जिमीकंद एक सब्जी है जो उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में उगती है। हाथी के पैरों की तरह दिखने के कारण, इसे जिमीकंद कहा जाता है। यह ज्यादातर अफ्रीका में खाई जाती है, लेकिन इसके अलावा यह भारत सहित कई एशियाई देशों में इस्तेमाल की जाती है। इसका वैज्ञानिक नाम अमोरफोफ्लस पाओनीफोलिअस (Amorphophallus Paeoniifolius) और हिंदी में इसे सुरन भी कहा जाता है। एक जिमीकंद 30 किलो वजन तक का होता है। यह हमें कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान करता है।

जिमीकंद में ऐसे खनिज पाए जाते हैं जो हमारे शरीर के कार्यों को पूरा करने के लिए आवश्यक हैं। ये खनिज तांबा, सेलेनियम, फास्फोरस, जस्ता, पोटेशियम और मैग्नीशियम है। एलिफंट फूट यैम में बड़ी मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है। इसमें एक बहुत बड़ी मात्रा में कार्ब्स और ओमेगा 3 फैटी एसिड होते हैं जो ऊर्जा और जीविका के लिए महत्वपूर्ण हैं जैसे कि आलू

  1. जिमीकंद के फायदे - Jimikand ke Fayde in Hindi
  2. जिमीकंद के नुकसान - Jimikand ke Nuksan in Hindi

जिमीकंद में बैटेटाइटोस्टेरोल, गैलेक्टोज, सिलोयस, बीटीलिनिक एसिड, ल्यूपोल, स्टगमास्टरोल और एमायलेज जैसे बहुत सारे यौगिक हैं। इसके अलावा इसमें मौजूद जिंक आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने, वाटर रेगुलेशन के लिए पोटेशियम, मजबूत हड्डियों के लिए कैल्शियम और फास्फोरस और विटामिन ए पाए जाते हैं जो एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट हैं। तो आइये जानते है इसके लाभों के बारे में -

जिमीकंद के लाभ करें कोलेस्ट्रॉल को कम - Elephant Foot Yam for Cholesterol in Hindi

जिमीकंद में ओमेगा 3 फैटी एसिड की एक उच्च सामग्री पाई जाती है। ये अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने और खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करते हैं। इस तरह जिमीकंद हृदय रोग, स्ट्रोक और कैंसर को रोकने में मदद करता है। जिमीकंद में शक्तिशाली एंटीकायगुलेंट यौगिक होते हैं जो दिल के दौरे को रोकने में मदद करते हैं। (और पढ़ें - कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए क्या खाएं)

जिमीकंद के गुण करें शुगर (मधुमेह) का उपचार - Jimikand Good for Diabetes in Hindi

जिमीकंद शुगर (मधुमेह) से पीड़ित लोगों के लिए एक स्वस्थ विकल्प है क्योंकि इसकी कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स (रक्त शर्करा धीरे धीरे बढ़ाता है) होता है। इसको 90 दिनों तक खाने से रक्त में शर्करा का स्तर कम होता है और इंसुलिन या रक्त शर्करा की मात्रा कम हो जाती है जो एक व्यक्ति की चीनी की जरूरतों को कम करती है।

जिमीकंद के औषधीय गुण करें कैंसर का इलाज - Elephant Foot Yam Benefits for Cancer in Hindi

जिमीकंद में बहुत अधिक मात्रा में फाइबर पाया जाता है जो प्रोबायोटिक बैक्टीरिया के लिए एक अद्भुत घर है जिससे आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने में सहायक है। यह बृहदान्त्र कैंसर को रोकने में मदद करता है। इसके अलावा इसमें डायस्पेंनिन भी शामिल है। जिस पर कैंसर के उपचार और रोकथाम के लिए शोध किया जा रहा है।

सूरन का सेवन करें वजन कम करने के लिए - Elephant Foot Yam for Weight Loss in Hindi

जिमीकंद के सेवन से आप भरा हुआ महसूस करते हैं जिससे आपको जल्दी से भूख नहीं लगती है। और इस तरह आप अपना वजन कम कर सकते हैं। आप इसे भुन सकते हैं या सेंक सकते हैं, लेकिन अगर आप अपना वजन कम करना चाहते हैं या अपने अन्य स्वास्थ्य लाभों का आनंद लेने के लिए इसे तलने से बचें। 

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए डाइट टिप्स)

गठिया दूर करने में लाभकारी है सूरन - Elephant Foot Yam for Arthritis in Hindi

जिमीकंद में सूजन को कम करने वाले गुण पाएं जाते हैं। जो गठिया जैसे रोग की सूजन को कम करने में मदद करता है। इसमें दर्द को कम करने वाले गुण भी होते हैं और यह गठिया और अन्य दर्द के मामले में प्रभावी साबित हो सकता है।

जिमीकंद का उपयोग करे बवासीर में - Elephant Foot Yam for Piles in Hindi

यह सब्जी आमतौर पर उन लोगों को खाने की सलाह दी जाती है जो बवासीर के लिए इलाज करवा रहे हैं। यह अनियमित आँतों के कार्यों को कम करने में मदद करता है और कब्ज का इलाज करता है। (और पढ़ें - क्रोटोन टिगलियम के फायदे करें बवासीर में मदद)

ओल खाने के फायदे करें लिवर को साफ़ - Jimikand ke Fayde for Liver Cleansing in Hindi

जिमीकंद बहुत ही अच्छा लिवर को साफ़ करने वाला एजेंट है क्योंकि इसमें बहुत अधिक फाइबर होता है जो विषाक्त पदार्थों से लिवर को साफ करने में मदद करता है। (और पढ़ें - लिवर को साफ और स्वस्थ रखने के लिए 10 सर्वोत्तम आहार)

तनाव के लिए दवा है जिमीकंद - Elephant Foot Yam for Stress in Hindi

जिमीकंद के आरामदायक प्रभाव तंत्रिका तंत्र पर डायजेपाम (diazepam) की तरह होते हैं। यह तनाव के लिए बहुत ही अच्छी दवा है। इसका सेवन शरीर को ठंडा करने में मदद करता है।

जिमीकंद के अन्य फायदे - Other Benefits of Elephant Foot Yam in Hindi

  1. यह निम्न रक्तचाप को कम करने में मदद करता है।
  2. जिमीकंद भी एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट है जो उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को धीमा करने और कार्डियोवास्कुलर रोग, स्ट्रोक और कैंसर को रोकने में मदद करता है। (और पढ़ें - स्ट्रोक का इलाज)
  3. जो महिलाएं इसका सेवन करती है उनका हार्मोनल संतुलन अच्छा रहता है।
  4. जिमीकंद, छाछ और इमली को एक साथ उबालकर सेवन करें। यह बढ़े हुए प्रोस्टेट के लिए बहुत अच्छा इलाज है।
  5. जिमीकंद भी दस्त और पेट में दर्द और गैस में मदद करता है। (और पढ़ें – पेट दर्द का घरेलू इलाज)
  6. जिमीकंद खाने से मांसपेशियों की ऐंठन को रोकने में भी मदद मिलती है।
  1. अपने आहार में जिमीकंद को शामिल करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।
  2. जो लोग अस्थमा, साइनस संक्रमण या पुरानी ठंड से पीड़ित हैं, उन्हें इसके सेवन करने से बचना चाहिए।
  3. इसका ठंडा प्रभाव पड़ता है। माताओं या स्तनपान कराने वाली महिलाओं को इसके सेवन से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। (और पढ़ें - स्तनपान के फायदे बच्चों और माताओं के लिए)

उत्पाद या दवाइयाँ जिनमें ज़मीनक़न्द है

cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ