myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

दिनभर काम की वजह से भागदौड़ करने के बाद रात को हर कोई चैन की नींद सोना चाहता हैं, लेकिन अगर बिस्तर पर खटमल परेशान करने लगें तो नींद खराब हो जाती है। खटमल के काटने से खुजली, त्वचा पर चकत्ते और फफोले हो सकते हैं। खटमल बिस्तर, सोफे, अटैचियों, कपड़े आदि में देखे जाते हैं।

जब आपके बिस्तर में खटमल होते हैं तो जैसे ही आप लेटते हैं वे आपका खून चूसने के लिए बेड के किनारों और दरारों से निकलना शुरू कर देते हैं। खटमल भगाने के लिए अगर आप कुछ उपाय या नुस्खे ढूंढ रहे हैं तो इस लेख में हमने आपको खटमल को मारने और भगाने के उपाय तरीके व नुस्खे बताए हैं।

(और पढ़ें - खटमल से होने वाले रोग​)

तो चलिए जानते हैं खटमल मारने व भगाने के उपाय और तरीके:

  1. खटमल मारने के तरीके - Khatmal marne ke tarike in hindi
  2. खटमल को दूर करने के उपाय - Khatmal ko door karne ke upay in hindi
  3. खटमल भगाने के घरेलू उपाय - Khatmal bhagane ke gharelu upay in hindi

खटमल मारने का घरेलू नुस्खा है वेक्यूम - Khatmal marne ka gharelu nuskha hai vaccum in hindi

आप पूरे घर में वेक्यूम क्लीनर से अच्छी तरह सफाई करें, इससे खटमल खत्म करने और छिपने की जगह से उन्हें हटाने में मदद मिलेगी। वेक्यूम क्लीनर की मदद से फर्नीचर, कार्पेट, गद्दे, चादर और पर्दे सब की सफाई अच्छे से करें। क्योंकि आमतौर पर खटमल फर्नीचर, कपड़ों और खासकर अंधेरी जगहों में ही छिपे रहते हैं।

(और पढ़ें - कीड़े के काटने का इलाज)

इसके अलावा चादर, पर्दे, पहनने के कपड़े आदि गर्म पानी में धोने से भी खटमल की समस्या कम हो सकती है।कम से कम हफ्ते में एक बार हर कमरे की सफाई वेक्यूम क्लीनर से अवश्य करें, कोई भी कोना और कोई भी चीज क्लीन किए बिना न छोड़े। जब वेक्यूम क्लीनर का उपयोग हो जाए तो वेक्यूम बैग से खटमल को निकालकर बाहर फेंक दें। इस तरह खटमल की समस्या धीरे-धीरे कम हो जाएगी।

(और पढ़ें - मच्छर मारने भगाने के घरेलू उपाय)

खटमल को मारने का तरीका है बेकिंग सोडा - Khatmal ko marne ka tarika hai baking soda in hindi

बेकिंग सोडा एक अन्य घरेलू उपाय है जिसकी मदद से आप खटमल से छुटकारा पा सकते हैं। बेकिंग सोडा खटमल के अंदर से मॉइस्चर चूस लेता है, इससे खटमल कमजोर पड़ जाते हैं और इस तरह उन्हें मारने में आसानी होती है।

खटमल हटाने के लिए सबसे पहले बेकिंग सोडा को हर कमरे के बिस्तर, फर्नीचर, दरवाजों, कोनों और जहां-जहां खटमल हो सकते हैं, वहां डाल दें। एक हफ्ते तक इसे उन जगहों पर ऐसे ही रहने दें। एक हफ्ते के बाद बेकिंग सोडा को वेक्यूम क्लीनर से अच्छे से साफ कर दें और इस बात को सुनिश्चित कर लें कि कही भी खटमल या उनके अंडे छूट न जाएं।

(और पढ़ें - बेकिंग सोडा और नींबू के फायदे)

खटमल मारने का स्प्रे है टी ट्री तेल - Khatmal marne ka spray hai tea tree tel in hindi

अध्ययनों का कहना है कि टी ट्री ऑयल खटमल को मारने के लिए बेहद प्रभावी उपाय है। टी ट्री तेल में एंटीबायोटिक, एंटीफंगल, एंटीसेप्टिक, एक्सपेक्टरेंट और एंटीवायरल गुण होते हैं। यह तेल वायरल और बैक्टीरियल संक्रमण को कम करता है। इसलिए टी ट्री तेल को आप खटमल जैसे कीड़ों को मारने के लिए भी इस्तेमाल कर सकते हैं। टी ट्री तेल में पाए जाने वाले एंटी पैरासिटिक गुण खटमल को रोकने में मदद करते हैं। आप इसको घर के फर्नीचर, दरारों, बिस्तर के आसपास स्प्रे करने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं।

(और पढ़ें - मेहंदी के तेल के फायदे)

टी ट्री तेल का इस्तेमाल करने के लिए:

सामग्री:

  1. दो छोटे चम्मच टी ट्री तेल।
  2. 50 मिलीलीटर पानी।

बनाने और उपयोग करने का तरीका:

  1. पहले टी ट्री तेल को पानी में डालकर मिश्रण तैयार कर लें।
  2. अब मिश्रण को स्प्रे वाली बोतल में डाल दें।
  3. फिर जहां-जहां आपको खटमल होने की संभावना है वहां-वहां इस मिश्रण को छिड़कें।
  4. जब तक कि खटमल की समस्या कम न हो जाए, इस मिश्रण को रोजाना छिड़कें।
  5. इस्तेमाल करने से पहले अच्छे से बोतल को हिला लें।

(और पढ़ें - बच्चों के पेट में कीड़े का इलाज)

खटमल से छुटकारा पाने का घरेलू उपाय है लेमनग्रास - Khatmal se chutkara pane ka gharelu upay hai lemongrass

खटमल की समस्या से छुटकारा पाने के लिए लेमन ग्रास बेहद प्रभावी उपाय है। लेमनग्रास में मौजूद घटक न केवल उन्हें भगा देते हैं बल्कि ये घटक खटमल में एसिड को बढ़ाकर उन्हें मार देते हैं। इसके इस्तेमाल के लिए लेमनग्रास का जूस पानी में मिलाने के बाद उसे स्प्रे वाली बोतल में डालकर बिस्तर के आसपास छिड़के। ऐसा तब तक करते रहें, जब तक खटमल की समस्या खत्म न हो जाए।

(और पढ़ें - लेमन ग्रास चाय के फायदे)

खटमल दूर करें नीम के तेल से - Khatmal door kare steam se

नीम के तेल में औषधीय और सभी तरह के कीड़ों को मारने के गुण होते हैं। नीम की पत्तियों, पेड़ और बीज का इस्तेमाल कई तरह की बीमारियों के लिए फायदेमंद होता है। नीम के तेल का इस्तेमाल खटमल को मारने के लिए कर सकते हैं।

(और पढ़ें - मधुमक्खी के काटने पर क्या करें)

नीम के तेल का इस्तेमाल कैसे करें:

सामग्री:

  1. दो बड़े चम्मच नीम का तेल।
  2. एक कप पानी।
  3. आधा छोटा चम्मच डिटर्जेंट।

बनाने व उपयोग करने का तरीका:

  1. पहले नीम के तेल और पानी को एक बर्तन में मिला लें।
  2. फिर इस मिश्रण में डिटर्जेंट को भी मिलाएं।
  3. अच्छे से पूरे मिश्रण को मिक्स कर लें।
  4. अब इस मिश्रण से हर उस कोने और फर्नीचर पर छिडकाव करें जहां खटमल दिखाई देते हैं।
  5. इस उपाय को शुरू के तीन दिनों तक पूरे दिन में तीन बार दोहराएं।
  6. इसके बाद इस उपाय को 18 दिन तक हर दूसरे दिन दोहराते रहें।

(और पढ़ें - त्वचा की एलर्जी का इलाज)

खटमल भगाने का तरीका है पुदीने की पत्तियां - Khatmal bhagane ka tarika hai pudine ki pattiya

आप पुदीने की पत्तियों का भी उपयोग खटमल मारने के लिए एक प्राकृतिक दवा के रूप में कर सकते हैं। कई कीड़े इस पौधे की गंध को पसंद नहीं करते और ऐसा ही कुछ खटमल के साथ भी है। खटमल पुदीने की पत्तियों से बने तेल से मर जाते हैं। 

खटमल को दूर करने के लिए पुदीने की पत्तियों को छोटे-छोटे टुकड़ों में तोडकर पीस लें और उन जगहों पर टुकड़ों को डालें जहां-जहां खटमल आते हैं। आप छोटे-छोटे पन्नी के पैकेट में पुदीने की पत्तियों को पीसकर डाल सकते हैं और फिर उन्हें बेड के गद्दे के नीचे रख दें। इस तरह पुदीने की पत्तियां खटमल को मारने में मदद करेंगी। अच्छा परिणाम पाने के लिए इस उपाय को हर तीन से पांच दिनों में दोहराएं।

(और पढ़ें - पुदीने का तेल के फायदे)

खटमल भगाने के लिए करना चाहिए हल्दी का इस्तेमाल - Khatmal bhagane ke liye karna chahiye haldi ka istemal

हल्दी के पाउडर में करक्यूमिन (Curcumin) होता है, जो कि एक शक्तिशाली एंटीमाइक्रोबियल घटक है। करक्यूमिन ऐसी स्थिति पैदा कर देता है जो खटमल सह नहीं सकते हैं, इसलिए हल्दी का इस्तेमाल करने के कुछ मिनट बाद खटमल मर जाते हैं। अगर आप हल्दी को बेड के गद्दे पर डालते हैं, तो उसमें मौजूद खटमल मर जाएंगे।

वास्तव में जब आप हल्दी को गद्दे पर डालते हैं तो इसमें मौजूद करक्यूमिन गद्दे में ऑक्सीजन को कम कर देता है और इस तरह खटमल मर जाते हैं। आपको खटमल से छुटकारा पाने के लिए बस एक कटोरी हल्दी लेनी है और फिर हल्दी को बेड, कोनों, फर्नीचर पर डालना है। इस बात का ध्यान रखें कि खटमल को तेजी से खत्म करने के लिए इस उपाय को रोजाना दोहराएं।

(और पढ़ें - कीड़े के काटने का इलाज)

खटमल भगाने का नुस्खा है लाल मिर्च, अदरक और ऑरिगेनो - Khatmal bhagane ka nuskha hai laal mirch, adrak aur oregano

खटमल को मारने के लिए लाल मिर्च, अदरक और ओरेगेनो के तेल को मिलाकर बनने वाला यह उपाय बेहद प्रभावी होता है।

(और पढ़ें - घाव ठीक करने के घरेलू उपाय)

अदरक, लाल मिर्च और ओरेगेनो का इस्तेमाल करने के लिए:

सामग्री:

  1. एक छोटा चम्मच लाल मिर्च
  2. एक छोटा चम्मच अदरक।
  3. एक छोटा चम्मच ऑरिगेनो का तेल।
  4. एक कप पानी।

बनाने व इस्तेमाल करने का तरीका:

  1. पहले अदरक को घिस लें। फिर लाल मिर्च, घिसे हुए अदरक और ऑरिगेनो के तेल को एक साथ किसी बर्तन में मिलाकर एक कप पानी डाल दें।
  2. अब इस मिश्रण को सात मिनट के लिए गर्म करें।
  3. फिर मिश्रण को छानें और इसको स्प्रे वाली बोतल में डाल दें।
  4. इस मिश्रण का छिड़काव बेड के गद्दे, कोनों आदि में करें।
  5. जब तक खटमल मर नहीं जाते तब तक इस उपाय को हर तीन से चार दिनों में दोहराएं।

(और पढ़ें - मकड़ी के काटने पर क्या करें)

खटमल से छुटकारा पाने के लिए नीलगिरी तेल का उपयोग करें - Khatmal se chutkara pane ke liye neelgiri tel ka upyog karen

टी ट्री ऑयल की तरह ही लैवेंडर का तेल भी खटमल को मारने का एक प्रभावी उपाय है। लैवेंडर का तेल खटमल के अंडों को भी मार सकता है। ऐसा कहा जाता है कि लैवेंडर के तेल की गंध के कारण खटमल मर जाते हैं। हालांकि, यह तेल संभवतः एक साइटोटोक्सिन की तरह काम करता है, इसलिए खटमल जाते हैं। 

(और पढ़ें - कुत्ते के काटने पर प्राथमिक उपचार)

लैवेंडर के तेल का इस्तेमाल कैसे करें:

  1. 10 से 15 बूंद लैवेंडर तेल को 50 मिलीलीटर पानी में मिला लें।
  2. अब इस मिश्रण को स्प्रे बोतल में डाल दें।
  3. फिर इस मिश्रण का इस्तेमाल उन जगहों पर करें जहां खटमल दिखाई देते हैं।
  4. एक अन्य विकल्प के तौर पर आप लैवेंडर साबुन या पाउडर का इस्तेमाल भी पानी में मिलाकर स्प्रे के रूप में कर सकते हैं।
  5. इसके अलावा आप लैवेंडर की पत्तियों और फूलों को भी इन जगहों पर रख सकते हैं।

 (और पढ़ें - सांप के काटने के बाद क्या करे)

खटमल को भगाने के लिए उपाय है लौंग - Khatmal ko bhagane ke liye upay hai laung

अन्य आवश्यक तेलों की तरह ही, लौंग के तेल में कीटनाशक गुण होते हैं। यह कहा जाता है कि लौंग की तेज गंध और इसकी अम्लता खटमल को जीने नहीं देती है और इस तरह खटमल खत्म हो जाते हैं।

लौंग का इस्तेमाल करने के लिए:

  1. एक छोटा चम्मच लौंग का तेल लें और एक कप पानी लें।
  2. अब दोनों को किसी बर्तन में एक साथ मिलाएं और फिर इस मिश्रण को किसी स्प्रे वाली बोतल में डाल दें।
  3. फिर जहां खटमल होने की आशंका है वहां स्प्रे से मिश्रण को छिड़क दें।

(और पढ़ें - घाव के निशान हटाने के उपाय)

और पढ़ें ...