याददाश्त खोना क्या है?

याददाश्त को अनुभवों, विचारों, भावनाओं, उत्तेजनाओं, कल्पनाओं और ज्ञान की याद या स्मरण के रूप में परिभाषित किया जा सकता है।
याददाश्त की समस्याएं इनमें से कुछ या सभी प्रक्रियाओं को प्रभावित कर सकती हैं। कुछ याददाश्त की समस्याएं धीरे-धीरे विकसित होती हैं, जबकि कुछ अचानक ही हो जाती हैं। कुछ प्रकार की समस्याएं ठीक हो जाती हैं और अन्य समस्याओं में याददाश्त धीरे-धीरे स्थायी रूप से खराब होती है। हमारे दिमाग को महत्वपूर्ण तथ्यों, भविष्य की योजनाओं, शब्दों व अन्य चीज़ों को याद रखना होता है। इन सब को पूरा करने के लिए मस्तिष्क सब जानकारी को स्टोर करता है और फिर जब हमें इसकी आवश्यकता होती है तो इसे प्राप्त कराता है।

कुछ हद तक यादादश्त के कमजोर होने की समस्याओं का उम्र बढ़ने के साथ होना आम बात है। जबकि अल्जाइमर रोग और संबंधित विकारों से संबंधित याददाश्त की कमजोरी और सामान्य याददाश्त में कमजोरी होने के बीच अंतर होता है। कई बार किसी उपचार के दौरान हमारी याददाश्त कमजोर हो जाती है।

(और पढ़ें - मानसिक रोग दूर करने के उपाय)

यदि आपको याददाश्त संबंधी समस्याएं हो रही हैं, तो इसके निदान और उचित देखभाल के लिए अपने डॉक्टर से तुरंत सलाह लेनी चाहिए।

(और पढ़ें - याददाश्त कमजोर होने के कारण)

  1. कमजोर याददाश्त के लक्षण - Memory Loss Symptoms in Hindi
  2. कमजोर याददाश्त के कारण - Memory Loss Causes in Hindi
  3. कमजोर याददाश्त से बचाव - Prevention of Memory Loss in Hindi
  4. कमजोर याददाश्त का परीक्षण - Diagnosis of Memory Loss in Hindi
  5. कमजोर याददाश्त का इलाज - Memory Loss Treatment in Hindi
  6. याददाश्त खोना की दवा - Medicines for Memory Loss in Hindi
  7. याददाश्त खोना की दवा - OTC Medicines for Memory Loss in Hindi
  8. याददाश्त खोना के डॉक्टर

याददाश्त खोने के क्या कारण होते हैं ?

याददाश्त की समस्याएं तीव्रता में भिन्न हो सकती हैं और विभिन्न प्रकार के लक्षण पैदा कर सकती हैं। याददाश्त से संबंधित आम लक्षण निम्नलिखित हैं -

  1. उलझन।
  2. डिप्रेशन। (और पढ़ें - डिप्रेशन दूर करने के उपाय)
  3. दिन-प्रतिदिन के कार्यों में कठिनाई, जैसे कि चेकबुक को संतुलित करना, नियुक्तियों को रखने या भोजन तैयार करने में कठिनाई।
  4. लोगों, बातों और घटनाओं को भूलना जो पहले अच्छी तरह से ज्ञात थे।
  5. खो जाना और वस्तुओं को खो देना।
  6. दिशानिर्देशों का पालन करने में कठिनाई या किसी परिचित कार्य को करने में समस्याएं आना।
  7. चिड़चिड़ापन।
  8. भाषा की कठिनाइयां, जैसे शब्दों या किसी शब्द को याद रखने में परेशानी।
  9. मस्तिष्क संबंधी विकार। (और पढ़ें - मस्तिष्क संक्रमण का इलाज)
  10. याददाश्त के परीक्षणों में खराब प्रदर्शन।
  11. कहानियों और प्रश्नों को दोहराना।

(और पढ़ें - भूलने की बीमारी का इलाज)

याददाश्त खोने के क्या कारण होते हैं ?

याददाश्त खोने के निम्नलिखित कारण हो सकते हैं -

  1. विटामिन बी-12 की कमी।
  2. नींद न पूरी होना। (और पढ़ें - अच्छी नींद के लिए क्या करें)
  3. शराब या ड्रग्स और कुछ दवाओं का उपयोग करना। (और पढ़ें - शराब छुड़ाने के उपाय)
  4. हाल ही में हुई सर्जरी से बेहोशी के कारण।
  5. कैंसर उपचार जैसे किमोथेरेपी और रेडिएशन या अस्थि मज्जा का प्रत्यारोपण। (और पढ़ें - कैंसर का इलाज)
  6. सिर की चोट। (और पढ़ें - सिर की चोट का इलाज)
  7. मस्तिष्क में ऑक्सीजन की कमी होना।
  8. कुछ प्रकार के दौरे। (और पढ़ें - मिर्गी का इलाज)
  9. ब्रेन ट्यूमर या संक्रमण। (और पढ़ें - परजीवी संक्रमण के लक्षण)
  10. मस्तिष्क की सर्जरी या हृदय की बाईपास सर्जरी। (और पढ़ें - बाईपास सर्जरी)
  11. मानसिक विकार जैसे कि अवसाद, बाइपोलर डिसआर्डर, स्किज़ोफ्रेनिया (मनोविदलता) और डिसोसिएटिव विकार।
  12. भावनात्मक ज़ख़म।
  13. थायराइड। (और पढ़ें - महिलाओं में थायराइड लक्षण)
  14. विद्युत चिकित्सा।
  15. ट्रांसिएंट इस्केमिक अटैक (टीआईए)। (transient ischemic attack)
  16. ह्यूटिंगटन रोग, मल्टीपल स्केलेरोसिस (एमएस) या पार्किंसंस रोग जैसी बीमारियां।
  17. माइग्रेन। (और पढ़ें - माइग्रेन के लिए योग)

इनमें से कुछ स्थितियों का इलाज हो सकता है और कुछ मामलों में, याददाश्त को ठीक भी किया जा सकता है।


याददाश्त खोने के जोखिम कारक क्या हैं ?

याददाश्त की समस्याओं के निम्नलिखित जोखिम कारक हो सकते हैं -

  • रक्त प्रवाह - हाई ब्लड प्रेशर, स्ट्रोक, हृदय रोग, कोलेस्ट्रॉल की समस्याएं, नपुंसकता, व्यायाम की कमी (सप्ताह में दो बार से कम) याददाश्त की समस्याओं के जोखिम को बढ़ा सकते हैं। (और पढ़ें - हाई ब्लड प्रेशर में क्या खाएं
  • उम्र - याददाश्त की समस्याओं का जोखिम उम्र के साथ बढ़ता है (50 वर्ष से अधिक)।
  • सूजन - मसूड़ों का रोग, हाई होमोसिस्टीन (homocysteine) या सी-रिएक्टिव प्रोटीन (सीआरपी) (C- reactive protein) का रक्त में उच्च स्तर या ओमेगा -3 फैटी एसिड का कम स्तर याददाश्त की समस्याओं के जोखिम को बढ़ाता है। (और पढ़ें - मसूड़ों में सूजन के घरेलू उपाय)
  • आनुवांशिकी - परिवार के किसी सदस्य का अल्जाइमर रोग, किसी प्रकार का डिमेंशिया या पार्किंसंस रोग से ग्रस्त होना आपका याददाश्त की समस्या का जोखिम बढ़ा देता है।
  • सिर की चोट - सिर की चोटों का इतिहास या दूसरे व्यक्ति के संपर्क में आने वाले खेल खेलने से लगने वाली चोटों से आपके याददास्त की समस्या का जोखिम बढ़ जाता है।
  • विषाक्त पदार्थ - शराब या नशीली दवाओं का सेवन, पर्यावरण या निजी उत्पादों में मौजूद विषाक्त पदार्थों के संपर्क में आना और कीमोथेरेपी अदि से याददाश्त की समस्याओं का जोखिम बढ़ता है।
  • मानसिक स्वास्थ्य - तनाव, डिप्रेशन, पोस्ट ट्रोमैटिक तनाव विकार, बाइपोलर डिसआर्डर, स्किज़ोफ्रेनिया अदि समस्याओं से याददाश्त की समस्याओं का जोखिम बढ़ता है। (और पढ़ें - तनाव के लिए योग)
  • प्रतिरक्षण/संक्रमण समस्याएं - क्रॉनिक थकान सिंड्रोम, ऑटोइम्यून समस्याएं जैसे कि रूमेटाइड आर्थराइटिस या मल्टीपल स्केलेरोसिस या कोई अनुपचारित संक्रमण होने से याददाश्त की समस्याएं हो सकती हैं।
  • न्यूरोहॉर्मोन की कमी - थायराइड का कम स्तर, टेस्टोस्टेरोन (पुरुषों और महिलाओं दोनों में), एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन (महिलाओं में), डीएचईए (डीहाइड्रोपियांडोस्टेरोन), कोलेस्ट्रॉल का उच्च स्तर होने से याददाश्त की समस्यों का जोखिम बढ़ जाता है। (और पढ़ें - टेस्टोस्टेरोन बढ़ाने के घरेलू उपाय)
  • शुगर - शुगर और मोटापा भी याददाश्त की समस्याओं का जोखिम बढ़ा सकता है। (और पढ़ें - मोटापा कम करने के उपाय)
  • नींद की समस्याएं - क्रॉनिक अनिद्रा और स्लीप एप्निया अदि समस्याओं से याददाश्त खोने का जोखिम बढ़ सकता है।

(और पढ़ें - उम्र के अनुसार कितने घंटे सोना चाहिए)

याददाश्त खोने का बचाव कैसे होता है ?

अध्ययनों से पता चलता है कि निम्नलिखित तरीकों से आप याददाश्त की समस्याओं को विकसित होने का अपना जोखिम कम कर सकते हैं -

  • सिर की चोटों से बचने के लिए उचित समय पर सीट बेल्ट, हेलमेट्स और अन्य सुरक्षा तकनीकों का उपयोग करें।
  • यदि आपको स्ट्रोक, मस्तिष्क धमनी विस्फार या मस्तिष्क के संक्रमण होने का संदेह है, तो तुरंत चिकित्सक से संपर्क करें। (और पढ़ें - संक्रमण के लक्षण)
  • धूम्रपान न करें। (और पढ़ें - धूम्रपान छोड़ने के सरल तरीके)
  • शराब या नशीले पदार्थों का सेवन न करें।
  • पर्याप्त नींद लें। (और पढ़ें - कम सोने के नुकसान)
  • एक स्वस्थ आहार खाएं जिसमें ओमेगा -3 फैटी एसिड और सब्ज़ियां भरपूर मात्रा मे हों।
  • कोलेस्ट्रॉल और ब्लड प्रेशर को कम करने के लिए चिकित्सक की सलाह का पालन करें। (और पढ़ें - कोलेस्ट्रॉल कम करने के घरेलू उपाय)
  • नियमित रूप से व्यायाम करें। (और पढ़ें - व्यायाम करने का सही समय)
  • दिमाग को चुनौती देने वाली गतिविधियां करें (जैसे पहेली भुजाएं और नई भाषा सीखें)।
  • दोस्तों के साथ संपर्क बनाए रखें और अपनी रुचि के अनुसार लोगों से बातचीत करें। सामाजिक संपर्क तनाव को कम करता है और डिप्रेशन कम करने में सहायता करता है।

(और पढ़ें - तनाव दूर करने के घरेलू उपाय)

याददाश्त खोने का निदान कैसे होता है ?

याददाश्त खोने के निदान के चिकित्सा परीक्षण में एक पूर्ण चिकित्सा इतिहास शामिल होता है। आपकी मदद करने के लिए परिवार के एक सदस्य या किसी विश्वसनीय दोस्त को ले जाएं। आपके डॉक्टर आपकी याददाश्त की समस्याओं के बारे में प्रश्न पूछेंगे। वे आपकी याददाश्त का परीक्षण करने के लिए कुछ प्रश्न पूछ सकते हैं।
आपके चिकित्सक आपका एक पूर्ण शारीरिक परीक्षण करेंगे और अन्य शारीरिक लक्षणों के बारे में भी पूछेंगे।

(और पढ़ें - लैब टेस्ट लिस्ट)

परीक्षण के नतीजों के आधार पर, आपके डॉक्टर आपको एक विशेषज्ञ के पास भेज सकते हैं, जैसे कि एक न्यूरोलॉजिस्ट या मानसिक स्वास्थ्य पेशेवर। इसके अतिरिक्त परीक्षणों में निम्नलिखित शामिल हो सकते हैं -

  • आपकी सोचने की क्षमता की जांच करने के लिए संज्ञानात्मक परीक्षण।
  • विटामिन बी-12 की कमी और थायराइड रोग सहित विभिन्न स्थितियों की जाँच के लिए रक्त परीक्षण। (और पढ़ें - थायराइड डाइट चार्ट)
  • इमेजिंग परीक्षण जैसे एमआरआई या सीटी स्कैन
  • मस्तिष्क की विद्युत गतिविधि को मापने के लिए इलेक्ट्रोएन्सेफ़लोग्राम (ईईजी)। (और पढ़ें - ईईजी क्या है)
  • मस्तिष्क संबंधी एंजियोग्राफी, एक एक्स-रे जो यह देखने में मदद करता है कि मस्तिष्क में रक्त कैसे बह रहा है।

(और पढ़ें - मैमोग्राफी क्या है)

इस समस्या का निदान करना एक महत्वपूर्ण कदम है। समय पर निदान हो जाने पर याददाश्त की वजह से होने वाली कई समस्याओं का उपचार किया जा सकता है।

(और पढ़ें - पेट स्कैन)

याददाश्त खोने का उपचार कैसे होता है ?

याददाश्त की हानि का उपचार उसके कारण पर निर्भर करता है। कई मामलों में, यह इलाज से ठीक हो सकती है। उदाहरण के लिए, दवाओं से होने वाली याददाश्त की हानि दवा में बदलाव से ठीक हो सकती है। (और पढ़ें - दवाओं की जानकारी)
पोषण की कमी के कारण होने वाली याददाश्त की हानि पौष्टिक पूरक से ठीक हो सकती है। (और पढ़ें - पौष्टिक आहार के लाभ)
डिप्रेशन का इलाज करने से इसके कारण हुई याददाश्त की हानि का उपचार हो सकता है। (और पढ़ें - डिलीवरी के बाद डिप्रेशन के लक्षण)
कुछ मामलों में, जैसे कि स्ट्रोक के बाद, थेरेपी से लोगों को कुछ काम जैसे कि चलना या जूते बांधना याद आ जाते हैं जबकि दूसरों में, समय के साथ याददाश्त में सुधार हो सकता है। (और पढ़ें - दिमाग तेज करने के उपाय)

उपचार याददाश्त की हानि से संबंधित विशिष्ट स्थितियों के लिए भी किया जा सकता है। उदाहरण के लिए, अल्जाइमर रोग से संबंधित याददाश्त की समस्याओं का इलाज करने के लिए दवाएं उपलब्ध हैं।

(और पढ़ें - अल्जाइमर रोग के लिए आहार)

Dr. Megha Tandon

Dr. Megha Tandon

न्यूरोलॉजी

Dr. Shakti Mishra

Dr. Shakti Mishra

न्यूरोलॉजी

Dr. Ashutosh Pratap

Dr. Ashutosh Pratap

न्यूरोलॉजी

याददाश्त खोना के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
Exelon TtsExelon Tts 13.3 Mg Patch4423.0
ExelonExelon 1.5 Mg Capsule4260.0
RivademRivadem 3 Mg Capsule65.0
RivamerRivamer 1.5 Mg Capsule105.0
RivaplastRivaplast 9 Mg Transdermal Patch297.0
RivasmineRivasmine 1.5 Mg Capsule46.0
RiveraRivera 1.5 Mg Capsule44.0
AlzilAlzil 10 Mg Tablet156.35
AricepAricep 10 Mg Tablet156.0
CognidepCognidep 10 Mg Tablet66.66
DnpDnp 10 Mg Tablet132.37
DoneceptDonecept 10 Mg Tablet139.61
DonepDonep 10 Mg Tablet156.35
DonetazDonetaz 11.5 Mg Tablet149.12
DozareDozare 5 Mg Tablet100.5
LapezilLapezil 10 Mg Tablet171.81
SanezilSanezil 5 Mg Tablet100.0
AlzepilAlzepil 10 Mg Tablet120.0
DemenzaDemenza 10 Mg Tablet100.1
DepzilDepzil 10 Mg Tablet100.0
DonazDonaz 10 Mg Tablet130.0
DopeDope 10 Mg Tablet125.0
DopezilDopezil 5 Mg Tablet106.25
DorentDorent 10 Mg Tablet152.0
NepzilNepzil 10 Mg Tablet72.12
PezilPezil 5 Mg Tablet185.87
RemendaRemenda 5 Mg Tablet79.0
CereloidCereloid 1 Mg Tablet220.0
Aricep MAricep M Forte Tablet175.0
CogmentinCogmentin 10 Mg/10 Mg Tablet114.28
DonamemDonamem 5 Mg/10 Mg Tablet179.0
Donep M ForteDonep M Forte 10 Mg/10 Mg Tablet189.0
Larentine DLarentine D 5 Mg/10 Mg Tablet170.0
Alzil MAlzil M 10 Mg/10 Mg Tablet164.5
Donecept MDonecept M 5 Mg/5 Mg Tablet126.5
Donep MDonep M 5 Mg/5 Mg Tablet139.0
Dope PlusDope Plus 5 Mg Tablet104.76
Memancad DMemancad D Tablet152.6

याददाश्त खोना के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

OTC Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
Himalaya Mentat SyrupHimalaya Mentat Syrup125.0
Himalaya Brahmi TabletsHimalaya Brahmi Capsules135.0
Baidyanath Brahmi GhritaBaidyanath Bramhi Ghruta249.0
Baidyanath Brahmi Bati BuddhivardhakBaidyanath Brahmi Bati (Buddhivardh110.0
Zandu Brento SyrupZandu Brento Syrup105.0
Divya SaraswatarishtaDivya Sarswatarishta105.0
Divya AshwagandharishtaDivya Ashwagandharishta100.0
Divya Rajat BhasmaDivya Rajat Bhasma200.0
Divya Medha VatiDivya Medha Vati160.0
Baidyanath ShankhpushpiBaidyanath Shankhpushpi Syrup80.0
Baidyanath Dimag Poushtik RasayanBaidyanath Dimag Poushtik Rasayan Tablet150.0
Zandu BrentoZandu Brento Syrup105.0

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

और पढ़ें ...