से आयुर्वेदिक इलाज करें घुटने के दर्द में - Chuna for knee pain in hindi

घुटने के दर्द से ग्रस्त व्यक्ति गन्ना, संतरा या अनार के रस के साथ चूना पाउडर का सेवन कर सकते हैं। इसके सेवन से घुटने के दर्द में आराम मिलेगा।  हड्डियों के फ्रैक्चर के दौरान शरीर को अधिक कैल्शियम की ज़रूरत होती है। चुना कैल्शियम का एक बड़ा और सबसे अच्छा स्रोत है। हड्डी के फ्रैक्चर को ठीक करने के लिए इसे फलों के रस के साथ मिलाएं और इसका सेवन करें। ऐसा करने से हड्डी का फ्रैक्चर जल्दी ठीक होगा। चुने का इस्तेमाल थकावट को दूर करने के लिए भी किया जाता है।

(और पढ़े- घुटनों में दर्द के घरेलू उपाय)

चूने के गुण बढ़ाए बच्चों की लम्बाई - Chuna benefits for height increase in hindi

लम्बाई बढ़ाने के लिए प्रोटीन का सेवन करना और खेलना-कूदना ज़रूरी है। बच्चों की लम्बाई बढ़ाने में भी चुना मदद करता है। बच्चों की लम्बाई बढ़ाने के लिए एक चुटकी चुने को दही या दाल में मिलाकर सेवन करें।

(और पढ़ें- लम्बाई बढ़ाने के आसान उपाए)

चूना का गुण दूर रखे दांतों के रोग - Chuna for teeth in hindi

चुना सभी प्रकार के रोगों से दांतों को बचाता है और दांतों को मजबूत बनाता है। यदि कोई व्यक्ति दांत दर्द से पीड़ित है तो वह किसी भी भोजन या पेय में चूने के पाउडर को मिलाकर सेवन कर सकता है। रोगी पान के पत्ते या पानी के साथ भी चूने का उपभोग कर सकते हैं।

(और पढ़ें - दांत दर्द से छुटकारा पाने के उपाय)

चूना का उपयोग बचाए एनीमिया से - Chuna khane ke labh in anemia in hindi

चुना एनीमिया के इलाज में भी मदद करता है। एनीमिया से पीड़ित व्यक्ति को सुबह खाली पेट अनार के रस के साथ चुने के पाउडर का सेवन करना चाहिए। यदि अनार का रस उपलब्ध नहीं है तो आप किसी भी रस या पानी के साथ चुना पाउडर का सेवन कर सकते हैं। 

(और पढ़ें - khoon ki kami dur karne ka tarika)

चूना का प्रयोग त्वचा के लिए - Chuna benefits for skin in hindi

शहद और चूने का पाउडर का घर पर बना फेस पैक चमकदार त्वचा पाने के लिए एक बहुत अच्छा उपाय है। इसके लिए एक बड़ा चम्मच चूना पाउडर को एक छोटे चम्मच शहद में मिलाकर अपने चेहरे पर लगाए और 10 मिनट तक सूखने दें। अब अपनी त्वचा को ताजे पानी से धो लें। यह आपको सफेद, स्वच्छ और चमकदार त्वचा प्रदान करता है

एक गेहूँ के दाने के बराबर चूने को थोड़े से शहद में मिलकर उसे कील-मुंहासों पर लगाने से कील मुंहासे बहुत ही जल्द ठीक हो जाते हैं ।

चूने से मस्सा भी ठीक होता है। चूने को सज्जी (Potash), तूतिया (copper sulphate) व सुहागे के साथ पीसकर कर मस्से पर लगातार कुछ दिनों तक लगाने से मस्सा ठीक हो जाता है।

(और पढ़ें - masse hatane ke gharelu upay)

चुना के फायदे दिलाए पीलिया से छुटकारा - Chune ke gun in jaundice in hindi

पीलिया एक लिवर की बीमारी है। जिसमें त्वचा, आँखें और नाखून पीले हो जाते हैं। चूने का उपयोग करके आप इस रोग से छुटकारा पा सकते हैं। पीलिया के इलाज के लिए एक गिलास गन्ने के रस में चना पाउडर मिलाकर पीने से बहुत जल्दी रोगी ठीक हो जाता है। यह रोगी को नियमित रूप से दिया जाना चाहिए।

(और पढ़ें - piliya me kya kya khana chahiye)

चूना बेनिफिट्स फॉर बाइलस - Chuna for boils in hindi

फोड़े की समस्या से निजात पाने के लिए हल्दी पाउडर में चम्मच चुना मिलाकर उसे गर्म कर ले। अब हल्का ठंडा होने के बाद इसे फोड़े पर लगा कर ऊपर से एक पान का पत्ता रख कर बांध लें। आपको फोड़े की समस्या से जल्दी छुटकारा मिल जायगा

(और पढ़ें- बालतोड़ का इलाज)

महिलाओं की मासिक धर्म से संबंधित कई प्रकार की समस्याओं के इलाज के लिए चूना पाउडर अच्छा होता है। यह महिलाओं की रजोनिवृत्ति, गर्भावस्था और मासिक धर्म विकार से संबंधित सभी समस्याओं को ठीक करने में मदद करता है। 50 साल की उम्र के बाद महिलाओं में रजोनिवृत्ति की कठिनाई होने लगती है और उन्हें कैल्शियम कार्बोनेट की अधिक मात्रा की आवश्यकता होती है। चूना पाउडर रजोनिवृत्ति की सभी कठिनाइयों का इलाज करने के लिए अच्छा माना जाता है।

(और पढ़ें - ladka paida karne ka tarika और bacha gora hone ke liye kya kare)

  • गेहूं के अनाज के आकार से अधिक चुना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है। 
  • पथरी से पीड़ित व्यक्ति को चूने का सेवन नहीं करना चाहिए यह उनके लिए हानिकारक होता है। (और पढ़ें - pathri ka ilaj)
  • ऐसा हो सकता है की चुना खाने के बाद आपको सांस लेने में दिक्क्त महसूस हो, यदि आपको सांस लेने में दिक्क्त हो रही है तो चुने का सेवन ना करें। (और पढ़ें - सांस लेने में दिक्कत का इलाज)
  • चुना खाने से कुछ लोगों के मुँह में सूजन हो जाती है। अगर चुना खाने के बाद आपके मुँह में सूजन हो रही है तो इसका उपयोग ना करें। (और पढ़ें - चेहरे पर सूजन का इलाज)
  • चुना खाने से उलटी भी आ सकती है। (और पढ़ें - उल्टी रोकने के उपाय)
  • चुने का सेवन करने से आपके पेट में भी कोई गड़बड़ हो सकती है। अगर आपके पेट में चुना खाने के बाद कोई समस्या हो रही है तो इसका इस्तेमाल ना करें। (और पढ़ें - पेट की गैस दूर करने के उपाय)
और पढ़ें ...

References

  1. J Behar, M Hitchings, R D Smyth. Calcium stimulation of gastrin and gastric acid secretion: effect of small doses of calcium carbonate. Gut. 1977 Jun; 18(6): 442–448. PMID: 873325
  2. Dr. Rebecca C. Rossom et al. Calcium and Vitamin D Supplementation and Cognitive Impairment in the Women’s Health Initiative . J Am Geriatr Soc. 2012 Dec; 60(12): 2197–2205. PMID: 23176129
  3. Carolyn J. Crandall et al. Calcium plus Vitamin D Supplementation and Height Loss: Findings from the Women’s Health Initiative Calcium plus Vitamin D Clinical Trial . Menopause. 2016 Dec; 23(12): 1277–1286. PMID: 27483038
  4. JoAnn E. Manson et al. Calcium/Vitamin D Supplementation and Coronary Artery Calcification . Menopause. 2010 Jul; 17(4): 683–691. PMID: 20551849
  5. R Hakim et al. Severe hypercalcemia associated with hydrochlorothiazide and calcium carbonate therapy. Can Med Assoc J. 1979 Sep 8; 121(5): 591–594. PMID: 497950
  6. Landing MA Jarjou et al. Unexpected long-term effects of calcium supplementation in pregnancy on maternal bone outcomes in women with a low calcium intake: a follow-up study. Am J Clin Nutr. 2013 Sep; 98(3): 723–730. PMID: 23902782
  7. K. A. Ward et al. The Effect of Prepubertal Calcium Carbonate Supplementation on Skeletal Development in Gambian Boys—A 12-Year Follow-Up Study. J Clin Endocrinol Metab. 2014 Sep; 99(9): 3169–3176. PMID: 24762110
ऐप पर पढ़ें