myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

आम पन्ना ताज़ा ग्रीष्मकालीन पेय है जो कच्चे आमों से बनता है। यह स्वादिष्ट पेय भारत में बहुत लोकप्रिय है। इसका मीठी सुगंधित स्वाद और इसके स्वास्थ्य लाभ इसे पीने में अत्यंत स्वादिष्ट बनाते हैं। आम पन्ना का सेवन गर्मी में किया जाता है क्योंकि यह शरीर को शीतल और हाइड्रेट रखने का काम करता है और गर्म मौसम के दौरान शरीर को आवश्यक इलेक्ट्रोलाइट्स प्रदान करता है। गर्मी की दोपहर में एक गिलास आम पन्ना पीने से थकान दूर हो जाती है और यह आपको तरो ताजा कर देता है। तो चलिए जानते हैं आम पन्ना गर्मी के मौसम में हमें कैसे फायदा पहुँचाता है।

एक गिलास आम पन्ना में लगभग 180 कैलोरी होती है और आम पन्ना कार्बोहाइड्रेट, विटामिन ए, विटामिन-बी 1, बी 2 और विटामिन-सी में समृद्ध है। इसके साथ-साथ इसमें आयरन, सोडियम, पोटेशियम, मैग्नीशियम और कैल्शियम जैसे खनिज भी मौजूद हैं। यह फोलेट, कॉलिन और पेक्टिन जैसे कुछ अन्य पोषक तत्व भी प्रदान करता है।

  1. आम पन्ना के फायदे - Aam panna ke fayde in hindi
  2. आम पन्ना के नुकसान - Aam panna side effects in hindi
  3. आम पन्ना बनाने की विधि - Aam panna recipe in hindi
  4. आम पन्ना रेसिपी

आम पन्ना के फायदे गर्भावस्था में - Aam panna is good for pregnancy in hindi

आम पन्ना गर्भावस्था के दौरान लिए जाने वाले पेय पदार्थों में से एक है। इसमें फोलेट पाया जाता है जो गर्भ में पल रहे बच्चे को जन्म दोषों के खतरे से बचाने में मदद करता है। फोलेट बच्चे को ठीक से बढ़ने में मदद करता है। अतः गर्भवती महिलाओं के लिए इस पेय का उपभोग बहुत अच्छा है।

(और पढ़ें – प्रेगनेंसी में होने वाली समस्याएं और गर्भावस्था में पेट दर्द)

आम पन्ना बेनिफिट्स फॉर समर - Aam panna for summer in hindi

गर्मियों की दोपहर में हम अपने शरीर से बहुत सारे इलेक्ट्रोलाइट्स खो देते हैं, विशेष रूप से सोडियम जो पसीने के रूप में शरीर से बाहर आता है। एक गिलास आम पन्ना पीने से हमारे शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स को संतुलित रखने में मदद मिलती है क्योंकि यह खनिजों में समृद्ध होता है। इलेक्ट्रोलाइट हमारे शरीर के लिए महत्वपूर्ण हैं क्योंकि यह हमें ऊर्जा देते हैं, थकान को दूर करते हैं, द्रव संतुलन को नियंत्रित करते हैं और पीएच (Potential of Hydrogen) को नियमित करते हैं। इसलिए जब भी आप थका हुआ महसूस करें बस एक गिलास आम पन्ना का सेवन कर लें। गर्मी के दौरान लू और घमौरियां काफी प्रचलित हैं। गर्मी के दौरान प्रतिदिन एक गिलास आम पन्ना आपको इनसे बचाता है।

(और पढ़ें – इन गर्मियों को मात देने के लिए हो जाइए तैयार इन घर पर बनी समर ड्रिंक्स के साथ)

आम पन्ना के लाभ एनीमिया के लिए - Aam panna ke fayde for anemia in hindi

एनीमिया तब होता है जब लाल रक्त कोशिकाओं की संख्या या हीमोग्लोबिन का स्तर एक निश्चित संख्या से नीचे हो जाता है। इसके परिणामस्वरूप शरीर कोशिकाओं में ऑक्सीजन की पर्याप्त आपूर्ति नहीं हो पाती है और थकान, श्वास लेने में दिक्कत, सुस्त चेहरा और हृदय रोग जैसी समस्या उत्पन्न होने लगती है। आम पन्ना को एनीमिया को दूर करने के लिए बहुत प्रभावी पाया गया है क्योंकि यह आयरन से समृद्ध है और इसलिए यह लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ाने में मदद करता है। इसके लिए प्रतिदिन इसका सेवन करें।

(और पढ़ें – एनीमिया के लिए बेसन के गुण)

आम पन्ना पीने के फायदे स्कर्वी की समस्या में - Aam panna helps scurvy disease in hindi

आहार में विटामिन-सी की कमी के कारण स्कर्वी हो सकता है। स्कर्वी मसूड़ों की बीमारियों, कमजोरी और एनीमिया से जुड़ा हुआ है। आम पन्ना विटामिन-सी से भरा हुआ है जो स्कर्वी को रोकने में मदद करता है। विटामिन-सी संयोजी ऊतकों (connective tissues) के लिए कोलेजन के रूप में कार्य करता है और लोहे के अवशोषण में मदद करता है।

आम पन्ना बढ़ाए रोग प्रतिरोधक क्षमता - Mango panna boosts immunity in hindi

आम पन्ना एंटीऑक्सिडेंट और विटामिन-सी से भरा हुआ है। इसे नियमित रूप से पीने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है क्योंकि ये पोषक तत्व हमारे शरीर को रोगाणुओं से लड़ने के लिए मजबूत बनाते हैं।

(और पढ़ें – रोग प्रतिरोधक क्षमता कैसे बढ़ायें)
 

आम पन्ना पीने से लाभ एसिडिटी में - Aam panna for acidity in hindi

आम पन्ना जठरांत्र संबंधी विकार और बिलियस विकारों (bilious disorders) की समस्या को कम करता है। कच्चे आमों में मौजूद एसिड पित्त के स्राव को बढ़ाने में मदद करता है जो आंतों के लिए एक हीलिंग एजेंट के रूप में कार्य करने के लिए जाना जाता है।

(और पढ़ें – गर्मियों में सिरदर्द और एसिडिटी से बचने के लिए फॉलो करें डाइटीशियन रुजुता दिवेकर के ये पाँच टिप्स)

आम पन्ना बढ़ाए पाचन क्रिया - Aam panna improves digestion in hindi

अक्सर गर्मी के मौसम में भूख नहीं लगती है। इसके अलावा गर्म और ह्यूमिड दिनों के दौरान पाचन समस्यां अधिक होने लगती हैं। यह मुख्य रूप से शरीर में तरल पदार्थों के नुकसान के कारण होता है। यह आम का पेय अपनी प्यास को बुझाने और अपचदस्तकब्ज और बवासीर जैसी समस्याओं को रोकने में मदद करता है।

(और पढ़ें – पाचन क्रिया सुधारने के आयुर्वेदिक उपाय)
 

आम का पन्ना खून से संबंधित विकारों के लिए - Mango panna provides relief from blood related problems in hindi

खून से संबंधित विकारों को इस के सेवन से रोका जा सकता है। यह रक्त वाहिकाओं को अधिक लचीला बनाने में मदद करता है और इसमें मौजूद आयरन नई लाल रक्त कोशिकाओं का निर्माण करता है। विटामिन सी लोहे के अवशोषण में मदद करता है और हैजाटीबी और पेचिश जैसी समस्याओं से बचाता है।

(और पढ़ें – शलगम बेनिफिट्स बचाएँ एनीमिया से)
 

हम सभी इस बात को जानते हैं कि किसी भी चीज का अधिक उपभोग हमारे शरीर के लिए हानिकारक होता है। पर सीमित मात्रा में भी आम पन्ना के कुछ हानिकारक प्रभाव हो सकते हैं जिन्हें जानना ज़रूरी है।

आम पन्ना में उच्च मात्रा में कैलोरी होती है जो मधुमेह रोगियों के लिए हानिकारक हो सकती है। मधुमेह रोगी इस पेय का सेवन बिना चीनी या नमक के कर सकते हैं

आम पन्ना और आम के छिलके में उरुशीयोल (urushiol) होता है जो प्राकृतिक रूप में जहरीला होता है, जिससे कुछ लोगों को एलर्जी प्रतिक्रिया हो सकती है।

(और पढ़ें – एलर्जी का आयुर्वेदिक उपचार)

सामग्री :-

  • 1 छोटा चम्मच जीरा पाउडर
  • 250 ग्राम कच्चा आम (1 सर्विंग)
  • ½ चम्मच काला नमक
  • 1 कप चीनी
  • स्वाद के अनुसार नमक

विधि :-

  • सबसे पहले आप आम को प्रेशर कुकर में डालकर 3-4 सीटी बजने तक उबाल लें।
  • अब ठंडा होने के बाद आम की त्वचा को हटा दें।
  • अब आम के छोटे-छोटे टुकड़े करके उसमें जीरा पाउडर, काला नमक, चीनी और नमक मिला लें।
  • अब आप इसे तब तक ब्लेंडर में ब्लेंड करें जब तक इसकी मोटी प्यूरी नहीं बन जाए।
  • अब इसे ठंडा होने के लिए रेफ्रिजरेटर में रख दें।
  • अब एक गिलास में इस प्यूरी को निकालें, इसमें पानी और बर्फ के कुछ टुकड़े डालें।
  • अब इसे अच्छी तरह से मिला लें।
  • अब आप इस ताजे पेय का आनंद लें।
और पढ़ें ...