myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

दोहरी दृष्टि दोष क्या होता है?

दोहरी दृष्टि दोष या "डबल विजन" (Double vision) एक ऐसी समस्या होती है, जिसमें व्यक्ति को एक ही वस्तु की दो छवि दिखाई देती हैं। इसमें दिखाई देने वाली दो छवि एक दूसरे के साथ या एक दूसरे के उपर-नीचे या दोनों ही साथ-साथ और ऊपर-नीचे दिखाई दे सकती हैं।

(और पढ़ें - निकट दृष्टि दोष के कारण)

अगर दोहरी दृष्टि दोष से एक ही आंख प्रभावित है, तो इसे "मोनोकुलर" (Monocular) और यदि दोनों आंखें प्रभावित हैं, तो इसे "बाइनोकुलर" (Binocular) कहा जाता है।

दोहरी दृष्टि दोष का उपचार इसके कारण और प्रकार पर निर्भर करता है, लेकिन इसके उपचार में आंखों की एक्सरसाइज, विशेष रूप से डिजाइन किया गया चश्मा, और सर्जरी आदि शामिल हैं।

(और पढ़ें - आंखों की रोशनी कैसे बढ़ाएं)

यहां पर दोहरी दृष्टि दोष से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण बातें बताई गई हैं -

  • दोहरी दृष्टि दोष या "डिप्लोपिया" (Diplopia) कई अंतर्निहित स्थितियों के परिणामस्वरूप विकसित हो सकता है।
  • दोहरी दृष्टि दोष एक या दोनों आंखों को प्रभावित कर सकता है।
  • बचपन में हुआ भेंगापन (Squint), या आंखों का टेढ़ापन कई बार फिर से हो जाता है, जिसके कारण दोहरी दृष्टि दोष भी हो जाता है।
  • शराब पीने या नशीले ड्रग्स का सेवन करने से भी कई बार कुछ समय के लिए दोहरी दृष्टि दोष हो सकता है।
  • इसके उपचार में ऑपरेशन, आंखों की एक्सरसाइज, सुधारात्मक चश्मे (Corrective lenses) शामिल हैं।

(और पढ़ें - दूर दृष्टि दोष क्या होता है)

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

और पढ़ें ...