myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

हम सभी हर मौसम में खूबसूरत और आकर्षक दिखना चाहते हैं। मौसम बदलने पर हर तरह की स्किन पर कोई न कोई प्रॉब्‍लम होने लगती है और अगर इसका सही समय पर इलाज न किया जाए तो ये किसी गंभीर स्थिति का रूप ले सकती है जिनमें से कुछ स्किन एलर्जी, सेंसिटिविटी (त्‍वचा का संवेदनशील होना), खुजली, रैशेज (चकत्ते) और जलन हैं। इन सभी समस्‍याओं के दो प्रमुख कारण हैं जिनमें प्रदूषण और हवा में मौजूद प्रदूषक शामिल हैं। इसलिए आपके लिए यह जानना बेहद जरूरी है कि मौसम बदलने पर आपको अपनी स्किन का ध्‍यान कैसे रखना है।

यहां हम आपको शहनाज हुसैन के कुछ आसान टिप्‍स बता रहे हैं जिन्‍हें आपको अपने रोजाना के रूटीन में शामिल करना है।

सामान्‍य देखभाल

अपनी स्किन के हिसाब से अपने लिए बॉडी लोशन चुनें। रूखी त्‍वचा के लिए कई तरह की क्रीम, लोशन और ऑयल मौजूद हैं जो ऊपर बताई गई त्‍वचा से संबंधित समस्‍याओं को ठीक करने में मदद करते हैं। तेल, क्रीम या लोशन लगाने के बाद हर बार तौलिए से स्किन को रब (रगड़ें) जरूर करें। इससे रूखी त्‍वचा को मुलायम करने में मदद मिलती है और त्‍वचा में रक्‍त प्रवाह में सुधार आता है। इस तरह स्किन की चमक बढ़ जाती है।

(और पढ़ें - रूखी त्वचा की देखभाल)

अगर आपकी रूखी त्‍वचा है तो नहाने के लिए साबुन की बजाय शॉवर जैल का इस्‍तेमाल करें।

नहाने से पहले मालिश

नहाने से पहले गुनगुने तेल से मालिश करें। आप तिल के तेल या ऑलिव ऑयल या वेजिटेबल ऑयल का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। आयुर्वेद के अनुसार ये तेल संतुलित और एंटीऑक्‍सीडेंट गुणों से भरपूर होते हैं एवं यह धूप से खराब हुई त्‍वचा को राहत देते हैं।

मसाज ऑयल में सुगंधित इंग्रेडिएंट्स (खुशबू-युक्‍त सामग्रियां) मिला सकते हैं जिससे मालिश करने पर तन और मन दोनों को राहत और आराम मिल सके। आप निम्‍न तरीके से इस तेल को तैयार कर सकते हैं:

50 मि.ली तेल तैयार करने के लिए 25 मि.ली बादाम तेल और 25 मि.ली सूरजमुखी का तेल या तिल का तेल लें। अब इसमें 2 बूंदे गुलाब या जास्‍मीन एसेंशियलल ऑयल की मिला दें। कभी एसेंशियल ऑयल का इस्‍तेमाल खुद अपनी मर्जी से नहीं करना चाहिए। अब जो ऑयल तैयार है उससे मालिश करने से शरीर से भीनी-भीनी खुशबू आएगी।

इसके अलावा आप नहाने से पहले भी प्री-बाथ ट्रीटमेंट भी दे सकते हैं। बेसन में थोड़ा-सा दूध या दही मिलाकर एक चुटकी हल्‍दी डालकर पेस्‍ट तैयार कर लें। नहाने से पहले इस पेस्‍ट को शरीर पर लगाएं। इससे बॉडी पूरी तरह से साफ हो जाएगी।

स्किन क्‍लींजिंग

नहाने के दौरान अपने शरीर को तौलिए से रब करें खासतौर पर कोहनी और घुटनों पर। अगर इन दो हिस्‍सों का रंग गहरा है तो इन पर नहाने से पहले नींबू काटकर रगड़ें।

नहाने के बाद तौलिए से शरीर को पोंछकर बॉडी लोशन या क्रीम लगा लें। पैरों, हाथों के पीछे के हिस्‍से, घुटनों या कोहनियों पर अच्‍छी तरह से लोशन लगाएं।

(और पढ़ें : तैलीय त्वचा के लिए घर पर बनाएं क्लीन्ज़र)

अपनी स्किन की क्‍लीजिंग और सनटैन हटाने एवं खुजली को दूर करने के लिए आप निम्‍न रेसिपी का इस्‍तेमाल कर सकते हैं:

  • बॉडी स्‍क्रब:
    चार चम्‍मच बेसन या ओट्स, एक चम्‍मन चंदन का पाउडर, एक चम्‍मच गुलाब जल लें। इसमें थोड़ा-सा दूध मिलाकर पेस्‍ट तैयार कर लें। स्किन पर पानी की कुछ बूंदें छिड़क कर इस पेस्‍ट को लगाएं। पेस्‍ट को कुछ देर रब करने के बाद पानी से साफ कर लें।
     
  • रूखेपन के कारण शरीर पर खुजली:
    एक मग पानी में 2 चम्‍मच सिरका डालें। नहाने के बाद शरीर के रूखे हिस्‍सों को इस पानी से साफ करें।
     
  • बाहों से टैन हटाने के लिए:
    बेसन में दही और एक चुटकी हल्‍दी मिलाएं। इसे नहाने से पहले 20 मिनट के लिए हाथों पर लगाएं।
     
  • हाथों को चमकाने के लिए:
    एक संतरे के छिलके लें और उसमें फोर्क (कांटे) की मदद से छेद करें। इसे हाथों पर मलें।
     
  • नाखूनों के लिए:
    बादाम के तेल और शहद की एक समान मात्रा लें और उससे नाखूनों एवं क्‍यूटिकल्‍स (नाखूनोंं के किनारों पर उतरने वाली खाला) की मालिश करें।
     
  • रूखे नाखूनों के लिए:
    किसी भी वेजिटेबल ऑयल (जैसे सूरजमुखी का तेल, तिल का तेल या जैतून का तेल) को गुनगुना गर्म कर लें। अब दस मिनट के लिए उंगलियों को इस तेल में डुबोएं। इसके बाद गीले तौलिए से इसे साफ कर लें।

(और पढ़ें - सन टैन दूर करने के घरेलू उपाय)

और पढ़ें ...